आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

आंखों के पास ड्राय स्किन की समस्या इन कारणों से हो सकती है, जानें यहां

    आंखों के पास ड्राय स्किन की समस्या इन कारणों से हो सकती है, जानें यहां

    कई बार लोगों को आंखों के पास ड्राय स्किन (Dry skin near eyes) का अनुभव होता है। यह कई कारणों से हो सकता है, जैसे बढ़ती उम्र या कोई शरीरिक दिक्कत भी। बढ़ते मौसम के परिणामस्वरूप भी कोई व्यक्ति आंखाें के आसपास शुष्क त्वचा का अनुभव कर सकता है। यह विभिन्न स्किन कंडिशन के कारण भी हो सकता है, जैसे कि एक्जिमा, कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस या कंजंक्टिवाइटिस। इस आर्टिकल में जानेंगे आंखों के पास ड्राय स्किन (Dry skin near eyes) के कुछ सामान्य कारणों, उनसे जुड़े लक्षणों और उपचार के विकल्पों के बारे में।

    और पढ़ें: महिलाओं के प्यूबिक एरिया में ड्राय स्किन होने के कारण और बचने के तरीके जानें

    ड्राय स्किन क्या है (what is dry skin) ?

    ड्राय स्किन की समस्या शरीर पर कहीं भी विकसित हो सकती है। इसमें आंखों के आसपास की त्वचा भी शामिल है, जो शरीर के अन्य हिस्से की त्वचा की तुलना में अधिक पतली और नाजुक होती है। त्वचा को पानी और तेल की आवश्यकता होती है, जो स्किन को स्वाभाविक रूप से कोमल और खिंचावदार बनाए रखने में मदद करती है। यदि त्वचा में नमी की कमी होने लगे, तो त्वचा शुष्क हो सकती है। इसके विशिष्ट लक्षणों में शामिल हैं:

    खुजली या पपड़ीदार त्वचा (Itchy or scaly skin)

    और पढ़ें : आंखों की समस्याओं से बचना है आसान, बस अपनाएं ये होम रेमेडीज!

    अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजी (एएडी) के अनुसार, कुछ लोगों में दूसरों की तुलना में शुष्क त्वचा विकसित होने की संभावना अधिक होती है, जिनमें निम्न शामिल हैं:

    • 40 वर्ष से अधिक उम्र का होना
    • ठंडे मौसम में यह समस्या बढ़ सकती है
    • जो लोग धूम्रपान करते हैं, उनमें इसकी संभावना अधिक होती है
    • जिन लोगों में विटामिन या अन्य लोगों में पोषक तत्व की कमी होती है, जैसे विटामिन डी, विटामिन ए, आयरन, या जिंक आदि। उनमें भी यह समस्या देखी जाती है।
    • इसके अतिरिक्त, स्टैटिन और मूत्रवर्धक सहित कुछ दवाएं अत्यधिक शुष्क त्वचा का कारण बन सकती हैं।

    और पढ़ें: Dry Skin In Winter : विंटर में ड्राय स्किन की कैसे करनी चाहिए देखभाल?

    आंखों के पास ड्राय स्किन होने का कारण (Causes of dry skin around eyes)

    वैसे तो किसी में आंखों के पास ड्राय स्किन होने के कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि एजिंग, स्किन कंडिशन या बदलता मौसम आदि। यहां पर हम ऐसे ही कुछ स्किन कंडिशन की बात कर रहे हैं, जोकि आंखों के पास ड्राय स्किन का कारण बन सकती है।

    एक्जिमा (Eczema)

    एक्जिमा एक प्रकार की स्किन कंडिशन है। एक्जिमा की समस्या होने पर स्किन पर खुजली, ड्राय स्किन, पपड़ीदार स्किन होना या कोई अन्य ऐसी परेशानी हो सकती है। कुछ लोगों को आंखों के आसपास एक्जिमा का अनुभव हो सकता है। नेशनल एक्जिमा सोसाइटी के अनुसार, आईलिड एक्जिमा उन लोगों में अधिक आम है, जिनके चेहरे पर कहीं और एक्जिमा की समस्या है। इसमें पलक पर खुजली, सूजन या पपड़ीदार त्वचा का अनुभव हो सकता है।

    और पढ़ें: Tight Foreskin: टाइट फोरस्किन की तकलीफ क्यों हो सकती है? जानिए इससे बचाव का तरीका और इलाज!

    एटॉपिक डर्मेटाइटिस (atopic dermatitis)

    एटॉपिक डर्मेटाइटिस की सूजन एक्जिमा का सबसे आम प्रकार है। यह अक्सर वयस्कों में आंखों को प्रभावित कर सकता है। यह पलकों और आंखों के आसपास विकसित हो सकता है, जिससे त्वचा में खुजली और सूजन हो सकती है। आंखों के आसपास की त्वचा भी मोटी हो सकती है। यह त्वचा की एलर्जी है जिसमें इम्यून सिस्टम अत्यंत संवेदनशील हो जाता है। इसमें त्वचा में जलन, खिंचाव और लाल निशान दिखने लगते हैं। एटोपिक डर्मेटाइटिस किसी भी उम्र में हो सकता है।यदि कोई व्यक्ति आंखों के आसपास एटोपिक डर्मेटाइटिस की सूजन विकसित होती है, तो उन्हें डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, खासकर अगर उन्हें आंखों के आसपास समस्याएं हो रही हैं।

    और पढ़ें: Anal Skin Tags: एनल स्किन टैग्स की क्यों होती है समस्या, कैसे कर सकते हैं इसका इलाज?

    कॉन्टेक्ट डर्मेटाइटिस (Contact dermatitis)

    कई एलर्जन भी आपमें कॉन्टेक्ट डर्मेटाइटिस का कारण बन सकते हैं। कॉन्टेक्ट डर्मेटाइटिस के कारण सूजन पलकों पर भी हो सकती है। यह स्किनकेयर उत्पादों, मेकअप और हेयर डाई के परिणामस्वरूप हो सकता है।कभी-कभी, लोग एलर्जन वाली चीजों के संपर्क में भी आ सकते हैं जिससे उन्हें एलर्जी है, फिर अपनी आंखों को छूने के बाद वो एलर्जी त्वचा और आंखों तक पहुचं जाती है। कई मामलों में, इस समस्या का उपचार, उस उत्पाद का उपयोग करना बंद कर देता है जो एलर्जी को बढ़ाती है या उसके होने का कारण होती हैं। पलकों की त्वचा बाकी चेहरे की त्वचा की तुलना में चार गुना पतली होती है। नतीजतन, डॉक्टर हल्के क्रीम और इमोलिएंट्स की सलाह देंगे। गंभीर मामलों में, वे स्टेरॉयड या कैल्सीनुरिनक्रीम का सुझाव दे सकते हैं।

    और पढ़ें: Rare Skin Diseases: कौन सी हैं रेयर स्किन डिजीज, जानें

    ब्लेफेराइटिस (Eczema)

    ब्लेफेराइटिस, आईलिड यानि कि आंखों की पलकों में होने वाली सूजन है। ब्लेफेराइटिस आंखों की एक आम समस्या है जिसमें पलकें लाल, पपड़ीनुमा हो जाती हैं और बहुत दर्द होता है। यह समस्या बहुत आम है और हर उम्र के लोगों को प्रभावित कर सकती है। इसके अन्य लक्षणों में शामिल है:

    • पलकों के चारों ओर छोटे, पीले रंग के शल्क
    • आंखों में जलन
    • आंख में खुदरापन मसहसूस होना

    और पढ़ें : Swelling (Edema) : सूजन (एडिमा) क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    इस समस्या में राहत पाने के लिए घरेलू उपचार के तौर पर आप ये कुछ उपाय अपना सकते हैं:

    आंखों के आसपास की शुष्क त्वचा को रोकने का उपचार इस बात पर भी करता है कि यह किन कारणों से हुआ है। शुष्क त्वचा के विकास से बचने के लिए, लोग निम्न कर सकते हैं:

    और पढ़ें : कफ की समस्या से हैं परेशान, जानिए क्या हैं कफ निकालने के उपाय ?

    आंखों के पास ड्राय स्किन से बचाव के लिए अपनाएं ये टिप्स (Follow these tips to prevent dry skin near the eyes)

    शुष्क त्वचा आम है और आमतौर पर चिंता की कोई बात नहीं है। आंखों के पास ड्राय स्किन से बचाव के लिए इन बातों का भी रखें ध्यान:

    • अपने जीवन से तनाव को दूर करें, यानि कि स्ट्रेस कम लें।
    • भरपूर नींद लेना आवश्यक है।
    • त्वचा में जलन पैदा करने वाले उत्पादों से दूर रहें।
    • आपको जिन चीजों से एलर्जी है, उसका इस्तेमाल न करें।
    • लंबे, गर्म शावर और स्नान से बचें

    और पढ़ें : Cholesterol Deposits In The Eyes: आंखों में जम जाए कोलेस्ट्रॉल, तो क्या हो सकती हैं परेशानियां?

    ड्राय स्किन शरीर पर कहीं भी हो सकती है, जिसमें आंखों के आसपास की त्वचा भी शामिल है। यह सामान्य है और आमतौर पर चिंता की कोई बात नहीं है। कभी-कभी, एक्जिमा या संक्रमण समस्या का कारण बन सकते हैं। हल्के लक्षणों में मरीज घर पर ही आंखों के आसपास शुष्क त्वचा और उसे पैदा करने वाले कुछ कारणों का इलाज कर सकते हैं। अन्य गंभीर मामलों में, एक व्यक्ति को चिकित्सा सहायता की आवश्यकता हो सकती है। इसमें वे लोग शामिल हैं जिन्हें आंखों में दर्द या धुंधली दृष्टि की समस्या है। इसके अलावा, अगर किसी को संदेह है कि उनके पास एक्जिमा का एक रूप हो सकता है, तो उन्हें डॉक्टर से बात करनी चाहिए

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: