कोरोना वायरस महामारी: क्या इस समय मांसाहारी भोजन करना सुरक्षित है?

Medically reviewed by | By

Update Date जून 3, 2020 . 4 mins read
Share now

भारत में कोरोना महामारी के कारण लोगों में इतना डर समाया हुआ कि लोगों ने अभी मांसाहारी भोजन करना ही छोड़ दिया है। क्या आपने भी कोरोना संक्रमण महामारी के कारण मांसाहारी भोजन छोड़ कर केवल शाकाहारी भोजन करने लगे हैं? आप सोच रहे हैं कि कोरोना वायरस संक्रमण के इस समय में मांसाहार या शाकाहार भोजन करना चाहिए या नहीं? यहां आपको कोरोना महामारी और मांसाहार के बारे में मिलेगी पूरी जानकारी।

कोरोना वायरस महामारी: भोजन पकाते समय सुरक्षा उपाय जरूरी

आप अभी कोरोना महामारी के फैलने के डर मांसाहार भोजन नहीं कर रहे हैं, लेकिन इससे आप कोरोना से पूरी तरह नहीं बच पाएंगे। जानकारी के अनुसार, कोरोना महामारी से बचने के लिए केवल मांसाहारी आहार छोड़ना ही एक उपाय नहीं है, बल्कि सुरक्षा उपाय करना सबसे जरूरी है।

कोरोना वायरस और मांसाहार-Coronavirus:meat and poultry

अभी तक नोवल कोरोना वायरस या दूसरे किसी वायरस और मांसाहारी भोजन के बीच का संबंध स्थापित नहीं हुआ है। यह भी पता नहीं चला है कि वायरस मांस, मुर्गा या सीफूड पर रहता है और इसे संक्रमित कर देता है। अंडे के लिए भी यही कहा जा सकता है। यह भले ही चीन के वुहान के एक पोल्ट्री बाजार से निकला है, लेकिन सिर्फ इसलिए मांसाहारी, डेयरी या पोल्ट्री खाद्य पदार्थों को छोड़ना सही नहीं है।

ये भी पढ़ेंः  कोरोना वायरस के लक्षण तेजी से बदल रहे हैं, जानिए कोरोना के अब तक विभिन्न लक्षणों के बारे में

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः कम से कम 30 मिनट तक पकाकर खाएं

आप जब भी मांसाहारी भोजन पकाएं, तो कोशिश करें कि भोजन आग पर कम से कम 30 मिनट तक पकाया गया हो। इससे रोग और बीमारी पैदा करने वाले वायरस खत्म हो जाते हैं। SARS वायरस के समय भी कोविड-19 जैसी ही समस्या हुई थी और उस समय इस वायरस को खत्म करने के लिए भी यही तरीका अपनाया गया था। इससे ही आप कोरोना वायरस के समय बीमारी से बच सकते हैं और अपना पसंदीदा मांसाहार भोजन भी कर सकते हैं।

कोरोना वायरस और मांसाहार-Coronavirus:meat and poultry
कोरोना वायरस और मांसाहार: Coronavirus and meat-poultry

कोरोना वायरस संक्रमण और मांसाहारी भोजनः क्या कहते हैं डॉक्टर?

क्या कोरोना वायरस में मांसाहारी भोजन पूरी तरह से छोड़ देना चाहिए और केवल शाकाहारी भोजन करना चाहिए? क्या कोरोना महामारी में मांसाहारी खाने से कोरोना संक्रमित होने की अधिक संभावना होती है? इन सारी बातों का जवाब नीचे दिया गया हैः-

ये भी पढ़ेंः  फार्मा कंपनी ने डोनेट की 34 लाख हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन टैबलेट्स, ऐसे होगा इस्तेमाल

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः एक व्यक्ति से दूसरे में फैलता है वायरस

नवी मुंबई स्थित अपोलो हॉस्पिटल के संक्रामक रोग विभाग के चिकित्सक डॉ. लक्ष्मण जेसानी का कहना है कि आज के समय में कोई भी भोजन पूरी तरह सुरक्षित नहीं है। इसलिए आप जो भी भोजन करें, उसे सुरक्षित करने के लिए सभी उपाय करें।

डॉ. लक्ष्मण जेसानी ने यह भी कहा, “आमतौर पर SARS- CoV-2 जैसे वायरस संक्रमित व्यक्ति के शरीर से तरल पदार्थ के रूप में बाहर निकलते हैं। रोगी के खांसी या छींकने पर यह बाहर आते हैं। इसके अलावा संक्रमित स्थानों के संपर्क में आने से भी ये फैल सकते हैं। इसलिए इस वायरस को प्रसार के लिए लोगों की जरूरत होती है। 

कोविड-19 की ताजा जानकारी
देश: भारत
आंकड़े

697,413

कंफर्म केस

424,433

स्वस्थ हुए

19,693

मौत
मैप

अभी तक कोरोना वायरस संक्रमण और मांसाहार में कोई संबंध स्थापित नहीं हुआ है। कोई ऐसा तथ्य भी नहीं मिला है, जिससे यह पता चला हो कि यह किसी मांसाहारी भोजन के माध्यम से भी फैल सकता है। इसलिए मांसाहारी भोजन पूरी तरह से सुरक्षित है।”

ये भी पढ़ेंः  कोरोना का प्रभाव: जानिए 14 दिनों में यह वायरस कैसे आपके अंगों को कर देता है बेकार

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः बूचड़खाने में जाने से बचें

डॉ. लक्ष्मण ने कहा कि मांसाहारी भोजन करते समय लोगों को केवल जरूरी सावधानी रखनी चाहिए। कोरोना वायरस संक्रमण के समय में आप मांसाहारी भोजन आदि, जो भी भोजन करें, कोशिश करें कि यह अच्छी तरह धोया और पकाया गया हो। सिर्फ मांसाहार के साथ नहीं, बल्कि फल और सब्जियों को खाने या बनाने से पहले भी ऐसी सावधानी रखनी चाहिए। यह सावधानी करके ही आप कोरोना वायरस के समय बीमारी से बच सकते हैं और अपना पसंदीदा मांसाहार भोजन कर सकते हैं। जब तक कोरोना वायरस संक्रमण पर पूरी तरह नियंत्रित नहीं हो जाता, तब तक हमें एहतियात के तौर पर बूचड़खानों में जाने से भी बचना चाहिए। 

कोरोना वायरस और मांसाहार-Coronavirus:meat and poultry
कोरोना वायरस और मांसाहार: Coronavirus and meat-poultry

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः अफवाहों पर न दें ध्यान

एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने भी इस बारे में बताया, “कोरोना वायरस महामारी के समय में भी आप जो चाहें, खा सकते हैं। मांसाहारी से जोखिम होने की संभावना नहीं है। केवल खाना बनाते समय मांस को अच्छी तरह से धोएं और सही से पकाने का ध्यान रखें। आप अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान न दें। ”

इन्होंने कहा कि अभी तक डब्ल्यूएचओ ने भी मांसाहारी खाने से मना नहीं किया है और न ही ऐसा कोई तथ्य ही मिला है, जिससे यह पता चले कि मांसाहारी भोजन के जरिए कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।

ये भी पढ़ेंः  कोविड-19 के इलाज के लिए 100 साल पुरानी पद्धति को अपना रहे हैं डॉक्टर, जानें क्या है प्लाज्मा थेरेपी

अभी घर से बाहर जाकर भोजन करना या बाहर से खाना मंगाना कितना सुरक्षित है?

कोरोना वायरस संक्रमण के इस समय में अगर आप घर से बाहर जाकर भोजन करना चाहते हैं, या बाहर से खाना मंगाना चाह रहे हैं, तो यह सुनिश्चित कर लें कि खाना पकाने के समय साफ-सफाई और रोग से बचने के सभी उपाय किए गए हों। कच्चा या अधपका भोजन न करें। जो भी खाएं, उसे बहुत अच्छी तरह से साफ कर लें।

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः खाना पकाते समय दें स्वच्छता पर ध्यान

रसोई में खाना पकाते हुए स्वच्छता रखें, इससे बीमारी के जोखिम को कम किया जा सकता है। यह बहुत जरूरी उपाय हैं। यहां ऐसी व्यवस्था हो, वहां आप भोजन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ेंः  कोरोना वायरस : किन व्यक्तियोंं को होती है जांच की जरूरत, अगर है जानकारी तो खेलें क्विज

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः रेस्टोरेंट में संक्रमित चीजों में दूर रहें

कोरोना वायरस भोजन के माध्यम से नहीं फैलता है, लेकिन यह वस्तु या स्थानों के माध्यमों से फैल सकता है। इसलिए रेस्टोरेंट में टेबल की ऊपरी सतह, बर्तन, प्लास्टिक मेनू कार्ड, नोब आदि को न छुएं। इसे सभी लोग बार-बार छूते हैं, जिससे यह संक्रमित हो सकता है। इसी तरह कोरोना संक्रमित लोग, कोरोना के लक्षण वाले रोगी या पुरानी या गंभीर बीमारियों वाले मरीजों से दूर रहें। इसके लिए आपका क्वारंटाइन होना सबसे अच्छा उपाय है।

ये भी पढ़ेंः  सावधान ! क्या आप कोरोना वायरस के इन लक्षणों के बारे में भी जानते हैं? स्टडी में सामने आई ये बातें

कोरोना वायरस और मांसाहारी भोजनः पीक आवर्स या भीड़-भाड़ वाली जगहों पर न खाएं खाना

इसके अलावा आप एक और उपाय कर सकते हैं। पीक आवर्स और भीड़-भाड़ वाली जगह पर खाना न जाएं। इससे कोरोना वायरस संक्रमण के फैलने संभावना अधिक हो जाती है। अधिक से अधिक सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने की कोशिश करें।

कोरोना वायरस और मांसाहार-Coronavirus:meat and poultry
कोरोना वायरस और मांसाहार: Coronavirus and meat-poultry

इन सभी उपायों से आप कोरोना वायरस जैसी महामारी के समय भी खुद को संक्रमण से आने से बचा सकते हैं और मांसाहारी भोजन का आनंद ले सकते हैं। इससे ही आप कोरोना वायरस के समय बीमारी से बच सकते हैं और अपना पसंदीदा मांसाहार भोजन भी कर सकते हैं।

 हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ेंः

कोरोना के दौरान कैंसर मरीजों की देखभाल में रहना होगा अधिक सतर्क, हो सकता है खतरा

कोरोना वायरस से जंग में शरीर का साथ देगा विटामिन-डी, फायदे हैं अनेक

लॉकडाउन में घर से ऐसे काम कर रही है हैलो स्वास्थ्य की टीम, जिससे आपको मिलती रहे हेल्थ से जुड़ी हर अपडेट

Coronavirus Lockdown : क्या कोरोना के डर ने आपकी रातों की नींद चुरा ली है, ये उपाय आ सकते हैं आपके काम

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्या सूर्य ग्रहण से कोविड 19 खत्म हो जाएगा? जानें इस बात में कितनी है सच्चाई

सूर्य ग्रहण और कोविड 19 इन हिंदी, सूर्य ग्रहण और कोविड 19 के बीच क्या संबंध है, सूर्य ग्रहण और कोरोना वायरस से कैसे बचें, सूर्य ग्रहण 2020 का समय क्या है, सोलर इक्लिप्स टाइमिंग, Solar eclipse covid 19 corona virus.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha

कोरोना वायरस की दवा : डेक्सामेथासोन (dexamethasone) साबित हुई जान बचाने वाली पहली दवा

कोरोना की दवा के रूप में डेक्सामेथासोन का इस्तेमाल और प्रभावशीलता काफी अच्छे रिजल्ट्स दे रही है। कोरोना संक्रमित लोगों की जान बचाने के लिए तुरंत इस्तेमाल की जा सकती है। corona virus first medicine Dexamethasone in hindi

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shikha Patel

सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है कोरोना का इलाज, सतर्क रहें इस फर्जी प्रिस्क्रिप्शन से

कोरोना वायरस वायरल प्रिस्क्रिप्शन, कोरोना वायरस फेक प्रिस्किप्शन क्या है? इस वायरल पर्चे में कोरोना के इलाज की बता कही गई है। हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन दवा (Hydroxychloroquine), क्रोसीन (Crocin) और सीट्रीजिन (Cetrizine)...corona virus viral priscription in hindi

Written by Shikha Patel

एक्सपर्ट ने दी कोरोनावायरस (कोविड-19) ट्रेवल एडवाइस, यात्रा में रहेंगे सेफ

कोरोनावायरस (कोविड-19) ट्रेवल एडवाइस इन हिंदी, कोरोनावायरस (कोविड-19) ट्रेवल एडवाइस बताएं, कोरोनावायरस ट्रेवल एडवाइजरी, कोरोना काल में ट्रेन से सफर करते समय किन बातों का रखें ध्यान, covid-19 travel advice.

Written by Shayali Rekha