Eyebright: आईब्रिट क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 11, 2020
Share now

परिचय

आईब्रिट क्या है?

आईब्रिट एक पौधा है, जिसे ल्युमिनेट के नाम से भी जाना जाता है। इसके जमीन से ऊपर उगने वाले हिस्से का इस्तेमाल दवा बनाने में किया जाता है। इसका प्रयोग न केवल दवाई बनाने बल्कि खाद्य पदार्थों को स्वादिष्ट बनाने के मसाले के रूप में भी किया जाता है। आईब्रिट का इस्तेमाल ब्रिटिश हर्बल तंबाकू की तरह भी किया जाता है जिसे फेफड़ों की समस्या और जुकाम होने पर प्रयोग में लाया जाता है।

आईब्रिट कैसे कार्य करता है?

आईब्रिट में ऐसे कैमिकल्स होते हैं, जो ऊत्तकों में कॉन्ट्रैक्शन करते हैं और बैक्टीरिया को मारते हैं। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें: Jasmine : चमेली क्या है?

उपयोग

आईब्रिट का इस्तेमाल किसलिए होता है?

निम्नलिखित परिस्थितियों में आईब्रिट का इस्तेमाल किया जाता है:

  • नाक के पैसेज में सूजन
  • एलर्जी
  • हे फीवर (सर्दी, जुकाम और एलर्जी के साथ आने वाला बुखार)
  • सामान्य जुखाम
  • ब्रोंकाइटिस
  • साइनस का इंफेक्शन
  • कैंसर
  • खांसी
  • लाल आंखें
  • कान दर्द
  • मिरगी
  • सिर दर्द
  • आवाज बैठना
  • सूजन
  • पीलिया
  • नाक बहना
  • त्वचा की बीमारियां
  • गले में खराश
  • पलकों की सूजन (ब्लेफेराइटिस)
  • आंखों की थकान
  • रक्त वाहिकाओं की सूजन
  • पलकें
  • चिपकी और सूजी हुई आंखें

इसके अतिरिक्त यह आंखों में म्यूकस और म्यूकस मेम्बरेंन (mucous membrane) में सूजन को रोकता है। आईब्रिट का इस्तेमाल अन्य परेशानियों में भी किया जा सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें: जानें किस कलर के सनग्लासेस होते हैं आंखों के लिए बेस्ट, खरीदने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

आईब्रिट का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में आईब्रिट का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको आईब्रिट के किसी पदार्थ से एलर्जी है या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों जैसी अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले आयुर्वेदिक औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। आईब्रिट का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बालिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

आईब्रिट कितना सुरक्षित है?

  • गर्भावस्था : अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो आप इस जड़ी-बूटी का सेवन कर सकते हैं या नहीं, इसके बारे में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं हैं। आपको तभी इसका सेवन करना चाहिए, जब डॉक्टर ने इसकी सलाह दी हो। इसकी अधिक मात्रा गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक हो सकती है। सुरक्षित रहने के लिए अपने डॉक्टर से पूरी जानकरी लें।
  • स्तनपान :अगर आप स्तनपान करा रही हैं तो उस स्थिति में भी आप इस जड़ी-बूटी का सेवन कर सकते हैं या नहीं, इसके बारे में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं हैं। यह हर्ब ब्रेस्ट मिल्क से पास होगी इसलिए इसकी अधिक मात्रा आपके शिशु को नुकसान पहुंचाएगी। प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग दोनों ही स्थितियों में आपको केवल उन्ही दवाइयों का सेवन करना चाहिए जिनकी सलाह डॉक्टर ने दी हो।
  • सर्जरी: आईब्रिट कुछ लोगों में ब्लड शुगर को कम कर सकती है। सैद्धांतिक रूप से सर्जरी और इसके बाद आईब्रिट ब्लड शुगर नियंत्रण में हस्तक्षेप कर सकती है। तय सर्जरी से दो सप्ताह पहले आईब्रिट का सेवन बंद कर दें।

यह भी पढ़ें: Celery : अजवाइन क्या है?

साइड इफेक्ट्स

आईब्रिट से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आईब्रिट के साइड इफेक्ट्स निम्नलिखित हैं:

हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी आईब्रिट के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

आईब्रिट से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

आईब्रिट अन्य दवाइयों के साथ मिलकर स्वास्थ्य पर क्या प्रभाव डाल सकती है इस बारे में अधिक जानकारी मौजूद नहीं है, लेकिन अन्य हर्ब्स की तरह कैसी एब्सोल्युट का प्रयोग करने से आपकी मौजूदा दवाई या मेडिकल स्थितियों पर प्रभाव पड़ सकता है। अगर आप किसी अन्य दवाई का सेवन कर रहे हैं तो सबसे पहले अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं। यही नहीं, अगर आपको अन्य कोई बीमारी है या कोई समस्या है तो उस स्थिति में भी अगर आप इस दवाई को लेते हैं तो आपके लिए यह हानिकारक हो सकता है। यदि आपको डायबिटीज है तो अपने डॉक्टर को सूचित करें क्योंकि, आईब्रिट कुछ लोगों में ब्लड शुगर को और कम कर सकती है। ऐसी स्थिति में लो ब्लड शुगर (हाइपोग्लायसेमिया (hypoglycemia) के लक्षणों पर नजर रखें। डायबिटीज से ग्रसित लोग इसका इस्तेमाल करते वक्त ब्लड शुगर को सावधानी से मॉनीटर करें। इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बालिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें: हिचकी तुरंत रोकने के लिए आजमाएं चीनी का यह सरल उपाय

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

आईब्रिट का सामान्य डोज क्या है?

आईब्रिट की सही डोज क्या है। यह बात कई चीजों पर निर्भर करती है जैसे उपयोग करने वाले की उम्र, स्वास्थ्य या कई अन्य स्थितियां। इसकी सही डोज क्या है इस समय इसके बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी उपलब्ध नहीं है। याद रखें, कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित नहीं होते और उनकी सही डोज का पता होना महत्वपूर्ण है। इसलिए इसका उपयोग करने से पहले अपने फार्मासिस्ट और फिजिशियन या डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

हमें उम्मीद है कि आईब्रिट पर आधारित यह लेख आपको पसंद आया होगा। इस लेख में हमनें हर्ब से जुडी सभी जानकारियां देने की कोशिश की हैं जो कि आपके लिए उपयोगी साबित हों। अगर आपको यहां बताई गईं स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो आप इस हर्ब का उपयोग डॉक्टर की सलाह ले सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता और न ही इसके लिए जिम्मेदार है।

और पढ़ें:

अडूसा के फायदे : कफ से लेकर गठिया में फायदेमंद है यह जड़ी बूटी

Dexamethasone: डेक्सामेथासोन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

अग्नाशय कैंसर (Pancreatic Cancer) के लिए मिल गई इन दवाओं को मंजूरी

ट्रिपल-नेगिटिव ब्रेस्ट कैंसर (Triple-Negative Breast Cancer) क्या है ?

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"
    सूत्र

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    Goldthread: गोल्डथ्रेड क्या है?

    जानिए गोल्डथ्रेड की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, गोल्डथ्रेड उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Goldthread डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Anu Sharma

    Epidermal: एपिडर्मल सिस्ट क्या है?

    एपिडर्मल सिस्ट त्वचा के अंदर बनने वाली सौम्य गांठ हैं जो वैसे तो कोई नुकसान नहीं पहुंचाती, फिर भी इसका उपचार कराया जाना चाहिए।

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Kanchan Singh

    एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर में है अंतर, जानिए दोनों के फायदे

    एक्यूप्रेशर क्या है, एक्यूप्रेशर के फायदे, एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर में अंतर क्या है, इससे इलाज कैसे किया जाता है, acupressure difference in Hindi.

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Shayali Rekha

    शेविंग के तुरंत बाद आ जाते हैं पिंपल? तो रखना होगा इन बातों का ध्यान

    रेजर बम्प्स क्या है, रेजर बम्प्स इन हिंदी। स्किन की लेयर जब ऑयल ग्लैंड्स के पोर्स को बंद कर देती है तो बाल अंदर की तरफ मुड़ जाते हैं। इसी कारण से रेजर बम्प्स की समस्या होती है, रेजर बम्प्स की समस्या से निपटने के लिए घरेलू उपाय अपनाएं जा सकते हैं।

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Bhawana Awasthi