Jackfruit: कटहल क्या है?

Medically reviewed by | By

Update Date मई 28, 2020
Share now

परिचय

कटहल क्या है?

कटहल सबसे बड़े फलों में से एक है। भारत में इसकी सब्जी, अचार और पकौड़े बहुत चाव के साथ बनाकर खाए जाते हैं। इसमें बहुत सारे ऐसे तत्व होते हैं जो शरीर की कई आवश्यकताओं को पूरा करते हैं। इसमें प्रचूर मात्रा में फाइबर होता है और कैलोरी बिल्कुल नहीं होती। दिल संबंधित बीमारियों से ग्रसित लोगों के लिए ये काफी फायदेमंद माना जाता है। ये विटामिन-ए, विटामिन-सी, कैल्शियम, पोटैशियम, थायमीन, आयरन और जिंक से भरपूर होता है। आयुर्वेद में इसका प्रयोग दवा के रूप में किया जाता है। डायबिटीज के पेशेंट्स के लिए भी ये काफी लाभदायक होता है। जहरीले बाइट्स के इलाज के लिए त्वचा पर कटहल का पेस्ट लगाया जाता है।

कटहल का उपयोग किस लिए किया जाता है?

दिल को रखे स्वस्थ:
कटहल में पोटैशियम पाया जाता है जो दिल से जुड़ी बीमारियों से सुरक्षित रखता है। उच्च रक्तचाप के मरीजों के लिए इसका सेवन अच्छा होता है।

एनीमिया से बचाव:
कटहल आयरन का एक अच्छा सोर्स है जो एनीमिया से बचाव प्रदान करता है। इसके नियमित सेवन से ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है। ब्लड सर्कुलेशन ठीक रहने से स्किन अच्छी रहती है और बाल भी घने होते हैं।

हड्डियों को बनाए मजबूत:
कटहल में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम होता है, जो हड्डियां को स्वस्थ और मजबूत बनाता है।

पाचन क्रिया को बनाए मजबूत:
कटहल में भरपूर रेशे होते हैं, जो पाचन क्रिया को बेहतर बनाए रखते हैं।

थायराइड की परेशानी होती है दूर: 

थायरॉइड (Throid) एक ग्लैंड है, जो गले में सामने की ओर होता है। यह ग्रंथि तितली के आकार की होती है और यह शरीर के मेटाबॉल्जिम को नियंत्रण करती है। कटहल के सेवन से थायरॉइड ग्लैंड को हेल्दी रखा जा सकता है।

इम्यून सिस्टम होता है स्ट्रॉन्ग:

जैकफ्रूट में विटामिन-सी और एंटीऑक्सिडेंट की मौजूदगी इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग रखने में मददगार होता है। इसके सेवन से इंफेक्शन का खतरा भी कम होता है।

डायजेशन रहता है ठीक:

जैकफ्रूट में मौजूद फायबर शरीर के लिए लाभकारी होता है। बाउल मूवमेंट को फिट रखने काफी मददगार होता है।

अस्थमा पेशेंट्स के लिए वरदान:

अस्थमा के पेशेंट के लिए ये काफी लाभकारी होता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स या हर्ब एक्सपर्ट से सलाह लेकर इसका सेवन किया जा सकता है। बढ़ते उम्र के लोगों के लिए ये काफी अच्छा है।

पाचन होता है बेहतर:

कटहल के सेवन से अल्सर जैसी बीमारियों से भी बचा जा सकता है। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार इसके नियमित सेवन से कब्ज की परेशानी भी ठीक हो सकती है। कब्ज की परेशानी होने पर व्यक्ति अच्छा महसूस नहीं करता है और धीरे-धीरे पाईल्स जैसी अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

इन परेशानियों में भी फायदेमंद है:

  • हॉर्मोन्स को रखे नियंत्रित
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए
  • कैंसर को रखे दूर
  • आंखों के लिए फायदेमंद
  • स्किन संबंधित परेशानियों के लिए

कैसे काम करता है कटहल?

कटहल में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण कई परेशानियों को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये विटामिन-सी का भी अच्छा स्रोत है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट गुण भी होते हैं, जो मुक्त कणों को बेअसर करते हैं और कैंसर जैसी गंभीर बिमारी को रोकते हैं। इसमें कैल्शियम भी पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने का काम करता है। कटहल, डायबिटीज के मरीजों में, भोजन के बाद ब्लड शुगर में बढ़ोतरी को कम करने में मदद कर सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें:  गार्सिनिआ क्या है ?

उपयोग

कितना सुरक्षित है कटहल का उपयोग ?

अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से राय लें, यदि:

  • आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। इस दौरान ली जाने वाली कोई भी दवा आपके होने वाले बच्चे पर असर डाल सकती है। इसलिए आपको केवल डॉक्टर की सिफारिश पर दवाएं लेनी चाहिए।
  • आप पहले से ही दूसरी दवाइयां ले रहे हैं या बिना डॉक्टर के प्रिसक्रीप्शन वाली दवाइयां ले रही हों।
  • आपको कटहल या दूसरी दवाओं या फिर हर्ब्स से एलर्जी है।
  • आपको कोई दूसरी तरह की बीमारी, डिसऑर्डर, या मेडिकल कंडीशन है। 
  • कुछ लोग जिन्हें बर्च पराग से एलर्जी है, उन्हें कटहल से भी एलर्जी हो सकती है। इस एलर्जी से गुजर रहे है लोगों को इसके इस्तेमाल से थोड़ा बचकर रहना चाहिए।
  • कटहल ब्लड शुगर के लेवल को कम कर सकता है। साथ ही ब्लड शुगर के लेवल को प्रभावित भी कर सकता है। ऐसे कंडीशन में डायबिटीज की दवा की खुराक को शायद बदलना पड़ सकता है।
  • सर्जरी के दौरान या बाद में ली जाने वाली दवाओं के साथ कटहल का इस्तेमाल ड्रॉउजीनेस ला सकता है। सर्जरी की निर्धारित तिथि से 2 सप्ताह पहले ही इसका इस्तेमाल रोकना बेहतर होगा।
  • आपको किसी तरह की एलर्जी है, जैसे किसी खास तरह के खाने से, डाय से , प्रिजर्वेटिव या फिर जानवर से।

दवाइयों की तुलना में हर्ब्स लेने के लिए नियम ज्यादा सख्त नहीं हैं। बहरहाल यह कितना सुरक्षित है इस बात की जानकारी के लिए अभी और भी रिसर्च की जरूरत है। इस हर्ब को इस्तेमाल करने से पहले इसके रिस्क और फायदे को अच्छी तरह से समझ लें। हो सके तो अपने हर्बल स्पेशलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लेकर ही इसे यूज करें।

ये भी पढ़ें:  मेथी क्या है?

साइड इफेक्ट्स

कटहल से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

  • जैकफ्रूट एक्स्ट्रेक्ट ड्रॉउजीनेस ला सकता है।
  • स्किन एलर्जी
  • पेट खराब

हांलांकि हर किसी को इन साइड इफेक्ट्स का अनुभव नहीं होता है। कुछ ऐसे भी साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं जो ऊपर की लिस्ट में शामिल नहीं हों। यदि आप साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह जरूर लें।

डोजेज

कटहल को लेने की सही खुराक  क्या है ? 

हर मरीज के लिए इसकी खुराक अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियों पर निर्भर करती है। जड़ी बूटी हमेशा सुरक्षित नहीं होती हैं। कृपया अपनी उचित खुराक के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें:  मखाना क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

यह निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है। जैसे-

  • ताजा कटहल
  • कटहल के बीज अल्कोहल फ्री लिक्विड एक्सट्रेक्ट
  • एंकैप्सूलेटेड जैकफ्रूट एक्सट्रेक्ट।

अगर आप कटहल से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ें:

अदरक क्या है?

नीम क्या है?

Bay: तेज पत्ता क्या है?

खुश रहने का तरीका क्या है? जानिए खुशी और सेहत का संबंध

First time Sex: महिलाओं के फर्स्ट टाइम सेक्स के दौरान होने वाले शारीरिक बदलाव

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

ग्रीन टी आपकी बॉडी को हेल्दी रखने में ग्रीन सिग्नल की तरह करती है काम

ग्रीन टी सिर्फ वजन संतुलित रखने में ही मददगार नहीं है बल्कि इसके संतुलित मात्रा में सेवन से कई अन्य बीमारियों से भी बचा जा सकता है। जानने के लिए खेलें क्विज

Written by Nidhi Sinha
क्विज फ़रवरी 23, 2020

Glutathione Glow: ग्लूटाथियोन ग्लो से बढ़ाएं शादी के दिन चेहरे की रौनक

जानिए ग्लूटाथियोन से कैसे चेहरे पर लाएं ग्लो in hindi. ग्लूटाथियोन को ब्राइडल पिल के नाम से क्यों जाना जाता है? Glutathione का सेवन कैसे करना चाहिए?

Written by Nidhi Sinha

क्विज खेलें और दांतों को रखें मजबूत

दांतों को स्वस्थ रखने के लिए कौन सा पेय पदार्थ है जरूरी? ऐसे ही कई सवालों के जवाब छुपे हैं इस क्विज में।

Written by Nidhi Sinha
क्विज फ़रवरी 15, 2020

5 साल के बच्चे के लिए परफेक्ट आहार क्या है?

5 साल के बढ़ते बच्चे की सेहत के लिए क्या है आवश्यक खाद्य पदार्थ? क्विज खेलें और पाएं जवाब

Written by Nidhi Sinha
क्विज फ़रवरी 13, 2020