home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Cefoperazone + Sulbactam : सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Cefoperazone + Sulbactam : सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इस्तेमाल

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) का इस्तेमाल किसके लिए किया जाता है?

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम का प्रयोग पेट, मूत्र संबंधी इंफेक्शन और कई सांस संबंधी विकारों को दूर करने के लिए प्रयोग किया जाता है। यह एक एंटीबायोटिक दवा है जिसका प्रयोग इंजेक्शन के रूप में किया जाता है। ये दवाइयां बैक्टीरिया सेल्स की दीवारों के संश्लेषण को ब्लॉक करती हैं, इसलिए बैक्टीरिया का विकास नहीं हो पाता।

इस दवाई का प्रयोग इन स्थितियों में भी किया जाता है

  • सेप्टिसीमिया (बैक्टीरिया के कारण खून का विषाक्त होना)
  • मैनिंजाइटिस
  • त्वचा और त्वचा के कोमल उत्तकों के इंफेक्शन
  • हड्डियों और जोड़ों में इंफेक्शन
  • पेल्विक में जलन
  • एंडोमेट्रैटिस, गोनोरिया और जननांग के अन्य संक्रमण

और पढ़ें :Levocetirizine: लेवोसिट्रीजीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • जब भी आप कोई दवाई लेते हैं तो उस मेडिकल गाइड को अवश्य पढ़ें जो आपके डॉक्टर या फार्मासिस्ट ने आपको दी है। अगर कोई सवाल है तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से पूछें।
  • इसकी डोज आपकी मेडिकल स्थिति और अन्य कंडीशंस पर निर्भर करती है। इसके साइड इफेक्ट्स की संभावना को कम करने के लिए पहले डॉक्टर आपको कम डोज दे सकते हैं और उसके बाद इसकी डोज को बढ़ा सकते हैं। डॉक्टर की सलाह का पालन करें। एकदम इसकी डोज न तो बढ़ाएं न ही कम करें।

और पढ़ें : Phenytoin : फेनीटोइन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम को कैसे स्टोर करूं?

रीकंस्टीट्यूशन से पहले इस दवाई को 25°C तापमान पर स्टोर करें। रीकंस्टीट्यूशन सलूशन 2-8°C पर सात दिनों तक ऐसे ही रहता है और 24 घंटों तक इसे 8-25°C.पर स्टोर करें। अगर आप लंबे समय तक दवाइ का प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो उसका इस्तेमाल न करें। स्टोर से जुड़ी जानकारी जुटाने के लिए दवा के पैकेज पर लिखे हुए जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने डॉक्टर से इसके बारे में पूछे। सुरक्षा के लिए, आपको सभी दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखना चाहिए।

दवा का इस्तेमाल न करने पर या उसके एक्सपायर होने पर, डॉक्टर के निर्देश के बिना इसे न ही टॉयलेट में फ्लश करें और न ही नाली में फेकें। सुरक्षित रूप से दवा को नष्ट करने के बारे में अपने फार्मासिस्ट से पूछे।

[mc4wp_form id=”183492″]

सावधानियां और चेतावनी

सेफोपेराजोन+ सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

  • सेफोपेराजोन + सुलबैक्टमका प्रयोग उन रोगियों को नहीं करना चाहिए, जिन्हें पैंसिलिन, सुलबैक्टम, सेफपोराजोन या सिफालोस्पोरिन से एलर्जी हो।
  • सेफोपेराजोन + सुलबैक्टमका प्रयोग उन रोगियों को सावधानी से करना चाहिए जो पित्त बाधा (biliary obstruction), गंभीर लिवर या किडनी संबंधी रोगों से पीड़ित हों।
  • कुछ लोग जिनका उपचार सेफपोराजोन से हो रहा हो उनमें इस दवाई के प्रयोग से विटामिन-के की कमी हो सकती है।
  • अगर किसी को लिवर संबंधी समस्याएं या किसी की जॉन्डिस हिस्ट्री हो, तो उन्हें भी इस दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • इस दवाई का प्रयोग करने वाले रोगियों को प्रोथ्रॉम्बिन का लेवल नियमित रूप से चेक करना चाहिए।

और पढ़ें : Ascoril Syrup : एस्कोरिल सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था में इस दवाई का प्रयोग तभी करना चाहिए, जब बहुत अधिक आवश्यकता हो। यह गर्भ में पल रहे शिशु के लिए नुकसानदायक हो सकती है। अपने डॉक्टर से इस दवाई के फायदों और जोखिमों के बारे में बात करें। यह दवाई ब्रेस्ट मिल्क से पास होती है, जिससे ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस दवाई को लेने से शिशु को नुकसान हो सकता है। इसके लिए भी डॉक्टर की सलाह लें।

साइड इफेक्ट्स

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) के साइड इफेक्ट्स

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम के आमतौर पर कम या हल्के साइड इफेक्ट देखने को मिलते हैं। लेकिन, यह साइड इफेक्ट इस प्रकार हैं:

  • सभी एंटीबैक्टीरियल एजेंट्स के प्रयोग से क्लॉस्ट्रीडियम डिफ्फीसिल एसोसिएटेड डायरिया (CDAD) होने की संभावना रहती है। इसमें सेफपोराजोन/ सुलबैक्टम भी शामिल हैं। हालांकि, इसमें और हल्के दस्त से लेकर घातक अतिसार (diarrhea) तक हो सकता है।
  • सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम से कुछ लोगों को एलर्जिक रिएक्शन हो सकते हैं जैसे त्वचा पर लाल दाने या सांस लेने में समस्या।
  • इसके साथ ही इस दवाई के साइड इफेक्ट्स सिरदर्द, बुखार, ठंड लगना या इंजेक्शन वाली जगह दर्द भी हो सकते हैं। इसके साथ ही इससे ब्लड काउंट्स में भी थोड़ा परिवर्तन आ सकता है।
  • इस दवाई के साइड इफेक्ट्स इस बात पर भी निर्भर करते हैं कि आप इसे कैसे ले रहे हैं। यही नहीं, आपकी उम्र क्लिनिकल स्थिति और आप कौन-सी दवाइयों का प्रयोग कर रहे हैं, यह भी इसके कारण हो सकते हैं। इस दवाई का सबसे सामान्य साइड इफेक्ट है चक्कर आना, उल्टी आना, सिर दर्द, बुखार आदि।

और पढ़ें : Diclofenac sodium : डिक्लोफिनेक सोडियम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

इन जरूरी बातों को जानें

कौन-सी दवाएं सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) के साथ इस्तेमाल नहीं की जा सकती हैं?

  • लूप मूत्रल: सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम का प्रयोग करने से बालों की कोशिकाओं में समस्या आ सकती है। इस स्थिति से बचने के लिए इस दवाई को सही विकल्प से बदल देना चाहिए।
  • एंटीकोएगुलांट्स: इस दवाई को एंटीकोएगुलांट्स के साथ लेने से ब्लीडिंग की संभावना बढ़ सकती है। इसलिए, अगर आप एंटीकोएगुलांट्स का प्रयोग कर रहे हैं तो पहले ही डॉक्टर को बता दें।
  • एमिनोग्लीकोसाइड्स
  • वार्फरिन
  • एमिकासिन
  • एलोप्यूरिनॉल
  • प्रोबेनेसिड
  • टेट्रासाइक्लिन
  • जेंटामाइसिन

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम का इस्तेमाल किया जा सकता है?

एल्कोहॉल के साथ इस दवा को लेने से आपको अधिक चक्कर आ सकते हैं या आप सुस्त हो सकते हैं। जब तक आप ठीक महसूस नहीं करते, तब तक ड्राइव न करें, मशीनरी का उपयोग न करें, या ऐसा कुछ भी न करें जिसे करने के लिए सतर्कता की आवश्यकता है। मादक पेय से बचे। भोजन के साथ इसे ले सकते हैं या नहीं लेकिन डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसे लें।

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम के प्रयोग से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम सेहत के कुछ मामलों में खतरनाक हो सकता है। इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट से अपनी मौजूदा स्वास्थ्य स्थितियों के बारे में बात करें।

डोजेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

इस दवाई की डोज उम्र, क्लिनिकल स्थिति, स्वास्थ्य आदि पर निर्भर करती है।

वयस्कों के लिए क्या डोज है?

वयस्कों को रोजाना दिन में दो बार 1 से 2 ग्राम इस दवाई को लेने की सलाह दी जाती है। अगर इन्फेक्शन अधिक हो तो इसे 3-4 ग्राम दिन में तीन बार भी यह डोज दी जाती है।

बच्चों के लिए क्या डोज है?

बच्चों को डॉक्टर को सलाह के बाद ही यह दवाई दी जाने की सलाह दी जाती है। बच्चों को 6 से 12 घंटों में रोजाना 20-40 mg/kg लेने की सलाह दी जाती है।

गंभीर स्थितयों में रोजाना 160 mg/kg तक 2 से 4 घंटे में सामान मात्रा में डोज दी जाती है।

डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही डोज लेनी चाहिए अधिक डोज लेने से आपको साइड इफेक्ट हो सकते हैं।

और पढ़ें : Phenylephrine : फीनाइलेफ्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) किस रूप में आती है?

सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम निम्नलिखित रूप में आती है।

  • इंजेक्शन

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति में क्या करना चाहिए?

ओवरडोज या आपातकालीन स्थिति के लिए अपने स्थानीय डॉक्टर या हॉस्पिटल से संपर्क करें।

यदि मुझसे सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम (Cefoperazone + Sulbactam) की डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

अगर आपसे सेफोपेराजोन + सुलबैक्टम की डोज मिस हो जाए, तो जितना जल्दी हो सके इसे ले लें। हालांकि, अगर दूसरी खुराक का समय हो गया है, तो डबल डोज लेने की बजाय एक डोज मिस कर दें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है, अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/05/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड