home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Deworming Tablet : डीवार्मिंग टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानी और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Deworming Tablet : डीवार्मिंग टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

डीवाॅर्म टैबलेट काम कैसे करता है?

डीवार्मिंग टैबलेट एक परजीवी को मारने वाली दवा है। इसे पेट में मौजूद कीड़ों को मारने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ये लेवामिसोल (Levamisole) फॉर्मूला कैसे बनने वाली ब्रांडेड दवा है। लेवामिसोल पेट के कीड़ों को मारने वाली एक दवा है। लेवामिसोल का सेवन करने के बाद ये पेट के कीड़े की मांसपेशियों को पैरालाइज्ड कर देता है और उन्हें प्रजनन करने से रोकता है।

डोसेज

इस दवा के डोज के लिए आपको अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए। बिना डॉक्टर के परामर्श के आपको किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करें?

यूं तो डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) की एक ही खुराक होती है। अक्सर यही देखा गया है कि डॉक्टर पेट में कीड़े होने की स्थिति में एक इस दवा की एक ही डोज देते है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अगर गलती से आपने इस टैबलेट का ओवर डोज ले लिया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। किसी भी दवा का ओवरडोज होना खुद में एक मेडिकल इमरजेंसी हो सकती है।

और पढ़ें : Gudcef CV 200: गुडसेफ सीवी 200 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

इस दवा का सेवन आप चाहें तो खाली पेट और खाना खाने के बाद भी पानी के साथ कर सकते हैं। लेकिन आपके लिए रात के खाने के बाद इसका सेवन करना फायदेमंद होगा। क्योंकि रात में खाना खाने के बाद कुछ मीठा खा कर, जैसे- गुड़ खा कर इस दवा का सेवन करने से पेट के कीड़ों को मारने में आसानी मिलती है। लेकिन जरूरी है कि बिना डॉक्टर के सलाह के डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) ना ली जाए। डॉक्टर के परामर्श के बाद ही टैबलेट का सेवन शुरू करें। डॉक्टर के द्वारा दिए दिशा निर्देशों का पालन दवा के डोज लेते समय जरूर करना चाहिए। वहीं इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि डॉक्टर के द्वारा सुझाए गए डोज से न कम और न ही ज्याद मात्रा का सेवन करना चाहिए। वहीं, दवा का सेवन करने के बाद रिएक्शन हो सकता है। इसके अलावा कोई हेल्थ इमरजेंसी भी हो सकती है। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जा कर इमरजेंसी ट्रीटमेंट लेनी चाहिए। वहीं दवा का सेवन बिना डॉक्टर से पूछे बंद ना करें। डॉक्टर से पूछने के बाद और जांच के बाद ही दवा के डोज को बंद करें।

इस दवा का उपयोग निम्न स्वास्थ्य समस्या के इलाज के लिए किया जाता है :

एस्कैरिएसिस

एस्कैरिएसिस पेट में पाए जाने वाला कीड़ा ‘एस्कैरिस’ के कारण होने वाली बीमारी है। एस्कैरिस हमारी छोटी आंत में जा कर इंफेक्शन फैलाता है। जिससे पेट में दर्द की समस्या उत्पन्न होती है। इस स्थिति को एस्कैरिएसिस कहते हैं। इस दवा का उपयोग एस्कैरिएसिस से राहत दिलाने के लिए की जाती है।

एन्साइक्लॉस्टोमिआसिस

एन्साइक्लॉस्टोमिआसिस हुकवर्म के कारण होने वाला आंत का इंफेक्शन है। इस दवा का उपयोग इसके लिए भी किया जाता है।

एस्कैरिस और हुकवर्म दोनों के कारण होने वाला इंफेक्शन

कुछ मामलों में ऐसा भी होता है कि हमारी आंतों में एस्कैरिस और हुकवर्म दोनों के कारण ही इंफेक्शन हो जाता है। ऐसे में ये दवा एक पंथ दो काज करती है। दोनों तरह के वर्म को खत्म कर के इंफेक्शन से राहत देती है।

और पढ़ें : Uprise D3: अपराइज डी3 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इस दवा का सेवन करने से निम्न साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जैसे :

और पढ़ें : Dexorange Syrup: डेक्सोरेंज सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

कब इस दवा का सेवन न करें?

एलर्जी

अगर आपको लेवामिसोल (Levamisole) से एलर्जी हो तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे आपको सेहत संबंधी समस्या हो सकती है।

किडनी की बीमारी

किडनी की बीमारी से ग्रसित व्यक्ति को डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) बिल्कुल भी नहीं देना चाहिए। इससे मरीज की स्थिति और ज्यादा खराब हो सकती है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) को लेना सुरक्षित है?

कोई भी डॉक्टर इस दवा को प्रेग्नेंसी में तब तक लेने की सलाह नहीं देते हैं, जब तक कि बहुत जरूरी ना हो। जिससे मां और गर्भ में पल रहे बच्चे को किसी भी तरह की कोई हानि ना हो। वहीं, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे बच्चे में कई तरह से साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

और पढ़ें : Mucopain gel: म्यूकोपेन जेल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इसके अलावा निम्न समस्याएं भी हो सकती हैं :

ड्राइविंग या हैवी मशीन को ऑपरेट करना

अगर डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) का सेवन कर के आप ड्राइविंग या हैवी मशीन चलाते हैं तो आपको ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए। क्योंकि दवा का सेवन करने के बाद ऊपर बताए गए साइड इफेक्ट्स में से कोई भी लक्षण महसूस हो सकते हैं। ऐसे में सही यही होगा कि दवा का सेवन करने के बाद ड्राइविंग ना करें और ना ही कोई हैवी मशीन ऑपरेट करें।

रीनल इम्पेयरमेंट

जिन्हें किडनी की समस्या है या कभी पहले रही हो, उन्हें इस दवा का सेवन करने से बचना चाहिए। क्योंकि इससे किडनी फंक्शन में प्रॉब्लम आ सकती है। अगर किडनी फंक्शन का टेस्ट होना है तो ये दवा उसके रिजल्ट में बाधा बन सकती है।

हिपैटिक इम्पेयरमेंट

जिन लोगों को लिवर से जुड़ी समस्या या बीमारी है तो उन्हें इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इस दवा का उल्टा रिएक्शन देखने को मिल सकता है। इसके लिए आपको बिना डॉक्टर के सलाह के इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

यूं तो हर दवा हर व्यक्ति पर अलग-अलग तरह से रिएक्ट करती है। इस दवा को लेने से पहले भी इसके रिएक्शन को लेकर डॉक्टर से सलाह मशवरा जरूर कर लें।

क्या डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) भोजन या शराब के साथ रिएक्शन करती है?

ये दवा भोजन के साथ रिएक्ट करती है या नहीं, अभी तक इसकी कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

शराब के साथ इस दवा का सेवन करने से कोई रिएक्शन होता है या नहीं, इस बारे में अधिक जानकारी नहीं है। इसलिए दवा लेते समय अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श ले लें।

और पढ़ें : Caldikind Plus: कैलडिकाइंड प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

इन दवाओं के साथ हो सकता है रिएक्शन

इन बीमारियों के साथ भी इस दवा के रिएक्शन की संभावनाएं हैं

अभी तक डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) के साथ किसी भी बीमारी के साथ रिएक्शन की कोई बात सामने नहीं आई है, फिर भी इस दवा का सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से पूंछ लें।

स्टोरेज

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) को कैसे स्टोर करें?

डीवार्मिंग टैबलेट (Deworming Tablet) दवा को रूम टेंप्रेचर में ही रखें, कोशिश करें कि उसे डायरक्ट सन लाइट या धूप से बचाकर रखें। इस दवा तो फ्रिज में नहीं रखें। इसके अलावा इसे बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें। इस दवा को एक्सपायर होने के पहले ही इसका सेवन करें, वहीं अगर दवा का लंबे समय तक सेवन करना हो तो डॉक्टरी सलाह लें। दवा एक्सपायरी हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। दवा के रैपर को डस्टबिन में डिस्पोज करें ताकि बाद में उसकी कवरिंग रिसाइकिल की जा सके।

डीवार्मिंग (Deworming ) किस रूप में उपलब्ध है?

ये दवा टैबलेट के रूप में उपलब्ध है।

उम्मीद करते हैं कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस दवा का सेवन करें।

इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए डाक्टरी सलाह लें। हैलो स्वास्थ्य चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Deworming in children https://www.who.int/elena/titles/deworming/en/ Accessed on 17/6/2020

Levamisole https://www.drugbank.ca/drugs/DB00848 Accessed on 17/6/2020

Levamisole https://pubchem.ncbi.nlm.nih.gov/compound/levamisole Accessed on 17/6/2020

Levamisole, the Story and the Lessons https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/1618599/ Accessed on 17/6/2020

Use of Levamisole in Parasitic Infections https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/6995094/ Accessed on 17/6/2020

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/07/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड