home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Metformin: मेटफॉर्मिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मेटफॉर्मिन (Metformin) का उपयोग किसलिए किया जाता है?|मेटफॉर्मिन (Metformin) को इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?|मेटफॉर्मिन (Metformin) का इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?|कौन सी दवाएं मेटफॉर्मिन (Metformin) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?|डॉक्टर की सलाह
Metformin: मेटफॉर्मिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मेटफॉर्मिन (Metformin) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

प्रॉपर डायट और एक्सरसाइज के अलावा दूसरी दवाइयों के साथ ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल होता है। जो मरीज टाइप 2 डायबिटीज से ग्रसित हैं उनमें इसका यूज किया जाता है। ब्लड शुगर को कंट्रोल करने से किडनी डैमेज, अंधापन, नर्व समस्या, अंगों की हानि और सेक्शुअल समस्याओं को रोकने में मदद मिलती है। प्रॉपर तरीके से डायबिटीज कंट्रोल करने से हार्ट अटैक या स्ट्रोक के खतरे को कम किया जा सकता है। मेटफॉर्मिन, स्वाभाविक रूप से बनने वाले इंसुलिन के प्रति शरीर के प्रॉपर प्रतिक्रिया को सुधारने में मदद करने का काम करती है। मेटफॉर्मिन शुगर की मात्रा को कम करती है।

इस सेक्शन में कुछ उपयोग शामिल हैं जो प्रोफेशनल लेबलिंग में सूचीबद्ध नहीं किए गए हैं, लेकिन ये हेल्थकेयर प्रोफशनल द्वारा प्रिस्क्राइब किया जा सकता है। अपने हेल्थकेयर प्रोफेशनल द्वारा बताई गई स्थितियों में ही इस दवा का इस्तेमाल करें।

जिन लोगों में डायबिटिक होने का खतरा ज्यादा हो उनमें डायबिटीज को रोकने के लिए लाइफस्टाइल जैसे डायट और एक्सरसाइज में बदलाव करने के साथ मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल किया जा सकता है। जिन महिलाओं में ओवरी से संबंधित बीमारी (पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम) हो उनमें भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। मेटफोर्मिन महिलाओं में मेंस्ट्रुअल साइकल (Menstrual cycle) को नियमित करने और फर्टिलिटी को बढ़ाने में मदद करती है।

और पढ़ेंः Asthalin : अस्थलीन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

मैं मेटफॉर्मिन (Metformin) का कैसे इस्तेमाल करूं?

सामान्य रूप से दिन में एक से तीन बार डॉक्टर के निर्देश के मुताबिक ही इस दवा को खाएं। जब तक आपका डॉक्टर ना कहे तब तक इस दवा के साथ ज्यादा मात्रा में पानी न पिएं।

इस दवा की खुराक आपकी मेडिकल स्थिति, किडनी कैसे काम करती है? और ट्रीटमेंट के प्रति आप कितने संवेदनशील हैं, इस बात पर आधारित होती है। साइड इफेक्ट्स जैसे पेट खराब होना आदि की संभावना को कम करने के लिए डॉक्टर इस दवा की खुराक को पहले कम मात्रा में इस्तेमाल करने का निर्देश देगा और फिर धीरे-धीरे इसकी खुराक को बढ़ाएगा। डॉक्टर ब्लड शुगर लेवल के आधार पर खुराक को सुधारेगा जिससे कि आपको सबसे अच्छी खुराक मिल सके। अपने डॉक्टर के निर्देशों को ध्यान से फॉलो करें। इस दवा को नियमित रूप से इस्तेमाल करें जिससे आपको इसके ज्यादा फायदे मिल सकें। याद रखें हर दिन इस दवा को एक ही समय पर खाएं।

और पढ़ेंः Betahistine : बीटाहिस्टीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

अगर आप पहले से ही कोई एंटीडायबिटिक ड्रग (जैसे क्लोरप्रोपामाईड) ले रहे हैं तो पुरानी दवा को बंद करने या जारी रखने और मेटफॉर्मिन को शुरू करने को लेकर अपने डॉक्टर के निर्देशों को ध्यान से फॉलो करें।

डॉक्टर के निर्देश के अनुसार अपने ब्लड शुगर लेवल को नियमित रूप से चेक कराते रहें। ब्लड शुगर के रिजल्ट को अपने पास रखें और डॉक्टर से जरूर शेयर करें। अगर आपका ब्लड शुगर लेवल बहुत ज्यादा है या बहुत कम है तो इस बारे में डॉक्टर को बताएं। आपकी खुराक/इलाज में बदलाव की जरूरत है।

मैं मेटफॉर्मिन (Metformin) को कैसे स्टोर करूं?

इस दवा को प्रकाश और नमी से दूर कमरे के तापमान पर स्टोर करना बेहतर होता है। इस दवा को कभी भी बाथरूम या ठंडी जगह पर न रखें। मार्केट में इस दवा के अलग-अलग ब्रांड हैं जिन्हें स्टोर करने के लिए दिशा- निर्देश भी अलग-अलग हो सकते हैं। जब भी इस दवा को खरीदें सबसे पहले उसके पैकेज पर लिखे जरूरी निर्देशों को अच्छे से पढ़ें या फिर अपने फार्मासिस्ट से इसके बारे में पूछें। सुरक्षा के लिहाज से आपको इसे बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखना चाहिए।

बिना निर्देश के इस दवा को टॉयलेट या किसी नाले में न फेकें। अगर यह एक्सपायर हो चुका है या इसका इस्तेमाल नहीं करना है तो इसे नष्ट कर दें। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप अपने फार्मासिस्ट से संपर्क कर सकते हैं।

मेटफॉर्मिन (Metformin) को इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

मेटफॉर्मिन को लेने से पहले इन बातों का रखें ध्यान

  • अपने डॉक्टर को बताएं अगर आपको मेटफॉर्मिन या मेटफॉर्मिन लिक्विड या टैबलेट की सामग्री से या दूसरी दवाइयों से एलर्जी हो। अपने फार्मासिस्ट से इस बारे में पूछें या सामग्री की लिस्ट के लिए निर्माता द्वारा दी गई जानकारी को चेक करें।
  • अगर आप प्रिस्क्रिप्शन वाली या नॉनप्रिस्क्रिप्शन वाली दवाइयां विटामिन, न्यूट्रिशनल सप्लिमेंट्स और हर्बल प्रोडक्ट्स ले रहे हैं तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट को इस बारे में बताएं। अगर आप निम्नलिखित दवाइयां लेते हैं तो इस बात को सुनिश्चित करें: ऐसिटाजोलामाईड (डायामोक्स); ऐमिलोराइड (मिडामोर, मोडुरेक्टिक); ऐंजियोटेंशिन कन्वर्टिंग एंजाइम (एसीई, ace) इन्हिबिटर जैसे बेनाजेप्रिल (लौटेंशिन), कैप्टोप्रिल (कैपोटेन), इनालाप्रिल (वैसोटेक), फोसिनोप्रिल (मोनोप्रिल), लिसिनोप्रिल (प्रिनिविल, जेस्ट्रिल), मोएक्सीप्रिल (यूनिवास्क), पेरिंडोप्रिल (ऐसियोन), क्विनाप्रिल (एक्यूप्रिल), रैमीप्रिल (एल्टास) और ट्रांडोलाप्रिल (माविक); बीटा ब्लॉकर जैसे ऐटिनोलोल (टेनोर्मिन), लैबेटालोल (नोर्मोडाइन), मेटोप्रोलोल (लोप्रेसर, टोप्रोल एक्सएल), नाडोलोल (कोरगार्ड) और प्रोप्रेनोलोल (इंडेराल); कैल्शियम चैनल ब्लॉकर जैसे ऐमलोडीपीन (नारवास्क), डिलटियाजेम (कार्डिजेम, डिलाकोर, टियाजैक, अन्य), फेलोडीपीन (प्लेंडिल), इसराडीपीन (डाइनासिर्क), निकार्डिपिन (कार्डेन), निफेडीपीन (ऐडलैट, प्रोकार्डिया), निमोडीपीन (निमोटॉप), निसोल्डिपिन (सुलर) और विरेपामिल (कलान, आइसोप्टिन, विरेलैन); सिमेटीडीन (टेगामेट), डिगोक्सिन (लेनोक्सिन), डाईयूरेटिक्स (वाटर पिल्स), फुरोसेमाईड (लैसिक्स); हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरिपी; इंसुलिन या डायबिटीज की दूसरी दवाइयां; आइसोनियाजिड; अस्थमा बीमारी और सर्दी-जुकाम की दवाइयां; दिमागी बुखार और मिचली की दवाइयां; थायरॉइड की दवाइयां; मॉर्फिन (एमएस कॉन्टिन, अन्य); नियासिन; ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव (बर्थ कंट्रोल पिल्स); ओरल स्टेरॉयड जैसे डेक्सामेथासोन (डेकाड्रोन, डेक्सोन); मेथिलप्रेडनीसोलोन (मेडरोल) और प्रेडनिसोन (डेल्टासोन); फेनिटोइन (डाईलेंटिन, फेनीटेक); प्रोकेनामाईड (प्रोकैनबिड); क्विनिडिन; क्विनाइन; रैनीटीडीन (जेंटेक); टोपिरामेट (टोपामैक्स); ट्रियमटेरीन (डायाजाइड, मैक्सजाइड, अन्य); ट्राईमेथोप्रिम (प्रिमसोल); वैंकोमायसिन (वैंकोसिन); या जोनिसामाईड (जोनेग्रान)। आपका डॉक्टर आपकी खुराक को बदल सकता है साइड इफेक्ट्स को ध्यान से मॉनिटर कर सकता है।
  • अपनी मौजूदा या पहले की मेडिकल स्थिति के बारे में डॉक्टर को बताएं।
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या होने वाली हैं या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं तो इस बारे मे डॉक्टर को बताएं। अगर आप मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल करने के दौरान प्रेग्नेंट हो जाती हैं तो डॉक्टर को बताएं।
  • अगर सामान्य से कम खाते हैं या सामान्य से ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं तो डॉक्टर को बताएं। इस स्थिति में डॉक्टर आपको सही निर्देश दे सकता है।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान मेटफॉर्मिन (Metformin) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं में इस दवा के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। इस दवा लेने से पहले इसके फायदों और नुकसान के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से जरूर सलाह लें। युएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के अनुसार यह दवा प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी बी (pregnancy risk category B) के अंतर्गत आती है।

एफडीए प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी का संदर्भ नीचे दिया गया है,

  • A= कोई नुकसान नहीं
  • B= कुछ शोध में कोई नुकसान नहीं
  • C= थोड़ा नुकसान हो सकता है
  • D= नुकसान का पॉजिटिव प्रमाण
  • X= विराधाभाषी (CONTRAINDICATED)
  • N= कुछ पता नहीं
और पढ़ेंः Acemiz MR : एसीमिज एमआर क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

मेटफॉर्मिन (Metformin) का इस्तेमाल करने से क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अगर आपको इस तरह के एलर्जी के लक्षण महसूस हों जैसे हीव्स, सांस लेने में दिक्कत, चेहरे, होठ, जीभ या गले मे सूजन आदि तो आप मेडिकल सेवाओं की सहायता लें।

इस दवा के इस्तेमाल से लैक्टिक एसिडोसिस (शरीर मे लैक्टिक एसिड का बनना जोकि खतरनाक हो सकता है) हो सकती है। लैक्टिक एसिडोसिस धीरे-धीरे शुरू होता है और समय बीतने के साथ और अधिक खराब स्थिति में पहुंच जाता है। आप तुरंत मेडिकल सेवाओं की सहायता लें अगर आपको लैक्टिक एसिडोसिस के निम्नलिखित लक्षण भी महसूस हों जैसे;

अपने डॉक्टर को कॉल करें अगर आपको ये गंभीर साइड इफेक्ट्स महसूस हों जैसे:

  • हल्की थकान में भी सांस लेने में दिक्कत होना
  • सूजन या तेजी से वजन बढ़ना
  • बुखार, ठंड लगना, बॉडी दर्द, फ्लू के लक्षण

कम गंभीर साइड इफेक्ट्स जैसे;

  • सिर दर्द या मांसपेशियों में दर्द
  • कमजोरी
  • हल्की मितली, उल्टी, डायरिया की समस्या, गैस, पेट दर्द

सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। यहां पर आपको कुछ साइड इफेक्ट्स नहीं बताए गए हैं। अगर आपको साइड इफेक्ट्स को लेकर किसी तरह की चिंता है तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

और पढ़ें- Budesonide : बुडेसोनाइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

कौन सी दवाएं मेटफॉर्मिन (Metformin) के साथ नहीं ली जा सकती हैं?

मेटफॉर्मिन किन दवाओं के साथ इंटरेक्शन कर सकती है ?

अगर आप वर्तमान में कोई दवा ले रहें हैं तो यह दवा उसके साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित होगा या फिर गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। इसको रोकने के लिए आप उन दवाओं की लिस्ट रखें जो डॉक्टर द्वारा पर्चे पर लिखी गई हों या ना लिखी गई हों या हर्बल प्रोडक्ट्स हो और उन्हें डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ शेयर करें। सुरक्षा के लिहाज से आप बिना डॉक्टर के सहमति के ना तो कोई दवा शुरू करें, ना ही बंद करें और ना ही उसकी खुराक को बदलें, खासकर;

  • फ्यूरोसेमाइड (लैसिक्स)
  • निफेडीपीन (ऐडालैट, प्रोकार्डिया)
  • सिमेटिडीन (टेगामेट) या रैनीटिडीन (जेंटेक)
  • ऐमिलोराइड (मिडामोर) या ट्रायमटेरीन (डाईरेनियम)
  • डिगोक्सिन (लेनोक्सिन)
  • मॉर्फिन (एमएस कॉन्टिन, काडियान, ऑरामॉर्फ)
  • प्रोकेनामाईड (प्रोकेन, प्रोनेस्टिल, प्रोकैन्बिड)
  • क्विनिडिन (क्विन जी), क्विनाइन (क्वालाक्विन)
  • ट्राईमेथोप्रिम (प्रोलोप्रिम, प्रिमसोल, बैक्ट्रीम, कोट्रीम, सेप्ट्रा)
  • वैंकोमायसिन (वैंकोसिन, लाइफोसिन)।

अगर आप ब्लड शुगर लेवल बढ़ाने वाली दवाइयों के साथ मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल करते हैं तो आपको हाइपरग्लाइसिमिया (हाई ब्लड शुगर) हो सकता है। ये दवाइयां इस प्रकार हैं;

  • आइसोनियाजाइड
  • डाईयूरेटिक्स (वाटर पिल्स)
  • स्टेरॉयड (प्रेडनिसोन और अन्य)
  • हार्ट या ब्लड प्रेशर की दवाइयां (कार्टिया, कार्डिजेम, कोवेरा, आइसोप्टिन, वेरेलैन और अन्य)
  • नियासिन (ऐडविकोर, नियास्पान, नियाकोर, सिमकोर, स्लो-नियासिन और अन्य)
  • फीनोथियाजिन (कोम्पाजिन और अन्य)
  • थाइरोइड मेडिसिन (सिन्थ्रोइड और अन्य)
  • बर्थ कंट्रोल पिल्स और दूसरे हॉर्मोन
  • दौरे पड़ने की दवाइयां (डाईलेंटिन और अन्य)
  • डाइट पिल्स या अस्थमा, सर्दी जुकाम और एलर्जी की दवाइयां।

क्या भोजन और एल्कोहॉल के साथ मेटफॉर्मिन (Metformin) ली जा सकती है?

यह दवा आपके भोजन और एल्कोहॉल के साथ इंटरैक्ट कर सकती है जिससे दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है या गंभीर साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आप इस दवा के साथ भोजन या एल्कोहॉल लेना चाहते हैं तो डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

मेटफॉर्मिन (Metformin) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

यह दवा आपके स्वास्थ्य स्थिति के अनुसार इंटरैक्ट कर सकती है। इससे आपकी स्वास्थ्य स्थिति और खराब हो सकती है या दवा का एक्शन प्रभावित हो सकता है। इसलिए अपने मौजूदा स्वास्थ्य स्थिति के बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं खासतौर पर अगर ये निम्नलिखित बीमारियां हैं जिसे;

  • ज्यादा मात्रा में एल्कोहाॅल का इस्तेमाल
  • एड्रिनल ग्लैंड का ठीक से काम ना करना
  • पिट्यूटरी ग्लैंड का ठीक से काम ना करना
  • कुपोषण की स्थिति
  • फिजिकल स्थिति का कमजोर होना
  • ऐसी कोई स्थिति जिसमें ब्लड शुगर लेवल कम हो- इस स्थिति में मेटफॉर्मिन लेने वाले मरीजों में ब्लड शुगर लेवल कम होने की संभावना बढ़ सकती है।
  • एनीमिया (रेड ब्लड सेल्स का कम होना)
  • विटामिन बी12 की कमी- इस स्थिति में सावधानीपूर्वक इस दवा का इस्तेमाल करें क्योंकि स्थिति और अधिक खराब हो सकती है।
  • कंजेसिव हार्ट फेलियर (congestive heart failure), तीव्र या अस्थिर
  • डिहाइड्रेशन की समस्या
  • हार्ट अटैक, तीव्र
  • हाईपोक्सेमिया (ब्लड में ऑक्सीजन का कम होना)
  • किडनी की बीमारी
  • लीवर की बीमारी
  • सेप्सिस (ब्लड पॉइजनिंग, blood poisoning)
  • शॉक (ब्लड प्रेशर कम होना, ब्लड का प्रवाह कम होना)- ऐसी स्थिति में लैक्टिक एसिडोसिस हो सकती है। इस बारे में अगर कोई समस्या है तो डॉक्टर से संपर्क करें।
  • डायबिटिक कीटोएसिडोसिस (ब्लड में कीटोन का होना)
  • गंभीर किडनी की बीमारी
  • मेटाबॉलिक एसिडोसिस (ब्लड में एक्स्ट्रा एसिड होना)
  • टाइप 1 डायबिटीज – इस स्थिति में इस दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।
  • बुखार
  • इंफेक्शन
  • सर्जरी
  • ट्रॉमा- इस स्थिति में ब्लड शुगर कंट्रोल के साथ टेम्प्रेरी समस्या होती है और आपका डॉक्टर इंसुलिन के साथ इलाज कर सकता है।
और पढ़ेंः Ascorbic Acid (Vitamin C) : एसिड एस्कोर्बिक (विटामिन सी) क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डॉक्टर की सलाह

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

मेटफॉर्मिन (Metformin) कैसे उपलब्ध है?

मेटफॉर्मिन निम्नलिखित खुराकों और क्षमता में उपलब्ध है;

  • टैबलेट एक्सटेंडेड रिलीज, ओरल: 500mg, 1000mg

इमरजेंसी या ओवरडोज की स्थिति में क्या करना चाहिए?

इस स्थिति में अपने लोकल इमरजेंसी सेवाओं को कॉल करें या फिर अपने नजदीकी इमरजेंसी वार्ड में जाएं।

क्या करना चाहिए अगर एक खुराक लेना भूल जाएं?

अगर आप इस दवा की खुराक लेना भूल जाते हैं तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें। डबल खुराक ना लें।

उपरोक्त दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर
Anoop Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 21/08/2020 को
Mayank Khandelwal के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x