home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Tyrosine: टायरोसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|ये जरूरी बातें जानें|डोसेज
Tyrosine: टायरोसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

टायरोसिन (Tyrosine) का उपयोग किस लिए किया जाता है?

टायरोसिन एक तरह का अमीनो एसिड है, जो शरीर में प्रोटीन को बनाता है। कई प्रोटीन सप्लिमेंट में इसका इस्तेमाल फेनिलकीटोन्यूरिया (पीकेयू) के इलाज के लिए किया जाता है। इसे डिप्रेशन, अटेंशन डिफिसिट डिसऑर्डर (ADD), अटेंशन डिफिसिट हाइपरएक्टिव डिसऑर्डर (ADHD), नार्कोलेप्सी (narcolepsy) और नींद की कमी के बाद सतर्कता में सुधार के लिए भी उपयोग किया जाता है। इसके अलावा ये स्ट्रेस, प्रीमेंसट्रूअल सिंड्रोम (PMS), पार्किंसन रोग, एल्जाइमर, क्रोनिक फेटीग सिंड्रोम(CFS), हृदय रोग, स्ट्रोक, इरेक्टाइल डिसफंक्शन (erectile dysfunction), सेक्स में रूची कम होना और स्कीजोफ्रीनिया के इलाज में भी रिकमेंड किया जाता है।

मैं टायरोसिन (Tyrosine) का कैसे इस्तेमाल करूं?

टायरोसिन को बिल्कुल वैसे इस्तेमाल करें जैसे आपके डॉक्टर ने इसे आपको रिकमेंड किया है। दवा की डोज आपकी मेडिकल कंडिशन और ट्रीटमेंट पर निर्भर करती है। दवा के अच्छे परिणामों के लिए दवा को रोजाना एक ही समय पर लें। यदि दवा को लेने के बाद आप सही महसूस नहीं कर रहे हैं तो हो रही परेशानी को डॉक्टर से शेयर करें।

यह भी पढ़ें : Myoril: मायोरिल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मैं टायरोसिन (Tyrosine) को कैसे स्टोर करूं?

टायरोसिन को कमरे के तापमान पर स्टोर करना सबसे बेहतर है। इसे धूप और नमी से दूर रखें। ये दवा बाजार में अलग-अलग ब्रांड में मौजूद हो सकती है और सभी के स्टोर करने के नियम भी अलग हो सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले दवा के लेबल पर लिखे जरूरी निर्देशों को पढ़ें। अगर आपको दवा को लेकर किसी तरह का कोई कंफ्यूजन है, तो अपने डॉक्टर या फिर फार्मिस्ट से कंसल्ट करें।

दवा को स्टोर करने को लेकर एक बात का खास ख्याल रखें। सुरक्षा के लिए दवा को बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रखें।

यह भी पढ़ें: Pancreatin+Dimethicone/Polydimethylsiloxane : पैंक्रियेटिन+डायमेथीकॉन/ पॉलीडाइमिथाइलसिलोक्सेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

टायरोसिन (Tyrosine) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

टायरोसिन को लेने से पहले निम्न बाते अपने डॉक्टर को जरूर बताएं:

  • यदि आपको टायरोसिन या अन्य किसी दवा से एलर्जी है तो इस बात की जानकारी अपने डॉक्टर को दें।
  • इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपनी मेडिकल हिस्ट्री के बारे में अपने डॉक्टर को बताएं।
  • अगर आप प्रेग्नेंट है या प्रेग्नेंट होने का प्लान कर रही हैं या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं तो अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • अगर आपको दवा से अलग भी किसी चीज से एलर्जी है तो इसकी जानकारी भी अपने डॉक्टर को जरूर दें।
  • यदि आप किसी स्वास्थ्य स्थिति का उपचार ले रहे हैं।
  • अगर आप किसी तरह के हर्बल्स, काउंटर से मिलने वाली दवाएं या अन्य दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं।
  • इस दवा को डॉक्टर की सलाह के बिना न लें और न ही अचानक बंद करें। इसकी डोज में वृद्धि या कमी डॉक्टर की सलाह के बाद ही करें।
  • अगर आपको ओवरएक्टिव थायरॉइड या ग्रेव्स रोग है तो इस दवा का इस्तेमाल न करें।

यह भी पढ़ें : Pulmoclear: पलमोक्लिअर क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान टायरोसिन (Tyrosine) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान महिलाओं में टायरोसिन के इस्तेमाल को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी नहीं है। टायरोसिन लेने से पहले इसके फायदों और नुकसान के बारे में जानने के लिए डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

यह भी पढ़ें: Etoricoxib+Paracetamol: एटोरिकॉक्सिब+पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

टायरोसिन (Tyrosine) के क्या साइड इफेक्ट क्या हो सकते हैं?

ज्यादातर सभी लोगों में टायरोसिन का सेवन सुरक्षित है। हालांकि, कुछ शोध बताते हैं कि इसकी हाई डोज लेने से दिल की धड़कन तेज, हाई ब्लड प्रेशर और स्कीजोफ्रीनिया के लक्षण पहले से ज्यादा हो सकते हैं। इसके अलावा टायरोसिन से निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।

हालांकि, सभी लोगों को ये सारे साइड इफेक्ट्स महसूस नहीं होते हैं। यहां पर कुछ साइड इफेक्ट्स नहीं बताए गए हैं। अगर आपको इन साइड इफेक्ट्स को लेकर किसी तरह की चिंता है तो इस बारे में डॉक्टर या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें: Amlodipine: एम्लोडीपिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ये जरूरी बातें जानें

कौन-सी दवाएं टायरोसिन (Tyrosine) के साथ इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए?

टायरोसिन आपकी मौजूदा ली जा रही दवाओं के साथ रिएक्शन कर सकती है। इससे गंभीर दुष्परिणाम भी होने का खतरा रहता है। इसके साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए उन सभी दवाओं की एक लिस्ट तैयार कर लें, जिसका आप सेवन कर रहे हैं। इस लिस्ट में उन दवाओं को भी लिखे जिन्हें आप सीधे मेडिकल स्टोर से खरीदकर ले रहे हैं। इसके अलावा आप जिन हर्बल प्रोडक्ट को ले रहे हैं वो भी इस लिस्ट में शामिल करिए। तैयार हुई लिस्ट को अपने डॉक्टर या फार्मिस्ट को दिखाएं। डॉक्टर की सलाह के बिना किसी भी दवा को शुरू, बंद और डोज में परिवर्तन न करें। अगर आप ठीक महसूस भी कर रहे हैं जब तक डॉक्टर इसकी सलाह न दे खुराक में किसी तरह का कोई बदलाव न करें।

निम्नलिखित दवाओं में से किसी के साथ इस दवा का उपयोग करने से आपको कुछ साइड इफेक्ट्स का खतरा हो सकता है:

  • लीवोडोपा (Levodopa)

टायरोसिन लीवोडोपा के असर को प्रभावित कर सकता है। इन दोनों दवाओं को साथ में न लें।

  • थायरॉइड हॉर्मोन पिल्स (Thyroid hormone pills)

हमारा शरीर खुद थायरॉइड हॉरमोर्न बनाता है। टायरोसिन को लेने से थायरॉइड हॉर्मोन बनने पहले से ज्यादा हो सकते हैं। टायरोसिन के साथ थायरॉइड हॉर्मोन पिल्स लेने से शरीर में अत्यधिक थायरॉइड हॉर्मोन हो सकते हैं, जिससे कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें : Sucralfate : सुक्रालफेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ टायरोसिन (Tyrosine) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

किसी खास डायट या एल्कोहॉल के साथ टायरोसिन का सेवन किया जाए तो इसके परिणाम खतरनाक हो सकते हैं। इसलिए इसे किस तरह के खाद्य पदार्थों के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से बातचीत करें।

टायरोसिन (Tyrosine) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

टायरोसिन (Tyrosine) आपकी स्वास्थ्य की स्थिती के अनुसार काम करता है। कई मामलों में यह दवा घातक भी साबित हो सकती है। इसलिए जरूरी है कि इसके इस्तेमाल से पहले अपने स्वास्थ्य की मौजूदा स्थिति और वर्तमान में ली जा रही दवाओं के बारे में डॉक्टर को बताएं। विशेष रूप से:

  • ओवरएक्टिव थायरॉइड
  • ग्रेव्स रोग

यह भी पढ़ें: Betamethasone valerate: बीटामेथाजोन वैलरेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

डोसेज

यहां पर दी गई जानकारी को डॉक्टर की सलाह का विकल्प न मानें। किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

टायरोसिन (Tyrosine) को लेने की सही खुराक क्या है?

वैज्ञानिक अनुसंधान में निम्नलिखित खुराक का अध्ययन किया गया है:

लंबे समय तक नींद के बिना रहने के बाद सतर्कता में सुधार के लिए: 150 मिलीग्राम/किलोग्राम/दिन

फेनिलकेटोन्युरिया (Phenylketonuria or PKU): प्रति 100 ग्राम प्रोटीन में 6 ग्राम टायरोसिन का समावेश

आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए डॉक्टर से चर्चा करें।

यह भी पढ़ें: Pancreatin : पैंक्रियेटिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

टायरोसिन (Tyrosine) किन रूपों में उपलब्ध है?

टायरोसिन निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • कैप्सूल
  • पाउडर

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में क्या करूं?

इमरजेंसी या ओवरडोज होने की स्थिति में अपने स्थानीय आपातकालीन सेवाओं को कॉल करें या अपने नजदीकी इमरजेंसी वॉर्ड में जाएं।

टायरोसिन (Tyrosine) की खुराक भूलने पर क्या करूं?

अगर आप टायरोसिन की खुराक लेना भूल जाते हैं, तो याद आने पर जल्द से जल्द अपनी खुराक लें। हालांकि, अगर इसके कुछ ही समय बाद आपको अपनी अगली खुराक लेनी हो, तो इसे न लें और अपनी नियमित खुराक के अनुसार ही इसका सेवन करते रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सक सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है।

और पढ़ें:-

Chlorhexidine Gluconate+Clobetasol+Miconazole+Neomycin: क्लोरहेक्सिडिन ग्लूकोनेट+क्लोबेटासोल+मिकोनाजोल+नियोमायसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Ofloxacin+Ornidazole: ओफ्लॉक्सासिन+ओरनिडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

Roxithromycin: रॉक्सीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Nimesulide+Paracetamol/Acetaminophen: निमेसुलाइड+पैरासिटामोल/ एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/05/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x