Drug allergy : ड्रग एलर्जी क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट September 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

ड्रग एलर्जी क्या है?

हर व्यक्ति का शारीरिक या मानसिक रोगों या समस्याओं के दौरान दवाई का सेवन करना बेहद सामान्य है। लेकिन कई बार किन्ही दवाइयों का सेवन करने से एलर्जी हो सकती है। दवाइयों से होने वाले एलर्जिक रिएक्शंस को ड्रग एलर्जी कहा जाता है। इस एलर्जी के लक्षण गंभीर भी हो सकते हैं। 

ड्रग एलर्जी का सबसे आम कारण पेनिसिलिन है। पेनिसिलिन के समान अन्य एंटीबायोटिक्स भी ड्रग एलर्जी का कारण बनते हैं। हालांकि, ऐसा आवश्यक नहीं है कि अगर किसी दवाई से एक व्यक्ति को एलर्जी होती है तो किसी अन्य व्यक्ति को भी उससे एलर्जी हो।

और पढ़ें : Drug addiction : ड्रग एडिक्शन क्या है?

ड्रग एलर्जी का कारण

ड्रग एलर्जी का मुख्य कारण कमजोर इम्युनिटी (immunity) भी है। जब आप पहली बार कोई दवा लेते हैं तो हो सकता है कि आपको कोई समस्या न हो। लेकिन, आपका इम्यून सिस्टम किसी ऐसे तत्व का निर्माण कर सकता है जो दवा के विपरीत कार्य करें। ऐसे में, जब आप अगली बार इस दवा का सेवन करते हैं तो एंटीबाडी (Antibody) आपके शरीर के वाइट ब्लड सेल (white blood cells) ऐसे केमिकल का निर्माण कर सकते हैं जिन्हे हिस्टामिन (histamine) कहा जाता है। हिस्टामिन और ऐसे ही अन्य केमिकल्स एलर्जी का कारण है।
निम्नलिखित दवाईयां ड्रग एलर्जी का कारण हैं

  • वो दवाईयां जो सीज़र्स के उपचार के लिए प्रयोग होती हैं
  • इन्सुलिन
  • तत्व जिनमे आयोडीन, जैसे X-रे जैसे कंट्रास्ट डाई
  • एंटीबायोटिक
  • सल्फा ड्रग्स
  • एंटीकंवलसेन्टस
  • गैर-स्टेरायडल एजेंट(Non-Steroidal Anti Inflammatory Drugs) (जैसे एस्पिरिन और इबुप्रोफेन)
  • कीमोथेरेपी दवाएं

और पढ़ें :Ibuprofen + Paracetamol/Acetaminophen : इबूप्रोफेन + पेरासिटामोल/एसिटामिनोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

लक्षण

त्वचा पर रैशेस और हीव्स (hives) अधिकतर ड्रग एलर्जी (drug allergy) से होने वाले लक्षण हैं। यह लक्षण दवाई खाने के कुछ देर बाद देखे जा सकते हैं। ड्रग एलर्जी के सबसे सामान्य लक्षण क्या हैं?

ड्रग एलर्जी के सामान्य लक्षण निम्नलिखित हैं। जैसे:

  • हीव्स होना 
  • त्वचा और आंखों में खारिश आना 
  • रैशेस की समस्या
  • होंठ, जीभ या चेहरे पर सूजन होना 
  • घरघराहट महसूस होना 

इन ऊपर बताये लक्षणों के अलावा अन्य लक्षण देखे जा सकते हैं।

एनाफिलेक्सिस के लक्षण इस प्रकार हैं:

  • पेट में दर्द महसूस  होना
  • बेचैनी होना 
  • डायरिया की समस्या
  • साँस लेने में परेशानी या आवाज आना
  • चक्कर आना
  • बेहोश होना 
  • उल्टी आना

और पढ़ें : क्यों आता है चक्कर? जानिए कारण और चक्कर के घरेलू उपाय

निदान

ड्रग एलर्जी के सही निदान होना बेहद आवश्यक है। रिसर्च के अनुसार ड्रग एलर्जी को ओवर डाईगनोसड किया जा सकता है और रोगी उस ड्रग एलर्जी की रिपोर्ट कर सकते हैं जिनकी कभी पुष्टि नहीं की गई है। ड्रग एलर्जी के निदान के लिए सबसे पहले डॉक्टर आपकी मेडिकल हिस्ट्री और लक्षणों के बारे में बात करेंगे। आपके डॉक्टर आपकी शारीरिक जांच कर सकते हैं और आपसे कुछ सवाल भी पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आपको इसके लक्षणों, दवा लेने का समय, लक्षणों में सुधार या बदलाव जैसी चीजें डॉक्टर को इस रोग के निदान में मदद कर सकती हैं। अगर उन्हें लगता है कि आपको एंटीबायोटिक जैसे पेनिसिलिन से एलर्जी है तो वो इसके लिए स्किन टेस्ट करा सकते हैं। लेकिन स्किन टेस्टिंग (skin testing) हर ड्रग के लिए काम नहीं करती और कुछ मामलों में खतरनाक हो सकती है। अगर किसी खास ड्रग को लेकर आप गंभीर रिएक्शन महसूस करते हैं तो आपके डॉक्टर आपको वो दवाई नहीं देंगे।

और पढ़ें : एंटी-इंफ्लमेट्री डायट से ठीक हो सकती है ऑटोइम्यून डिजीज

उपचार

ड्रग एलर्जी के उपचार का उद्देश्य लक्षणों से छुटकारा पाना और रिएक्शन से मुक्ति पाना है। इस समस्या के उपचार में यह सब भी शमिल है।

  • हल्के लक्षणों जैसे दाने, पित्ती और खुजली से राहत देने के लिए एंटीहिस्टामाइन का प्रयोग।
  • अस्थमा जैसे लक्षणों को कम करने के लिए एल्ब्युटेरोल जैसे ब्रोन्कोडायलेटर्स (घरघराहट या खांसी)
    कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स त्वचा पर लगाया जाता है, मुंह द्वारा लिया जाता हैं, या एक नस के माध्यम से दिए जाते हैं (intravenously)।
  • एनाफिलेक्सिस का इलाज करने के लिए इंजेक्शन द्वारा एपिनेफ्रीन।
  • नुकसान पहुंचाने वाली दवा और इसी तरह की दवाओं से बचा जाना चाहिए। सुनिश्चित करें कि आपके डॉक्टर को आपकी ड्रग एलर्जी के बारे में पता होना चाहिए।
  • कुछ मामलों में, पेनिसिलिन एलर्जी (या अन्य दवा) डिसेन्सिटाइजेशन का जवाब देती है। इस उपचार में पहली बार आपको बहुत कम खुराक दी जाती है, इसके बाद दवा की आपकी टॉलरेंस में सुधार के लिए दवा की अधिक खुराक दी जाती है। जब आपके पास लेने के लिए कोई वैकल्पिक दवा न हो तब यह प्रक्रिया केवल डॉक्टर द्वारा की जानी चाहिए।

क्विज खेलें : स्किन एलर्जी से जुड़े सवालों का जवाब मिलेगा क्विज से, खेलें और जानें

दवाइयां

एंटीहिस्टामिनस

आपके डॉक्टर आपको एंटीहिस्टामाइन की सलाह दे सकते हैं या एक ओवर-द-काउंटर एंटीहिस्टामाइन जैसे कि डिपेनहाइड्रामाइन [diphenhydramine] (बेनाड्रील) की सलाह दें सकते हैं। जो एलर्जी रिएक्शन के दौरान इम्यून सिस्टम के रसायनों को ब्लॉक कर सकती हैं।

कॉर्टिकोस्टेरॉइड

बहुत अधिक गंभीर रिएक्शन से होने वाली सूजन के इलाज के लिए या तो ओरल या इंजेक्शन कॉर्टिकोस्टेरॉइड का उपयोग किया जा सकता है।

एनाफिलेक्सिस का उपचार

एनाफिलेक्सिस के लिए तुरंत एपिनेफ्रीन इंजेक्शन की आवश्यकता होती है और साथ ही रक्तचाप को बनाए रखने और श्वास सही बनाए रखने के लिए मरीज को हॉस्पिटल में रखा जाता है।

एलर्जी पैदा करने वाली दवाएं

अगर आपको पता है कि किसी दवाई से आपको एलर्जी है, तो आपको तब तक डॉक्टर इस दवा को लेने की सलाह नहीं देंगे, जब तक यह आवश्यक न हो। कुछ मामलों में – यदि ड्रग एलर्जी का निदान अनिश्चित है या इसका कोई उपचार नहीं है तो आपके डॉक्टर दवा का उपयोग करने के लिए निम्नलिखित तरीके अपना सकते हैं।

अन्य दवाइयां

  • सबसे पहले डॉक्टर आपको इसके लक्षणों को दूर करने के लिए दवाई देंगे। उदाहरण के लिए, एंटीथिस्टेमाइंस और कुछ मामलों में, कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स जैसी दवाएं जो दाने, पित्ती और खुजली को नियंत्रित कर सकती हैं।
  • खांसी और फेफड़ों की ब्लॉकेज के लिए, आपके डॉक्टर आपके एयरवेज को चौड़ा करने के लिए ब्रोंकोडाईलेटर्स (जैसे एल्ब्यूट्रोल या कॉम्बीवेंट) नामक दवाओं की सलाह दे सकते हैं।
  • एनाफिलेक्सिस लक्षणों के लिए, आपको एपिनेफ्रिन के एक शॉट की आवश्यकता हो सकती है, और आपको निश्चित रूप से चिकित्सा देखभाल की आवश्यकता हो सकती है। इस स्थिति में डॉक्टर से तुरंत मिले।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Alaspan Am Tablet : एलास्पेन एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एलास्पेन एम टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एलास्पेन एम टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Alaspan Am Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Ebast DC Tablet : एबास्ट डीसी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एबास्ट डीसी टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एबास्ट डीसी टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Ebast DC Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Solvin Tablet : सोल्विन टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सोल्विन टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, सोल्विन टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Solvin Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Recofast Tablet : रिकोफास्ट टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिकोफास्ट टैबलेट जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, रिकोफास्ट टैबलेट का उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Recofast Tablet डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel

Recommended for you

जानें बच्चों के लिए टमाटर के फायदे और नुकसान, इन बातों का रखें ध्यान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Niharika Jaiswal
प्रकाशित हुआ February 18, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें

ड्रग इंटरैक्शन क्या है? कैसे बच सकते हैं इससे?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ December 17, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
सेटसिप एल टैबलेट

Cetcip L Tablet : सेटसिप एल टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ August 31, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
डैजिट एम टैबलेट

Dazit M Tablet : डैजिट एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ August 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें