home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Scurvy : स्कर्वी रोग क्या है?

परिचय|लक्षण|कारण|जोखिम|उपचार|घरेलू उपचार
Scurvy : स्कर्वी रोग क्या है?

परिचय

स्कर्वी रोग (Scurvy) क्या है?

स्कर्वी रोग (Scurvy) विटामिन सी की कमी को कहा जाता है। इसके कारण एनीमिया, दुर्बलता, थकावट, अपने आप ब्लीलिडिंग होना, अंगों में दर्द और विशेष रूप से पैर, शरीर के कुछ हिस्सों में सूजन और कभी-कभी मसूड़ों की सूजन और दांत कमजोर हो सकते हैं।

कितना सामान्य है स्कर्वी रोग होना?

स्कर्वी रोग की पहचान प्राचीन सभ्यता ग्रीक और एजिप्ट के समय में ही हो गई थी। 15वीं से 18वीं शताब्दी में यह रोग नाविकों के साथ जुड़ा हुआ था, लंबे समुद्री यात्राओं के दौरान स्कर्वी रोग का प्रकोप देखा गया था। जिसके कारण कई लोगों की जान भी गई थी।

स्कर्वी रोग सन् 1845 में आयरिश आलू अकाल और अमेरिकी गृहयुद्ध के दौरान भी देखा गया था। युद्ध और सूखे के बाद साल 2002 में इस प्रकोप अफगानिस्तान में सबसे ज्यादा देखा गया था।

हालांकि, स्कर्वी रोग के आधुनिक मामले दुर्लभ हैं, खासकर उन जगहों पर जहां अनाज उपलब्ध हैं, लेकिन यह अभी भी उन लोगों को प्रभावित कर सकता है जिनमें विटामिन सी की मात्रा की कमी होती है।

और पढ़ेंः विटामिन-डी डेफिशियेंसी (कमी) से बचने के लिए खाएं ये चीजें

लक्षण

स्कर्वी रोग होने के लक्षण क्या है?

आमतौर पर विटामिन सी की कमी के लक्षण 8 से 12 हफ्तों में दिखाई देते हैं। इसके शुरुआती संकेतों में भूख में कमी, वजन में कमी, थकान, चिड़चिड़ापन और सुस्ती महसूस हो सकती है।

जिसके 1 से 3 महीने बाद, इस तरह के लक्षण दिखाई दे सकते हैं:

इसके अलावा, पीलिया, लाल रक्त कोशिकाओं का खराब होना हेमोलिसिस के रूप में जाना जाता है, जो घातक हो सकता है। स्कर्वी रोग वाले शिशु चिंतित और चिड़चिड़े हो जाते हैं। वे दर्द का अनुभव कर सकते हैं जिससे राहत पाने के लिए वो मेंढक जैसे सो सकते हैं। इसके अलावा सबपरियोस्टाइल रक्तस्राव भी हो सकता है। यह एक प्रकार का रक्तस्राव जो लंबी हड्डियों के सिरों पर होता है। पशु अध्ययनों से पता चला है कि गर्भावस्था के दौरान महिला में विटामिन सी की कमी का प्रभाव पेट में पल रहे भ्रूण के मस्तिष्क के विकास पर पड़ता है।

इसके सभी लक्षण ऊपर नहीं बताएं गए हैं। अगर इससे जुड़े किसी भी संभावित लक्षणों के बारे में आपका कोई सवाल है, तो कृपया अपने डॉक्टर से बात करें।

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

अगर निम्न में से आपको कोई भी लक्षण दिखाई दें, तो आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए:

  • हर समय थकान या कमजोरी महसूस करना
  • हर समय उदास या चिड़चिड़ा रहना
  • घुटनों जोड़ों और पैरों में दर्द होना
  • मसूड़ों में सूजन, दर्द, खून आना
  • त्वचा पर लाल या नीचे धब्बे आना
  • त्वचा पर आसानी से खरोंच लगना

अगर ऊपर बताए गए किसी भी तरह के लक्षण आपमें या आपके किसी करीबी में दिखाई देते हैं या इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करें। हर किसी का शरीर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रिया करता है।

और पढ़ें: Encephalitis : इंसेफेलाइटिस क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

कारण

स्कर्वी रोग के क्या कारण हैं?

हमारे शरीर में विटामिन सी का निर्माण नहीं होता है। इसकी मात्रा की पूर्ति के लिए हमें खाद्य व अन्य पदार्थों पर निर्भर रहना होता है। अगर आपके आहार में लगातार तीन महिनों से विटामिन सी की कमी होती है, तो आपको स्कर्वी रोग का खतरा हो सकता है।

जोखिम

कौन सी स्थितियां स्कर्वी रोग को बढ़ा सकती हैं?

आज के समय में स्कर्वी रोग का खतरा बहुत होना बहुत ही कम है। हालांकि, अगर आपको निम्न लक्षण दिखाई दें तो अपने डॉक्टर से संपर्क करेंः

स्कर्वी रोग के जोखिम वाले अन्य समूहों में शामिल हो सकते हैं:

  • गंभीर पाचन स्थिति वाले लोग, जैसे कि क्रोहन रोग या अल्सरेटिव कोलाइटिस
  • छोटे बच्चे और युवाएं जिन्हें उचित मात्रा में विटामिन्स नहीं मिलता है
  • बुजुर्ग लोग, जिन्हें अपना डाइट संतुलित रखने में परेशानी होती है
  • ड्रग या शराब के आदि।

और पढ़ें: Crohn Disease : क्रोहन रोग क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

उपचार

यहां प्रदान की गई जानकारी को किसी भी मेडिकल सलाह के रूप ना समझें। अधिक जानकारी के लिए हमेशा अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

स्कर्वी रोग का निदान कैसे किया जाता है?

डॉक्टर शारीर की जांच करेंगे। इसके लिए जरूरी टेस्ट करवाने होंगे। जिसके आधार पर वो रक्त में विटामिन सी के स्तर का आकलन करेंगे। जिसके परिणाओं के आधार पर आपका उपचार किया जाएगा।

स्कर्वी रोग का इलाज कैसे होता है?

इसके उपचार के दौरान आपको विटामिन सी की गोलियां दी जाएंगी। जो आपको खाने की गोलियों और इंजेक्शन के तौर पर दी जा सकती हैं।

दवा की मात्रा इस तरह हो सकती है:

  • 2 से 3 दिनों तक 1 से 2 ग्राम
  • अगले 7 दिनों के लिए 500 मिग्रा
  • 1 से 3 महीनें के लिए 100 मिग्रा

दवा की खुराक लेने के 24 घंटों के अंदर, थकान, सुस्ती, दर्द और एनोरेक्सिया की स्थिति में सुधार देखा जा सकता है। हालांकि, रक्तस्राव या कमजोरी की स्थिति में सुधार होने में 1 से 2 हफ्ते लग सकते हैं।

3 महीनों के बाद, आप पूरी तरह से स्वस्थ हो सकेंगे। हालांकि, अगर विटामिन सी की कमी के कारण आपके दांतों पर प्रभाव पड़ा है, तो उसके लिए आपको अलग से उपचार लेने की जरूरत होगी।

स्कर्वी रोग के इालज के लिए स्कर्वी ग्रास हर्बल का भी इस्तेमाल किया जाता है।

और पढ़ें: Carpal Tunnel Syndrome: कार्पल टनल सिंड्रोम क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और इलाज

घरेलू उपचार

जीवनशैली में किस तरह के बदलाव किए जाए जो मुझे स्कर्वी रोग से बचा सकते हैं?

  • लाइफ स्टाइल में बदलाव और घरेलू उपाय निम्न प्रकार से हैं जो आपको स्कर्वी को प्रबंधित करने में मददगार हो सकते हैं:
  • आहार में विटामिन सी की उचित मात्रा शामिल करें।
  • विटामिन सी का सबसे अच्छा स्रोत फल और सब्जियां हैं। अपने आहार में इनकी मात्रा बढ़ाएं।
  • हमेशा स्वस्थ और संतुलित आहार खाएं।
  • अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो उसकी बेहतर समझ के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।
health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Scurvy: Causes, symptoms, and treatment https://www.medicalnewstoday.com/articles/155758.php Accessed November 06, 2019.

Scurvy https://beta.nhs.uk/conditions/scurvy/?WT.mc_id=organic_split Accessed November 06, 2019.

Scurvy https://www.britannica.com/science/scurvy Accessed November 06, 2019.

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड