home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने का इस्तेमाल कितना है सुरक्षित?

कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने का इस्तेमाल कितना है सुरक्षित?

आरोग्य सेतु एप (Aarogya Setu App) के मुताबिक भारत में कोरोना वायरस इंफेक्शन (Coronavirus Infection) से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या 28 हजार के करीब पहुंच चुकी है। SARS-CoV-2 इंफेक्शन (Infection) के मामलों की बढ़ती हुई संख्या देखकर लोगों में डर बढ़ता जा रहा है। जिस कारण वह कोविड-19 बीमारी से पूरी तरह सुरक्षा प्राप्त करने के लिए सभी तरह के कोरोना वायरस टिप्स (Coronavirus Tips) को फॉलो कर रहे हैं। कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनना भी ऐसा ही एक उपाय है, जिसके बारे में लोग पूरी तरह न जानकर उसे फॉलो किए जा रहे हैं। लोगों को लगता है कि, अगर घर से बाहर जाने पर दस्ताने यानी ग्लव्स (Gloves) पहन लिए जाएं, तो यह वायरस हमें संक्रमित नहीं कर सकता है। लेकिन, सच्चाई थोड़ी अलग है, तो आइए जानते हैं कि कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने कितने मददगार हैं?

और पढ़ें: कोरोना से बचाव के लिए कितना रखें एसी का तापमान, सरकार ने जारी की गाइडलाइन

क्या कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनना चाहिए?

स्वास्थ्य मंत्रालय और विश्व स्वास्थ्य संगठन जैसे विश्वस्तरीय संगठनों ने ग्रोसरी स्टोर, मेडिकल स्टोर या अन्य किसी जगह घर से बाहर जाने पर दस्ताने पहनने की सलाह नहीं दी है। लेकिन, लोगों के बीच यह बात किसी तरह स्थापित हो गई है कि, बाहर जाने पर दस्ताने पहनने से कोरोना वायरस के खिलाफ पूरी तरह से बचाव हो जाता है, जो कि पूरी तरह सच नहीं है। सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रेवेंशन (Centre for Disease Control and Prevention) के मुताबिक कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनने व उतारने के दौरान कई सावधानी बरतनी पड़ती हैं, जिनका ध्यान न रखने से इसका प्रभाव उल्टा हो सकता है और आपके कोविड-19 से संक्रमित होने का खतरा और बढ़ जाता है।

और पढ़ें: कोरोना के दौरान वर्क फ्रॉम होम करने से बिगड़ सकता है आपका बॉडी पोस्चर, जानें एक्सपर्ट की सलाह

क्या दस्ताने करेंगे कोरोना से बचाव?

सबसे पहले आपको यह जानना चाहिए कि कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनने से क्या होता है? दस्ताने पहनना नंगे हाथों जैसा ही है, जब तक कि आप उसके साथ दूसरी बातों का ध्यान नहीं रखते। मतलब यह है कि, दस्ताने पहनने के बाद भी आप अगर कोरोना वायरस से संक्रमित जगहों या व्यक्ति के संपर्क में आते हैं, तो वायरस दस्तानों पर आ जाता है। जिसके बाद आप उन्हीं दस्तानों से जब दूसरी वस्तु या व्यक्ति या सतह को छूते हैं, तो वह उसे भी संक्रमित कर देता है। इसलिए, अगर दस्ताने पहनने से आपके दिमाग को यह संकेत या ध्यान हमेशा रहता है कि, किसी भी वस्तु को कम से कम छूना है या फिर दस्ताने पहनने के बाद भी चेहरे, नाक, मुंह या किसी अन्य व्यक्ति को नहीं छूना है, तो यह कोविड- 19 से बचाव में फायदेमंद साबित हो सकता है। सीडीसी ने सतहों की क्लीनिंग व डिसइंफेक्टिंग करने, किसी कोरोना संक्रमित मरीज की देखभाल करने आदि में दस्तानों के उपयोग की सलाद दे रखी है।

और पढ़ें: चेहरे के जरिए हो सकता है इंफेक्शन, कोरोना से बचने के लिए चेहरा न छूना

कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनने से होगी यह परेशानी

जैसा कि सीडीसी, भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय और डब्ल्यूएचओ ने बता रखा है कि डॉक्टर, हेल्थकेयर प्रोवाइडर और संक्रमित व्यक्ति की देखभाल करने वाले लोगों को SARS-CoV-2 वायरस से बचाव के लिए दस्तानों का उपयोग करना चाहिए। लेकिन, अगर सभी लोग बाहर निकलने पर दस्तानों का प्रयोग करेंगे, तो इससे मार्केट में इनकी खपत बढ़ेगी। जिससे हेल्थकेयर वर्कर्स या मरीज की देखभाल करने वाले लोगों को दस्तानों की आपूर्ति नहीं हो पाएगी, जो कि उनके स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है। क्योंकि, उन लोगों को कोविड-19 संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा होता है। इसलिए, बाहर जाने पर अपने पास सैनिटाइजर रखना और घर आने पर साबुन व पानी से हाथ धोना ही बचाव का सबसे बेहतर तरीका है।

और पढ़ें: भारतीय युवाओं को क्रॉनिक डिजीज अधिक, इससे बढ़ सकता है कोविड- 19 का खतरा

कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने से जुड़ी सावधानी

विभिन्न स्वास्थ्य विभागों द्वारा कोविड-19 से बचने के लिए दस्ताने पहनने व उतारने के दौरान कुछ विशेष सावधानियां बरतने के लिए कहा गया है। आइए, इन सावधानियों को जानते हैं।

  1. कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने पहनने से पहले अपने हाथों को कम से कम 20 सेकेंड तक साबुन व पानी से धोएं और फिर दस्ताने पहनें।
  2. दस्तानों को पहनने के दौरान कम से कम चीजों, सतहों, वस्तुओं और व्यक्तियों के संपर्क में आए और उन्हें अपने शरीर, मुंह, नाक, आंख, कपड़ों के संपर्क में न लाएं।
  3. दस्तानों को उतारते हुए पहले एक दस्ताने पहने हुए हाथ से दूसरे हाथ की कलाई पर से दस्ताना पकड़ें। ध्यान रखें कि हाथ कलाई या हाथ की त्वचा के संपर्क में न आए।
  4. कोविड-19 से बचाव के लिए फिर दस्ताने को अंदर से बाहर की तरफ खींचे। ताकि दस्ताने के अंदर वाला हिस्सा बाहर की तरफ आ जाए।
  5. अब उतारे हुए दस्ताने को दूसरे दस्ताने से पकड़ लें।
  6. इसके बाद नंगे हाथ की दो या तीन उंगली को सावधानी पूर्वक दूसरे हाथ की कलाई से दस्ताने के अंदर डालें। लेकिन, ध्यान रखें कि उंगलियां दस्तानों के ऊपर संपर्क में न आएं।
  7. अब दूसरे दस्ताने को भी अंदर से बाहर की तरफ इस तरह उतारें कि पहले वाला दस्ताना भी दूसरे दस्ताने के अंदर ही रह जाए।
  8. अब इन दस्तानों को किसी बंद डस्टबिन के अंदर फेंकें और एक दस्ताने को दो बार इस्तेमाल न करें।
  9. इसके बाद आखिर में साबुन व पानी से हाथों को कम से कम 20 सेकेंड तक अच्छी तरह धोयें।

और पढ़ें: सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज करने से भुगतना पड़ेगा खतरनाक अंजाम

कोरोना वायरस से बचाव के लिए अन्य सावधानियां

कोविड-19 इंफेक्शन से बचने के लिए भारत सरकार ने लोगों के लिए कुछ सलाह दी है। सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन के साथ इन एहतियात वाली सलाह को फॉलो करने से आप कोरोना वायरस संक्रमण से काफी हद तक बच सकते हैं।

  • हाथों की सफाई जरूर करें। हाथों को साफ करने के लिए सैनिटाइजर का यूज करें।
  • अगर जरूरी नहीं है तो घर से न निकलें।
  • घर से निकलते वक्त मास्क का यूज करें
  • अगर छींक या खांसी आ रही है तो हाथ या रूमाल को मुंह में लगाएं।
  • आंखों, नाक और मुंह को छूने से पहले हाथों की अच्छे से सफाई करें।
  • अगर आपको ऐसा लगता है कि आप बीमार हैं या आपको सर्दी-जुकाम की समस्या है तो परिवार के अन्य लोगों से अलग रहें। इससे आप कोरोना से बचाव के साथ अपने परिवार को बचा सकते हैं।
  • अगर खुद को अस्वस्थ्य महसूस कर रहे हो या कोरोना के लक्षण दिख रहे हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
  • हेल्थ केयर प्रोवाइडर से भी आप कोरोना के बारे में जानकारी ले सकते हैं।
  • अगर बाहर जा रहे हैं तो किसी भी परिचित या अपरिचित व्यक्ति से हाथ मिलाने या गले मिलने से बचें। इससे आप कोरोना संक्रमण को रोक सकते हैं।
  • अगर आप कहीं बाहर जा रहे हैं तो दूसरे व्यक्ति से कम से कम एक मीटर या 6 फीट की दूरी बनाए रखें।
  • मास्क का यूज जरूर करें।
  • मास्क को छूने से पहले भी हाथ साफ कर लें।
  • कपड़े का मास्क साफ दोबारा धुल कर ही यूज करें।
  • घर के बाहर से सब्जी व अन्य सामान लाने पर उसे सैनिटाइज जरूर करें।

 

https://wp.helloswasthya.com/quiz/haath-dhona-quiz/

इस तरह से आप खुद को कोरोना से बचा सकते हैं, साथ ही अपने परिवार और प्रियजनों को भी इस महामारी के संक्रमण से बचा सकते हैं। दूसरी तरफ कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने का प्रयोग फैशन की तरह ना करें, बल्कि ये एक कोविड-19 से बचाव का एक तरीका है। ऐसा बिल्कुल भी ना सोचें कि कोरोना से बचाव के लिए दस्ताने का इस्तेमाल करने से आप सुरक्षित हैं, बल्कि आप सुरक्षित तब होंगे, जब आप कोविड-19 से बचाव के तरीकों को लेकर जागरूक रहेंगे। उम्मीद करते हैं कि ये आर्टिकल आपके लिए मददगार साबित हुआ होगा। आप चाहें तो हमें कमेंट कर के अपनी राय दे सकते हैं। इसके साथ ही इस विषय में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

https://apps.who.int/iris/bitstream/handle/10665/331215/WHO-2019-nCov-IPCPPE_use-2020.1-eng.pdfRational use of personal protective equipment for coronavirus disease 2019 (COVID-19):

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 27/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 27/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 27/4/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 97 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200426-sitrep-97-covid-19.pdf?sfvrsn=d1c3e800_6 – Accessed on 27/4/2020

Novel Corona Virus – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 27/4/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 08/09/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड