Marjoram: मरजोरम क्या है?

By Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar

परिचय

मरजोरम क्या है?

मरजोरम पुदीने की प्रजाती का एक सुगंधित पौधा है, जिसके फूल से लेकर पत्तियों का इस्तेमाल दवाइयां बनाने के लिए किया जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम ओरिगैनम माइजोराना  है। आमतौर पर इसे ओरगेनो के नाम से जाना जाता है। मुख्य रूप से इसका इस्तेमाल पाचन समस्या जैसे दस्त, सूजन या भूख की कमी के इलाज के लिए किया जाता है। एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर मरजोरम में प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन सी, आयरन, फाइबर और दूसरे न्यूट्रिएंट्स होते हैं। पास्ता, पिज्जा, सूप और सैलेड बनाते समय भी इसका प्रयोग किया जाता है। कई कॉस्मेटिक्स जैसे फेस क्रीम, बॉडी लोशन, शेविंग जेल और नहाने वाले साबुन में भी इसे शामिल किया जाता है। मरजोरम को हर्ट टॉनिक भी कहा जाता है, क्योंकि ये हृदय संबंधित रोगों से न केवल बचाता है बल्कि, दिल को भी स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है। इसकी पत्तियों को कई डिश में एक मसाला के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। बहुत सारी नॉन वेज डिश में इसेसीजनिंग  के रूप में भी उपयोग किया जाता है।

मरजोरम का उपयोग ​किस लिए किया जाता है?

मरजोरम के फूल, पत्तियां और तेल इन परेशानियों को दूर करने में मददगार हैं

  • बच्चों को सर्दी लगना
  • बच्चों को जुकाम होना
  • नाक और गले में सूजन
  • कान का दर्द
  • भूख न लगना
  • खाना न पचना
  • लिवर में दिक्कत होना
  • पथरी
  • आंतो में गैस
  • पेट में ऐंठन
  • मेनोपोज
  • पीरियड्स से पहले होने वाले मूड स्विंग्स
  • मधुमेह
  • नींद न आना
  • डिप्रेशन

मरजोरम में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो मांसपेशियों की ऐंठन, अस्थमा, माइग्रेन, साइनस और बॉडी पेन से राहत दिलाते हैं।

एंटीडिप्रेसेंट तत्वों से भरपूर मरजोरम तनाव, चिंता, भावनात्मक बेचैनी और यौन इच्छा पर नियंत्रण के लिए भी फायदेमंद है।

मरजोरम का तेल मोच, चोट, दांतों के दर्द और लकवाग्रस्त अंग के लिए एक बाहरी अनुप्रयोग के रूप में किया जाता है।

कैसे काम करता है?

मरजोरम में एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल, एंटिफंगल और एंटीवायरल एजेंट होते हैं, जो हमें तमाम बीमारियां जैसे टायफाइड, फूड पॉइजनिंग, मलेरिया, खसरा आदि से कोसों दूर रखते हैं। पाचन तंत्र को मजबूत करने के लिए मरजोरम चाय पीने की सलाह दी जाती है। ये डाइजेस्टिव सिस्टम में एंजाइम और स्लाइवा को बढ़ाकर पाचन की क्षमता बढ़ाने का काम करती है। इसके अलावा भूख में सुधार, पेट दर्द, डायरिया और कब्ज से राहत मिलती है।

उपयोग

कितना सुरक्षित है मरजोरम का उपयोग ?

प्रेग्नेट महिलाएं जिन दवाइयों में मरजोरम हो उन्हें खाने से बचें। हो सकता है कि इसके सेवन से आपके पीरियड्स आ जाए और आपकी प्रेग्नेंसी में कोई दिक्कत हो। इसलिए इससे दूर ही रहें। अगर आप ब्रेस्ट फीडिंग कराती हैं तो भी इसका सेवन न करें।

-बच्चों को कभी भी मरजोरम न दें। ये उनके लिए खतरनाक साबित हो सकता है।

-जिन लोगों का हार्ट रेट धीमी हो उन्हें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

-ब्लीडिंग डिसऑर्डर पेशेंट्स को इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि, इससे ब्लीडिंग की संभावनाएं और ज्यादा हो जाती हैं।

-जिन लोगों को तुलसी, लैवेंडर, अजवायन की पत्ती और ओरिगेनो से एलर्जी हो वो भी इससे दूरी बनाकर रखें।

-सर्जरी से कुछ दिन पहले और बाद में इसका सेवन करना छोड़ दें क्योंकि, इससे आपको ब्लीडिंग की शिकायत हो सकती है।

ये भी पढ़ें- बलूत (Oak) क्या है ?

साइड इफेक्ट्स

मरजोरम  से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अगर आप एक सीमित मात्रा में इसका सेवन कर रहे हैं तो वो सेफ है। इसे लंबे समय तक  स्किन पर लगाने से त्वाचा पर जलन और कैंसर का खतरा रहता है। जरूरी नहीं है कि सभी में इसके इफेक्ट्स देखने को मिले। अगर आप इसका सेवन कर रहे हैं तो एक बार अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

ये भी पढ़ें-  जौ (Barley) क्या है ?

डोजेज

मरजोरम को लेने की सही खुराक

ड्रिंक- 1 कप पानी में 2 बड़े चम्मच ताजी मरजोरम को दिन में 1/2 या 1 कप लें।

जूस- 1 बड़ा चम्मच दिन में तीन बार लें।

लोशन– ताजी मरजोरम की पत्तियों को जैतून के तेल में डालें और दो से तीन दिन धूप में रखें।

हर मरीज के लिए हर्बल सप्लीमेंट की खुराक अळग होती है। ये आपकी उम्र, सेहत और दूसरी कई बातों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट्स को लेना हमेशा सेफ नहीं होता। किसी भी हर्बल सप्लीमेंट को लेने से पहले डॉक्टर से कंसल्ट जरूर करें।

ये भी पढ़ें-  Black Pepper : काली मिर्च क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

चाय पत्ती जो मरजोरम के फूलों और पत्तियों से मिलकर तैयार हुई है।

  • ऑयल
  • लोशन
  • हर्ब्स 

ये भी पढ़ें- Flax Seeds : अलसी के बीज क्या है?

हैलो स्वास्थ्य किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह , निदान या उपचार नहीं देता है।

रिव्यू की तारीख सितम्बर 11, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया सितम्बर 19, 2019