कैलिफोर्निया में बदल गया जिम का नजारा, महामारी के बाद आपका जिम भी दिख सकता है कुछ ऐसा

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट June 19, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

मार्च में, जिम और फिटनेस स्टूडियो कोरोना वायरस के कारण बंद हो गए। जबकि यूके जिम और स्वास्थ्य केंद्रों को फिर से खोलने के लिए इंतजार कर रहा है। भविष्य में लॉकडाउन के बाद जिम कैसा होगा? यह सवाल कई लोगों के जिम में चल रहा होगा। ऐसे में जिम वर्कआउट और ट्रेनिंग सेशंस भविष्य में कुछ अलग ही रूप में दिख सकते हैं।

इससे पहले, हांगकांग में जिम को नए सोशल डिस्टेंसिंग उपायों के साथ फिर से खुला देखा गया है। वर्कआउट करने वाले व्यक्ति का जिम आने पर सबसे पहले उसका तापमान जांच करना अनिवार्य कर दिया है। कोरोना वायरस के प्रसारण से लोगों की सेफ्टी के लिए ग्लास पार्टीशन डिजाइन किए गए। पिछले हफ्ते, यूके की फिटनेस श्रृंखला प्योर जिम (PureGym) ने मेन्स हेल्थ यूके को एक विशेष जानकारी दी थी कि कैसे ब्रांड एक बार फिर से जिम खुलने पर वायरस का मुकाबला करने की योजना बना रहा है। उपायों में क्लास कैपेसिटी लिमिट्स, ‘पेयर-ट्रेनिंग’ को रोकना और प्योर जिम ऐप के जरिए वर्कआउट करने के लिए स्पॉटिंग और प्री-बुकिंग अलॉट करना जैसे कई विकल्प शामिल हैं।

और पढ़ें : कम समय में कोविड-19 की जांच के लिए जल्द हो सकती है नई टेस्टिंग किट तैयार

लॉकडाउन के बाद जिम में पॉड्स

कैलिफोर्निया में एक जिम ने दुनिया को एक प्रीव्यू दिया है कि कोरोनो महामारी के बाद कैसे और किन सुरक्षा उपायों के साथ जिम खुलेंगे। कैलिफोर्निया में एक ग्रुप ट्रेनिंग फैसिलिटी, इंस्पायर साउथ बे फिटनेस (Inspire South Bay Fitness) ने ग्राहकों और जिम मेंबर्स के लिए कई वर्कआउट ‘पॉड्स’ तैयार किए हैं, जो लॉकडाउन के बाद जिम खुलने पर इस्तेमाल किए जाएंगे। इन नौ क्लोज्ड ऑफ पॉड्स में इंस्पायर साउथ बे फिटनेस के सदस्य एक दूसरे से वर्कआउट के दौरान छह फीट दूर खड़े होते हैं। इन पॉड्स की ऊंचाई 10 फीट है, जिसमें एक वेट बेंच, फोम रोलर्स, डंबल और हैंड वाइप्स मौजूद हैं। साउथ बे फिटनेस के द्वारा बनाए गए नौ एंटी-कोरोना वायरस वर्कआउट ‘पॉड्स’ पाइप और शॉवर कर्टेन से बने हुए हैं।

और पढ़ें : क्या कोरोना वायरस के बाद दुनिया एक और नई घातक वायरल बीमारी से लड़ने वाली है?

सोशल डिस्टेंसिंग नहीं की जाएगी अनदेखी

इंस्पायर के संस्थापक पीट सैपसीन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कहा, “लॉकडाउन के बाद जिम को फिर से खोलना कोई आसान काम नहीं है। लेकिन हम अपने सभी सदस्यों के लिए कोरोना संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा बढ़ाने के लिए तैयार हैं। हमें ये पॉड्स बनाने में लगभग तीन दिन लगे। जब जिम को फिर से खोलने की अनुमति मिलेगी तब हमारे पास कुछ सैनिटेशन और सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकॉल भी हैं जो लागू होंगे।”

COVID-19 Outbreak updates
Country: India
Data

1,435,453

Confirmed

917,568

Recovered

32,771

Death
Distribution Map

सैपसीन ने कहा, “लॉकडाउन के बाद जिम खोलना यह वास्तव में कठिन है। लेकिन, अब जब हमारे पास इसके लिए सोल्यूशन है और ये बहुत अधिक सस्ते भी हैं।अब, हम अपने ग्राहकों के लिए जिम और अधिक सुरक्षित और स्वस्थ तरीके से फिर से खोल सकते हैं।”

और पढ़ें : लॉकडाउन में वजन नियंत्रण करने के लिए अपनाएं ये टिप्स 

लॉकडाउन के बाद जिम में होगी यह व्यवस्था

एक वर्कआउट सेशन में नौ सदस्यों की ही अनुमति दी जाएगी जिसको ऐप की मदद प्री-बुकिंग करने होगी। प्रत्येक सदस्य को निर्देश दिया जाता है कि वह जिम में प्रवेश करते समय हाथ सैनिटाइजर से धुलेंगे और सोशल डिस्टेंसिंग दिशानिर्देशों का पालन करे। ट्रेनर्स और अन्य स्टाफ के लोगों को फेस मास्क या पीपीई पहनना अनिवार्य होगा और एक-दूसरे से छह फीट दूर रहना होगा। मशीनों, हाथ धोने की सुविधाओं, लॉकर्स, शौचालयों आदि की साफ-सफाई को सुनिश्चित किया जाएगा।

और पढ़ें : क्या आप लॉकडाउन के दौरान नमक का अधिक सेवन करने लगे हैं? तो हो जाएं सावधान

क्या कहते हैं जिम ओनर्स?

ओलम्पिक हेल्थ क्लब (लखनऊ) के ओनर रोहित शर्मा का कहना है कि “लॉकडाउन के बाद जिम खुलने के आदेश मिलने के बाद फिटनेस सेंटर्स में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना एक चुनौती से कम नहीं होगा। लेकिन, हमने भी कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए कुछ रूपरेखा तैयार कर रखी है। जैसे जिम में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि जिम इक्विपमेंट्स के बीच छह फीट की दूरी जरूर हो। एक मशीन से दूसरी मशीन के बीच छह फीट की दूरी को स्पष्ट रूप से चिह्नित किया जाएगा ताकि लोग जान सकें कि सुरक्षित दूरी क्या है। इसके अलावा लॉकर रूम की संख्या भी सीमित की जाएगी और उसके लिए ख़ास निगरानी के लिए जिम स्टाफ भी एप्पोइंट किया जाएगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लोग कोरोना से बचाव की पॉलिसीस का पालन कर रहे हों।

और पढ़ें : सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है कोरोना का इलाज, सतर्क रहें इस फर्जी प्रिस्क्रिप्शन से

ऑपरेटिंग आवर्स में जिम की सफाई

एनी टाइम फिटनेस के मैनेजर जितिन सचान का कहना है कि “जब तक जिम को फिर से खोलने के लिए हमें कोई शासकीय दिशा-निर्देश नहीं मिल रहे हैं। तब तक हमने खुद ही जिम प्लेस को सुरक्षित बनाने के लिए नीतियां बनाई हैं। जैसे ऑपरेटिंग आवर्स दोपहर 1 से 2 बजे के दौरान कर्मचारी पूरे जिम की सफाई करेंगे। सदस्यों को क्लीनिंग स्टैंडर्ड, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा। क्लब में प्रवेश करने के लिए सदस्यों की अपॉइंटमेंट लेने की जरूरत होगी और ऐप के जरिए स्कैन फ्री चेक-इन होगा।”

और पढ़ें : कोरोना वायरस की दवा : डेक्सामेथासोन (dexamethasone) साबित हुई जान बचाने वाली पहली दवा

लॉकडाउन खुलने के बाद जिम खुलने पर तुरंत वापस जाना कितना सही होगा?

  • कोरोना वायरस के समय में किसी भी सार्वजनिक स्थान (जिम सहित) में जाना जोखिम से खाली नहीं होगा। और अगर आप लॉकडाउन के बाद जिम जाना चाहते हैं आपका ककुछ ध्यान में रखना चाहिए।
  • सबसे अच्छी बात जो आप कर सकते हैं वह यह है कि जिम संचालन से पूछें कि कोरोना से सुरक्षा के लिए वे क्या विशेष उपाय कर रहे हैं और देखें कि वे विशेषज्ञों की सलाह के साथ कैसे फिट होते हैं या नहीं।
  • ब्लॉक के बीच में दूरी कितनी है और उसकी सफाई और कीटाणुशोधन नीतियों (disinfecting policies) के बारे में पूछें। लॉकर रूम या बाथरूम का उपयोग करने के दौरान क्या सेफ्टी मेज़रमेंट हैं। इस बारे में भी पूछें।
  • जिम में मौजूद कार्डियो मशीन के बीच में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए क्या किया जा रहा है।
    जिम में मौजूद उपकरण की साफ-सफाई के लिए क्या उपाय आजमाएं जाएंगे। कुछ उपकरण जिन्हें साफ करना मुश्किल है, जैसे कि फोम रोलर्स और योगा ब्लॉक उनके लिए क्या योजना होगी।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

वैसे तो भारत में अब भी जिम बंद हैं और यहां जिम कब खुलेंगे इसको लेकर तो कोई जानकारी नहीं है, लेकिन इन तस्वीरों से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि लॉकडाउन के बाद जिम की सूरत बदल सकती है। जिम में यह सुनिश्चित करने के लिए कौन कोरोना संक्रमित है और कौन नहीं। इसके लिए कई पॉलिसीस और प्रोसेस अपनाए जाने की जरूरत होगी। लेकिन, कोरोना के बढ़ते मामले तो डराने वाले ही हैं। ऐसे में आपका घर से बाहर जिम जाकर वर्कआउट करना कितना सही होगा? यह आपको ही डिसाइड करना होगा। हमारी सलाह तो यही रहेगी कि देश भर के तमाम जिम और योग स्टूडियो ऑनलाइन क्लासेज का आयोजन कर रहे हैं। तब तक आप उन्हें ही ज्वाइन करके चुस्त और दुरुस्त रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

Was this article helpful for you ?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

क्या पेंटोप्रोजोल, ओमेप्रोजोल, रैबेप्रोजोल आदि एंटासिड्स से बढ़ सकता है कोविड-19 होने का रिस्क?

पीपीआई यानी प्रोटोन पंप प्रोटोन पंप इंहिबिटर, ऐसी दवाएं जो हार्ट बर्न और एसिडिटी के इलाज में उपयोग की जाती है। अमेरिकन स्टडीज में दावा किया गया है कि इनके उपयोग से कोरोना वायरस का रिस्क बढ़ जाता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
कोविड 19 सावधानियां, कोरोना वायरस September 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

कैसे स्वस्थ भोजन की आदत कोरोना से लड़ने में मददगार हो सकती है? जानें एक्सपर्ट्स से

स्वस्थ भोजन की आदत कैसे डेवलप करें? बेहतर स्वास्थ्य के लिए स्वस्थ भोजन की आदत को अपनाना जरूरी है। स्वस्थ भोजन खाने के क्या फायदे या प्रभाव हैं?

के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
इंफेक्शस डिजीज, कोरोना वायरस August 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

लॉकडाउन में ईटिंग हैबिट्स किसी की सुधरी तो किसी की हुई बेकार

लॉकडाउन में ईटिंग हैबिट्स बदल गई हैं। लॉकडाउन के दौरान घर पर हेल्दी फूड्स खाना आपकी इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग रखने के लिए जरूरी है। वर्क फ्रॉम होम करते हुए हम लोगों को अपनी सेहत और फिटनेस पर भी ध्यान देने का मौका मिला। Lockdown eating habits in hindi

के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
कोरोना वायरस, इंफेक्शस डिजीज August 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

सीरो सर्वे को लेकर क्यों हो रही है चर्चा, जानें एक्सपर्ट से इसके बारे में सबकुछ

सीरो सर्वे क्या है, एंटीबॉडी टेस्ट क्यों किया जाता है, एंटीबॉडी टेस्ट कैसे करते हैं, कोरोना में सीरो सर्वे, आईसीएमआर की गाइडलाइन, Sero survey antibody test Covid-19, ICMR.

के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
कोविड 19 व्यवस्थापन, कोरोना वायरस August 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

covid 19 vaccine - कोविड 19 वैक्सीन

जल्द से जल्द लोगों तक कोविड 19 वैक्सीन पहुंचाने की पहल, जाग रही है एक नयी उम्मीद

के द्वारा लिखा गया Toshini Rathod
प्रकाशित हुआ January 25, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
कोरोना वायरस वैक्सीनेशन गाइडलाइन्स

सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए इन लोगों को अभी करना होगा इंतजार!

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया AnuSharma
प्रकाशित हुआ January 18, 2021 . 5 मिनट में पढ़ें
कोविड-19 वैक्सीन-COVID-19 vaccine

ब्रिटेन में जल्‍द शुरू होगा कोरोना का वैक्‍सीनेशन (COVID-19 vaccine), सरकार ने दिया ग्रीन सिग्नल

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Nidhi Sinha
प्रकाशित हुआ December 3, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
कोरोना से ठीक होने के बाद के उपाय

कोरोना संक्रमण से ठीक होने के बाद ऐसे बढ़ाएं इम्यूनिटी, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताए कुछ आसान उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ September 18, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें