backup og meta

कैलिफोर्निया में बदल गया जिम का नजारा, महामारी के बाद आपका जिम भी दिख सकता है कुछ ऐसा

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 17/03/2021

कैलिफोर्निया में बदल गया जिम का नजारा, महामारी के बाद आपका जिम भी दिख सकता है कुछ ऐसा

मार्च में, जिम और फिटनेस स्टूडियो कोरोना वायरस के कारण बंद हो गए। जबकि यूके जिम और स्वास्थ्य केंद्रों को फिर से खोलने के लिए इंतजार कर रहा है। भविष्य में लॉकडाउन के बाद जिम कैसा होगा? यह सवाल कई लोगों के जिम में चल रहा होगा। ऐसे में जिम वर्कआउट और ट्रेनिंग सेशंस भविष्य में कुछ अलग ही रूप में दिख सकते हैं।

इससे पहले, हांगकांग में जिम को नए सोशल डिस्टेंसिंग उपायों के साथ फिर से खुला देखा गया है। वर्कआउट करने वाले व्यक्ति का जिम आने पर सबसे पहले उसका तापमान जांच करना अनिवार्य कर दिया है। कोरोना वायरस के प्रसारण से लोगों की सेफ्टी के लिए ग्लास पार्टीशन डिजाइन किए गए। पिछले हफ्ते, यूके की फिटनेस श्रृंखला प्योर जिम (PureGym) ने मेन्स हेल्थ यूके को एक विशेष जानकारी दी थी कि कैसे ब्रांड एक बार फिर से जिम खुलने पर वायरस का मुकाबला करने की योजना बना रहा है। उपायों में क्लास कैपेसिटी लिमिट्स, ‘पेयर-ट्रेनिंग’ को रोकना और प्योर जिम ऐप के जरिए वर्कआउट करने के लिए स्पॉटिंग और प्री-बुकिंग अलॉट करना जैसे कई विकल्प शामिल हैं।

और पढ़ें : कम समय में कोविड-19 की जांच के लिए जल्द हो सकती है नई टेस्टिंग किट तैयार

लॉकडाउन के बाद जिम में पॉड्स

कैलिफोर्निया में एक जिम ने दुनिया को एक प्रीव्यू दिया है कि कोरोनो महामारी के बाद कैसे और किन सुरक्षा उपायों के साथ जिम खुलेंगे। कैलिफोर्निया में एक ग्रुप ट्रेनिंग फैसिलिटी, इंस्पायर साउथ बे फिटनेस (Inspire South Bay Fitness) ने ग्राहकों और जिम मेंबर्स के लिए कई वर्कआउट ‘पॉड्स’ तैयार किए हैं, जो लॉकडाउन के बाद जिम खुलने पर इस्तेमाल किए जाएंगे। इन नौ क्लोज्ड ऑफ पॉड्स में इंस्पायर साउथ बे फिटनेस के सदस्य एक दूसरे से वर्कआउट के दौरान छह फीट दूर खड़े होते हैं। इन पॉड्स की ऊंचाई 10 फीट है, जिसमें एक वेट बेंच, फोम रोलर्स, डंबल और हैंड वाइप्स मौजूद हैं। साउथ बे फिटनेस के द्वारा बनाए गए नौ एंटी-कोरोना वायरस वर्कआउट ‘पॉड्स’ पाइप और शॉवर कर्टेन से बने हुए हैं।

और पढ़ें : क्या कोरोना वायरस के बाद दुनिया एक और नई घातक वायरल बीमारी से लड़ने वाली है?

सोशल डिस्टेंसिंग नहीं की जाएगी अनदेखी

इंस्पायर के संस्थापक पीट सैपसीन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कहा, “लॉकडाउन के बाद जिम को फिर से खोलना कोई आसान काम नहीं है। लेकिन हम अपने सभी सदस्यों के लिए कोरोना संक्रमण के खिलाफ सुरक्षा बढ़ाने के लिए तैयार हैं। हमें ये पॉड्स बनाने में लगभग तीन दिन लगे। जब जिम को फिर से खोलने की अनुमति मिलेगी तब हमारे पास कुछ सैनिटेशन और सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकॉल भी हैं जो लागू होंगे।’

[covid_19]

सैपसीन ने कहा, “लॉकडाउन के बाद जिम खोलना यह वास्तव में कठिन है। लेकिन, अब जब हमारे पास इसके लिए सोल्यूशन है और ये बहुत अधिक सस्ते भी हैं।अब, हम अपने ग्राहकों के लिए जिम और अधिक सुरक्षित और स्वस्थ तरीके से फिर से खोल सकते हैं।’

और पढ़ें : लॉकडाउन में वजन नियंत्रण करने के लिए अपनाएं ये टिप्स 

लॉकडाउन के बाद जिम में होगी यह व्यवस्था

एक वर्कआउट सेशन में नौ सदस्यों की ही अनुमति दी जाएगी जिसको ऐप की मदद प्री-बुकिंग करने होगी। प्रत्येक सदस्य को निर्देश दिया जाता है कि वह जिम में प्रवेश करते समय हाथ सैनिटाइजर से धुलेंगे और सोशल डिस्टेंसिंग दिशानिर्देशों का पालन करे। ट्रेनर्स और अन्य स्टाफ के लोगों को फेस मास्क या पीपीई पहनना अनिवार्य होगा और एक-दूसरे से छह फीट दूर रहना होगा। मशीनों, हाथ धोने की सुविधाओं, लॉकर्स, शौचालयों आदि की साफ-सफाई को सुनिश्चित किया जाएगा।

और पढ़ें : क्या आप लॉकडाउन के दौरान नमक का अधिक सेवन करने लगे हैं? तो हो जाएं सावधान

क्या कहते हैं जिम ओनर्स?

ओलम्पिक हेल्थ क्लब (लखनऊ) के ओनर रोहित शर्मा का कहना है कि “लॉकडाउन के बाद जिम खुलने के आदेश मिलने के बाद फिटनेस सेंटर्स में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना एक चुनौती से कम नहीं होगा। लेकिन, हमने भी कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए कुछ रूपरेखा तैयार कर रखी है। जैसे जिम में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि जिम इक्विपमेंट्स के बीच छह फीट की दूरी जरूर हो। एक मशीन से दूसरी मशीन के बीच छह फीट की दूरी को स्पष्ट रूप से चिह्नित किया जाएगा ताकि लोग जान सकें कि सुरक्षित दूरी क्या है। इसके अलावा लॉकर रूम की संख्या भी सीमित की जाएगी और उसके लिए ख़ास निगरानी के लिए जिम स्टाफ भी एप्पोइंट किया जाएगा ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि लोग कोरोना से बचाव की पॉलिसीस का पालन कर रहे हों।

और पढ़ें : सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है कोरोना का इलाज, सतर्क रहें इस फर्जी प्रिस्क्रिप्शन से

ऑपरेटिंग आवर्स में जिम की सफाई

एनी टाइम फिटनेस के मैनेजर जितिन सचान का कहना है कि “जब तक जिम को फिर से खोलने के लिए हमें कोई शासकीय दिशा-निर्देश नहीं मिल रहे हैं। तब तक हमने खुद ही जिम प्लेस को सुरक्षित बनाने के लिए नीतियां बनाई हैं। जैसे ऑपरेटिंग आवर्स दोपहर 1 से 2 बजे के दौरान कर्मचारी पूरे जिम की सफाई करेंगे। सदस्यों को क्लीनिंग स्टैंडर्ड, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी होगा। क्लब में प्रवेश करने के लिए सदस्यों की अपॉइंटमेंट लेने की जरूरत होगी और ऐप के जरिए स्कैन फ्री चेक-इन होगा।’

और पढ़ें : कोरोना वायरस की दवा : डेक्सामेथासोन (dexamethasone) साबित हुई जान बचाने वाली पहली दवा

लॉकडाउन खुलने के बाद जिम खुलने पर तुरंत वापस जाना कितना सही होगा?

  • कोरोना वायरस के समय में किसी भी सार्वजनिक स्थान (जिम सहित) में जाना जोखिम से खाली नहीं होगा। और अगर आप लॉकडाउन के बाद जिम जाना चाहते हैं आपका ककुछ ध्यान में रखना चाहिए।
  • सबसे अच्छी बात जो आप कर सकते हैं वह यह है कि जिम संचालन से पूछें कि कोरोना से सुरक्षा के लिए वे क्या विशेष उपाय कर रहे हैं और देखें कि वे विशेषज्ञों की सलाह के साथ कैसे फिट होते हैं या नहीं।
  • ब्लॉक के बीच में दूरी कितनी है और उसकी सफाई और कीटाणुशोधन नीतियों (disinfecting policies) के बारे में पूछें। लॉकर रूम या बाथरूम का उपयोग करने के दौरान क्या सेफ्टी मेज़रमेंट हैं। इस बारे में भी पूछें।
  • जिम में मौजूद कार्डियो मशीन के बीच में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए क्या किया जा रहा है।

जिम में मौजूद उपकरण की साफ-सफाई के लिए क्या उपाय आजमाएं जाएंगे। कुछ उपकरण जिन्हें साफ करना मुश्किल है, जैसे कि फोम रोलर्स और योगा ब्लॉक उनके लिए क्या योजना होगी।

[mc4wp_form id=’183492″]

वैसे तो भारत में अब भी जिम बंद हैं और यहां जिम कब खुलेंगे इसको लेकर तो कोई जानकारी नहीं है, लेकिन इन तस्वीरों से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि लॉकडाउन के बाद जिम की सूरत बदल सकती है। जिम में यह सुनिश्चित करने के लिए कौन कोरोना संक्रमित है और कौन नहीं। इसके लिए कई पॉलिसीस और प्रोसेस अपनाए जाने की जरूरत होगी। लेकिन, कोरोना के बढ़ते मामले तो डराने वाले ही हैं। ऐसे में आपका घर से बाहर जिम जाकर वर्कआउट करना कितना सही होगा? यह आपको ही डिसाइड करना होगा। हमारी सलाह तो यही रहेगी कि देश भर के तमाम जिम और योग स्टूडियो ऑनलाइन क्लासेज का आयोजन कर रहे हैं। तब तक आप उन्हें ही ज्वाइन करके चुस्त और दुरुस्त रहें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Shikha Patel द्वारा लिखित · अपडेटेड 17/03/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement