home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

लॉकडाउन के समय साफ पानी के लिए हो रहे हैं परेशान? तो जानें पानी साफ करने का तरीका

लॉकडाउन के समय साफ पानी के लिए हो रहे हैं परेशान? तो जानें पानी साफ करने का तरीका

कोरोना वायरस के दौरान होने वाली परेशानियों में एक परेशानी यह भी सामने आई है कि घर में बिना किसी फिल्टर या दवा के पानी साफ करने का तरीका क्या हो सकता है? कोरोना वायरस के दौरान होने वाली परेशानियों ने शायद लोगों को रहीम दास के इस दोहे ‘रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सून। पानी गये न ऊबरे, मोती, मानुष, चून॥’ का अर्थ भी समझा दिया होगा। अगर किसी को इसका अर्थ समझ में नहीं भी आ रहा होगा, तो बस इतना समझ लीजिए कि यह दोहा मनुष्यों के लिए ही लिखा गया है। इसमें मनुष्य से पानी की कीमत को समझने का निवेदन किया गया है।

कोरोना वायरस के खतरे को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन की स्थिति जारी है, जिसका समय और भी बढ़ सकता है। ऐसे में बहुत से लोग दैनिक जरूरतों को पूरा करने वाली वस्तुओं के भी मोहताज हो सकते हैं। जिसमें राशन से लेकर साफ पीने का पानी भी शामिल हो सकता है। ये खतरा उन लोगाें के लिए ज्यादा है जो पेइंग गेस्ट बनकर रहते हैं या हॉस्टल में रहते हैं और पीने के पानी के लिए केन पर आश्रित हैं।

अगर आप भी पीने के पानी के लिए मार्केट में मिलने वाले पानी के केन का इस्तेमाल करते हैं, तो शायद आपको भी यह जानना चाहिए कि सप्लाई वॉटर को घरेलू तरीके से ड्रिंकिंग वॉटर कैसे बनाया जा सकता है या पानी साफ करने का तरीका क्या हो सकता है। इसके अलावा क्या पता इस मुश्किल घड़ी में आपका वॉटर फिल्टर खराब हो जाए या बिजली गुल हो जाए, तभी पानी साफ करने का तरीका आपके काम आ सकता है।

और पढ़ेंः कोरोना के खिलाफ भारत के एक्शन पर WHO ने की वाहवाही

जानिए पानी साफ करने का तरीका

अशुद्ध पानी पीने या इस्तेमाल करने से त्वचा संबंधी बीमारियों का खतरा अधिक बढ़ जाता है। आंकड़ों की मानें, तो पीने के पानी में 2,100 विषैले तत्व मौजूद होते हैं। ऐसे में बेहतर होगा कि कोरोना वायरस को मात देने के लिए आप भी थोड़ी सावधानी बरतें। पीने का पानी कैसे साफ करें? इसके लिए आप कुछ किचन में आसानी से मिल जाने वाली वस्तुओं का इस्तेमाल करके पानी साफ करने का तरीका जान सकते हैं, जिनमें शामिल हैंः

पानी को साफ करने का तरीका नंबर 1, पानी को उबालना

पानी को साफ करने के लिए इसे उबालना सबसे आसान और सुरक्षित माना जाता है, लेकिन सप्लाई वॉटर का टेस्ट उबालने के बाद काफी कड़वा ही होता है। हालांकि, पानी को उबालने से इसके अंदर के सारे विषैले तत्व नष्ट हो जाते हैं।

पीने का पानी फिल्टर करने के लिए उबालने के तरीके को आजमाने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करेंः

  • सप्लाई पानी को पूरी तरह से स्वच्छ और कीटाणु रहित बनाने के लिए कम से कम 20 मिनट तक पानी उबालें। पानी उबालने का समय पानी की मात्रा पर भी निर्भर कर सकता है। अगर आप एक बार में पांच लीटर से अधिक पानी उाबल रहे हैं, तो उसे कम से कम 30 से 40 मिनट तक उबालें।
  • इसके बाद किसी साफ कंटेनर के मुंह पर कॉटन का कपड़ा लगाएं, ताकि पानी उस कपड़े से छनकर कंटेनर के अंदर जाए।
  • पानी को कंटेनर में डालते समय बर्तन को ज्यादा हिलाएं नहीं, इससे नष्ट हुए तत्व पानी में मिल सकते हैं।
  • जब पानी ठंडा हो जाएगा, तो आपको बर्तन की तली में जमे हुए सफेद रंग के दाग दिखाई दे सकते हैं। अगर बर्तन को हिलाएंगे, तो यह पानी में घुल सकते हैं। इसलिए उस बर्तन का उबाला हुआ पानी सावधानी से साफ कंटेनर में छान लें।

अगर आपको इस उबले हुए पानी का स्वाद पीने के दौरान अच्छा नहीं लगता है, तो आप इस पानी में हल्का नमक भी मिला सकते हैं। इससे पानी का स्वाद पीने में बेहतर हो सकता है।

और पढ़ेंः क्या सचमुच विटामिन डी के सेवन से कम होगा कोरोना वायरस का खतरा?

पानी साफ करने का दूसरा तरीका है क्लोरीन ब्लीच

अगर आपके पास पीने का पानी नहीं है, तो सप्लाई वॉटर को फिल्टर करने के लिए आप घरेलू क्लोरीन ब्लीच का उपयोग कर सकते हैं। क्लोरीन ब्लीच एक रसायन होता है, पानी के कीटाणुओं का खत्म कर सकता है और पानी से बीमारी पैदा करने वाले वायरस और बैक्टीरिया को भी मार सकता हैं। हालांकि, यह दूषित तत्वों के साथ ही, पानी के मिनरल्स को भी नष्ट कर देता है।

  • इसके लिए ड्रापर की मदद से एक कंटेनर से भरे पानी के बर्तन में इसकी कुछ बूंदे मिलाएं। फिर पानी में उसे अच्छे से मिक्स करे।
  • इसके बाद 30 मिनट के लिए इस पानी को ऐसे ही रहने दे ताकि पानी का हिलना शांत हो जाए। अब इसे पिया जा सकता है।

घरेलू उपायों में भी उपलब्ध है पानी साफ करने का तरीका

हैलोजन टैबलेट भी है पानी साफ करने का तरीका

हैलोजन टैबलेट का इस्तेमाल आमतौर पर बड़े तौर पर किया जाता है। छोटे इलाकों में जहां पर लोग समरसिबल का पानी इस्तेमाल करते हैं, वहां पर अधिकतर लोग पानी साफ करने का तरीका अपनाने के लिए हैलोजन टैबलेट का इस्तेमाल करते हैं। यह काफी सस्ते होते हैं और बहुत ही आसानी से किसी भी मेडिकल स्टोर पर मिल सकते हैं। इसकी एक गोली से 50 लीटर तक पानी का टैंक साफ किया जा सकता है। हालांकि, पानी में इसे कितनी मात्रा में डाला जाए, यह पानी की मात्रा और हैलोजन टैबलेट के ब्रांड के ऊपर भी निर्भर करता है। हैलोजन टैबलेट की गोली पानी में पूरी तरह से घुलनशील होती है। इसमें फ्लोरीन, क्लोरीन, ब्रोमीन और आयोडीन का मिश्रण होता है।

और पढ़ेंः गांजे से कोरोना वायरस: गांजा/बीड़ी/सिगरेट पीने वालों को कोरोना से ज्यादा खतरा

फिटकरी से फिल्टर करें पीने का पानी

हर घर में फिटकरी बहुत आसानी से मिल जाती है। बस जितना पानी आपको पीने के लिए चाहिए उसमें फिटकरी का टुकड़ा कुछ देर के लिए डालें। फिर फिटकरी को निकालकर पानी को हिला दें। जब पानी में मौजूद गंदगी नीचे बैठ जाए, तो कॉटन के मोटे कपड़े से इसे किसी साफ कंटेनर में छाल नें।

तुलसी के पत्ते

कुछ शोध के मुताबिक, पानी के दूषित तत्वों को खत्म करने में तुलसी की पत्तियों का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आपको एक कांच के बोतल में पानी भरकर उसके मुट्ठी भर तुलसी की पत्तियां डालनी होंगी। फिर इसे आप कुछ घंटों के लिए धूप में रख सकते हैं। या फिर आप इसे सीधा गैस पर उबाल भी सकते हैं। एक मुट्ठी तुलसी के पत्तों से लगभग 20 लीटर पानी साफ किया जा सकता है। आमतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में यह विधि अपनाई जाती है। यह पानी साफ करने का तरीका बेहद आसान भी है।

और पढ़ेंः कोविड-19 से मौतः जानिए दुनियाभर में कोरोना किस तरह से लोगों को बना रहा शिकार

पीने का पानी फिल्टर करने के अन्य घरेलू तरीके

पीने का पानी फिल्टर करने के ये अन्य घरेलू तरीके कितने कारगर हैं, इनके बार में अभी भी शोध किए जा रहे हैं। हालांकि, कोरोना वायरस के दौरान या किसी अन्य समय में आपको कभी भी इमरजेंसी में पीने के लिए साफ पानी न हो, तो आप सप्लाई वॉटर को नीचे बताए गए तरीकों से भी साफ कर सकते हैंः

टमाटर और सेब के छिलके

दूषित पानी को पीने लायक बनाने के लिए पानी साफ करने का यह तरीका भी कई ग्रामीण इलाकों में अपनाया जाता है।

  • इसके लिए सबसे पहले आपको टमाटर और सेब के छिलकों को कुछ घंटों के लिए एल्कोहॉल में डुबाकर रखना होगा।
  • फिर इन छिलकों को निकालकर धूप में सुखा लें।
  • अब इन छिलकों को दूषित पानी में डाल कर कुछ घंटों के लिए रख दें।
  • कुछ घंटे बीतने के बाद छिलकों को निकाल दें और पानी को हल्क गुनगुना करके पी सकते हैं।

जानिए दूषित पानी से होने वाली बीमारियां

दूषित पानी से होने वाली निम्न बीमारियां हैंः

  • पीलिया
  • पेचिश
  • टाइफाइड
  • आंखों से जुड़ी समस्याएं
  • गले में इंफेक्शन

[mc4wp_form id=”183492″]

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर पानी साफ करने का तरीका या इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

संबंधित लेख:

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Making Water Safe in an Emergency. https://www.cdc.gov/healthywater/emergency/drinking/making-water-safe.html. Accessed on 27 March, 2020.
4 ways to create clean drinking water. https://www.weforum.org/agenda/2015/03/4-ways-to-create-clean-drinking-water/. Accessed on 27 March, 2020.
Water purification prescribed in Ayurveda. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3361915/. Accessed on 27 March, 2020.
Treatment of Drinking Water at Household and Community Level. https://www.open.edu/openlearncreate/mod/oucontent/view.php?id=201&printable=1. Accessed on 27 March, 2020.
Tulsi leaves as a purifier or a Reverse Osmosis filter? Which would you choose?. https://www.indiawaterportal.org/articles/tulsi-leaves-purifier-or-reverse-osmosis-filter-which-would-you-choose. Accessed on 27 March, 2020.

Treating Water with Chemicals/
https://www.wikihow.com/Purify-Water/ Accessed on 27 March, 2020

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड