home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल और उनके जवाब, डायबिटीज और बीपी के रोगी जरूर पढ़ें

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल और उनके जवाब, डायबिटीज और बीपी के रोगी जरूर पढ़ें

कोरोना वायरस के पिछले प्रकारों सार्स और मर्स से अलग नोवेल कोरोना वायरस (Novel Coronavirus) की बीमारी (COVID- 19) अलग और नया स्ट्रेन है। जो कि बिल्कुल नया और रहस्यमयी है। इसके बारे में लोगों और विशेषज्ञों को भी अभी तक कोई खास या पर्याप्त जानकारी नहीं है। इसके साथ ही लंबे समय से किसी बीमारी से परेशान चले आ रहे लोगों को कोविड -19 के होने का खतरा ज्यादा बताया गया है। ऐसे में मरीजों के मन में कोरोना वायरस से जुड़े सवाल घर बनाए हुए हैं। जिनका जवाब इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने दिया है। आइए, जानते हैं कोरोना वायरस से जुड़े सवाल और उनके जवाब, जो इन बीमारियों के मरीजों द्वारा सबसे ज्यादा पूछे गए।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के 80 प्रतिशत मरीजों को पता भी नहीं चलता, वो कब संक्रमित हुए और कब ठीक हो गए

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल

क्या हृदय रोग, मधुमेह या उच्च रक्तचाप के रोगियों को कोरोना वायरस के संक्रमण का अधिक खतरा है?

नहीं, हृदय रोग, मधुमेह या उच्च रक्तचाप से ग्रस्त लोगों को अन्य लोगों की तुलना में संक्रमण होने का अधिक खतरा नहीं है।

उपरोक्त रोगों से पीड़ित लोगों में, संक्रमित होने पर गंभीर बीमारी या समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है?

इस कोरोना वायरस से जुड़े सवाल का जवाब है कि COVID -19 से पीड़ित अधिकांश (80%) लोगों में सांस संबंधी संक्रमण (बुखार, गले में खराश, खांसी) के हल्के लक्षण होते हैं और वे पूरी तरह से ठीक भी हो जाते हैं। लेकिन हमने कई प्रभावित देशों में देखा है कि वे लोग जिन्हें मधुमेह, उच्च रक्तचाप और हृदय रोग, जिसमें हृदयघात (कमजोर हृदय) वाले लोग भी शामिल हैं, उन्हें गंभीर बीमारी होने का खतरा है, इसलिए इन रोगियों के लिए अतिरिक्त देखभाल की सलाह दी जाती है।

यह भी पढ़ें: अगर जल्दी नहीं रुका कोरोना वायरस, तो ये होगा दुनिया का हाल

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल : क्या मधुमेह से पीड़ित लोगों को Covid-19 होने का अधिक खतरा है?

सामान्य तौर पर, आप जानते हैं कि अनियंत्रित मधुमेह से पीड़ित लोगों में सभी संक्रमणों का खतरा बढ़ जाता है। मधुमेह से पीड़ित लोग संक्रमित होने के अधिक जोखिम में नहीं हैं, लेकिन एक बार संक्रमित होने पर अधिक गंभीर बीमारी और खराब परिणामों का खतरा है। इसलिए, सही तरीके का आहार लें और नियमित रूप से (जहां तक संभव हो) व्यायाम करें, अपनी दवाओं का नियमित रूप से सेवन करें और अपने शुगर स्तर की बार-बार जांच करें, ताकि आपका मधुमेह नियंत्रण में रहे।

जब मधुमेह के रोगी बीमार हो जाते हैं, तो उन्हें, उनके रक्त में ग्लूकोज की मात्रा की लगातार निगरानी करनी पड़ती है। उन्हें अपनी दवाइयों (जिसमें इन्सुलिन भी शामिल है) में बदलाव करना पड़ सकता है। साथ ही उनको, छोटे मात्रा में बार-बार भोजन करना और पर्याप्त तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

मधुमेह, उच्च रक्तचाप और ह्रदय रोग से पीड़ित लोगों के लिए कुछ सुझाव:

अपनी दवाइयों का नियमित रूप से सेवन करें – यह बहुत जरूरी है

इस कोरोना वायरस से जुड़े सवाल का जवाब है कि अगर आपको सर्दी जुकाम के मामूली लक्षण हैं, तब भी सुनिश्चित करें कि आप चिकित्सक द्वारा निर्देशित सभी दवाओं का सेवन कर रहे हैं। जब तक आपके चिकित्सक द्वारा सलाह न दी जाए किसी भी दवा का सेवन बंद न करें। अगर आप अपने चिकित्सक से नहीं मिल पा रहे, तो मधुमेह, उच्च रक्तचाप और ह्रदय रोग दवाइयों का सेवन जारी रखें। कोलेस्ट्रॉल (स्टेटिन) को नियंत्रित रखने और मधुमेह के इलाज वाली दवाओ का सेवन जारी रखा जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

ये रिपोर्ट कितनी सही है कि BP की कुछ दवाइयों का सेवन COVID-19 की तीव्रता को बढ़ा रहा है?

इस कोरोना वायरस से जुड़े सवाल का जवाब है कि उपलब्ध जानकार की समीक्षा के बाद विभिन्न वैज्ञानिकों और हृदयरोग विशेषज्ञों का कहना है कि कोई प्रमाण नहीं है कि दवाओं के दो प्रकार यानि (ACE इनहिबिटर (ACE inhibitors)- रैमिप्रिल (Ramipril), एनलाप्रिल (Enalapril) आदि) और एंजियोटेंसिन रिसेप्टर ब्लॉकर्स (angiotensin receptor blockers) (ARB – लोसार्टन (Losartan), टेल्मीसार्टन (Telmisartan)) आदि, COVID-19 के होने की संभावना या उसकी तीव्रता को बढ़ाते हैं।

ये दवाएं, आपके ह्रदय की गतिविधि में सहायक होकर, हृदयघात तथा उच्च रक्तचाप के नियंत्रण में बहुत प्रभावी हैं। यदि आप अपने आप से इन दवाओं का सेवन बंद करते हैं तो यह हानिकारक हो सकता है। इससे आपकी हृदय की स्थिति खराब हो सकती है।

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल : क्या मैं दर्द/बुखार निवारक दवाएं ले सकता/सकती हूं?

यह पाया गया है कि कुछ प्रकार की दर्द निवारक दवाएं जैसे कि आइबोप्रोफेन (Ibuprofen), COVID-19 बीमारी की तीव्रता को बढ़ाती हैं। ऐसी दवाओं को हृदयघात के रोगियों के लिए हानिकारक माना जाता है और इससे आपकी किडनी के खराब होने का खतरा बढ़ सकता है। NSAID से परहेज करें या अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशत होने पर ही उनका सेवन करें। यदि आवश्यक हो तो उपयोग करने के लिए पेरासिटामोल (Paracetamol) सबसे सुरक्षित दर्द निवारक दवाइयों में से एक है।

यह भी पढ़ें: शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाकर कोरोना वायरस से करनी होगी लड़ाई, लेकिन नींद का रखना होगा खास ध्यान

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल : रक्तचाप (BP), ब्लड शुगर को नियंत्रित करें और नियमित शारीरिक गतिविधि करें

इस कोरोना वायरस से जुड़े सवाल का जवाब है कि अपनी जीवनशैली को सेहतमंद रखें – धूम्रपान और शराब के सेवन से दूर रहें, अपने BP और ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रण में रखें और किसी न किसी रूप में नियमित शारीरिक गतिविधि करते रहें (हालांक, कृपया सामाजिक-दूरी के मानदंडों के अनुसार अपनी आउट-डोर गतिविधियों में बदलाव करें)। सलाह के अनुसार ही आहार का पालन करें और नमक के अधिक सेवन से परहेज करें। यदि आप मांसाहारी हैं, तो आप मांस का सेवन जारी रख सकते हैं। आहार में अधिक फाइबर और प्रोटीन सामग्री और फल और सब्जियों का सेवन करें।

कोविड संबंधित प्रश्न: यदि मुझे COVID-19 के लक्षण हों तो मुझे क्या करना चाहिए?

यदि आपको कोरोना वायरस के लक्षण जैसे सांस की तकलीफ के बिना बुखार, खांसी, मांसपेशियों में दर्द हो, तो अपने डॉक्टर को फोन करें और फोन पर सलाह लें। आपको घर पर रहने की जरूरत है (कम से कम 14 दिनों के लिए) और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ निकट संपर्क से बचें और हाथ की स्वच्छता बनाए रखें और सही ढंग से एक चिकित्सा मास्क पहनें। यदि सांस की तकलीफ हो या बिगड़ते लक्षण जैसे अत्यधिक थकान तो चिकित्सक की सलाह लें (आगे की सलाह आफके चिकित्सक की सलाह पर निर्भर करेगी)

कोरोना वायरस से जुड़े सवाल- COVID-19 की रोकथाम करने के लिए आपको क्या करना चाहिए?

Covid-19 खांसी और छींक द्वारा, ड्रॉप्लेट (छोटी मात्रा में लार या अन्य स्राव जो खांसी / छींक के माध्यम से या जोर से हंसने पर भी निकलता है) और छूने से फैलता है। जब आप किसी ऐसी वस्तु को छूते हैं, जिस पर वायरस के कण हैं, तो यह वायरस आपके हाथों पर भी पहुंच जाता है और जब आप उन्हीं हाथों से अपना चेहरा छूते हैं, तो आप संक्रमित हो सकते हैं। वायरस के कण 3 दिन तक भी बने रह सकते हैं और इसलिए अपने आस-पास की स्वच्छता बनाए रखना बहुत महत्वपूर्ण है। फ्लोर क्लीनर या यहां तक कि साबुन के साधारण घोल द्वारा कमरे, टेबल और अन्य सतहों को धोएं और जब आप अनजान या संदिग्ध सतहों को छूते हैं तो हैंड-सैनिटाइजर से या साबुन से अपने हाथ अच्छी तरह साफ करें।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस वैक्सीन को विकसित होने में इतना समय क्यों लग रहा है? कैसे बनती है कोई वैक्सीन

कोविड संबंधित प्रश्न – संक्रमण से बचने या उसे फैलने से रोकने के लिए आप क्या महत्वपूर्ण कदम उठा सकते हैं

  1. इस कोरोना वायरस से जुड़े सवाल का जवाब है कि उन लोगों के संपर्क में आने से बचें, जिनमें संभावित COVID-19 के लक्षण दिख रहें हों – कोई भी व्यक्ति जिसे जुकाम, खांसी या बुखार हो।
  2. गैर-जरूरी यात्रा करने से और सार्वजनिक यातायात के उपयोग से बचें।
  3. सार्वजनिक जगह, भीड़ और बड़ी संख्या में मेलजोल से बचें। परिवार के लोगों और दोस्तों से, फोन, इंटरनेट और सोशल मीडिया द्वारा संपर्क में रहें।
  4. अस्पतालों/लैब की नियमित विजिट से बचें। छोटी समस्याओं के लिए, यदि संभव हो तो फोन या हेल्पलाइन नंबर पर अस्पताल या HF क्लिनिक से संपर्क करें। यदि आप नियमित रूप से INR की जांच कर रहे हैं और रक्त पतला करने वाली दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो कृपया कोशिश करें कि डॉक्टर से फोन पर संपर्क करें और जितना संभव हो अस्पताल जाने से परहेज करें।
  5. हाथ मिलाने और हाथों से चेहरा छूने से परहेज करें।
  6. अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोएं – कम से कम 20-30 सेकेंड के लिए ऐसा करें और सही तरीके से हाथ के सभी हिस्सों को साफ करें।
  7. एल्कोहॉल बेस्ड हैंड सैनिटाइजर भी उपयोगी है।
  8. जहां तक संभव हो सके दूषित जगहों / चीजों को छूने से बचें – सार्वजनिक शौचालय के दरवाजे, दरवाजों के हैंडल आदि।
  9. कोरोना वायरस से जुड़ी अफवाह पर यकीन न करें और साथ ही ऑथेंटिक सोर्स से जानकारी लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 27/3/2020

Coronavirus disease (COVID-19) outbreak – https://www.who.int/westernpacific/emergencies/covid-19 – Accessed on 27/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 27/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 27/3/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 66 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200326-sitrep-66-covid-19.pdf?sfvrsn=81b94e61_2 – Accessed on 27/3/2020

Novel Corona Virus – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 27/3/2020

FAQs for Patients with Hypertension, Diabetes and Heart Diseases in view of
Coronavirus/COVID-19 Pandemic – https://icmr.nic.in/sites/default/files/upload_documents/FAQs_English.pdf – – Accessed on 27/3/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ दिन पहले को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड