home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Abuta: अबूटा क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज
Abuta: अबूटा क्या है?

परिचय

अबूटा (Abuta) क्या है?

अबूटा एक बेल है, जिसकी पत्तियां ऊपर की तरफ चढ़ती हुईं 30 सेंटीमीटर तक लंबी होती हैं। इसके छोटे-छोटे फल (बैरी) अंगूर के आकार के होते हैं, जो खाने योग्य नही हैं। यह सिसेम्पेलोस (Cissampelos) प्रजाति की बेल है, जिसकी 30-40 प्रजातियां वर्षा वनों में मौजूद हैं। इस औषधि की बेल का रंग गाढ़ा काला और भूरा होता है, जो सख्त होती है। यह पेरू (Peru) ब्राजील, इक्वाडोर (Ecuador) और कम्बोडिया में पाई जाती है। इस जड़ी बूटी का इस्तेमाल कई स्वास्थ्य स्थितियों के उपचार के साथ-साथ घर और बगीचे की सजावट के लिए भी किया जाता है।

इस पौधे को अलग-अलग देशों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है। ब्राजील में, जहां इस पौधे को Abutua के रूप में जाना जाता है वहीं पेरू में इसे Abuta या बारबास्को के नाम से जाना जाता है। एक जड़ी-बूटी के तौर पर आमतौर पर पूरे दक्षिण अमेरिका में इसका इस्तेमाल सबसे अधिक किया जाता है। वहां, पर इसका इस्तेमाल खासतौर पर महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी सभी तरह की बीमारियों के लिए किया जाता है। यह गर्भपात के खतरे को रोकने और बच्चे के जन्म के बाद गर्भाशय के रक्तस्राव को रोकने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा यह मासिक धर्म के दौरान पेट में होने वाली ऐंठन और प्रसवपूर्व दर्द, मासिक धर्म के दौरान अत्यधिक रक्तस्राव और गर्भाशय रक्तस्राव को रोकने में उपचारी होता है। इसके अलावा इसका इस्तेमाल खराब पाचन की समस्या का उपचार करने, भोजन के बाद उनींदापन की समस्या और कब्ज की समस्या से राहत पाने के लिए भी किया जाता है।

और पढ़ेंः ऐसे पहचाने छोटे बच्चों में खांसी के प्रकार और करें देखभाल

उपयोग

अबूटा (Abuta) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

इस औषधि का इस्तेमाल निम्नलिखित समस्याओं में होता है:

  • पचान तंत्र की समस्याएं जैसे डायरिया, पेचिश, कॉलिक, पेट खराब और पेट दर्द
  • रेस्पिरेटरी की समस्याएं जैसे सर्दी, खांसी, ब्रोंकाइटिस और अस्थमा
  • त्वचा की समस्याएं जैसे मुंहासे, घाव, फोड़ा, जलना, सोर, खुजली और स्ट्रेप (Strep) बैक्टीरिया की वजह से उल्टी और बुखार के साथ त्वचा पर गंभीर लालिमा पड़ना।
  • यूरिनरी ट्रैक की समस्याएं जैसे ब्लैडर और किडनी इंफेक्शन
  • मासिक धर्म की समस्याएं
  • इनफर्टिलिटी

और पढ़ें: Oak Bark: शाहबलूत की छाल क्या है?

अन्य समस्याओं में इस औषधि के इस्तेमाल की सलाह दी जा सकती है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

अबूटा (Abuta) कैसे कार्य करता है?

इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें: Bronchitis : ब्रोंकाइटिस क्या है? जानें इसके कारण लक्षण और उपचार

सावधानियां और चेतावनी

अबूटा (Abuta) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको अबूटा के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। अबूटा का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

अबूटा (Abuta) कितना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: दोनों ही परिस्थितियों में अबूटा का सेवन करना सुरक्षित है या नहीं, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। अबूटा का इस्तेमाल करने से पहले इसके संभावित फायदों और नुकसान के संबंध में अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

बच्चों: बच्चों में इसका इस्तेमाल सुरक्षित है या नहीं, इस संबंध में अपर्याप्त सुबूत मौजूद हैं।

सर्जरी: तय सर्जरी से कम से कम दो सप्ताह पहले अबूटा का सेवन बंद कर दें।

और पढ़ें: तीसरी प्रेग्नेंसी के दौरान इन बातों का रखना चाहिए विशेष ख्याल

साइड इफेक्ट्स

अबूटा (Abuta) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

यदि आप अबूटा के साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह अवश्य लें।

अबूटा को कैसे स्टोर करें?

इस औषधि को कभी भी सूर्य की रोशनी या नमी वाली जगह में स्टोर नहीं करना चाहिए। इसे स्टोर करने के लिए कमरे के तापमान सबसे बेहतर होता है। इसे बाथरूम या फ्रीज में स्टोर न करें। ध्यान रखें कि, इस औषधि का इस्तेमाल तभी तक करना चाहिए, जब तक यह डॉक्टर द्वारा निर्देश किया गया हो। औषधि का इस्तेमाल न होने पर इसका इस्तेमाल न करें। अगर यह एक्सपायर हो गया हो, तो इसका सेवन करना तुंरत बंद कर दें। इस्तेमाल न होने पर इस औधषि को कभी भी सीधे कूड़ेदान में न फेंके और न ही इसे किसी खुली नाली या टॉयलेट में फ्लश करें। इससे पर्यावरण को नुकसान हो सकता है। इसके सुरक्षित और उचित निपटारे के लिए इसके पैक पर दिए गए दिशा निर्देशों को पढ़ें और अपने डॉक्टर से इस बारे में उचित सलाह लें।

रिएक्शन

अबूटा (Abuta) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

अबूटा आपकी मौजूदा दवाइयों या मेडिकल कंडिशन के साथ रिएक्शन कर सकता है। इसका उपयोग करने से पहले अपने हर्बलिस्ट से सलाह अवश्य लें।

और पढ़ेंः Back Pain : क्या है पीठ दर्द ? जानें लक्षण, कारण और उपाय

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

अबूटा (Abuta) की सामान्य डोज क्या है?

मासिक धर्म की समस्याओं में अबूटा की डोज:

1-2 ग्राम अबूटा की छाल का पाउडर टेबलेट्स या कैप्सूल में दिन में दो बार इस्तेमाल किया जा चुका है।

घोल के रूप में अबूटा का इस्तेमाल 4:1 के रेशियो में 2-4 मिलिलीटर प्रतिदिन दिन में दो बार इस्तेमाल किया जा चुका है।

हर मरीज के मामले में अबूटा की डोज अलग हो सकती है। जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नहीं होती हैं। अबूटा के उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

अबूटा (Abuta) किन रूपों में आता है?

अबूटा निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकता है:

  • अबूटा का पाउडर
  • गोलियों या कैप्सूल के रूप में अबूटा की छाल
  • अबूटा का घोल

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

संबंधित लेख:-

Zedoary: सफेद हल्दी क्या है?

क्या सोने से पहले नियमित रूप से हल्दी वाला दूध पीना फायदेमंद होता है?

Grape: अंगूर क्या है?

National Milk Day: वेट लॉस के लिए दूध को करें डायट में शामिल

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Abuta. http://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-267-abuta.aspx?activeingredientid=267&activeingredientname=abuta. Accessed on 8 January, 2020.

Abuta. https://www.rxlist.com/abuta/supplements.htm. Accessed on 8 January, 2020.

Saponins and alkaloids from Abuta grandifolia. https://www.sciencedirect.com/science/article/abs/pii/S1874390011001856. Accessed on 8 January, 2020.

Abuta. https://www.emedicinehealth.com/abuta/vitamins-supplements.htm?pf=2. Accessed on 8 January, 2020.

Cissampelos pareira (Abuta/Harjeuri) (Menispermaceae). https://www.researchgate.net/figure/Cissampelos-pareira-Abuta-Harjeuri-Menispermaceae_fig6_262938502. Accessed on 8 January, 2020.

लेखक की तस्वीर
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/05/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x