home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Ashitaba: अशिताबा क्या है?

Ashitaba: अशिताबा क्या है?
परिचय |उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज

परिचय

अशिताबा (Ashitaba) क्या है?

अशिताबा एक जापानी पौधा है। इसका साइंटिफिक नाम एंजेलिका किसकी (Angelica keiskei) है, जो एम्बेलिफस (Umbellifers) प्रजाति का है। यह गाजर प्रजाति में एक फूल वाला पौधा होता है। मूल रूप से यह जापान का है, जहां पर यह प्रशांत तट पर पाया जाता है। यह एक औषधिय गुणों से भरपूर पौधा माना जाता है। यह जापान के केंद्रीय इलाकों में भी उगता है। इसकी पत्तियों, जड़ों और तनों का इस्तेमाल दवा बनाने में होता है।

कुछ लोग साग (हरी पत्तेदार सब्जी) की जगह अशिताबा का भी उपयोग कर अपने आहार में शामिल करते हैं। इसके सेवन से शरीर को फायदा मिलता है।

उपयोग

अशिताबा (Ashitaba) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

अशिताबा का इस्तेमाल निम्नलिखित समस्याओं के उपचार में होता है: जैसे

  • गेस्ट्रोफेगियल रिफ्लक्स डिजीज (Gastroesophageal reflux disease)
  • पेट के अल्सर की समस्या होने पर
  • हाई ब्लड प्रेशर की स्थिति में
  • हाई कोलेस्ट्रोल होने पर
  • गाउट संबंधी परेशानी
  • कब्ज की समस्या
  • हे बुखार (Hay fever)
  • कैंसर रोग
  • स्मॉल पॉक्स (Smallpox)
  • बॉडी में पानी जमा होने
  • ब्लड क्लॉटिंग होने पर
  • फूड पॉइजिनिंग की स्थिति में

इसके अतिरिक्त महिलाएं ब्रेस्ट मिल्क के प्रवाह को बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल करती हैं। हालांकि गर्भवती महिला और स्तनपान करवाने वाली महिला को इसके सेवन से पहले हेल्थ एक्सपर्ट से जानकारी अवश्य लें। क्योंकि यह उनकी सेहत के लिए बेहतर नहीं माना जाता है।

यह कैसे कार्य करता है?

अतिशाबा कैसे कार्य करता है, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें। हालांकि, कुछ शोध यह बताते हैं कि अतिशाबा एंटी-ऑक्सिडेंट्स के रूप में कार्य करता है। इसके अन्य केमिकल्स संभवतः पेट में से होने वाले अम्ल के स्राव (stomach acid) को रोक देते हैं।

और पढ़ें: Ginger : अदरक क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

अशिताबा (Ashitaba) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं, तो इसका इस्तेमाल बंद कर दें। वैसे अगर आप गर्भवती हैं या ब्रेस्ट फीडिंग करवाती हैं, तो दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही इसका सेवन करना चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको अतिशाबा के किसी पदार्थ से एलर्जी या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है, तो इसके सेवन से परहेज करना चाहिए।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है, तो इसके सेवन से पहले हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह लें।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है, तो आपको

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। अतिशाबा का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

अशिताबा (Ashitaba) कितना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग: गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान अशिताबा कितना सुरक्षित है, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नही है। सुरक्षा के लिहाज से इस दौरान इसका सेवन करने से बचें।

और पढ़ें: Neem : नीम क्या है?

साइड इफेक्ट्स

अशिताबा (Ashitaba) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

यदि आप अशिताबा के साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें। क्योंकि इससे जुड़े रिसर्च अभी भी जारी है। इसका सेवन गर्भवती महिला या स्तनपान करवाने वाली महिला को नहीं करना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार इससे मां और शिशु दोनों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

रिएक्शन

अशिताबा (Ashitaba) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

अशिताबा आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से संपर्क करें।

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बालिस्ट से सलाह लें।

अशिताबा (Ashitaba) की सामान्य डोज क्या है?

इसकी डोज कितनी लेनी चाहिए यह व्यक्ति की उम्र, स्वास्थ्य और अन्य हेल्थ कंडिशन पर निर्भर करता है। इस बारे में अभी कोई साइंटिफिक रिसर्च नहीं है।

अशिताबा (Ashitaba) किन रूपों में आता है?

अशिताबा निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध हो सकता है:

  • अशिताबा की कच्ची चाय
और पढ़ें: Peppermint : पुदीना क्या है?

अशिताबा के सेवन से क्या-क्या शारीरिक लाभ मिल सकता है?

इसके सेवन से निम्नलिखित शारीरिक लाभ मिल सकता है। जैसे-

  • इसके सेवन से हार्ट बर्न या गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GERD) जैसी अन्य शारीरिक परेशानी में लाभ मिलता है।
  • कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ प्रॉब्लम भी इसके सेवन से ठीक रहता है।
  • कोलेस्ट्रॉल की समस्या इसके सेवन से ठीक हो सकती है और इसके सही मात्रा में सेवन से ब्लड प्रेशर लेवल भी संतुलित रहता है।
  • कब्ज की समस्या होने पर भी इसके सेवन से लाभ मिल सकता है। हालांकि कब्ज की समस्या होने पर ज्यादा वक्त तक खुद से इलाज न करें। क्योंकि ज्यादा दिनों तक कब्ज की समस्या होने पर अन्य शारीरिक परेशानियों का खतरा बढ़ जाता है।
  • बढ़ती उम्र में होने वाली परेशानी को कम करने में अशिताबा काफी फायदेमंद होता है।
  • सेंट्रल नर्वस सिस्टम की कार्य क्षमता को बेहतर करने में मदद करता है।
  • इसके नियमित और संतुलित मात्रा में सेवन से इम्यून सिस्टम स्ट्रॉन्ग होता है, जिससे बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ सकती है।
  • इसके सेवन से डायबिटीज कंट्रोल रह सकता है। अगर आप डायबिटीज के पेशेंट हैं, तो अपने हेल्थ एक्सपर्ट से अशिताबा से जुड़ी जानकारी लें और उनसे समझने की कोशिश करें की इसका सेवन आपको कैसे करना चाहिए जिससे इसका आपकी सेहत और बढ़े हुए शुगर लेवल को कंट्रोल रखा जा सकता है।
  • हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह अनुसार इसके सेवन से मेटाबॉलिज्म बेहतर होता है, जिससे वेट लॉस की समस्या दूर हो सकती है।
  • इसके सेवन से ब्रेन स्ट्रॉन्ग होता है और सोचने समझने की क्षमता भी बेहतर होती है।

अगर आप अशिताबा से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

ASHITABA/ http://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-1134-ashitaba.aspx?activeingredientid=1134&activeingredientname=ashitaba.  /Accessed March 9, 2017

A Review of the Medicinal Uses and Pharmacology of Ashitaba/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/27399234/Accessed on 30/01/2020

15 Amazing Benefits Of Ashitaba/https://www.organicfacts.net/ashitaba.html/Accessed on 30/01/2020

A Review of the Medicinal Uses and Pharmacology of Ashitaba/https://www.researchgate.net/Accessed on 30/01/2020

Why You Should Be Skeptical About the Japanese ‘Anti-Aging’ Plant/https://www.healthline.com/Accessed on 30/01/2020

 

लेखक की तस्वीर
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Sunil Kumar द्वारा लिखित
अपडेटेड 05/11/2019
x