Cudweed: कडवीड क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 14, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

परिचय

कडवीड (Cudweed) क्या है?

कडवीड एक हर्ब है। इसका जमीन से ऊपर का हिस्सा दवा के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। इसका वानस्पतिक नाम नेफेलियम (Gnaphalium) है। ये डेजी परिवार (एस्टरेसिया) से ताल्लुख रखता है। ये शीतकालीन वार्षिक या अल्पकालिक बारहमासी हो सकती हैं। इसकी पत्तियां दूसरी पत्तियों से अलग होती हैं। ये ऊपर से ग्रीन कलर की होती हैं और पीछे से इसका रंग सफेद होता है। इसका उपयोग लोग मुंह और गले के रोगों के लिए गार्गल या कुल्ले के रूप में करते हैं।

और पढ़ें: White soapwort: व्हाइट सोपवोर्ट क्या है?

उपयोग

कडवीड (Cudweed) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

  • कडवीड विटामिन से भरपूर होती है। इसमें विटामिन-बी, विटामिन-सी, और विटामिन-के पाए जाते हैं। विटामिन बी हमारे मस्तिष्क के कार्यों को बढ़ावा देता है, जिसमें सीखने, सोचने और याददाश्त शामिल हैं। इसके अलावा विटामिन-सी त्वचा को फायदा पहुंचाने के साथ शरीर को बीमारी और संक्रमण से दूर रखता है।
  • इसमें हापोटेंसिव प्रॉपर्टीज होती हैं, जो कार्डिएक रिदम को धीमा करता है। ये क्रोनिक एंट्राइटिस, कोलाइटिस और डिसेंटरी के लिए भी रिकमेंड किया जाता है।
  • कब्ज और बवासीर में इसे एनीमा के रूप में प्रयोग किया जाता है। थ्रोम्बोफ्लिबिटिस में इसका काढ़ा पीने की सलाह दी जाती है।
  • यह घाव, अल्सर और जलने पर प्रयोग किया जाता है। गले में जलन को शांत करने के लिए इससे माउथवॉश करने के लिए कहा जाता है। हालांकि, इसे लेकर कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है।
  • दिल को रखें स्वस्थ (Good for heart): इसमें वेसोडिलेटिंग और हाइपोटेंसिव गुण होते हैं। ये हृदय और रक्त कोशिकाओं के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। ये हाइपरटेंशन से बचाता है, जिससे दिल संबंधित परेशानी होने जैसे आर्टरी डिजीज और स्ट्रोक होने का खतरा रहता है।
  • एंटी-इंफेक्टिव (Anti-infective): कडवीड हमें इंफेक्शन से भी दूर रखता है। इसमें एंटीसेप्टिक, एस्ट्रिंजेंट और एंटी-इंफ्लमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं। इसके तेल का उपयोग श्वसन अशुद्धि, टॉन्सिलाइटिस और लैरींगाइटिस के इलाज के लिए किया जाता है।
  • यह खून के थक्के को बनने से रोकने में मददगार होता है, इसके उपयोग से शरीर में ब्लड क्लॉट नहीं बनता है।
  • कडवीड का उपयोग करने से खांसी, टॉन्सिलाइटिस की समस्या दूर होती है।
  • इसके उपयोग से अवसाद, नींद की समस्या, चिंता की समस्या को दूर किया जा सकता है।
  • इसमें रिलैक्सिंग और स्टिमुलेटिंग प्रॉपर्टीज होती हैं। यह गले की खराश, खांसी, ल्यूकोरिया, ब्लेडर में सूजन और डिसेंटरी के बाद के चरणों में इस्तेमाल किया जाता है। पीरियड्स में बहुत ज्यादा ब्लीडिंग होने पर भी ये उपयोगी माना जाता है।
  • कुछ लोगों के सिर में जूं होने की समस्या होती है। इन लोगों के लिए कडवीड का उपयोग बेहतर साबित हो सकता है। इसका उपयोग सिर के जूं से छुटकारा पाने के लिए भी किया जा सकता है।

कैसे काम करता है कडवीड (Cudweed)?

कडवीड कैसे काम करता है इसके बारे में कोई वैज्ञानिक जानकारी नहीं है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें। हालांकि कुछ शोधों के अनुसार, कडवीड में एंटीसेप्टिक, एस्ट्रिंजेंट और एंटी-इंफ्लमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं जो कई बीमारियों से राहत दिलाने में मदद करते हैं। इसके साथ ही ये विटामिन-बी, विटामिन-सी, और विटामिन-के से भरपूर होते हैं जो कई तरह से स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

विटामिन-बी मस्तिष्क के कार्य जैसे याद करना, सोचना, सेंसेशन व याददाश्त को तेज बनाने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन-सी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और बीमारियों व इंफेक्शन से दूर रखता है। साथ ही इसमें विटामिन-के होता है जो शरीर में खून की कमी नहीं होने देता है।

और पढ़ें: Mormon Tea: मॉरमर्न टी क्या है?

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है कडवीड (Cudweed) का उपयोग?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको एस्टरेसिया परिवार के किसी पौधे जैसे रैगवीड, क्राइसेंटहेम, मैरीगॉल्ड, डेजी आदि से एलर्जी है तो इसका प्रयोग न करें।
  •  यदि आपको किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है। ताे इस हर्ब का उपयोग करने से पहले किसी आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की सलाह लें।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। कडवीड का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

और पढ़ें: Cardamom : इलायची क्या है?

साइड इफेक्ट्स

कडवीड (Cudweed) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

कडवीड से कुछ लोगों में एलर्जिक रिएक्शन देखने को मिल सकते हैं। जिन लोगों को एस्टरेसिया परिवार के किसी पौधे (रैगवीड, क्राइसेंटहेम, मैरीगोल्ड, डेजी आदि) से एलर्जी है तो इसका सेवन उनके लिए सुरक्षित नहीं है।

डायबिटीज: कडवीड से ब्लड शुगर कम हो सकता है। कुछ मामलों में ये रक्त शर्करा नियंत्रण में हस्तक्षेप भी कर सकता है और रक्त शर्करा को बहुत कम कर सकता है। यदि आपको मधुमेह है और आप कडवीड का उपयोग करते हैं, तो अपने रक्त शर्करा की सावधानीपूर्वक निगरानी करें।

गर्भावस्था और स्तनपान: गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान कडवीड के उपयोग के बारे में पर्याप्त रिजल्ट प्राप्त नहीं है। इसके उपयोग से इन महिलाओं में कुछ साइड इफेक्ट्स देखे जा सकते हैं।

जरूरी नहीं इसका इस्तेमाल करने वाले हर लोग इन साइड इफेक्ट्स का अनुभव करें। कुछ साइड इफेक्ट्स हमारी लिस्ट में नहीं भी हो सकते हैं। साइड इफेक्ट्स यदि आप की चिंता का सबब बना हुआ है तो कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें: Iceland moss: आइसलैंड मॉस क्या है?

डोसेज

कडवीड (Cudweed) को लेने की सही खुराक क्या है?

कडवीड की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लीमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें। कभी भी किसी हर्बल की खुराक खुद से निर्धारित न करें। आपके द्वारा की गई छोटी सी लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।

और पढ़ें: नारियल के फायदे क्या हैं?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है कडवीड?

कडवीड निम्नलिखित रूपों में उपलब्ध है:

  • रॉ कडवीड (Raw Cudweed)
  • कडवीड लिक्विड एक्सट्रैक्ट (Cudweed Liquid Extract)

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह , निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है और ना ही इसके लिए जिम्मेदार है।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो स्वास्थ्य के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। कडवीड से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

Spearmint: स्पीयर मिंट क्या है?

स्पीयर मिंट (पहाड़ी पुदीना) एक औषधि है जो अपने अनोखे स्वाद के लिए जाना जाती है। इसकी चटनी स्वास्थ्यवर्द्धक मानी जाती है। आयुर्वेद में सदियों से इसका जानें।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया lipi trivedi

Muira Puama: मुइरा पूमा क्या है?

मुइरा पूमा (Muira Puama) क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां। Muira Puama Benefits, Side Effects, Dosage, and Interactions in hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma

Martagon Lily: मार्टगोन लिली क्या है?

मार्टगोन लिली का इस्तेमाल अल्सर का उपचार करने के लिए किया जा सकता है। साथ ही, इसका इस्तेमाल हर्बल टी के तौर पर भी किया जा सकता है।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma

प्रोटीन पाउडर के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Protein Powder

जानिए प्रोटीन पाउडर (Protein powder) की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, प्रोटीन पाउडर उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, Protein powder डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Suniti Tripathy

Recommended for you

हर्बल्स के फायदे क्या हैं? Herbals benefits

हर्बल्स हैं बड़े काम की चीज, जानना चाहते हैं कैसे, तो पढ़ें ये डिटेल्ड आर्टिकल

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr snehal singh
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ जनवरी 8, 2021 . 11 मिनट में पढ़ें
herbal and spices,जड़ी बूटियां और मसाले

National Herbs and Spices Day: मसाले और जड़ी-बूटियां स्वास्थ्य के लिए हैं लाभकारी, जानें इनके फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ मई 22, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
बालों के लिए करी पत्ता

बालों के लिए करी पत्ता है काफी फायदेमंद, हेयर ग्रोथ के लिए ऐसे करें इस्तेमाल

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ मई 20, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
फ्लेम प्रैटेंस- टिमोथी घास- Phleum pratense

Phleum Pratense: फ्लेम प्रैटेंस (टिमोथी घास) क्या है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Daphal
के द्वारा लिखा गया Bhawana Sharma
प्रकाशित हुआ मई 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें