सर्दी-खांसी को दूर भगाएंगे ये 8 आसान घरेलू नुस्खे

By

भारत में वर्षों से सर्दी-खांसी का इलाज करने के लिए घरेलु उपाय किये जाते हैं। सर्दी खांसी का इलाज करने के साथ-साथ इन घरेलु नुस्खों का किसी भी तरह का साइड इफेक्ट नहीं होता। इन घरेलु उपचारों का इस्तेमाल करके आप दवाई लिए बिना सर्दी खांसी से छुटकारा पा सकते हैं। 

यह भी पढ़ें : Mangosteen : मैंगोस्टीन क्या है?

क्या है घरेलू उपाय जो अपनाने चाहिए? 

1. अदरक वाली चाय

अदरक की चाय सिर्फ स्वाद में ही अच्छी नहीं होती बल्कि, सर्दी-ज़ुकाम के इलाज में प्रभावी तौर पर मदद करती है। अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह बहती नाक को अंदर से सुखाने में मदद करती है और सांस की नाली से बलग़म निकालने में भी मदद करती है। सर्दी-खांसी से राहत दिलाना अदरक के बेशुमार फायदों में से एक है।

2. नींबू, दालचीनी और शहद का सिरप

अगर आप को सर्दी और खांसी है तो नींबू, दालचीनी और शहद के मिश्रण से आप घर बैठे दवा तैयार कर सकते हैं। सिरप बनाने के लिए आधा चमच शहद लें उसमे कुछ बूंद नींबू का रस और एक चुटकी दालचीनी पाउडर मिला लें। दालचीनी के एंटी-बैक्टीरियल गुण रक्त प्रवाह को सुव्यवस्थित करते हैं। यह बीमारी से लड़ने के लिए रक्त में ऑक्सीजन के स्तर में सुधार करता है। सर्दी खांसी को जड़ से खत्म करने के लिए हर रोज दिन में 2 बार यह सिरप लें। नींबू विटामिन सी से भरा होता है, जिसे शरीर की प्राकृतिक सुरक्षा का समर्थन करने के लिए जाना जाता है।

3. गुनगुना पानी

गरम पानी के फायदे तो हर किसी को मालूम हैं । थोड़ी-थोड़ी देर पर गुनगुना पानी पिएं जिससे सर्दी, खांसी और गले कि सूजन में आराम मिलेगा।

4. हल्दी-दूध

हल्दी, हर घर में पाई जाने वाली खाघ पदार्थ है। हल्दी में कई गुण हैं। इस में भरी मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स मौजूद होते हैं, जो कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं। हलके गर्म दूध में हल्दी मिला कर पीने से सर्दी खांसी में कमी आती है। हल्दी के एंटी वायरल और एंटी बैक्टेरियल गुणों के कारण रात में सोने से पहले एक गिलास हल्दी का दूध पीना सर्दी-खांसी से राहत दिलाएगा।

यह भी पढ़ें : Marijuana : मारिजुआना क्या है?

5. पुदीना

पुदीने की पत्तियों में कई इलाज छुपे हैं। पुदीने में पाया जाने वाला मेंथोल गले की खराश को दूर करता है और बलगम और म्यूकस को पिघालता है। आप पुदीने के तेल को पानी में डाल कर भाप ले सकते हैं।

6. लहसुन

सर्दी-जुकाम के इलाज में लहसुन काफी मददगार होता है। लहसुन में मौजूद एलिसिन नाम का रसायण होता है जिसमे एंडी बैक्टेरियल, एंटी वायरल और एंटी फंगल खूबियां होती हैं। लहसुन की कलियों को घी में भून कर खाएं। दूसरी बार से ही जुकाम में फर्क महसूस होने लगेगा। सर्दी जुकाम के इंफेक्शन को लहसुन तेजी से दूर करता है।

7. तुलसी

तुलसी सर्दी जुखाम के इलाज का बहुत असरदार घरेलु उपाय है। तुलसी में बहुत से उपचारी गुण शामिल होते हैं, जो जुकाम और फ्लू आदि से बचाव में मदद करते हैं। सर्दी खांसी के दौरान तुलसी की पत्तियां खानी चाहिए। तुलसी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण है जो खांसी या जुकाम होने पर तुलसी की पत्तियां (5 ग्राम) पीसकर हलके गुनगुने पानी में मिलाएं और काढ़ा बना कर पिएं, आराम मिलेगा।

8. काली मिर्च

काली मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर , सौंठ पाउडर, लौंग का पाउडर 2 -2 चुटकी और बड़ी इलायची आधी चुटकी मिला कर एक गिलास दूध में डालकर उबाल लें। इस दूध में मिश्री की डली मिलाकर पिएं, जुकाम में राहत होगी। डायबिटीज के मरीज मिश्री की जगह तुलसी का पाउडर मिलाकर इस्तेमाल करें।

और पढ़ें : Marjoram: मरजोरम क्या है?

Share now :

रिव्यू की तारीख जुलाई 9, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया नवम्बर 28, 2019

शायद आपको यह भी अच्छा लगे