home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

पीठ के निचले हिस्से में दर्द से राहत पाने के घरेलू उपाय, आज ही से आजमाएं

पीठ के निचले हिस्से में दर्द से राहत पाने के घरेलू उपाय, आज ही से आजमाएं

रोजमर्रा की जिंदगी में पीठ के निचले हिस्से में दर्द आम समस्या है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय आजमाकर हम इन समस्याओं से निजात पा सकते हैं। मौजूदा समय में इसके कई घरेलू उपचार हैं, जिन्हें आजमाकर इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द भारत में तेजी से बढ़ने वाली शारीरिक समस्या है, वहीं वैश्विक तौर पर भी पांव पसार रही है। बता दें कि 80 फीसदी वयस्क पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या से ग्रसित हैं। वहीं पीठ के अन्य हिस्सों में जैसे मीडिल व अपर एरिया में भी दर्द महसूस करते हैं। पीठ की मसल्स, स्पाइन की मदद से शरीर के वजन को उठाती है। इन मसल्स की मदद से इंसान अपनी रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करते हैं, बैठने उठने से लेकर वाकिंग, यहां तक कि दौड़ने का काम करते हैं। मौजूदा समय में पीठ दर्द (Back pain) से निजात पाने के लिए कई दवा हैं, जैसे ब्रुफेन, एसिटामिनोफेन आदि की मदद से दर्द से निजात पाया जा सकता है, लेकिन सही यही रहेगा कि तबतक दवा का सेवन नहीं करना चाहिए जबतक हमें इसकी आवश्यकता न हो। घरेलू नुस्खों को आजमाकर इस समस्या से निजात पाया जा सकता है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आइए जानते हैं क्या-क्या करने से दर्द से निजात पा सकते हैं।

मसल्स आसानी से मूव हो इसके लिए करें एक्सरसाइज

पीठ दर्द होने पर उठना-बैठना काफी चुनौतीभरा हो सकता है। इसलिए पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय को आजमाना जरूरी हो जाता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए आप वाकिंग, योगा, वाटर एक्सरसाइज कर पीठ दर्द की समस्या से निजात पा सकते हैं। एक्सरसाइज कर हम टेंस मसल्स को लूज कर सकते हैं, ऐसा करने से एंडोरफिन्स (Endorphins) नामक तत्व निकलता है, जो दिमाग को सिग्नल भेजता है और नेचुरल पेन किलर का काम करता है

पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए इंसान एक्सरसाइज को दिनचर्या में शामिल कर सकता है, इसके तहत वो स्ट्रेचिंग कर सकता है। इससे मसल्स फ्लेक्सिबल होने के साथ मजबूत होते हैं। वहीं रेगुलर एक्सरसाइज करने से भविष्य में टाइट मसल्स के कारण पीठ दर्द की संभावननाएं कम होती हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें : Back Pain: क्या है पीठ दर्द? जानें लक्षण, कारण और उपाय

गर्म और ठंडा सेंक का कर सकते हैं इस्तेमाल

पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आप गर्म व ठंडा सेंक का इस्तेमाल कर सकते हैं। शोध से पता चला है कि गर्म व ठंडा का सेंक लेने से पीठ ने निचले हिस्से में दर्द से निजात मिलता है।

इंज्युरी होने के बाद इंसान आइस पैक लगाकर दर्द से निजात पा सकता है। खासतौर पर खिंचाव की स्थिति में। टॉवेल में आइस डालकर इसे सीधे पीठ के निचले हिस्से में लगाएं तो दर्द का एहसास कम होता है। स्किन पर ठंडा लगने से सुन्न हो जाता है और तुरंत राहत मिलती है। दर्द से निजात पाने के लिए 20 मिनट व इससे ज्यादा समय तक आप आइस पैक लगा सकते हैं।

वहीं हिटिंग पैड की मदद से कठोर और मांसपेशियों में दर्द से निजात पाया जा सकता है। हिटिंग पैड का इस्तेमाल करने के पूर्व उसके ऊपर लिखे दिशा-निर्देशों का अच्छे से पालन करना चाहिए। उसके बाद इस्तेमाल कर पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय आजमा सकते हैं। जब हिटिंग पैड मौजूद न हो तो उस स्थिति में आप गर्म पानी का बॉटल, क्लोथ बैग का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस्तेमाल करने के दौरान यह ध्यान देना चाहिए कि कहीं आपका स्किन आइस व गर्मी से न जले।

योग और दर्द नियंत्रण के लिए वीडियो देख एक्सपर्ट की जानें राय

स्ट्रेचिंग भी है बेहतर उपाय

पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय आजमाने के लिए आप स्ट्रेचिंग कर सकते हैं। आप 30 सेकंड तक स्ट्रेचिंग कर सकते हैं, जब तक आप कंफर्टेबल महसूस करें तब तक इसे करें। जानें क्या करें,

  • पांव की उंगलियों को छूकर : पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय में आप स्ट्रेचिंग कर सकते हैं। इसके तहत आप खड़े होकर अपने पांव की उंगलियों को छू सकते हैं। इससे आपके पीठ का मसल्स लूज होता है।
  • कोबरा पोज : पेट के बल लेट जाएं, हाथों को जमीन पर टेककर कंधों के बल ऊपर की ओर उठें। वहीं मुंह को ऊपर की ओर ले जाकर सीलिंग की ओर देखें।
  • कैट-काउ पोज : हाथ व घुटनों के बल जमीन पर आ जाएं, फिर अपने सिर को धीरे-धीरे कर सीलिंग की ओर से देखें, फिर सिर को धीरे-धीरे कर नीचे की ओर देखें
  • चाइल्ड पोज : इस पोज को करने के लिए पांव व घुटनों के बल बैठ जाएं, अपने हिप को पांव पर रखें। फिर हाथों को आगे ले जाते हुए सिर को नीचे रखें।

और पढ़ें : कमर दर्द के लिए योग, जानें प्रकार और करने का तरीका

अर्निका का करें इस्तेमाल

अर्निका एक होमियोपैथिक दवा है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय आजमाने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे सीधे स्किन पर लगा सकते हैं, जहां दर्द कर रहा हो, सूजन हो, चोटिल होने पर, माइनर इंज्युरी होने पर इसे लगाकर दर्द से निजात पा सकते हैं। कई फार्मेसी अर्निका के क्रीम व जेल को रखती हैं, जहां से आप इसे खरीद सकते हैं। इसके साइड इफेक्ट काफी कम होते हैं। एक शोध से पता चला है कि अर्निका ऑस्टियोआर्थराइटिस के दर्द से निजात पाने के लिए एक्यूपंक्चर व मसाज कर निजात पा सकते हैं।

और पढ़ें : Broken (fractured) upper back vertebra- रीढ़ की हड्डी में फ्रैक्चर क्या है?

जूतों को बदलें

पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आपको अपने जूतों को बदलने की आवश्यकता पड़ सकती है। ऐसे में आप वैसे जूतों को कतई न पहनें जो टाइट हों, जिसके कारण मसल्स खींचे, ऐसे में आपको पीठ, पांव और गर्दन में दर्द हो सकता है।

उदाहरण के तौर पर हाई हील्स पहनने के कारण पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है। शोध से पता चला है कि वैसी महिलाएं जो हाई हील्स पहनतीं हैं उनको आगे चलकर पीठ के निचले हिस्से में दर्द होता है। यदि कोई व्यक्ति लगातार अपने पीठ में दर्द महसूस करता है उसे डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। जूतों को पहनने संबंधी सलाह आप फुट स्पेशलिस्ट (पोडियाट्रिस्ट) से ले सकते हैं।

और पढ़ें : Thoracic Upper Back Strain: ऊपरी पीठ में तनाव क्या है?

जहां आप काम करते हैं उस जगह में हल्का बदलाव लाकर

आप जहां काम करते हैं उस जगह पर पॉश्चर सही नहीं होने से, डेस्क का अरेंजमेंट सही नहीं होने से आपको पीठ में दर्द महसूस हो सकता है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आप वर्कस्टेशन पर बदलाव कर इस समस्या से निजात पा सकते हैं। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आप कंप्यूटर स्क्रीन को आंखों की रोशनी की सीधाई में मिलाकर रखें। ऑक्यूपेशनल सेफ्टी एंड हेल्थ एडमिनिस्ट्रेशन के अनुसार वर्क प्लेस पर सही अरेंजमेंट कर पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय कर सकते हैं। कुर्सियां सही होनी चाहिए, ताकि आपको पीठ में दर्द न हो।

और पढ़ें : Neck strain: गर्दन में खिंचाव क्या है?

नियमित नींद लें

शोध से पता चला है कि नींद पूरी न होने से ज्यादा पीठ दर्द होता है। पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय के लिए आप अच्छी नींद लें। आरामदायक मैट्रिस का इस्तेमाल करें, गलत साइज के तकिए को साइड कर सही साइज के तकिए का इस्तेमाल करें। नेशनल स्लीप फाउंडेशन के अनुसार हर व्यस्क को सात से नौ घंटे की नींद लेनी चाहिए।

तनाव को हमेशा नियंत्रण में रखें

पीठ के निचले हिस्से में दर्द का कारण तनाव भी हो सकता है। इसलिए इसके उपाय के लिए आप इसे मैनेज करें।

  • माइंडफुलनेस मेडिटेशन– एक शोध से पता चला है कि पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय में इसे शामिल कर समस्या से निजात पा सकते हैं। इसलिए आप ध्यान करें।
  • गहरी सांस लें – लंबी व गहरी सांस कुछ मिनटों के लिए लेने से शरीर का तनाव कम होता है।
  • योगा– कई योगासन और क्रियाओं को कर पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या से निजात पा सकते हैं।

सही समय पर लें डॉक्टरी सलाह

पीठ के निचले हिस्से में दर्द के उपाय आजमाकर हम दर्द से निजात पा सकते हैं। कई मामलों में दवा का सेवन कर पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या से निपट सकते हैं। लेकिन क्रॉनिक और गंभीर पीठ दर्द के मामलों में लोगों को डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए। डॉक्टर हमें फिजिकल थैरेपी, दवा व अन्य सुझाव दे सकते हैं। वहीं इन तरीकों को अपनाकर भी हम पीठ दर्द को मात दे सकते हैं।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

 

The Efficacy of Thermotherapy and Cryotherapy on Pain Relief in Patients with Acute Low Back Pain, A Clinical Trial Study/ https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4225921/ / Accessed on 16th July 2020

Ergonomics/ https://www.osha.gov/SLTC/ergonomics/ / Accessed on 16th July 2020

Herbal Medicine for Low Back Pain/ https://journals.lww.com/spinejournal/Abstract/2016/01150/Herbal_Medicine_for_Low_Back_Pain__A_Cochrane.8.aspx / Accessed on 16th July 2020

How Much Sleep Do We Really Need/ https://www.sleepfoundation.org/articles/how-much-sleep-do-we-really-need / Accessed on 16th July 2020

Low Back Pain Fact Sheet/ https://www.ninds.nih.gov/Disorders/Patient-Caregiver-Education/Fact-Sheets/Low-Back-Pain-Fact-Sheet / Accessed on 16th July 2020

Moist Heat or Dry Heat for Delayed Onset Muscle Soreness/ https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3808259/ / Accessed on 16th July 2020

SELF-MANAGEMENT/ https://uspainfoundation.org/living-with-pain/self-management/ / Accessed on 16th July 2020

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Satish singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/06/2021 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड