backup og meta
खोज
स्वास्थ्य उपकरण
बचाना
Table of Content

Back Pain: क्या है पीठ दर्द? जानें लक्षण, कारण और उपाय

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड Dr. Pooja Bhardwaj


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/11/2021

Back Pain: क्या है पीठ दर्द? जानें लक्षण, कारण और उपाय

परिचय

पीठ दर्द (Back Pain) क्या है?

पीठ दर्द (Back Pain) आमतौर पर रीढ़ के निचले या मध्य भाग में होने वाला दर्द है। अधिकांश लोग अपने जीवन में कभी न कभी पीठ दर्द का शिकार होते हैं। आमतौर पर यह कोई गंभीर स्थिति नहीं है और यह अपने आप एक से आठ सप्ताह में ठीक हो जाता है। यह कभी भी किसी को हो सकता है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं।

क्या पीठ दर्द (Back Pain) आम समस्या है?

यह एक बहुत ही आम समस्या है। यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करती है। यह स्वास्थ्य समस्या किसी भी उम्र में हो सकती है। इसके कारणों को कम करके आप पीठ दर्द (Back Pain) को सीमित कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

लक्षण

पीठ दर्द के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Back Pain)

पीठ दर्द (Back Pain) के सामान्य लक्षणों में शामिल हैं:

  • पीठ के निचले हिस्से में दर्द (Lower back Pain) और जकड़न महसूस होना।
  • दर्द आमतौर पर रात में या आराम करने पर ठीक हो जाता है।

[mc4wp_form id=’183492″]

नर्व पर दबाव के कारण भी पीठ में दर्द (Back Pain) हो सकता है। इन लक्षणों के माध्यम से इस स्थिति को पहचान सकते हैं:

हो सकता है ऊपर दिए गए लक्षणों में कुछ लक्षण शामिल न हो। यदि आपको किसी भी लक्षण के बारे में शंका है तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।

और पढ़ें: पेट दर्द के ये लक्षण जो सामान्य नहीं हैं

मुझे डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

अगर किसी तरह की चोट के बाद पीठ दर्द (Back Pain) महसूस करते हैं या खुद के द्वारा किए गए उपचार के दो सप्ताह बाद तक भी आपका पीठ दर्द (Back Pain) पूरी तरह से दूर नहीं होता है। साथ ही नीचे दिए गए लक्षण दिखें तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

  • दर्द अक्सर बुखार और ठंड लगने के साथ होता है।
  • रात में ज्यादा दर्द या पेट में दर्द
  • दर्द बदतर होता जाए, विशेष रूप से 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों या 20 वर्ष से कम उम्र के लोगों को, जिन्हें कैंसर हुआ हो।
  • लंबे समय तक रहने वाला दर्द, सुन्न और कमजोर पैर।

बैक पेन (Back pain) को समझने के लिए नीचे दिए इस 3 D मॉडल को क्लीक करें।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में होने वाले पीठ-दर्द से मिलेगा आराम, आजमाएं ये आसान टिप्स

कारण

कमर दर्द के क्या कारण हैं? (Cause of Back Pain)

इस दर्द (Back Pain) के कई कारण होते हैं उनमें शामिल हैं:

रीढ़ की हड्डी में दर्द के कारण बुजुर्ग लोग पीठ दर्द (Back Pain) से पीड़ित हो सकते हैं। वृद्ध महिलाओं को अक्सर ऑस्टियोपरोसिस (Osteoporosis) होता है, जिससे पीठ की हड्डी (Bone) में दरार हो सकती है, जिसकी वजह से यह दर्द (Pain) हो सकता है।

कभी-कभी शरीर के अन्य हिस्सों जैसे कंधे या कूल्हों में दर्द या बीमारी भी पीठ दर्द (Back Pain) का कारण बन सकती है।

यह दर्द बदतर हो सकता है अगर:

  • वजन (Weight) अधिक होने पर आहार में फैट लेते हैं।
  • बहुत भारी सामान उठाते हैं ।
  • स्मोकिंग (Smoking) करना।
  • रोग के असामान्य लक्षणों को अनदेखा करना।
  • अपने डॉक्टर के निर्देशों का पालन न करना। 

इन बिंदुओं पर भी ध्यान देना जरूरी है। इससे भी कमर दर्द की तकलीफ शुरू हो सकती है।

ये जरूरी बातें जानें

इन चीजों से बढ़ सकता है बैक पेन (Back Pain) का खतरा

  • आपके परिवार में किसी को यह दर्द (Pain) रहा हो।
  • आपको पहले चोट लगी हो।
  • गर्भावस्था: गर्भवती महिला की पीठ पर बहुत दबाव पड़ता है जिससे पीठ में दर्द हो सकता है।
  • पहले कभी बैक सर्जरी हुई हो।
  • रीढ़ का असामान्य रूप से टेढ़ा-मेढ़ा होना
  • नियमित व्यायाम न करना।
  • लंबे समय तक बैठना या खड़े रहना।
  • भारी वस्तुओं को उठाना।
  • अत्यधिक झुकना।
  • कमर का ज्यादा हैवी होना, इससे आपकी पीठ पर भार बढ़ेगा। इसके अलावा, जिन लोगों का वजन अधिक होता है, उनमें अक्सर शारीरिक सक्रियता कम होती है जिससे इस दर्द की समस्या हो सकती है।
  • तनाव (Tension) और अवसाद (Depression)
  • कुछ दवाएं लंबे समय तक लेने से हड्डियां (Bone) कमजोर हो सकती हैं (जैसे, कॉर्टिकोस्टेरॉइड)।

और पढ़ें : कमर दर्द से पाना है छुटकारा, तो करें ये योग

निदान

पीठ दर्द का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Back Pain)

निदान करने के लिए डॉक्टर मेडिकल हिस्ट्री, लक्षण, नौकरी और शारीरिक गतिविधि के बारे में पूछेगा। अगर उसे किसी तरह की शंका होती है कि इस दर्द का कारण रीढ़ का असामान्य रूप से टेढ़ा-मेढ़ा होना या अन्य स्थितियों के लक्षण हैं तो डॉक्टर एक्स-रे, सीटी स्कैन (CT Scan) या एमआरआई (MRI) करवाने के लिए भी कह सकता है। कुछ विशेष मामलों में दूसरे टेस्ट जैसे बोन स्कैन या इलेक्ट्रोमोग्राफी और न्यूरोट्रांसमीटर भी शामिल हैं।

पीठ दर्द का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Back Pain)

इस दर्द के ज्यादातर मामलों में दर्द निवारक दवाओं (उदाहरण के लिए इबुप्रोफेन या एसिटामिनोफेन) की आवश्यकता होती है। इसके अलावा, डॉक्टर आपको जल्दी ठीक करने के लिए फिजियोथेरेपी के लिए के लिए कह सकते हैं। बहुत ही गंभीर स्थितियों में सर्जरी या अन्य उपचार की आवश्यक हो सकती है।

और पढ़ें : पेट दर्द (Stomach Pain) से बचने के प्राकृतिक और घरेलू उपाय

घरेलू उपचार

जीवनशैली में बदलाव और घरेलू उपचार (Healthy lifestyle & Home remedies for back pain)

निम्नलिखित जीवनशैली और पीठ दर्द के घरेलू उपचार आपको दर्द से निपटने में मदद कर सकते हैं:

  •  डॉक्टर को नियमित रूप से दिखाएं।
  • डॉक्टर के निर्देशों को सुनें और डॉक्टर से पूछे बिना दवाएं न लें।
  • बाजार में आपको आसानी से इस दर्द में लगाने वाले पेन रिलीफ ऑइंटमेंट और स्प्रे मिल जाएंगे। अगर ज्यादा दर्द हो, तो इनका इस्तेमाल करें। इससे कुछ समय के लिए आपको आराम मिलेगा।
  • अगर दर्द बहुत ज्यादा हो तो थोड़ा आराम करें।
  • इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए नियमित रूप से व्यायाम जरूरी है। इसके लिए टहलना, योग और स्विमिंग जैसी एक्सरसाइज बहुत फायदेमंद हैं। इससे मांशपेशियों का तनाव दूर होता है और दर्द में राहत भी मिलती है। इसके लिए स्ट्रेचिंग जैसे व्यायाम भी प्रभावकारी है।
  • भारी वस्तुओं को उठाने से बचें। यदि आवश्यक हो तो सही तरीके से सामान उठाएं।
  • अक्सर देखा गया है कि लोग पढ़ते वक्त या कंप्यूटर पर कुछ काम करते वक्त कुर्सी पर काफी झुककर बैठते हैं, जिससे गर्दन की मांसपेशियां खिंचती हैं और पीठ में दर्द शुरू हो जाता है। इसलिए अगर आपको इस दर्द की शिकायत है, तो अपने बैठने के तरीके पर गौर करें और सीधे बैठें। इससे पीठ दर्द की समस्या कम होगी। 

इस आर्टिकल में हमने आपको पीठ दर्द से संबंधित जरूरी बातों को बताने की कोशिश की है। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस बीमारी से जुड़े किसी अन्य सवाल का जवाब जानना है, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे। अपना ध्यान रखिए और स्वस्थ रहिए।

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अपने दिनचर्या में नियमित योगासन करें। नीचे दिए इस वीडियो पर क्लिक करें और योगासन करने के तरीके और उनसे जुड़ी महत्वपूर्ण बातों को समझें।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

Dr. Pooja Bhardwaj


Pawan Upadhyaya द्वारा लिखित · अपडेटेड 09/11/2021

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement