home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

कावा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kava

परिचय|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोजेज|उपलब्ध
कावा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kava

परिचय

कावा (Kava) क्या है?

कावा एक औषधीय पौधे से बनाकर तैयार किया जाता है, जिसका इस्तेमाल कई बीमारियों के घरेलू उपचार के लिए किया जाता है। इस पौधे का वैज्ञानिक नाम पाइपर मेथिस्टिकम (piper methysticum) है। यह पौधा Piperaceae परिवार से ताल्लुक रखता है और यह पश्चिमी पॉलीनेशिया के द्वीपों में पाया जाता है।

आमतौर पर इस पौधे को तनाव, चिंता और अवसाद जैसी समस्याओं से लड़ने के लिए उपयोगी है।। इसमें नैचुरल हीलिंग प्रॉपर्टीज होती हैं जिस वजह से कुछ लोग इसे स्किन पर लगाकर भी इस्तेमाल करते हैं। कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि कावा से लिवर की क्षति का खतरा रहता है, जिस वजह से यूरोप और कनाडा जैसे देशों में इस पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

और पढ़ें : तनाव का प्रभाव शरीर पर पड़ते ही दिखने लगते हैं ये लक्षण

कावा (Kava) का उपयोग ​किस लिए किया जाता है?

बहुत सारे लोग कावा को चिंता, तनाव, बेचैनी और नींद न आने की समस्या को दूर करने के लिए पीते हैं। इसका इस्तेमाल मनोविकार, अवसाद, माइग्रेन, थकान, मांसपेशियों में दर्द और कैंसर की रोकथाम के लिए भी किया जाता है।

इसे यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन (यूटीआई), गर्भाशय में दर्द और सूजन, मासिक धर्म की परेशानी और यौन इच्छा को बढ़ाने के लिए भी इसे पीते हैं।

कावा को घाव भरने के लिए भी उपयोग किया जाता है। ये दर्द निवारक के रूप में काम करता है। दांतों का ध्यान रखने के लिए इसे माउथवॉश की तरह इस्तेमाल किया जाता है।

कई लोग इसको अच्छी नींद के लिए भी लेते हैं। पौराणिक समय से इसका इस्तेमाल कई स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों के इलाज के लिए किया आता जा रहा है। कई लोग इसे पानी में उबालकर लेते हैं तो कुछ लोग इसकी गोली का सेवन करते हैं।

और पढ़ें : गुलमोहर के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Gulmohar (Peacock Flower)

कावा (Kava) कैसे काम करता है ?

अधिकांश शोध में मालूम हुआ है कि कावा चिंता (anxiety) को दूर करता है। इस बारे में नहीं पता चल पाया है कि कैवलैक्टोन (kavalactones) किस तरह से स्ट्रेस को कम करता है, लेकिन ये मस्तिष्क में न्यूरोट्रांसमीटर (neurotransmitters) को प्रभावित करके काम करता है। न्यूरोट्रांसमीटर हमारे ब्रेन के अंदर कैमिकल होता है जो हमारे इमोशंस और बिहेवियर को कंट्रोल करता है।

और पढ़ें : अश्वगंधा क्या है?

उपयोग

कितना सुरक्षित है कावा (Kava) का उपयोग ?

कावा को लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श करें। अगर आपको लीवर संबंधित कोई परेशानी है तो इसे बिल्कुल एवॉइड करें। कुछ अध्ययनों में पाया गया कि इसके सेवन से लिवर की क्षति का खतरा बढ़ता है। यही कारण है कि इसे स्विट्जरलैंड, फ्रांस, कनाडा और यूके में प्रतिबंधित हुआ है। प्रेग्नेंट और स्तनपान कराने वाली औरतें भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप दूसरी दवाइयों का सेवन कर रहे हैं तो उनके साथ भी इसका सेवन हानिकारक हो सकता है।

ये लोग बनाकर रखें दूरी

-ब्लड डिसऑर्डर पेशेंट्स और बच्चों को इसे नहीं लेना चाहिए।

एल्कोहॉल पीने वाले भी कावा न लें।

-अगर आपकी दवाइयों में अल्प्राजोलम (Alprazolam) है तो भी इसको एवॉइड करें।

डिप्रेशन के पेशेंट्स अपनी दवाइयों के साथ इसे न लें।

लीवोडोपा (Levodopa) के साथ भी कावा का सेवन नहीं करना चाहिए। लीवोडोपा (Levodopa) हमारे ब्रेन के केमिकल जिसे डोपामाइन कहते हैं उसे बढ़ाता है और कावा इसे कम करता है। लीवोडोपा (Levodopa) के साथ इसे लेने से ब्रेन पर बुरा असर पड़ सकता है।

इन दवाओं के साथ न करें इसका सेवन:

कावा सेंट्रल नर्वस सिस्टम के लिए एंग्जिओलिटिक एजेंट (anxiolytic agent) की तरह काम करता है। इसमें कावालेक्टोन्स होते है जिस वजह से इसका इस्तेमाल गाबा रिसेप्टर्स (GABA Receptors), सोडियम और पोटेशियम चैनल्स के साथ नहीं करना चाहिए। कावा को सीएनएस डिप्रेसेंट्स ड्रग्स (CNS depressant drugs) के साथ भी लेने की मनाही है।

और पढ़ें : काली मिर्च क्या है?

[mc4wp_form id=”183492″]

साइड इफेक्ट्स

कावा से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

अगर आप लंबे समय से इसे अधिक मात्रा में ले रहे हैं तो:

ये साइड इफेक्ट्स हर किसी में नजर आए ऐसा जरूरी नहीं है। अगर आपको इनसे अलग कोई साइड इफेक्ट महसूस हो रहें हो तो अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।

और पढ़ें : करी पत्ता क्या है?

डोजेज

कावा (Kava) को लेने की सही खुराक क्या है ?

स्ट्रेस के लिए:

  • 50-100 मिलीग्राम कावा के अर्क को 25 हफ्तों तक दिन में तीन बार लिया जा सकता है
  • 8 हफ्तों तक 400 मिलीग्राम कावा को रोजाना लिया जा सकता है।
  • इसकी 5 गोलियां जिनमें 50 मिलीग्राम केवलैक्टोन हो उन्हें एक हफ्ते तक दिन में तीन खुराक में लिया जा सकता है।
  • इसकी एक से दो गोलियां 6 हफ्ते तक रोजाना ले सकते हैं।
  • ऑस्ट्रेलियन थेराप्यूटिक गुड्स एडमिनिस्ट्रेशन के मुताबिक, डॉक्टर द्वारा रिकमेंड करने के बाद 125 मिलिग्राम कैवलैक्टोन को दिन में दो बार लेने के कोई साइड इफेक्ट्स नहीं हैं।
  • कावा को लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर परामर्श लें।

इसकी खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। यहां दी हुई जानकारियों का इस्तेमाल डॉक्टरी सलाह के विकल्प के रूप में ना करें। डॉक्टर या हर्बलिस्ट की राय के बिना इस दवा का इस्तेमाल नहीं करें।

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

  • डाइटरी सप्लीमेंट कैप्सूल (Dietary Suppliment Caspsule)
  • हर्बल टी (Herbal tea)
  • टिंचर (Tincture)
  • लिक्विड हर्बल एक्सट्रेक्ट (Liquid Herbal Extract)
  • पाउडर (Powder)

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की मेडिकल सलाह, निदान या सारवार नहीं देता है न ही इसके लिए जिम्मेदार है।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में इस हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो इस हर्ब का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होती। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। कावा से जुड़ी यदि आप अन्य जानकारी चाहते हैं तो आप हमसे कमेंट कर पूछ सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Kava/https://www.drugs.com/npc/kava.html/Accessed on 12/12/2019

Kava (Other Names: Ava, Intoxicating Pepper, Kawa Kawa, Kew, Sakau, Tonga, Yangona). https://www.deadiversion.usdoj.gov/drug_chem_info/kava.pdf. Accessed On 09 October, 2020.

Kava. https://www.nccih.nih.gov/health/kava. Accessed On 09 October, 2020.

Toxicity of Kava Kava. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5868963/. Accessed On 09 October, 2020.

Kava. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/kava. Accessed On 09 October, 2020.

लेखक की तस्वीर
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/10/2020 को
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड