home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Ma huang: मा हुआंग क्या है?

परिचय|उपयोग| सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|डोसेज
Ma huang: मा हुआंग क्या है?

परिचय

मा हुआंग (ma huang) क्या है?

मा हुआंग को एफेड्रा के नाम से भी जाना जाता है। यह एक जड़ी-बूटी है जिसकी शाखाओं और ऊपर के हिस्से का प्रयोग दवाइयां बनाने में किया जाता है। हालांकि, इस पौधे की जड़ और अन्य भाग भी लाभदायक है। सुरक्षा कारणों के कारण U.S.A. में इस पौधे पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस झाड़ीदार पौधे की 3 प्रजातियां दवाई बनाने के काम आती हैं और यह चीन में पायी जाती हैं।

और पढ़ें – पर्पल नट सेज के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of purple nut sedge

हर किसी को एक ऐसी दवा या गोली चाहिए होती है जिससे व छूमंतर से पतले हो जाएं।

मा हुआंग यानि एफेड्रा पौधे में मौजूद गुणों के कारण यह 1990 के दौर में बेहद लोकप्रिय हुआ था। साल 2005 तक यह औषधि सभी की डायट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चूका था।

कुछ अध्ययनों के मुताबिक मा हुआंग मेटाबोलिज्म को मजबूत बनाकर वजन कम करने में मदद करता है।

इस लेख में हम आपको बताएंगे की एफेड्रा पौधे के क्या दुष्प्रभाव, फायदे और इस्तेमाल हो सकते हैं।

और पढ़ें – अस्थिसंहार के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Hadjod (Cissus Quadrangularis)

उपयोग

मा हुआंग (ma huang) का उपयोग किसलिए किया जाता है?

इस जड़ी-बूटी का उपयोग इन रोगों के इलाज के लिए किया जाता है:

  • मोटापा: जब आप एक्सरसाइज करते हैं और लौ फैट डाइट का पालन कर रहे होते हैं। उस समय अगर आप मा हुआंग का प्रयोग करेंगे तो इससे आपका मोटापा कम हो सकता है, लेकिन इसके कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं और सेहतमंद लोगों को भी इसका सामना करना पड़ सकता है। इस औषधि का 6 महीने तक प्रयोग करने से लगभग एक किलो वजन कम हो सकता है।
  • एलर्जी :अगर आपको किसी भी दवाई, खाद्य पदार्थ या अन्य चीज से एलर्जी है तो इलाज से पहले ही डॉक्टर को बता दें।
  • अस्थमा और अन्य सांस संबंधी समस्याएं
  • बंद नाक
  • सर्दी-जुकाम
  • फ्लू
  • बुखार और अन्य स्थितियां
  • मूत्र प्रवाह बढ़ाने के लिए वाटर पिल के रूप में

और पढ़ें – पारिजात (हरसिंगार) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Night Jasmine (Harsingar)

[mc4wp_form id=”183492″]

यह कैसे काम करती है?

मा हुआंग में एक केमिकल होता है जिसे इफेड्रिन कहा जाता है। एफ़ेड्रिन हृदय, फेफड़े और तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करता है।

और पढ़ें – दूर्वा (दूब) घास के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Durva Grass (Bermuda grass)

सावधानियां और चेतावनी

कितना सुरक्षित है मा हुआंग (ma huang) का उपयोग?

गर्भावस्था और स्तनपान

अगर आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो आपके लिए यह जड़ी-बूटी पूरी तरह से असुरक्षित है। इससे आपको कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं इसलिए इसका सेवन न करें।

सीने में दर्द (एनजाइना)

मा हुआंग के प्रयोग से सीने में दर्द हो सकता है और यह समस्या बहुत अधिक बढ़ सकती हैं इसलिए अगर आपको पहले से ही ऐसी समस्या है तो इसका सेवन न करें।

और पढ़ें – आलूबुखारा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Aloo Bukhara (Plum)

अनियमित हार्टबीट या लंबे QT इंटरवल सिंड्रोम

इस का सेवन दिल को उत्तेजित करता है जिससे अनियमित हार्टबीट की समस्या बढ़ सकती है।

चिंता और तनाव

मा हुआंग की अधिक खुराक लेने से तनाव और चिंता संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

डायबिटीज

इस पौधे के सेवन से ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। यही नहीं, डायबिटीज की समस्या भी इससे बढ़ सकती है।

और पढ़ें – कंटोला (कर्कोटकी) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Kantola (Karkotaki)

एसेंशियल ट्रेमोर

हिलने-डुलने संबंधी विकार को एसेंशियल ट्रेमोर के नाम से जाना जाता है जो मा हुआंग के सेवन से बढ़ सकता है।

थाइराइड और इससे जुडी स्थितियां

यह जड़ी-बूटी थाइराइड और इससे जुड़ी स्थितियों को अधिक खराब कर सकती है।

किडनी स्टोन

मा हुआंग और इसे घटक किडनी की पथरी का कारण बन सकते हैं।

नैरो-एंगल ग्लूकोमा

मा हुआंग का सेवन इस स्थिति को और भी बिगाड़ सकता हैं।

और पढ़ें – चिचिण्डा के फायदे एवं नुकसान: Health Benefits of Snake Gourd (Chinchida)

एन एड्रेनल ग्लैंड ट्यूमर (फिओक्रोमोसिटोमा)

मा हुआंग के सेवन से यह समस्या बढ़ सकती है।

सीजर डिसऑर्डर

इस पौधे लो लेने से सीजर डिसऑर्डर हो सकता है या स्थिति अधिक नुकसानदायक हो सकती है।

और पढ़ें – परिवार की देखभाल के लिए मेडिसिन किट में रखें ये दवाएं

साइड इफेक्ट्स

मा हुआंग से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

  • मा हुआंग यानी एफेड्रा या ऐसे उत्पाद जिनमें इसके घटक हों उनका सेवन न करें। यह बच्चों और वयस्कों दोनों के लिए हानिकाक हो सकता है।
  • इस जड़ी-बूटी को लेने से कुछ लोगों में गंभीर जानलेवा या विकार पैदा करने वाली स्थितियां देखने को मिल सकती हैं
  • इससे हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर, मसल्स विकार, हार्टबीट में समस्या, बेहोशी या गंभीर स्थितियों में मौत भी हो सकती है।
  • यह साइड इफेक्ट्स अधिकतर तब देखने को मिलते हैं जब आप इस औषधि की अधिक डोज लेते या या इसका लंबे समय तक सेवन करते हैं।
  • रोजाना 32 mg से अधिक इसकी डोज लेने से इसके साइड इफेक्ट्स तीन गुना बढ़ सकते हैं।
  • मा हुआंग के सेवन से कम गंभीर साइड इफ़ेक्ट जैसे चक्कर आना, बेचैनी, घबराहट, सिरदर्द, भूख कम लगना, मतली, उल्टी और अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं।
  • मा हुआंग को अन्य स्टिमुलैंट्स जैसे कैफीन के साथ न लें। इससे साइड इफेक्ट्स की संभावना बढ़ जाती है जो गंभीर भी हो सकते हैं। कैफीन का अर्थ है चाय, कॉफी आदि।

और पढ़ें – आलूबुखारा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Aloo Bukhara (Plum)

इंटरेक्शन

मा हुआंग को अन्य दवाओं या चीजों के साथ लेने के कई नुकसान हो सकते हैं। जानिए कौन से हैं यह कॉम्बिनेशन:

दवाइयां जो अनियमित हार्टबीट का कारण बनें

अगर आप मा हुआंग को ऐसी दवाओं के साथ लेते हैं जिनसे हार्टबीट अनियमित हो सकती हैं तो इसके साइड इफेक्ट्स बहुत गंभीर हो सकते हैं जैसे हार्ट अटैक।

मिथाइलसंथिन्स

अगर आप इसे मिथाइलसंथिन्स के साथ लेते हैं तो इससे आपको परेशानी, ब्लड प्रेशर और हार्टबीट का बढ़ना और चिंता जैसी समस्याएं हो सकती है। मिथाइलसंथिन्स में कैफीन, थियोफ़िलाइन और एमिनोफिलिन शामिल हैं।

और पढ़ें – Rosemary : रोजमेरी क्या है? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट

स्टीमुलेंट करने वाली दवाइयां

स्टीमुलेंट करने वाली दवाइयां मा हुआंग के साथ लेने से हार्टबीट बढ़ती है और चिड़चिड़ापन हो सकता है। इसके गंभीर परिणाम भी हो सकते हैं।

मा हुआंग को इन दवाओं के साथ लेते समय भी सावधान रहें

  • डेक्सामेथासोन
  • अरगट डेरिवेटिव्स
  • डिप्रेशन यानी तनाव के लिए दवाइयां
  • डायबिटीज के लिए दवाई
  • सीजर्स (एंटीकांवुल्सेन्टस) को रोकने के लिए दवाई

और पढ़ें – Rusty Leaved Rhododendron: रस्टी लीव्ड रोडोडेंड्रन क्या है?

डोसेज

मा हुआंग को लेने की सही खुराक क्या है?

मा हुआंग की सही डोज कितनी लेनी चाहिए यह कई चीजों पर निर्भर करता है जैसे लेने वाली की उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियां। मौजूदा समय में इस दवाई की कितनी डोज लेनी चाहिए इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। इस बात का ध्यान रखें कि प्राकृतिक चीजें हमेशा सुरक्षित नहीं होती और इसकी कितनी डोज लेनी चाहिए यह बहुत महत्वपूर्ण है। इस दवाई को लेने से पहले अपने डॉक्टर या औषधि विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें। मौजूदा गाइडलाइन्स ले अनुसार एक दिन में मा हुआंग की खुराक 90 मिलीग्राम से कम होनी चाहिए।

और पढ़ें – Magnesium Oxide : मैग्नीशियम ऑक्साइड क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

हमें उम्मीद है कि मा हुआंग हर्ब पर लिखा यह आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित होगा। इस आर्टिकल में हमने इस हर्ब के बारे में सभी प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी दी है। अगर आपको ऊपर बताई गईं स्वास्थ्य समस्याएं हैं तो आप इस हर्ब का उपयोग कर सकते हैं, लेकिन हर्ब का उपयोग करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट की सलाह लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

ma-huang.https://www.webmd.com/vitamins/ai/ingredientmono-847/ephedra.Accessed March 30, 2017

ma-huang.https://www.drugs.com/npc/ma-huang.html.Accessed March 30, 2017

ma-huang.https://www.healthline.com/nutrition/ephedra-sinica.Accessed March 30, 2017

Ephedra (Ma Huang): Weight Loss, Dangers, and Legal Status/
https://www.healthline.com/nutrition/ephedra-sinica/.Accessed on March 25, 2020

The history of Ephedra (ma-huang)/
https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/21365072.Accessed on March 25, 2020

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/08/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड