home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Wheatgrass : व्हीटग्रास क्या है ? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट

परिचय |उपयोग|साइड इफेक्ट्स|डोजेज|उपलब्ध
Wheatgrass : व्हीटग्रास क्या है ? जानिए इसके फायदे और साइड इफेक्ट

परिचय

व्हीटग्रास (Wheatgrass) या गेहूं के ज्वारे क्या है?

व्हीटग्रास ताजे अंकुरित गेहूं के पौधे की पहली पत्तियां होती हैं, जिनका उपयोग भोजन, पेय पदार्थ या आहार अनुपूरक के रूप में किया जाता है। इसे ठंडा, सूखा या ताजा परोसा जाता है और इसीलिए यह गेहूं के माल्ट से अलग होता है, जो संवहन से सूख जाता है। व्हीटग्रास को गेहूं के माल्ट की तुलना में लंबा उगाया जाता है।

इसका उपयोग आमतौर पर विभिन्न प्रकार की स्थितियों के लिए किया जाता है जिसमें आंतों में सूजन का विकार (Inflammatory bowel syndrome), मधुमेह, उच्च कोलेस्ट्रॉल और कई अन्य बीमारियों शामिल हैं। लेकिन इन उपयोगों का समर्थन करने के लिए कोई अच्छा वैज्ञानिक प्रमाण फिलहाल उपलब्ध नहीं है।

व्हीटग्रास या गेंहू के ज्वारे ट्रिटिकम एस्टाइवम (Triticum aestivum) प्लांट से मिलता है। गेंहू के ज्वारे को अगर सुपर पोटेंट हेल्थ फूड कहा जाए तो गलत नहीं होगा। व्हीट ग्रास का उपयोग सूखे पाउडर के रूप में भी किया जा सकता है। जानिए व्हीटग्रास में क्या खास तत्व पाए जाते हैं –

  • आयरन
  • कैल्शियम
  • एंजाइम्स (enzymes)
  • मैग्नीशियम
  • फाइटोन्यूट्रिएंट्स ( phytonutrients)
  • 17 एमिनो एसिड
  • विटामिन ए, सी, ई, के, और बी कॉम्प्लेक्स
  • क्लोरोफिल (chlorophyll)
  • प्रोटीन

कैसे काम करता है व्हीटग्रास (Wheatgrass) ?

इसमे ऐसे रसायन होते हैं जिनमें एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इन्फ्लामेटरी (सूजन विरोधी) गुण होते हैं। यही कारण है कि कुछ लोगों को लगता है कि यह सूजन आंत्र रोग जैसी स्थितियों के लिए सहायक हो सकता है। इसमें एक रसायन भी होता है जो बैक्टीरिया के संक्रमण से लड़ सकता है।

और पढ़ें : Kiwi : कीवी क्या है? जानिए उपयोग, डोज और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

व्हीटग्रास (Wheatgrass) या गेहूं के ज्वारे का उपयोग किस लिए किया जाता है?

व्हीटग्रास जूस को सुपर फूड के रूप में जाना जाता है। आमतौर पर हम इसे तरल के रूप में लेते हैं। इसे गेहूं का रस का रस भी कहा जाता है क्योंकि इसे गेहूं के हरे पौधों (जवारे) से तैयार किया जाता है। स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से इस जूस का सेवन हमारे शरीर की कमजोरी को दूर करता है। इसका जूस रोगों को दूर करने में भी प्रभावशाली होता है। क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं।

और पढ़ें: तेज दिमाग का पासवर्ड है ‘दालचीनी’

इसके अलावा, ये निम्नलिखित समस्याओं के लिए भी प्रभावशाली है –

व्हीटग्रास से डिटॉक्स होता है शरीर

व्हीटग्रास में पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालने का काम करते हैं। उदाहरण के लिए गेहूं के ज्वारे में पाए जाने वाले क्लोरोफिल शरीर को डिटॉक्स करने में हेल्प करता है और साथ ही हेल्दी लिवर फंक्शन को बढ़ावा देता है। जब एक बार आपका शरीर साफ हो जाता है तो शरीर के ऊर्जा स्तर में वृद्धि होती है और इंसान स्वस्थ्य रहता है। शरीर को डिटॉक्स करने के लिए विभिन्न विधि अपनाई जा सकती हैं लेकिन व्हीटग्रास का विकल्प सबसे बेहतर माना जाता है।

पाचन में सहायक

इसमें विटामिन-बी, एमीनो एसिड और ऐसे एंजाइम्स होते हैं, जो खाना पचाने में मदद करते हैं। इसके अलावा रोजाना इसका सेवन ब्लड सर्क्युलेशन को ठीक रखने में भी मदद करता है।

जोड़ों में दर्द

सर्दियों में जोड़ों और घुटनों के दर्द की समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में इसका एक ग्लिास जूस हर प्रकार के दर्द और जोड़ों में सूजन को दूर करने में मदद करता है।

और पढ़ें : पारिजात (हरसिंगार) के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Night Jasmine (Harsingar)

एड़ी का दर्द

शुरुआती शोध बताते हैं कि एक व्हीटग्रास क्रीम को 6 हफ्ते तक रोजाना दो बार पैरों के नीचे लगाने से एड़ी का दर्द कम होता है।

उच्च कोलेस्ट्रॉल

प्रारंभिक शोध से पता चलता है कि 10 सप्ताह तक रोजाना कैप्सूल में व्हीटग्रास पाउडर लेने से कुल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड कोलेस्ट्रॉल के स्तर में कमी आती है।

मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है व्हीटग्रास

व्हीटग्रास मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने का काम करता है। अगर आप ब्हीटग्रास यानि गेंहू के ज्वारे का जूस पीते हैं तो मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया बूस्ट होती है। साथ ही बढ़ा हुआ वजन भी कंट्रोल होना शुरू हो जाता है। ब्हीटग्रास जूस में लो कैलोरी होती है और साथ ही फैट नहीं होता है। ब्हीटग्रास का सेवन करने से पेट के भरे होने का एहसास देर तक रहता है इसलिए क्रैविंग की समस्या भी नहीं होती है।

यानि जिन लोगों को क्रैविंग की समस्या है उन्हें व्हीटग्रास का सेवन करना चाहिए। वजन कम होने से शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल भी मेंटेन रहता है। कोलेस्ट्रॉल के नियंत्रण में रहने से हार्ट डिजीज का खतरा भी कम हो जाता है।

और पढ़ें : दूर्वा (दूब) घास के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Durva Grass (Bermuda grass)

इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाता है व्हीटग्रास

व्हीटग्रास प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) के फंक्शन को बढ़ाता है। यह संक्रमण और बीमारी को दूर करने में मदद कर सकता है। जब इम्यून सिस्टम बेहतर तरीके से काम करता है तो व्यक्ति को बेहतर महसूस होता है। अगर आपको किसी प्रकार की बीमारी हो जाती है तो स्ट्रॉन्ग इम्यून सिस्टम की वजह से आपकी बीमारी जल्द ठीक हो जाती है। अगर एक्सपर्ट से सलाह करने के बाद आप व्हीटग्रास का उचित मात्रा में सेवन करते हैं तो आपको इसके बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए आप एक्सपर्ट से परामर्श जरूर लें।

व्हीटग्रास का सेवन करने के बाद आपका एनर्जी लेवल अधिक हो जाएगा। एक बार जब आपके शरीर को हानिकारक पदार्थों या फिर टॉक्सिन के बाहर निकलने पर ताजगी का एहसास होगा तो आप भी तरो-ताजा महसूस करेंगे। स्वस्थ तन और व्यायाम की सहायता से शरीर अधिक स्वस्थ रहता है और बीमारियों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ जाती है।

ब्लड प्रेशर करता है नॉर्मल

गेंहू के ज्वारे का सेवन करने से हाई बीपी वाले पेशेंट को राहत मिल सकती है। व्हीटग्रास का सेवन करने से ब्लड प्रेशर में कमी आती है। व्हीटग्रास में मौजूद क्लोरोफिल मॉलीक्यूल हीमोग्लोबिन के समान होता है और ब्लड सेल काउंट को बढ़ाने का काम करता है। इस कारण से ब्लड प्रेशर नॉर्मल होता है। व्हीटग्रास ब्लड प्रेशर कम करने के साथ ही ब्लड को प्यूरीफाई करने का काम भी करता है।

हालांकि, आप इस बारे में अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से बात जरूर करें और बिना सलाह के हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में व्हीटग्रास का सेवन न करें।

और पढ़ें : दूर्वा (दूब) घास के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Durva Grass (Bermuda grass)

क्या व्हीटग्रास और कैंसर के बीच कोई संबंध है ?

साल 2015 में हुई एक स्टडी में ये बात सामने आई कि व्हीटग्रास में एंटी-कैंसर गुण होते हैं। यानि व्हीटग्रास का सेवन करने से कुछ खराब कोशिकाएं नष्ट हो जाती हैं। वहीं व्हीटग्रास प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के काम भी आता है।

वहीं 2017 की स्टडी में ये बात भी सामने आई कि जिन लोगों के स्तन कैंसर के लिए कीमोथेरिपी दी गई थी, उन्हें व्हीटग्रास का सेवन करने से बहुत आराम मिला। उनके शरीर से टॉक्सिन बाहर निकल गए।

कीमोथेरेपी के कारण होने वाली माइलोटॉक्सिसिटी (Myelotoxicity) को भी कम कर सकता है। माइलोटॉक्सिसिटी बोन मैरो के कार्य को कम करता है और संक्रमण के रिस्क को भी बढ़ा सकता है। आप इस बारे में अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।

कितना सुरक्षित है व्हीटग्रास (Wheatgrass) का उपयोग?

भले यह व्हीटग्रास का सेवन सुरक्षित माना जाता हो लेकिन कभी-कभी इसके उपयोग करने के बाद दुष्प्रभाव की आशंका हो सकती है। खासकर उच्च खुराक का सेवन करने पर। ज्यादातर मामलों सामान्य खुराक का सेवन करने से कोई परेशानी नहीं होती है। लेकिन लगातार अधिक सेवन करने से सिरदर्द की समस्या और मतली से लेकर गंभीर एलर्जी की प्रतिक्रियाओं (पित्ती और गले की सूजन) के बढ़ने की आशंका रहती है।

ज्यादातर लोग व्हीटग्रास को कच्चा खाते हैं ऐसे में यह भी मुमकिन है कि यह मिट्टी से बैक्टीरिया या अन्य जीवों से दूषित हो सकता है।

व्हीटग्रास (Wheatgrass) का उपयोग करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से परामर्श करें, यदि –

  • आप गर्भवती या प्रेग्नेंट हैं या स्तनपान करा रही हैं। क्योंकि जब आप बच्चे की उम्मीद कर रहे हैं या दूध पिला रहे हैं, तो आपको केवल डॉक्टर की सिफारिश पर दवाएं लेनी चाहिए।
  • आप कोई अन्य दवा ले रहे हैं। इसमें आपके द्वारा ली जा रही कोई भी दवा शामिल है जो बिना डॉक्टर के पर्चे के खरीदने के लिए उपलब्ध है।
  • आपको इससे दवाओं या अन्य जड़ी बूटियों के किसी भी पदार्थ से एलर्जी है।
  • आपको कोई अन्य बीमारी, विकार या चिकित्सा स्थितियां हैं।
  • आपको किसी अन्य प्रकार की एलर्जी है, जैसे कि खाद्य पदार्थ, रंजक, संरक्षक।

और पढ़ें: Asafoetida : हींग क्या है?

इसकी सुरक्षा का निर्धारण करने के लिए अधिक अध्ययन की आवश्यकता है। इस जड़ी बूटी को लेने के लाभों को उपयोग करने से पहले जोखिमों को दूर करना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या चिकित्सक से परामर्श करें।

विशेष सावधानी और चेतावनी

गर्भावस्था और स्तनपान – यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो व्हीटग्रास लेने की सुरक्षा के बारे में पर्याप्त विश्वसनीय जानकारी नहीं है। सुरक्षित पक्ष पर रहें और उपयोग से बचें।

साइड इफेक्ट्स

व्हीटग्रास (Wheatgrass) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

आपको केवल एक विश्वसनीय मेडिकल स्टोर से ही व्हीटग्रास खरीदना चाहिए। एक सहयोगी के साथ बात करें ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि पौधों को अच्छी तरह से विकसित और साफ किया गया था। यह हानिकारक बैक्टीरिया और मोल्ड की संभावना को खत्म करने में मदद करता है।

जब आप पहली बार व्हीटग्रास लेना शुरू करते हैं, तो एक छोटी खुराक से शुरू करें और धीरे-धीरे अनुशंसित खुराक को पूरा करने के लिए अपने सेवन को बढ़ाएं। यह आपके शरीर को व्हीटग्रास पचाने में मदद करेगा।

और पढ़ें: Curry Leaves : करी पत्ता क्या है?

एक ठेठ तरल खुराक कहीं भी एक और चार औंस या लगभग दो शॉट्स होती है। सामान्य चूर्ण की खुराक तीन या पांच ग्राम या लगभग 1 चम्मच होती है। 30 ग्राम पीना। व्हीटग्रास लेने के बाद पानी का प्याला साइड इफेक्ट्स के लिए आपके जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।

संभावित दुष्प्रभावों में शामिल हैं –

ये लक्षण आमतौर पर दो सप्ताह के भीतर या आपके शरीर के बाद व्हीटग्रास में समायोजित हो जाते हैं।

विशेष सावधानी और चेतावनी:

गर्भावस्था और स्तनपान

यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो बता दें की फ़िलहाल व्हीटग्रास सुरक्षा के बारे में पर्याप्त विश्वसनीय जानकारी नहीं है। ऐसे में यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करवाती हैं तो व्हीटग्रास का सेवन न करें। कुछ लोगों में एलर्जी की प्रतिक्रिया संभव है, खासकर ऐसे लोग जिन्हें गेहूं या घास से एलर्जी है। यदि आपको रक्त विकार, सीलिएक रोग है, तो यह आपको अलग तरह से प्रभावित कर सकता है।

और पढ़ें : आलूबुखारा के फायदे एवं नुकसान – Health Benefits of Aloo Bukhara (Plum)

डायबिटीज :

डायबिटीज वाले लोगों में रक्त शर्करा के स्तर को कम कर सकता है। निम्न रक्त शर्करा (Hypoglycemia) के संकेतों के लिए देखें और मधुमेह होने पर अपने रक्त शर्करा की सावधानीपूर्वक निगरानी करें और इसका उपयोग करें।

सर्जरी :

यह रक्त शर्करा को कम कर सकता है और सर्जरी के दौरान और बाद में रक्त शर्करा नियंत्रण करने में बाधा उत्पन्न कर सकता है। एक निर्धारित सर्जरी से कम से कम 2 सप्ताह पहले इसका सेवन करना बंद करें।

और पढ़ें: अश्वगंधा के फायदे एंव नुकसान – Health Benefits of Ashwagandha

डोजेज

व्हीटग्रास (Wheatgrass) को लेने की सही खुराक क्या है ?

व्हीटग्रास की उपयुक्त खुराक कई कारकों पर निर्भर करती है जैसे कि उपयोगकर्ता की आयु, स्वास्थ्य और कई अन्य परिस्थितयां। इस समय व्हीटग्रास के लिए उचित मात्रा में खुराक निर्धारित करने के लिए पर्याप्त जानकारी नहीं है। ध्यान रखें कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं और खुराक महत्वपूर्ण हो सकते हैं। उत्पाद लेबल पर प्रासंगिक निर्देशों का पालन करना सुनिश्चित करें और उपयोग करने से पहले अपने फार्मासिस्ट या चिकित्सक से परामर्श करें।

और पढ़ें : Potato: आलू क्या है ?

उपलब्ध

व्हीटग्रास (Wheatgrass) किन रूपों में उपलब्ध है?

इसे आमतौर पर तीन रूपों में प्राप्त किया जा सकता है :

  • व्हीटग्रास जूस (fresh wheat grass juice)
  • फ्रोजन व्हीटग्रास जूस (fresh frozen wheat grass juice)
  • पाउडर/पिसा हुआ व्हीटग्रास (powdered wheat grass)
  • व्हीटग्रास टैबलेट्स
हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में व्हीटग्रास हर्बल से जुड़ी ज्यादातर जानकारियां देने की कोशिश की है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं। अगर आपको ऊपर बताई गई कोई सी भी शारीरिक समस्या है तो व्हीटग्रास का इस्तेमाल आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।बस इस बात का ध्यान रखें कि हर हर्ब सुरक्षित नहीं होता। व्हीटग्रास इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से कंसल्ट करें तभी इसका इस्तेमाल करें। अगर आप व्हीटग्रास से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Wheatgrass  http://mayoclinic.org/healthy-lifestyle/nutrition-and-healthy-eating/expert-answers/wheatgrass/faq-20058018 Accessed August 7, 2017

against beta-amyloid-induced cell death and memory impairments doi.org/10.1002/ptr.2871   Accessed August 7, 2017

Living life the natural way — Wheatgrass and health. functionalfoodscenter.net/files/47516971.pdf Accessed August 7, 2017

Antioxidant effect of Triticum aestivium (wheat grass) in high-fat diet-induced oxidative stress in rabbits doi.org/10.1358/mf.2010.32.4.1423889 Accessed August 7, 2017

लेखक की तस्वीर badge
Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/10/2020 को
डॉ. अभिषेक कानडे के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x