Potato: आलू क्या है ?

By

परिचय

आलू क्या है?

आलू का पौधा सोलानेसी परिवार का सदस्य है। ये एक सदाबहार पौधा है। इसके जड़ का फ्लेशी हिस्सा (आलू) आमतौर पर सब्जी के रूप में खाया जाता है। ये विटामिन-सी, विटामिन-बी, आयरन, कैल्शियम, मैंगनीज और फॉसफोरस का स्त्रोत है। गुणों का भंडार होने के कारण इसका प्रयोगऔषधि बनाने के लिए भी किया जाता है।

आलू का उपयोग किस लिए किया जाता है?

रक्तचाप:
इसमें पोटैशियम होता है, जो रक्तचाप को नियंत्रित रखने में मददगार है। इसके साथ ही इसमें फाइबर होता है जो रक्तचाप से पीड़ित लोगों में हाइपरटेंशन के प्रभाव को कम करता है।

हड्डियों को बनाए मजबूत:
आलू मैग्नीजियम का अच्छा स्त्रोत है जो हड्डियों के संरटनात्मक विकास में मदद करता है। इसमें कैल्शियम भी होता है, जो हड्डियों के विकास के लिए जरूरी होता है।

कैंसर से बचाव:
इसमें विटामिन-सी पाया जाता है, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करता है। इसके अलावा इसमें कई विटामिन, मिनिरल्स, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट होते हैं जो कैंसर से लड़ने के लिए शरीर को पोषण प्रदान करते हैं।

पाचन तंत्र को बनाए स्वस्थ:
फाइबर से समृद्ध आलू पेट संबंधित परेशानियों को दूर करने के लिए प्रभावी रूप से काम करते है। इसके सेवन से कब्ज से निजात पा सकते हैं।

मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद:
इसमें अल्फा लिपोइक नामक एसिड होता है जो हमारे मस्तिष्क के विकास के लिए लाभदायक होता है। कई शोध के अनुसार, लिपोइक मरीज की याददाशत को बढाने का काम करता है।

इन बीमारियों के लिए भी है मददगार:

  • पेट संबंधित बीमारियां
  • वजन घटाने के लिए फायदेमंद
  • भूख को करे कंट्रोल
  • अर्थराइटिस
  • फोड़े
  • आंखों की जलन
  • अनिद्रा
  • प्रीमेन्स्ट्रुअल सिंड्रोम

कैसे काम करता है आलू?

ये विटामिन-सी, आयरन, राइबोफ्लेविन और कार्बोहाइड्रेट का एक सोर्स है। इसके छिलके में मौजूद एक रसायन बैक्टीरिया को कोशिकाओं से जुड़ने से भी रोकता है। ये भूख को कम कर सकता है जिसके कारण लोग अपना वजन कम कर सकते हैं। ये कैसे काम करता है, इस बारे में ज्यादा रिसर्च नहीं गए हैं। अधिक जानकारी के लिए कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें: गुड़हल क्या है ?

उपयोग

कितना सुरक्षित है आलू का उपयोग ?

आलू खाने के साथ-साथ दवा के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। अमूमन इसका इस्तेमाल सभी लोगों के लिए सुरक्षित होता है। सड़े आलू, हरे आलू और स्प्राउट्स में जहरीले रसायन होते हैं जिन्हें खाने से बचना चाहिए।

अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट या हर्बलिस्ट से सलाह लें, यदि:

  • आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्ट फीडिंग करा रही हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दौरान गर्भवती मां की इम्यूनिटी काफी कमजोर होती है, ऐसे में किसी भी तरह की दवाई लेने से पहले अपने डॉक्टर से जरूर सलाह लेनी चाहिए।
  • आप पहले से ही दूसरी दवाइयां ले रहे हैं या बिना डॉक्टर के प्रिसक्रीप्शन वाली दवाइयां ले रहे हैं।
  • आपको आलू या दूसरी दवाओं या फिर हर्ब्स से एलर्जी है।
  • आलू ब्लड शुगर को प्रभावित कर सकता है। यदि आपको डायबटिज है, तो इसका ज्यादा सेवन न कीजिए। क्योंकि आप अपने कार्बोहाइड्रेट के इन टेक पर नजर रखें।
  • आपको कोई दूसरी तरह की बीमारी, डिसऑर्डर, या मेडिकल कंडीशन है।
  • इसमें एक केमिकल होता है जो ब्लड क्लोटिंग को कम करता है। ब्लड क्लोटिंग को डिस्सोल्व करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं के साथ आलू की ज्यादा मात्रा लेने से, चोट लगने पर ब्लीडिंग की संभावना बढ़ सकती है।
  • आपको किसी तरह की एलर्जी है, जैसे किसी खास तरह के खाने से, डाय से , प्रिजर्वेटिव या फिर जानवर से।

दवाइयों की तुलना में हर्ब्स लेने के लिए नियम ज्यादा सख्त नहीं हैं। बहरहाल आलू कितना सुरक्षित है इस बात की जानकारी के लिए अभी और भी रिसर्च की जरूरत है। इस हर्ब को इस्तेमाल करने से पहले इसके रिस्क और फायदे को अच्छी तरह से समझ लें। हो सके तो अपने हर्बल स्पेशलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लेकर ही इसे यूज करें।

साइड इफेक्ट्स

आलू से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

  • सिरदर्द
  • उल्टी
  • डायरिया
  • पेट दर्द
  • प्यास
  • बेचैनी

यदि आप इसके साइड इफेक्ट को लेकर बारे में कोई चिंता है, तो कृपया अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से परामर्श करें।

ये भी पढ़ें: जिनसेंग क्या है?

डोजेज

आलू को लेने की सही खुराक क्या है ?

इस हर्बल की खुराक हर मरीज के लिए अलग हो सकती है। आपके द्वारा ली जाने वाली खुराक आपकी उम्र, स्वास्थ्य और अन्य कई चीजों पर निर्भर करती है। हर्बल सप्लिमेंट हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं। इसलिए सही खुराक की जानकारी के लिए हर्बलिस्ट या डॉक्टर से चर्चा करें।

ये भी पढ़ें: कावा क्या है?

उपलब्ध

किन रूपों में उपलब्ध है?

  • कच्चा आलू

ये भी पढ़ें: चकोतरा क्या है?

हेलो हेल्थ ग्रुप डॉक्टरी सलाह, डायग्नोसिस या ट्रीटमेंट नहीं देता है।

रिव्यू की तारीख सितम्बर 23, 2019 | आखिरी बार संशोधित किया गया सितम्बर 25, 2019