home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Knee strain: घुटने में मोच क्या है?

परिचय |लक्षण|कारण|घुटने में मोच के जोखिम|उपचार
Knee strain: घुटने में मोच क्या है?

परिचय

घुटने में मोच (Knee strain) क्या है?

एक घुटने में मोच हड्डियों या ओवरस्ट्रेचड लिंगामेंट के वजह से होती है, जो हड्डियों को एक साथ बांधे रखती हैं। यदि आपके घुटने में मोच है, तो घुटने के जोड़ के अंदर की बनावट में चोट लग सकती है और यही हड्डी को जोड़ती हैं। घुटने की मोच दर्दनाक होती है और समय के साथ गठिया सहित अन्य समस्याएं पैदा कर सकती है।

घुटने में चार मुख्य लिगामेंट होते हैं: दो जो इसके आगे और पीछे को स्थिर रखता हैं, और दो जो साइड-टू-साइड को स्थिर रखता हैं।

घुटने के मोच को लिगामेंट के लिए नामित किया जाता है जो घायल हुए हैं:

  • एंटीरीयर क्रूसिएट लिगामेंट (ACL) और पोस्टेरियर क्रूसिएट लिगामेंट (PCL) सामने या पीछे से आने वाली बलों को स्थिरता प्रदान करता हैं। दोनों संयुक्त रूप से “X” बनाते हैं।
  • लेटरल कोलेटरल लिगामेंट (LCL) घुटने के बाहर के साथ चलता है जो स्थिर रखने में मदद करता है।
  • मेडियल कोलेटरल लिगामेंट (MCL) घुटने के अंदर तक चलता है।

लक्षण

घुटने में मोच के लक्षण (Symptoms of Knee strain)

यदि आपको पीसीएल मोच है, तो आपके घुटने के पीछे चोट लग सकता है। यदि आप झुकने की कोशिश करते हैं तो यह ओर भी बुरा हो सकता है। LCL और MCL मोच के लिए आपका घुटना ऐसा हो सकता है जैसे कि वह घायल हो। चोट वाली जगह पर टेंडर (tender) हो सकता है।

घुटने में मोच वाले जगह पर लोग ये अनुभव कर सकते हैं:

और पढ़ें: बोन ग्राफ्ट क्या है और क्यों किया जाता है, जानिए इसकी प्रक्रिया

कारण

घुटने में मोच के कारण (Cause Knee strain)

घुटने में मोच का कारण चोट, मेकेनीकल समस्या, गठिया के प्रकार और अन्य समस्याओं के कारण हो सकता है।

चोट लगाना- घुटने की चोट किसी भी लिगामेंट, टेंडन या द्रव से भरे थैली (bursae) को प्रभावित करता है। जो आपके घुटने के जोड़ के साथ-साथ हड्डियों, कार्टिलेज, और लिगामेंट को संयुक्त बनाता है। घुटने के कुछ सामान्य चोटों में शामिल हैं:

एसीएल की चोट- जो एंटिरीयर क्रूसिएट लिगामेंट (एसीएल) के चार लिगामेंट में से एक है जो आपके शिनबोन को आपके जांघ से जोड़ता है। एक एसीएल चोट विशेष रूप से उन लोगों में पाया जाता है जो बास्केटबॉल, फुटबॉल या अन्य खेल खेलते वक्त अचानक से दिशा बदलने से होता है।

फ्रेक्चर- घुटने की हड्डियो में फ्रेक्चर मोटर वाहन से टकराव या गिरने के दौरान हड्डि टूट सकती है। जिन लोगों की हड्डियों को ऑस्टियोपोरोसिस से कमजोर किया गया है, वे गलती से घुटने के फ्रैक्चर का सामना कर सकता हैं।

टोर्न मेनिस्कस (Torn meniscus)– मेनिस्कस हार्ड फॉर्म में होता है जिसमें शीनबोन (Shinbone) और जांघ के बीच रबरी कार्टिलेज बना होता है। घुटना मोड़ते हुए ये टूट भी सकता है।

घुटने का बर्सिटीस (knee bursitis)- घुटने की चोट बर्साई (Bursae) में सूजन का कारण बनता हैं। तरल पदार्थ की छोटी थैली जो आपके घुटने के जोड़ के बाहर कुशन (Cushion) करती है ताकि टेंडन और लिगामेंट ज्वाइंट पर आसानी से फिसल सके।

पटेलर टेंडिनिटिस (Patellar tendinitis)- Tendinitis एक या अधिक (Tendons) की जलन और सूजन है जैसे मोटी, रेशेदार टीशू जो मांसपेशियों को हड्डियों से जोड़ता हैं। धावक, स्कीयर, साइक्लिस्ट, और खेल वाली गतिविधियों में शामिल होने वाले लोगों को पेटेलर टंडन में सूजन हो सकता है, जो जांघ के सामने वाले हिस्से में क्वाड्रिसेप्स (Quadriceps) की मांसपेशी को शीनबोन से जोड़ता है।

मेकेनिकल समस्या-घुटने में दर्द का कारण बनने वाली यांत्रिक समस्याओं के कुछ उदाहरणों में शामिल हैं:

लूज बॉडी- कभी-कभी चोट के कारण हड्डी का एक टुकड़ा टूट सकता है और ज्वाइंट स्पेस में फ्लॉट कर सकता है। यह तब तक समस्या पैदा नहीं करेगा जब तक कि लूज बॉडी घुटने के ज्वाइंट में न घुसे। इस स्थिति में प्रभाव कुछ ऐसा होता है जैसे कि दरवाजे में लगाया गया पेंसिल।

इलियोटिबियल बैंड सिंड्रोम (Iliotibial band syndrome) यह तब होता है जब टीशू का कठोर बैंड आपके हिप के बाहर से घुटने (इलियोटिबियल बैंड) के बाहर तक फैला होता है। ये ऐसा होता है कि यह आपके फीमर के बाहरी हिस्से की ओर रगड़ना पड़ता है। तेज दौड़ने वाले रेसर और साइकिल चालक विशेष रूप से इलियोटिबियल बैंड सिंड्रोम के लिए अतिसंवेदनशील होते हैं।

डिस्लोकेटेड घुटना (Dislocated kneecap)- यह तब होता है जब(पटेला) आपके घुटने के सामने कवर करती हैं और जगह से बाहर हट जाती है। आमतौर पर आपके घुटने के बाहर (kneecap) हो सकता है।

हिप या पैर में दर्द– यदि आपके हिप या पैर में दर्द है, तो आप इन दर्दनाक जोड़ों को छोड़ने के लिए चलने के तरीके को बदल सकते हैं। लेकिन चलने के तरीके से घुटने के जोड़ पर अधिक तनाव हो सकता है। वैसे घुटने में दर्द पैर में समस्याओं की वजह से होता है।

और पढ़ें : मानव शरीर की 300 हड्डियों से जुड़े रोचक तथ्य

घुटने में मोच के जोखिम

कई कारणों की वजह से घुटने में समस्या हो सकता है, जिनमें शामिल हैं:

शरीर का अधिक वजन- अधिक वजन या मोटापे के कारण आपके घुटने के जोड़ों पर तनाव बढ़ सकता है। यहां तक कि सामान्य गतिविधियों जैसे कि चलना या सीढ़ियां चढ़ना। यह जोड़ो के टूटने जैसी समस्या को बढ़ाकर पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस के खतरे में भी डालता है।

मांसपेशियों के लचीलेपन में कमी या मजबूती- ताकत और लचीलेपन की कमी से घुटने की चोटों का खतरा बढ़ सकता है। मजबूत मांसपेशियां आपके जोड़ों को स्थिर और संरक्षित करने में मदद करता हैं, और मांसपेशियों का लचीलापन आपको गति प्राप्त करने में मदद करता है।

कुछ प्रकार के खेल या व्यवसाय – कुछ खेल दूसरों की तुलना में आपके घुटनों पर अधिक तनाव डालते हैं। कुछ खेल जैसे कि बास्केटबॉल के जंप और पिवोट्स के लिए अल्पाइन स्कीइंग जिसमें दौड़ने कीू जरुरत होती है ये जोखिम को बढ़ाता है। यहां तक की खेती या बिल्डिंग का काम करने वाले कर्मचारी के लिए भी जोखिम बढ़ सकता हैं।

पहले से लगी चोट– पिछले घुटने की चोट होने से अधिक संभावना होती है और दोबारा घुटने में चोट लग सकता है।

और पढ़ें : Stress fracture : स्ट्रेस फ्रैक्चर क्या है?

उपचार

घुटने में मोच का उपचार क्या है?

इसका उपचार आपके डॉक्टर चोट के हिसाब से देंगे, निर्भर करता है कि आपके घुटने में किस प्रकार का चोट है-

घुटने में मोच की दवा- घुटने में दर्द होने पर डॉक्टर एसिटामिनोफेन (Acetaminophen) दवा दे सकता है। यदि दर्द अधिक हो रहा है, तो आपको मजबूत दवा दी जा सकती है।

घुटने के दर्द से आराम- यदि घुटने के दर्द से बचना चाहते हैं तो कोई भी जोखिम भरे काम न करे जिसमें चोट लगने का कारण शामिल हो। जब बैठते या सोते है तो पैर को तकिए पर भी फैला सकते हैं ताकि सूजन को कम करने में मदद मिल सके।

घुटने में लगाए बर्फ- हर कुछ घंटों में 20 मिनट के लिए घुटने पर एक आइस पैक लगाते रहें जिससे सूजन कम हो। लेकिन पहले डॉक्टर की सलाह लें, खासकर अगर आपको मधुमेह है। बर्फ दर्द में मदद करता है ,और जोड़ो के अंदर किसी भी ब्लिडिंग को रोकता है।

दबाव न बनाना- एक इलास्टिक बैंडेज सूजन में मद्दगार होता है लेकिन घुटने में ज्यादा तेज बांधना सही नही है ये ब्लड सर्कुलेशन को रोकता है। यदि इलास्टिक बैंडेज लगाने से दर्द बढ़ने लगता है तो घुटना सुन्न हो सकता हैं या नीचला पैर का हिस्सा सूज सकता है।

स्थिरता बनाए रखना- डॉक्टर आपके घुटने की रक्षा करने और इसे ठीक करने के दौरान स्थिर करने के लिए आपको ब्रेस (brace) दे सकता है। यह ज्यादा हिलने-डुलने या अधिक खिंचाव देने से बचाए रखता है।

व्यायाम और भौतिक चिकित्सा करना- एक चिकित्सक या भौतिक चिकित्सक चोट के आधार पर व्यायाम करता है जिससे ठीक होने की संभावना बढ़ जाती है-

सर्जरी- यदि लिगामेंट टूटा हुआ होता है तो सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है। इस प्रक्रिया में टूटे लिगामेंट को फिर से जोड़ना या स्वस्थ टंडन के एक टुकड़े के साथ बदलना शामिल होता है।

सर्जन छोटे चीरों करेगा और जांघ की हड्डियों में छोटे छेद कर सकता है। ग्राफ्ट हड्डियों से जुड़ा हुआ होता है जो इसके चारों ओर बढ़ता है।आपको अपनी सामान्य गतिविधियों को शुरू करने में कई हफ्ते या महीने भी लग सकते हैं। व्यायाम करने के लिए भौतिक चिकित्सक की आवश्यकता होती है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Poonam द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 23/06/2021 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x