home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

हेप ए़1 वैक्सीन : बच्चों के लिए क्यों है जरूरी?

हेप ए़1 वैक्सीन : बच्चों के लिए क्यों है जरूरी?

हेपेटायटिस ए (Hepatitis) एक गंभीर लिवर डिजीज है जो इंफेक्टेड पर्सन के साथ पर्सनल कॉन्टैक्ट में आने या किसी फूड, ड्रिंक्स या ऑब्जेक्ट पर मौजूद वायरस के संपर्क में आने से फैलती है। ज्यादातर लोगों में हेपेटाइटिस ए के लक्षणों में थकान होना, भूख कम लगना, पेट में दर्द, जी मिचलाना और पीलिया शामिल है। ज्यादातर 6 साल से कम उम्र के बच्चों में ये लक्षण दिखाई नहीं देते हैं। हेप ए़1 वैक्सीन (Hep A1 Vaccine) इस बीमारी से सुरक्षा प्रदान करती है। इसे हेपेटायटिस ए वैक्सीन के नाम से भी जाना जाता है। इस आर्टिकल में हेप ए़1 वैक्सीन से जुड़ी जानकारियां प्रदान की जा रही हैं। इसके पहले जान लेते हैं कि

हेपेटायटिस ए क्या होता है? (What Is Hepatitis A?)

हेपेटायटिस ए बच्चों को होने वाले हेपेटायटिस का सबसे कॉमन प्रकार है। इसका वायरस इंफेक्टेड पर्सन के पूप (Poop) में पाया जाता है। इसलिए बाथरूम से आने के बाद और खाना खाने के पहले अपने हाथ धोना या बच्चों के हाथ धुलवाना बेहद जरूरी होता है। अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो हेपेटायटिस ए का वायरस खाने या आपके हाथ के माध्यम से बॉडी के अंदर प्रवेश कर सकता है। सब्जियां, फल और कुछ मछलियों में भी यह वायरस पाया जा सकता है अगर उनकी सिंचाई में प्रदूषित पानी का उपयोग किया गया हो। हेपेटायटिस ए लोगों को कम समय के लिए अफेक्ट करता है। चलिए आप जान लेते हैं हेप ए1 वैक्सीन के बारे में।

और पढ़ें : क्या बच्चों के लिए फ्लू और कोविड वैक्सीन एक ही है : जानें इस पर एक्सपर्ट की राय

बच्चों को हेप ए़1 वैक्सीन कब दी जाती है? (When is the Hep A1 Vaccine given to children?)

बच्चों को हेपेटायटिस वैक्सीन की दो डोज दी जाती हैं। पहला डोज 12 से 23 महीने के उम्र में दिया जाता है और दूसरा डोज पहले डोज के 6 महीने के बाद। अगर आप किसी ऐसे क्षेत्र में ट्रेवल करने वाले हैं जहां हेपेटायटिस का खतरा है तो 6 महीने के बच्चे को भी हेप ए़1 वैक्सीन दी जा सकती है। अगर बड़े बच्चों को बचपन में यह वैक्सीन नहीं दी गई है, तो उन्हें भी डॉक्टर की सलाह वैक्सीन दी जा सकती है। सीडीसी के अनुसार अगर किसी व्यक्ति ने हेप ए़1 वैक्सीन नहीं ली है और वह हेपेटायटिस ए का सामना कर रहे किसी व्यक्ति के संपर्क में आया है तो उसे 2 हफ्ते के अंदर वैक्सीन ले लेनी चाहिए। निम्न कंडिशन में भी हेप ए़1 वैक्सीन दी जाती है।

  • कई देशों में ट्रैवल करने वाले लोगों को
  • पुरुष के साथ संबंध रखने वाले दूसरे पुरुष को
  • जो एचआईवी का सामना कर रहे हैं
  • जिन्हें क्रोनिक लिवर डिजीज है

बच्चों के लिए हेप ए़1 वैक्सीन क्यों जरूरी है? (Why is Hep A1 Vaccine Important for Children?)

हेप ए़1 वैक्सीन ना सिर्फ बच्चों को हेपेटायटिस जैसी खतरनाक बीमारी से बचाती है बल्कि यह इस बीमारी को फैलने से भी रोकती है। चाइल्डकेयर सेंटर्स इस बीमारी को फैलाने वाले कॉमन साइट होते हैं। कई बच्चों में इस बीमारी के लक्षण नहीं दिखाई देते, लेकिन वे वायरस को फैला सकते हैं। ज्यादा से ज्यादा बच्चों को वैक्सिनेट करके इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है।

और पढ़ें : कौन सी हैं बच्चों के लिए जरूरी वैक्सीन?

हेपेटायटिस ए़ वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स क्या हैं? (Side effects of Hep A1 Vaccine)

हेपेटायटिस ए़ वैक्सीन के उपयोग से होने वाले साइड इफेक्ट्स बहुत हल्के होते हैं। जिसमें माइल्ड फीवर, इंजेक्शन साइट पर लालिमा और दर्द शामिल है। इस वैक्सीन के उपयोग से एलर्जिक रिएक्शन होना दुर्लभ है। हेप ए़1 वैक्सीन के पहले डोज के बाद सीरियस एलर्जिक रिएक्शन होने पर इस दवा को देना रिकमंड नहीं किया जाता। साधारण सर्दी या माइनर इलनेस होने पर वैक्सीन दी जा सकती है। वैक्सीन के बाद बच्चे को फीवर या दर्द होने पर डॉक्टर की सलाह पर पेन किलर या दूसरी दवा दी जा सकती है।

ज्यादातर मामलों में, एक्यूट हेपेटायटिस के लिए कोई विशिष्ट चिकित्सा नहीं दी जाती है। बच्चे की अपना इम्यून सिस्टम वायरस से लड़ता है और उसे हराता है। आपका बाल रोग विशेषज्ञ आपके बच्चे के लिए सहायक देखभाल की सिफारिश करेगा, जिसमें आराम, एक संतुलित आहार और बहुत सारे तरल पदार्थ का सेवन शामिल हो सकते हैं। इन टिप्स को फॉलो करें।

और पढ़ें: बढ़ाना है बच्चों का वेट, तो काम आ सकते हैं ये वेट गेन सप्लिमेंट्स

क्या हेपेटाइटिस ए का टीका (Hepatitis A vaccine) प्रभावी है?

हां, दोनों प्रकार के हेपेटायटिस ए के टीके हेपेटायटिस ए वायरस के संक्रमण को रोकने में अत्यधिक प्रभावी हैं। संपूर्ण वैक्सीन श्रृंखला (सभी आवश्यक शॉट्स) प्राप्त करने से लंबे समय तक सुरक्षा प्राप्त होती है।

क्या हेपेटाइटिस ए का टीका सुरक्षित है? (Is Hep A1 Vaccine safe?)

हां, हेपेटायटिस ए का टीका सुरक्षित है। हेपेटायटिस ए के टीके से कोई गंभीर दुष्प्रभाव नहीं बताया गया है। इंजेक्शन साइट पर दर्द सबसे आम दुष्प्रभाव बताया गया है। जैसा कि किसी भी दवा के साथ हो सकता है। हालांकि किसी को टीका लग जाने के बाद गंभीर समस्या हो सकती है। हेपेटायटिस ए के संभावित जोखिम हेपेटायटिस ए के टीके से जुड़े संभावित जोखिमों से कहीं अधिक हैं।

और पढ़ें : बच्चों के लिए एमएमआर वैक्सीन क्यों है जरूरी, जानिए यहां

क्या हेप ए़1 वैक्सीन बच्चे को हेपेटायटिस के अन्य रूपों से बचाएगा?

नहीं। हेपेटायटिस ए का टीका केवल हेपेटाइटिस ए से बचाता है। हेपेटाइटिस बी के लिए एक अलग टीका उपलब्ध है। हेपेटाइटिस ए और हेपेटायटिस बी का एक संयोजन भी है जो दोनों वायरस से सुरक्षा प्रदान करता है। इस समय हेपेटायटिस सी के लिए कोई टीका नहीं है।

क्या हेपेटायटिस ए के टीके की एक अतिरिक्त खुराक लेना हानिकारक है?

नहीं, हेपेटाइटिस ए के टीके की अतिरिक्त खुराक लेना हानिकारक नहीं है।

यदि हेप ए़1 वैक्सीन की अंतिम खुराक में देरी हो तो क्या करें?

यदि दूसरी खुराक में देरी हुई है (पहली खुराक दिए जाने के बाद से 6 महीने से अधिक), तो इसे जल्द से जल्द दिया जाना चाहिए। पहली खुराक दोबारा देने की जरूरत नहीं है।

वैक्सीन के साथ ही हेपेटायटिस से बचने के लिए क्या टिप्स अपनाएं जा सकते हैं? Can Hepatitis A Be Prevented?

निम्न टिप्स को फॉलो करके आप खुद और अपने बच्चों को हेपेटायटिस वायरस से बचा सकते हैं।

  • दिन में कई बार हाथों को अच्छी तरह धोएं। खासकर बाथरूम से आने के बाद और बेबी का डायपर पहनाने से पहलें। बच्चों को खाना खिलाने से पहले।
  • बच्चों को बचपन से हाथ धोने की आदत सिखाएं खासकर खाना खाने के पहले और कहीं से खेलकर आने के बाद।
  • फलों और सब्जियों को खाने से पहले धोएं।
  • संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें और बच्चों को भी उनसे दूर रखें।

उम्मीद करते हैं कि आपको हेप ए़1 वैक्सीन से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड