home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बच्चों के स्कूल फोबिया को ऐसे करें दूर, मददगार साबित हो सकते हैं ये टिप्स

बच्चों के स्कूल फोबिया को ऐसे करें दूर, मददगार साबित हो सकते हैं ये टिप्स

आपने बच्चों के मुंह से अक्सर ये सुना होगा कि’मुझे स्कूल नहीं जाना है। ऐसे में पेरेंट्स उन्हें डांट कर या समझा कर स्कूल भेज देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि बच्चे बदमाशी कर रहे हैं, लेकिन, ऐसा बच्चे रोज-रोज करें तो जरूरी नहीं है ​कि ये उनकी बदमाशी हो। इस बारे में पेरेंटिंग कोच नम्रता शर्मा ने हैलो स्वास्थ्य को बताया कि, ”जब बच्चा लंबे समय तक स्कूल जाने से मना करे तो उसके पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे कि बच्चों में स्कूल फोबिया।” आइए जानते हैं क्या होता है स्कूल फोबिया (School Phobia) और कैसे बच्चों को इससे बचाया जाएं।

और पढ़ें: मां का गर्भ होता है बच्चे का पहला स्कूल, जानें क्या सीखता है बच्चा पेट के अंदर?

क्या है स्कूल फोबिया? (School Phobia)

जब बच्चा पहली बार घर से निकलकर स्कूल पहुंचता है तो यह उसके लिए एक अलग अनुभव होता है। स्कूल में सब कुछ उसके लिए नया होता है। कुछ बच्चे तो स्कूल के माहौल में जल्दी एडजस्ट जाते हैं लेकिन, कुछ बच्चों को स्कूल के नए माहौल को अपनाने में समय लग जाता है। स्कूल जाने के डर से कई बच्चों में बुखार,दस्त और उल्टी आदि की समस्या शुरू हो जाती है। मेडिकल साइंस के टर्म में इसे ‘स्कूल फोबिया’ कहते हैं। ज्यादातर 6 से 15 साल तक के बच्चे स्कूल फोबिया का शिकार होते हैं।

और पढ़ें: ऐसे बनाएं बच्चों के पढ़ाई का टाइम टेबल

आखिर क्यों बच्चे स्कूल जाने से घबराते हैं?

इन कारणों की वजह से आपका बच्चा स्कूल जाने से कतरा सकता है, जैसे:

ऐसे करें बच्चों की मदद स्कूल फोबिया से निकलने में (How to help children get out of school phobia)

कुछ आसान टिप्स को अपनाकर बच्चों से स्कूल का डर (School Phobia) निकाला जा सकता है। जानिए उनके बारे में।

बच्चों को स्कूल फोबिया (School Phobia in Kids) से बचाने के लिए उनके स्ट्रेस को पहचानें

अगर बच्चा स्कूल जाने से डरता हो या हमेशा न जाने के बहाने ढूंढता हो तो थोड़ा ध्यान से अपने बच्चों को समझें और उनकी समस्या का पता लगाने की कोशिश करें और उसके स्कूल फोबिया को दूर करने की कोशिश करें। यदि आपका बच्चा स्कूल के बारे में किसी तरह की चिंता से घिरा हुआ हो तो यह उसके स्वास्थ्य पर भी नजर आता है। बच्चों में पेट दर्द और सिर दर्द की शिकायत हो सकती है। उल्टी जैसी समस्या भी हो सकती है। रात को सोने में परेशानी भी हो सकती है।

इसके अलावा, हो सकता है कि कोई क्लासमेट या कोई सीनियर स्टूडेंट बच्चे के साथ किसी तरह की बुलिंग कर रहा हो। यह भी हो सकता है कि बच्चा किसी खास टीचर से डरता हो। इसलिए वे स्कूल जाने से मना कर रहा हो।

School Phobia/ स्कूल फोबिया

बच्चों के स्कूल फोबिया (School Phobia in Kids) को दूर करने के लिए उसकी बात को समझने की कोशिश करें

बच्चे से बात करें कि क्यों वह स्कूल जाने से मना कर रहा है। उसकी समस्या को समझने की कोशिश करें। बच्चे का क्लास में कोई फ्रेंड, क्लासमेट्स, टीचर, और स्कूल के काउंसलर से भी बात करें। बच्चे की सही तकलीफ का पता लगाएं। समस्या जानने के बाद किसी भी समस्या का समाधान हो सकता है। फिर चाहे वह स्कूल फोबिया ही क्यों न हो।

स्कूल के डेली-एक्सपीरियंस को लिखने को कहें और स्कूल फोबिया (School Phobia) को दूर करने में मदद करें

बच्चे को स्कूल में होने वाले डेली-एक्सपीरियंस को लिखने को मोटिवेट करें। वह स्कूल के बारे में कुछ लिखेगा, इससे उसके स्कूल टाइम कैसा जा रहा यह पता चलेगा। हर दिन के बारे में अगर वह आपको बताए या फिर उसे डायरी में लिखता है तो भी अच्छी बात है। इससे भी आप वजह जान सकते हैं कि बच्चा स्कूल जाने के लिए क्यों मना कर रहा है। बातों को लिखने से मन हल्का हो जाता है। यह तरीका स्कूल फोबिया को दूर करने में भी मदद करेगा।

और पढ़ें: बच्चों के अंदर किताबें पढ़ने की आदत कैसे विकसित करें ?

स्कूल फोबिया (School Phobia) से बचाने का एक और तरीका है स्कूल के बारे में पसंद और नापसंद पूछते रहें

बच्चों को स्कूल की कुछ बातें पसंद नहीं होती है। इसके कारण भी वह स्कूल जाने से कतराते हैं। इसलिए बच्चे को स्कूल की पसंद और नापसंद वाली बातों की लिस्ट बनाने को बोलें। उनसे बात करते हुए स्कूल में बिताए क्वालिटी टाइम पर भी बात करें। इससे भी आपको मालूम हो सकेगा कि क्यों आपके बच्चे स्कूल नहीं जाते और स्कूल फोबिया की वजह क्या है?

स्कूल में अपनी रूचि और शौक को बढ़ाने के लिए प्रेरित करें इससे स्कूल फोबिया दूर होगा

बच्चे से उसकी पसंद-नापसंद की बात करें। इसमें उनके शौक और हॉबी को शामिल कर सकते हैं। उनसे पूछें कि उसे किस चीज का शौक है और बताएं कि स्कूल में होते हुए इसे कैसे पूरा कर सकते हैं। इससे आपका बच्चा स्कूल के टाइम को एन्जॉय करने लगेगा और धीरे-धीरे बहाने बनाना बंद कर देगा। इस तरीके से स्कूल फोबिया दूर हो सकता है।

और पढ़ें: जब बच्चे का पढ़ाई में मन न लगे तो अपनाएं ये 5 उपाय

स्कूल फोबिया को दूर करने के लिए अपनाएं ये टिप्स (Follow these tips to overcome school phobia)

बच्चे को स्कूल जाना है और आपके मन में कई सवाल है कि बच्चे को खुशी-खुशी स्कूल कैसे भेजें? क्या करें कि बच्चा स्कूल जाते समय रोए नहीं? इसके लिए नीचे बताए गए कुछ टिप्स पेरेंट्स आजमा सकते हैं। जैसे-

  • बच्चे को स्कूल भेजने के लिए उसके लिए कुछ शॉपिंग जरूर करें । बच्चे को स्कूल बैग, टिफिन बॉक्स, वॉटर बोतल, शूज, स्टेशनरी आदि चीजें दिलवाएं। इससे बच्चे के अंदर एक्ससाइटमेंट आएगा। स्कूल के लिए शॉपिंग करते समय बच्चे को बताएं कि वो स्कूल जाने वाला है। उसके लिए आप शॉपिंग कर रहे हैं।
  • बच्चों का स्कूल जाना फन लगे इसके लिए आप स्कूल के एन्वायरमेंट, वहां के प्ले ग्राउंड और स्कूल की अच्छी-अच्छी बातें बताएं। ध्यान रहें, बच्चे को सकारात्मक बातें ही बताएं। उसे बताएं कि वो स्कूल में गेम्स खेलेगा, उसे बड़ा मजा आएगा। साथ ही उसके नए दोस्त बनेंगे।
  • बच्चे से उसकी भावनाएं जानने को भी कोशिश करें। उसे पहली बार पेरेंट्स के बिना किसी नई जगह जाना कैसा लग रहा है।
  • कल बच्चों का स्कूल जाना शुरू हो, उससे पहले ही पेरेंट्स बच्चे को उसके शेड्यूल के बारे में बताएं।
  • बच्चे को दिलासा दें कि स्कूल में कुछ भी होगा तो आप हैं उसकी प्रॉब्लम्स सुनने के लिए. उसकी हेल्प करने के लिए आप हरदम उसके साथ हैं।
  • बच्चों का स्कूल जाना अगर बस से तय है तो उसके बारे में भी बताएं कि वह अकेले कितने सारे हम उम्र के बच्चों के साथ ट्रैवल करेगा।
  • बच्चे के लिए लंच बॉक्स में उसकी पसंद खाना दें।
  • बच्चा जब स्कूल से वापस आ जाए , तो उससे पूछें कि उसे पहले दिन स्कूल में क्या-क्या अच्छा लगा।
  • पॉसिबल हो तो स्कूल के ही एक-दो बच्चों से अपने बच्‍चे को मिलवाएं। जिससे बच्चे के स्कूल में दोस्त पहले से ही होंगे। हो सके तो अपने पड़ोस में ही उस स्कूल का बच्चा देखें। इन टिप्स को अपनाकर भी आप बच्चे के स्कूल फोबिया को कम कर सकते हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि स्कूल फोबिया कैसे कम करें? विषय पर लिखा गया आर्टिकल आपके लिए उपयोगी साबित होगा। यहां बताई गईं टिप्स बच्चे के स्कूल फोबिया को दूर करने में मदद करेंगी, लेकिन इन टिप्स को ट्राई करने के बाद भी बच्चा स्कूल जाने से डर रहा है उसका स्कूल फोबिया दूर नहीं हो रहा तो किसी काउंसर से संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

School Avoidance: Tips for Concerned Parents/https://www.healthychildren.org/English/health-issues/conditions/emotional-problems/Pages/School-Avoidance.aspx/. Accessed on 1 September, 2020.

Normal Childhood Fears/https://kidshealth.org/en/parents/anxiety.html,. Accessed on 1 September, 2020.

School Refusal. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK534195/. Accessed on 1 September, 2020.

Anxiety and Depression in Children. https://www.cdc.gov/childrensmentalhealth/depression.html. Accessed on 1 September, 2020.

a-guide-to-supporting-a-child-who-is-struggling-to-attend-school-2017.pdf. https://www.nottinghamshire.gov.uk/media/128383/a-guide-to-supporting-a-child-who-is-struggling-to-attend-school-2017.pdf. Accessed on 1 September, 2020.

लेखक की तस्वीर
Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 4 weeks ago को
Dr. Shruthi Shridhar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x