home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बच्चों को पैसों की बचत करना कैसे सिखाएं?

बच्चों को पैसों की बचत करना कैसे सिखाएं?

कई पेरेंट्स इस बात को लेकर चिंतित होते हैं कि उनके बच्चे पैसों की बचत नहीं करते हैं। जो कि उनके भविष्य को देखते हुए बहुत जरूरी है। बच्चों को पैसों की बचत करने के लिए फाइनेंस सर्विस एक्सपर्ट अरविन्द सेन कहते हैं कि बच्चों के सामने माता-पिता को भी बचत करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके अलावा पेरेंट्स को बच्चों पर लगाम लगानी चाहिए, लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि आप बच्चों की हर इच्छा को मना कर दें। बल्कि, उन्हें सिखाना चाहिए कि पैसों की बचत कैसे करें? ताकि, जरूरत पड़ने पर बचाए हुए पैसे उनके काम आए।

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children )

जानें उन उपायों को, जिनकी मदद से आप बच्चों में पैसों की बचत करने की प्रवृति डाल सकते हैं :

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स- पैसों की बचत के लिए खिलौनों वाले ‘गुल्लक बैंक’ दें

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में यह टिप्स सबसे आसान है। अगर आप बच्चों को ऐसे खिलौने लाकर दे रहे हैं जो कुछ दिनों के बाद टूट जाता है या बच्चा खुद ही उसे भूल जाता है। तो ठहरिए! आप गलत जगह पर पैसे खर्च कर रहे हैं। बच्चों कैसे पैसों की बचत करें? यह समझाने का सबसे आसान तरीका है कि आप खिलौने वाले बैंक यानी गुल्लक लाकर दें। उन्हें बताएं कि इसमें जो भी पैसे दादा-दादी या बड़ों के तरफ से मिलते हैं, इस में रखकर जमा करे। इन पैसों से कैसे वे उपयोगिता वाली चीजों में खर्च कर सकते हैं, यह भी बताएं। बच्चों को पैसों की अहमियत बताने के लिए जब भी आप उन्हें कोई काम करने को बोलें, बच्चे उसे पूरा कर लें तब उन्हें इनाम के रूप में कुछ पैसे दें। इससे बच्चों में पैसों की कीमत पता चल सकेगा।

और पढ़ें: कीड़े-मकौड़ों का डर कहलाता है ‘एंटोमोफोबिया’, कहीं आपके बच्चे को तो नहीं

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स- घर की छोटी जिम्मेदारियों से बताएं पैसों का इस्तेमाल

घर के अंदर और आसपास के कामों के लिए अपने बच्चों को जरुर लगाएं। यह उनके अंदर पैसों का मैनेजमेंट करने के सही तरीकों को सीखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शुरुआत में इस तरह के कामो में उनसे कोई गलती भी हो जाए तो ज्यादा नुक्सान नहीं होगा। क्योंकि, बाद में बड़ी गलतियों की तुलना में अब आप छोटी “गलतियाँ” करना बच्चे के लिए बेहतर है। बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में यह टिप्स बहुत अच्छी है।

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ): पैसों की बचत के लिए बच्चों को बैंकिंग प्रणाली के बारे में बताएं

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में यह टिप्स बच्चों को बोरिंग लग सकती है, लेकिन यह सबसे टिप्स महत्वपूर्ण है। बच्चों को बचत करना सिखाना हो तो उन्हें बैंक के कामों को भी बताएं। इससे उनमें बैंकिंग की जानकारी होगी। आप अपने छोटे बच्चों को अपने साथ बैंक ले जा सकते हैं, इससे जब भी बैंक जाएं तो बच्चे को साथ ले जाएं। बच्चे को बैंक का महत्त्व समझाएं। उसे बताएं की बैंक में किस तरह उसके पैसे सुरक्षित हैं और जरूरत पड़ने में उसे किस तरह से इन पैसों से मदद मिल सकती है. हो सके तो बच्चे का भी एक अकाउंट खुलवाएं।

और पढ़ें: बच्चों के डिसऑर्डर पेरेंट्स को भी करते हैं परेशान, जानें इनके लक्षण

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ): पैसों की बचत के लिए बच्चों को सस्ती और महंगी चीजों में अंतर समझाएं

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में यह टिप्स बहुत महत्वपूर्ण है। बच्चों की हर जिद और मांग को पूरी करके उनके लिए कोई साधन न बनें। बच्चों की हर पसंद को पूरी करते-करते ऐसे भी बिलकुल न बन जाएं, कि बच्चा आपसे अपनी कोई भी जिद मनवा ले। इसलिए बच्चों में बचत का कांसेप्ट देने के लिए बच्चों को चीजों के सस्ती और महंगी होने में फर्क समझाइए। इससे बच्चे के दिमाग में पैसों का सही इस्तेमाल के लिए प्रेरणा मिलेगा और वे पैसों को संभाल कर रखना और जरूरत के वक्त खर्चना सीख जाएगा।

और पढ़ें: प्री-स्कूल में एडजस्ट करने के लिए बच्चे की मदद कैसे करें?

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स: (Money saving tips for children ) बच्चों के सामने पैसों की उपयोगिता पर दृढ़ रहें

बच्चों के सामने पैसों को लेकर अपने दृष्टिकोण की पड़ताल करते रहें और उसपर दृढ़ बनने की कोशिश करें। पैसों का सही इस्तेमाल बच्चे सबसे पहले अपने माता-पिता से ही सीखता है। याद रखें कि बच्चे अपने माता-पिता को देखकर पैसे कैसे संभालते हैं, इसके बारे में बहुत कुछ सीखते हैं।

और पढ़ें: बच्चों का पढ़ाई में मन न लगना और उनकी मेंटल हेल्थ में है कनेक्शन

पैसों की बचत के लिए बच्चे को बताएं जरूरत और चाहत में अंतर

जरूरत और चाहत में फर्क होता है। इस बात को आपको बच्चे को समझाना होगा। बच्चा सिर्फ जरूरत के हिसाब से खर्च करना बताएं। बच्चे को समझाएं कि वह जरूरी चीजोंं पर ही खर्च करे और फिजूलखर्च बिल्कुल ना करे। बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में इस टिप्स का ध्यान रखना भी जरूरी है।

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ): पैसों की बचत के लिए बच्चे के साथ बिजनेस गेम्स खेलें

बच्चों में धन प्रबंधन के लिए रुचि पैदा करने के लिए उनके साथ ऐसे बिजनेस गेम्स खेलें। इस गेम्स में प्रतीकात्मक पैसे (Symbolic Cash) का प्रयोग होता है। इस गेम से बच्चे में अधिक से अधिक पैसे पाने और पैसे कम खर्च करने में ज्यादा ध्यान देंगे। इस तरह से बच्चे में पैसों की बचत को लेकर समझ पैदा होगी। बच्चों के मनी सेविंग टिप्स में यह टिप्स उन्हें काफी पसंद आएगी।

और पढ़ें: बच्चे के दिमाग को रखना है हेल्दी, तो पहले उसके डर को दूर भगाएं

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स- बच्चे को इनाम में पैसे दें और पैसों की बचत करने के लिए कहें

बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children ) में भी ये टिप बच्चों के लिए मददगार होगी। अगर बच्चा कोई अच्छा काम करे तो उसे इनाम में पैसे दें। लेकिन, उन से यह कहें कि उन्हें इनाम में जो पैसे मिले हैं उसे गुल्लक में डाले। साथ ही इनाम में मिले पैसों का हिसाब एक कॉपी में करे। इससे बच्चे में पैसों की बचत की आदत के साथ हिसाब की भी समझ बनेगी।

बच्चों को कितना पॉकेट मनी देना है सही?

बच्चों को अधिक पॉकेट मनी बिलकुल न दें, नहीं तो उनमें फिजूल खर्ची की आदत लग सकती है। पेरेंट्स होने की नाते आपको अपने बच्चों की जरूरत आपको पता होनी चाहिए। उसी को बेस मानकर पॉकेट मनी तय करें। आप अपने बच्चों के दोस्तों के पेरेंट्स से भी इसपर बात कर सकते हैं। शुरुआत में उसे उतने पैसे जरुर दें, जिससे वे अपने लिए छोटी-छोटी चीज़ें, जैसे- मनपसंद टॉफी, पेंसिल, स्टीकर आदि खरीद सकें।

हमें आशा है कि आपको बच्चों के लिए मनी सेविंग टिप्स (Money saving tips for children )विषय पर आधारित आर्टिकल पसंद आया होगा। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने चाइल्ड काउंसलर से जरूर पूछें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 3 weeks ago को
डॉ. अभिषेक कानडे के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x