एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन एक साथ होने के ये 9 हो सकते हैं कारण

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन एक साथ होने के ये 9 हो सकते हैं कारण

    एब्डोमिन कई अंगों का घर है। जिनमें से कुछ डायजेशन तो कुछ यूरिनेशन से संबंधित होते हैं। कुछ इंफेक्शन और डिसफंक्शन एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) का कारण बन सकते हैं। एब्डोमिनल पेन शार्प से लेकर हल्का हो सकता है और इसके साथ ही बर्निंग सेंसेशन से लेकर क्रैम्पिंग भी हो सकती है। यह कुछ खाने, इंफेक्शन यहां तक कि एंजायटी के कारण भी हो सकता है।

    पेनफुल यूरिनेशन एक लक्षण है जो तब होता है जब आप पेशाब के दौरान असुविधा का अनुभव करते हैं। यह यूरिनरी ट्रैक्ट के आसपास के ऊतकों के संक्रमण या जलन के कारण हो सकता है। इस लेख में एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन के संभावित कारणों के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है।

    1.यूरिनरी ट्रेक्ट इंफेक्शन (Urinary tract infection (UTI))

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) का पहला कारण हो सकता है यूटीआई। यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन यूरिनरी ट्रैक्ट के किसी भी पार्ट में हो सकता है। ज्यादातर मामलों में बैक्टीरिया ही इसके लिए जिम्मेदार होते हैं।

    2.प्रोस्टायटिटिस (Prostatitis)

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन का कारण प्रोस्टायटिटिस को भी माना जाता है। प्रोस्टायटिटिस प्रोस्टेट ग्लैंड्स पर होने वाला इंफ्लामेशन है। इंफ्लामेशन प्रोस्टेट के आसपास हो सकती है।

    और पढ़ें: एब्डोमिन के लोअर राइट साइड में दर्द होने पर कब लें डॉक्टर की मदद?

    3.क्लैमाइडिया इंफेक्शन (Chlamydia infection)

    क्लैमाइडिया बैक्टीरिया के कारण होने वाला एक सामान्य यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) है। जिन लोगों को क्लैमाइडिया होता है उनमें अक्सर प्रारंभिक अवस्था में बाहरी लक्षण नहीं होते हैं। क्लैमाइडिया के कारण एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) हो सकता है।

    4.जेनिटल हर्पीस (Genital herpes)

    जेनिटल हर्पीस एक यौन संचारित रोग है। यह एसटीडी हर्पेटिक घावों का कारण बनता है, जो पेनफुल फफोले हो सकते हैं। जिनके फूटने से फ्लूइड बाहर आ जाता है। यह रोग भी एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन का कारण बन सकता है। सेक्शुअल ट्रांसमिटेड इंफेक्शन जैसे कि गोनोरिया भी इस परेशानी की वजह बन सकता है।

    और पढ़ें: एब्डोमिनल ब्लोटिंग के कारण और उपचार जानना चाहते हैं तो मिस ना करें ये लेख!

    5.किडनी स्टोन (Kidney stone)

    ये हार्ड स्टोन्स मिनरल्स से बने होते हैं जो यूरिनरी ट्रैक्ट को ब्लॉक करने का काम करते हैं। यह इंटेंस पेन का कारण बनते हैं। जब तक ये स्टोन पास नहीं होते।

    6.कैंसर (Cancer)

    कुछ कैंसर भी एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन का कारण बन सकते हैं। जिसमें ब्लैडर कैंसर और एंडोमेटेरियल कैंसर शामिल हैं। ब्लैडर कैंसर ब्लैडर के टिशूज के आसपास होता है। यह वह अंग है जिसमें बॉडी यूरिन को होल्ड करके रखती है। वहीं एंडोमेटेरियल कैंसर वह कैंसर है जो यूटेरस की इनर लाइनिंग में होता है। जिसे एंडोमेटेरियम कहा जाता है।

    7.ऑब्सट्रक्टिव यूरोथेरिपी (Obstructive uropathy)

    ऑब्सट्रक्टिव यूरोपैथी तब होती है जब यूरिन किसी प्रकार की रुकावट के कारण मूत्रवाहिनी, मूत्राशय या मूत्रमार्ग से (या तो आंशिक रूप से या पूरी तरह से) प्रवाहित नहीं हो पाती है। गुर्दे से मूत्राशय में बहने के बजाय, यूरिन गुर्दे में पीछे की ओर बहती है।

    8.पेल्विक इंफ्लामेटरी डिजीज (Pelvic inflammatory disease)

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) के कारणों में पेल्विक इंफ्लामेटरी डिजीज भी शामिल हो सकती है। यह महिलाओं में रिप्रोडक्टिव ऑर्गन में होने वाला इंफेक्शन है।

    9.मूत्रमार्गशोथ (Urethritis)

    मूत्रमार्गशोथ एक ऐसी स्थिति है जिसमें मूत्रमार्ग, या ट्यूब जो मूत्राशय से मूत्र को शरीर के बाहर ले जाती है, सूज जाती है और इसमें इरिटेशन भी होता है। वीर्य भी पुरुष मूत्रमार्ग से होकर गुजरता है।

    और पढ़ें: पैरासेन्टेसिस (Paracentesis) : एब्डोमिनल कैविटी में फ्लूइड बिल्ड अप होने पर मददगार होती है ये प्रक्रिया

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) होने पर चिकित्सा सहायता कब लेनी चाहिए?

    यदि आपको निम्नलिखित लक्षण दिखाई दें तो तत्काल चिकित्सा सहायता लें:

    • सांस लेने मे तकलीफ
    • पासिंग स्टूल जो काला या रुका हुआ दिखाई देता है
    • लिंग या योनि से असामान्य द्रव का निकलना
    • खून की उल्टी
    • यदि लक्षण एक दिन से अधिक समय तक रहते हैं या बुखार आता है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। ये लक्षण एक संक्रमण का संकेत दे सकते हैं और एंटीबायोटिक दवाओं की आवश्यकता हो सकती है।

    अन्य लक्षण जो जिनके दिखाई देने पर डॉक्टर के पास जाना जरूरी हो जाता हैं उनमें शामिल हैं:

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन का इलाज कैसे किया जाता है? (Abdominal Pain and Painful Urination treatment )

    यदि कोई जीवाणु संक्रमण आपके लक्षणों का कारण बनता है तो आपका डॉक्टर एंटीबायोटिक्स लिख सकता है। गुर्दे के संक्रमण, जो गंभीर हैं, के लिए अंतःशिरा एंटीबायोटिक दवाओं की आवश्यकता हो सकती है। कुछ दवाएं मूत्र मार्ग में जलन से राहत दिलाती हैं, लेकिन यह यूरिन को चमकीले नारंगी या लाल रंग में बदल सकती है। यौन संचारित संक्रमणों के इलाज के लिए एंटीबायोटिक्स या एंटीवायरल दवाएं निर्धारित की जाती हैं।

    और पढ़ें: Pulse in Stomach: पेट में पल्स के कारण क्या हो सकते हैं?

    मैं घर पर एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) स्थिति की देखभाल कर सकता हूं?

    बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से पेनफल यूरिनेशन को दूर करने में मदद मिल सकती है। यह मूत्र पथ में बैक्टीरिया की मात्रा को कम कर सकता है और पेशाब को प्रोत्साहित कर सकता है। आप अपने दर्द से छुटकारा पाने के लिए डॉक्टर या फार्मासिस्ट की सलाह पर आईबुप्रोफेन जैसे ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक का उपयोग भी कर सकते हैं।

    यदि इसका कारण यूटीआई है, तो एंटीबायोटिक्स लेना शुरू करने के बाद लक्षण आमतौर पर जल्द ही ठीक हो जाएंगे। हालांकि, यह सुनिश्चित करने के लिए कि संक्रमण ठीक हो गया है, एंटीबायोटिक दवाओं का अपना पूरा कोर्स करना सुनिश्चित करें।

    एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन को कैसे रोक सकते हैं? (How can we prevent abdominal pain and painful urination?)

    यदि आप बार-बार पेशाब नहीं करते हैं तो आपका शरीर मूत्र पथ से बैक्टीरिया को नहीं निकाल सकता है। बहुत सारे तरल पदार्थ पीने से मूत्र पथ के संक्रमण की आवृत्ति को कम करने में मदद मिल सकती है। इसके अतिरिक्त, यदि आप एक महिला हैं, तो आपको बाथरूम का उपयोग करने के बाद आगे से पीछे तक पोंछना चाहिए। इसके विपरीत करने से बैक्टीरिया आपके मूत्र पथ में प्रवेश कर सकते हैं।

    निम्नलिखित पर्सनल हायजीन प्रोडक्ट आपके मूत्रमार्ग में जलन पैदा कर सकते हैं और पेनफुल यूरिनेशन का कारण बन सकते हैं:

    • स्प्रे
    • इत्र
    • पाउडर

    यौन संचारित संक्रमण को रोकने के लिए सुरक्षित संभोग करना महत्वपूर्ण है।

    यदि गुर्दे की पथरी आपके पेट में दर्द और पेनफुल यूरिनेशन का कारण बनती है, तो आपका डॉक्टर गुर्दे की पथरी से बचाने के लिए प्रोत्साहित कर सकता है। एक प्रयोगशाला यह निर्धारित करने के लिए स्टोन का परीक्षण कर सकती है कि वे किस चीज से बने हैं। यह आपको यह निर्धारित करने में मदद कर सकता है कि कौन से खाद्य पदार्थ गुर्दे की पथरी का कारण बन सकते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आपकी पथरी यूरिक एसिड की पथरी है, तो आपको ऐसे खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए जिनमें यूरिक एसिड अधिक हो। इनमें शेलफिश और रेड मीट शामिल हैं।

    उम्मीद करते हैं कि आपको एब्डोमिनल पेन और पेनफुल यूरिनेशन (Abdominal Pain and Painful Urination) के कारण और इसके इलाज से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/03/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड