Postpartum Fitness: नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स फोलो करना है जरूरी!

    Postpartum Fitness: नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स फोलो करना है जरूरी!

    प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला को अपनी सेहत का ध्यान रखना जितना जरूरी होता है, उतना ही प्रेग्नेंसी के बाद भी। शिशु के जन्म के बाद भी नई मां को अपना ख्याल रखना छोड़ना नहीं चाहिए। वैसे ज्यादातर महिलाएं डिलिवरी के बाद डायट पर तो ध्यान देती हैं, लेकिन बॉडी को फिट रखने के साथ-साथ फिटनेस टिप्स भी फॉलो करना जरूरी है। इसलिए आज इस आर्टिकल में नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) यानी पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट टिप्स से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी शेयर करने जा रहें हैं।

    1. नई मां को बेबी डिलिवरी के बाद कितना एक्सरसाइज करना चाहिए?
    2. वजायनल बर्थ या सी-सेक्शन के बाद कब से एक्सरसाइज शुरू करना चाहिए?
    3. पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट कब नहीं करना चाहिए?
    4. पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में कौन-कौन से वर्कआउट शामिल हैं?
    5. पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में कौन-कौन से वर्कआउट नहीं करने की सलाह दी जाती है?
    6. ब्रेस्टफीड करवाने वाली मां को एक्सरसाइज करने के दौरान किन बातों को ध्यान रखना चाहिए?
    7. पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट के दौरान कैसे समझें कि आप जरूरत से ज्यादा वर्कआउट कर रहीं हैं?
    8. पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट से डिप्रेशन या एंग्जाइटी को दूर करने में मदद मिल सकती है?

    पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट और टिप्स से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें : गर्भावस्था में डांस करने से होते हैं ये 11 फायदे

    नई मां को बेबी डिलिवरी के बाद कितना एक्सरसाइज करना चाहिए?

    नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips)

    अमेरिकन कॉलेज ऑफ ऑब्स्टेट्रिशियंस एंड गायनेकोलॉजिस्ट्स (American College of Obstetricians and Gynecologists) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार 150 मिनट मॉडरेट इंटेंसिटी एरॉबिक एक्टिविटी (Moderate-intensity aerobic activity) या ब्रिस्क वॉकिंग (Brisk walking) सेहत के लिए फायदेमंद हैं। एरॉबिक एक्टिविटी या ब्रिस्क वॉकिंग के अलावा योगासन को भी शामिल किया जा सकता है। हालांकि नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) फॉलो करने से पहले अपने गायनोकोलॉजिस्ट से सलाह लेना चाहिए और अगर डॉक्टर आपको एक्सरसाइज करने की सलाह दें या ना दें तो उसे ही फॉलो करें, क्योंकि डॉक्टर गर्भवती महिला के हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखकर ही वर्कआउट करने की सलाह देते हैं।

    और पढ़ें : Prenatal Massage: जानिए प्रीनेटल मसाज प्रेग्नेंसी के किस ट्राइमेस्टर के बाद करना चाहिए!

    वजायनल बर्थ (Vaginal Birth) या सी-सेक्शन (C-section) के बाद कब से एक्सरसाइज शुरू करना चाहिए?

    दि डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ, स्टेट गर्वमेंट ऑफ विक्टोरिया, ऑस्ट्रेलिया (The Department of Health, State Government of Victoria, Australia) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार नॉर्मल डिलिवरी के 24 घंटे के बाद नई मां वॉकिंग कर सकती है। हालांकि बेबी डिलिवरी के बाद हर महिला की सेहत एक जैसी नहीं होती है। कुछ गर्भवती महिलाओं को नॉर्मल डिलिवरी, तो कुछ महिलाओं को सिजेरियन या फिर वजायनल कट्स की जरूरत पड़ती है। इसलिए यह बेहद जरूरी है कि नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स फॉलो करने से पहले अपने गायनोकोलॉजिस्ट से सलाह लेना चाहिए। बेबी डिलिवरी के बाद नई कैसा महसूस कर रहीं हैं ये भी अपने डॉक्टर के साथ जरूर शेयर करना चाहिए।

    • नॉर्मल डिलिवरी (Normal delivery)- पोस्टपार्टम फिटनेस वर्कआउट नॉर्मल डिलिवरी के बाद अगर कोई कॉम्प्लिकेशन ना हो, तो 6 सप्ताह के बाद और पोस्टनेटल चेकअप (Postnatal check-up) के बाद हल्के एक्सरसाइज किये जा सकते हैं।
    • डिलिवरी के दौरान वजायनल कट (Vaginal birth with tearing)- शिशु के जन्म के दौरान अगर वजायनल कट किया जाता है, तो इसे ठीक होने में तकरीबन दो से तीन महीने का वक्त लग सकता है। ऐसे स्थिति में डॉक्टर नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स फॉलो करने की सलाह नहीं देते हैं।
    • सी-सेक्शन (C-section)- सिजेरियन डिलिवरी के बाद पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स फॉलो करने की सलाह नहीं दी जाती है। यही नहीं, नई मां शारीरिक रूप से स्ट्रॉन्ग महसूस करती हैं, उसके बाद ही ज्यादा बॉडी मूवमेंट की सलाह दी जाती है। हालांकि इस बीच डॉक्टर ये सलाह जरूर देते हैं कि अगर महिला अच्छा महसूस करें और सी-सेक्शन वाली जगह पर कोई तकलीफ ना हो तो महिला को वॉकिंग जरूर करना चाहिए। वॉकिंग करने से ब्लड सर्क्युलेशन (Blood Circulation) बेहतर होता है, ब्लड क्लॉट (Blood Clot) की संभावना दूर होती है, एसिडिटी (Acidity) की समस्या नहीं होती है और महिला अच्छा महसूस करती हैं। इसलिए सी-सेक्शन के बाद पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) अपनाने से पहले डॉक्टर से चेकअप जरूर करवाएं और उनसे सलाह लें। डॉक्टर से सलाह लेना इसलिए जरूरी है, क्योंकि कई बार ऊपर से सर्जरी वाले स्टिचेस ठीक हो जाते हैं, लेकिन अंदुरुनी हिस्से को ठीक होने में ज्यादा वक्त लगता है और इसे सिर्फ डॉक्टर ही समझ पाते हैं।

    और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान एमनियॉटिक फ्लूइड का रिसाव: समझें कारण, लक्षण और इलाज

    पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट (Post-pregnancy Fitness workout) कब नहीं करना चाहिए?

    नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट निम्नलिखित स्थितियों में फॉलो नहीं करना चाहिए। जैसे:

    • पेट दर्द (Abdominal pain) की समस्या होना।
    • वजायना में दर्द (Vaginal pain) महसूस होना।
    • ब्लीडिंग (Bleeding) होना।
    • फ्लूइड लीकेज (Fluid leakage) जैसे यूरिन (Urine) या अपने आप स्टूल (Feces) पास होना।
    • पेल्विक रीजन (Pelvic region) से जुड़ी समस्या महसूस होना।

    इन स्थितियों में नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) फॉलो करने की सलाह नहीं दी जाती है और डॉक्टर को इसकी जानकारी देनी चाहिए।

    और पढ़ें : डिलिवरी के बाद कर सकती हैं ये 4 सिंपल एक्सरसाइज, रहेंगी फिट

    पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में कौन-कौन से वर्कआउट शामिल हैं? (Postpartum Fitness workouts)

    पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में निम्नलिखित वर्कआउट शामिल किये जा सकते हैं। जैसे:

    1. वॉकिंग (Walking)
    2. डीप बैली ब्रीथिंग अब्डोमिनल एक्सरसाइज (Deep Belly Breathing Abdominal Exercise)
    3. नीलिंग पेल्विक टिल्ट (Kneeling Pelvic Tilt)
    4. कीगल एक्सरसाइज (Kegel Exercise)
    5. बेबी स्कॉट्स एक्सरसाइज (Baby scots exercise)

    इन पांच एक्सरसाइज को नई मां अपने फिटनेस रूटीन में शामिल कर सकती हैं। हालांकि अगर एक्सरसाइज करने के दौरान या बाद में कोई तकलीफ महसूस हो, तो इसे इग्नोर ना करें और डॉक्टर से सलाह लें।

    पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में कौन-कौन से वर्कआउट नहीं करने की सलाह दी जाती है?

    पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) में नई मां को ऐसे किसी भी एक्सरसाइज करने की सलाह नहीं दी जाती है जो हाई इंटेंसिटी वाले हों। वहीं नई मां को आसान वर्कआउट टिप्स फॉलो करने में भी अगर परेशानी हो तो इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए।

    और पढ़ें : Breast changes after Breastfeeding: ब्रेस्टफीडिंग के बाद ब्रेस्ट में बदलाव के कारण और क्या है इससे बचने के उपाय?

    ब्रेस्टफीड करवाने वाली मां को एक्सरसाइज करने के दौरान किन बातों को ध्यान रखना चाहिए?

    नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) फॉलो करने के लिए निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे:

    • पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट शुरू करने से पहले अपने गायनोकोलॉजिस्ट से सलाह लें कि आपके लिए कौन-कौन से एक्सरसाइज लाभकारी हो सकते हैं और कितने देर तक वर्कआउट करना चाहिए।
    • अपने फिटनेस एक्सपर्ट को इस बात की जानकारी जरूर दें कि आप गर्भवती थीं और हाल में डिलिवरी हुई है।
    • पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट की शुरुआत तेजी से ना करें।
    • वैसे एक्सरसाइज ही करें, जिसे करने में कठिनाई ना हो।
    • बॉडी पॉस्चर को ध्यान में रखते हुए वर्कआउट करें।
    • वर्कआउट के दौरान कम्फर्टेबल ब्रा का इस्तेमाल करें।
    • बॉडी को डिहाइड्रेट होने ना दें

    नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स में इन सात बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

    नोट: एक्सरसाइज करने के दौरान या बाद में अगर कमजोरी महसूस हो या कोई अन्य शारीरिक परेशानी महसूस हो तो एक्सरसाइज ना करें और इसकी जानकारी अपने फिटनेस एक्सपर्ट और डॉक्टर को जरूर दें।

    और पढ़ें : नॉर्मल डिलिवरी में कितना जोखिम है? जानिए नैचुरल बर्थ के बारे में क्या कहना है महिलाओं का?

    ब्रेस्टफीड करवाने वाली मां को एक्सरसाइज करने के दौरान किन बातों को ध्यान रखना चाहिए?

    शिशु को स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को एक्सरसाइज करने से पहले ब्रेस्टफीडिंग करवाना चाहिए, क्योंकि एक्सरसाइज के तुरंत बाद ब्रेस्टफीडिंग की वजह से आप और ज्यादा थका हुआ महसूस कर सकती हैं।

    पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट के दौरान कैसे समझें कि आप जरूरत से ज्यादा वर्कआउट कर रहीं हैं?

    पोस्टपार्टम फिटनेस वर्कआउट करने के बाद अगर कमजोरी महसूस हो, चक्कर आये, हल्का सिरदर्द हो या कोई अन्य शारीरिक परेशानी महसूस होने पर एक्सरसाइज ना करें।

    और पढ़ें : Lamaze breathing: लमाज ब्रीदिंग बेबी बर्थ को बना सकती है आसान!

    पोस्ट-प्रेगनेंसी वर्कआउट से डिप्रेशन या एंग्जाइटी को दूर करने में मदद मिल सकती है?

    अमेरिकन कॉलेज ऑफ ऑब्स्टेट्रिशियंस एंड गायनेकोलॉजिस्ट्स (American College of Obstetricians and Gynecologists) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार प्रेग्नेंसी के बाद कम सोना और पोटेंट प्रेग्नेंसी हॉर्मोन (Potent pregnancy hormones) को बैलेंस करने के लिए एक्सरसाइज करना एक अच्छा विकल्प है। कम सोने या बढ़ती लायब्लिटी की वजह से कुछ महिलाएं डिलिवरी के बाद डिप्रेशन या एंग्जाइटी की शिकार हो जाती हैं। इसलिए ऐसी किसी भी मानसिक परेशानियों से बचने के लिए एक्सरसाइज करने से लाभ मिल सकता है।

    नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस टिप्स (Postpartum Fitness Tips) को फॉलो करें और अगर आप नई मां के लिए पोस्टपार्टम फिटनेस (Postpartum Fitness) से जुड़े किसी तरह के सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो हमें फेसबुक पेज पर कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने की पूरी कोशिश करेंगे।

    प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिला अपना ख्याल तो रखती हैं, लेकिन प्रेग्नेंसी के बाद भी गर्भवती महिला को अपने विशेष ख्याल रखना चाहिए। इसलिए नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक करें और एक्पर्ट से जानें न्यू मदर के लिए खास टिप्स यहां।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    excercise after delivery:https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/HealthyLiving/postnatal-exercise /Accessed on 11/04/2022

    Benefits of Postnatal Exercises https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC1595006/ Accessed on 11/04/2022

    What are some of the benefits of exercise for postpartum women? https://www.acog.org/Patients/FAQs/Exercise-After-Pregnancy?IsMobileSet=false/Accessed on 11/04/2022

    Benefits of Postnatal Exercises https://www.cdc.gov/physicalactivity/basics/pregnancy/index.htm/Accessed on 11/04/2022

    Exercise After Pregnancy/https://www.acog.org/womens-health/faqs/exercise-after-pregnancy?utm_source=redirect&utm_medium=web&utm_campaign=int/Accessed on 11/04/2022

    Postnatal exercise/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/postnatal-exercise/Accessed on 11/04/2022

    Summary of International Guidelines for Physical Activity Following Pregnancy/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4134098/Accessed on 11/04/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड