home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

सेक्स के बारे में सोचते रहना नहीं है कोई बीमारी, ऐसे कंट्रोल में रख सकते हैं अपनी फीलिंग्स

सेक्स के बारे में सोचते रहना नहीं है कोई बीमारी, ऐसे कंट्रोल में रख सकते हैं अपनी फीलिंग्स

हर व्यक्ति की सेक्शुअल डिजायर और सेक्शुअल प्लेजर का पैमाना अलग-अलग हो सकता है। किसी की सेक्शुअल डिजायर या सेक्स ड्राइव कम, तो किसी की ज्यादा होती है। लेकिन आमतौर पर सेक्स की अधिक चाह को भारतीय समाज में अच्छा नहीं माना जाता। यही वजह है कि यदि किसी व्यक्ति को बार-बार सेक्स की इच्छा होती है, तो इसे लेकर वह खदु ही गिल्टी फील करने लगता है। अधिक सेक्शुअल डिजायर यानी सेक्स की ज्यादा चाह या सेक्स के बारे में सोचते रहने वाले व्यक्ति के लिए ही अंग्रेजी में हॉर्नी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

क्या है हॉर्नी सेक्स?

हॉर्नी सेक्स के संदर्भ में इस्तेमाल होने वाला एक शब्द है, जिसका मतलब होता है सेक्स की अधिक चाह। यदि आप सेक्स के बारे में ज्यादा सोचते हैं तो आपको हॉर्नी माना जाएगा। लेकिन परेशान मत होइए यह बिल्कुल सामान्य है। हां, इसकी वजह से यदि आप अपने काम पर ध्यान नहीं दे पाते हैं, तो आपको अपना माइंड डाइवर्ट करने की जरूरत है, लेकिन सिर्फ इसलिए गिल्टी फील करने या बुरा महसूस करने की जरूरत नहीं है कि आप सेक्स के बारे में ज्यादा सोच रहे हैं या अधिक कामोत्तेजित हो रहे हैं।आइए जानते हैं आप कैसे खुद को इस स्थिति के लिए तैयार कर सकते हैं।

और पढ़ें: सेक्स से लगता है डर? हो सकता है जेनोफोबिया

अपनी भावनाओं को स्वीकारें

हॉर्नी होकर सेक्स करना या हॉर्नी होना यदि आपको पसंद है या आपकी कामेच्छा दूसरों से अधिक है, तो इस भावना को छुपाने की बजाय स्वीकार करें। हो सकता है कई बार सेक्स की अधिक चाह खुद आपके लिए भी ध्यान भटकाने वाली हो, लेकिन चाहे जो हो आप यौन संबंध बनाने के बारे में अधिक सोचते हैं, इस सच को स्वीकार करना जरूरी है। इसके लिए आप निम्न काम कर सकते हैं:

अपने जैसे और लोगों के बारे मे पढ़ें या देखें

आप ऐसी किताबें या टीवी शो देख सकते हैं, जिसमें किसी किरदार की सेक्शुअल डिजायर आप जैसी ही हो। इससे आप खुद को लेकर थोड़े सहज हो जाएंगे और आपको अपनी ही भावनाओं से गिल्ट फीलिंग नहीं होगी, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप पॉर्न देखें। सेक्स को लेकर पॉजिटिव बातें करने वाली किताबें पढ़ें या टीवी शो देखें।

और पढ़ें: जानें क्यों महिलाओं में होती है कम सेक्स ड्राइव की समस्या?

अपनी भावनाएं शेयर करें

पार्टनर से या अपने किसी विश्वसनीय दोस्त से इस मुद्दे पर बात करें कि आपके दिमाग में सेक्स को लेकर किस तरह के विचार आते हैं। जैसे हॉर्नी होना या सेक्स करने का अधिक मन करना इत्यादि। आपको सामने वाले से क्या बात करनी है और किन मुद्दों पर चर्चा करनी है, यह पहले ही तय कर लें। यदि अपने पार्टनर से बात करनी है तो उन्हें खुलकर बताएं कि आप किस तरह की सेक्शुअल एक्टिविटीज के बारे में सोचती हैं यानी कैसा सेक्स पसंद है और बिस्तर पर आप क्या ट्राय करना चाहते हैं

मास्टरबेशन

इसे लेकर अधिकांश लोगों के मन में भ्रम है कि यह सही चीज नहीं है, लेकिन विशेषज्ञ मास्टरबेशन को गलत नहीं ठहराते हैं। यदि आप भी हॉर्नी सेक्स के ख्यालों में खोए रहते हैं, तो मास्टरबेशन से आप खुद को थोड़ा सहज और रिलैक्स कर सकते हैं। इससे सेक्शुअल सैटिस्फेकशन तो मिलेगा ही साथ ही आप अपनी बॉडी को लेकर भी सहज हो जाएंगे।

और पढ़ें: मास्टरबेशन के अनोखे शारीरिक और मानसिक लाभ

पुरुषों और महिलाओं में कामोत्तेजना को लेकर मिथक

हॉर्नी सेक्स जैसा शब्द भले ही कुछ लोगों के लिए नया होगा, लेकिन कामेच्छा को लेकर समाज की सोच में कोई नया बदलाव नहीं आया है। आमतौर पर अब भी यही माना जाता है कि पुरुषों की कामेच्छा महिलाएं से अधिक होती है या पुरुष महिलाओं की तुलना में सेक्स के बारे में अधिक सोचते हैं। हालांकि कुछ रिसर्च इस बात से इत्तेफाक रखती हैं, लेकिन इसके साथ अन्य बातों को भी ध्यान में रखने की आवश्यकता है जैसेः

  • हो सकता है कुछ पुरुष सेक्स के बारे में अधिक सोचते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि सभी ऐसे ही होते हैं।
  • महिलाओं की अधिक कामेच्छा के संबंध में बहुत कम रिसर्च की गई है। इसलिए उनकी सेक्शुअल डिजायर पुरुषों से कम होती है ऐसा कहना सही नहीं होगा।
  • हो सकता है पुरुषों की सेक्शुअल डिजायर ज्यादा हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि महिलाओं में कामोत्तेजना कम होती है या वह सेक्स को एंजॉय नहीं करतीं।
  • 2016 की एक रिसर्च के मुताबिक, हेट्रोसेक्शुअल महिलाओं की कामेच्छा अपने पुरुष पार्टनर से अधिक होती है।

क्या हॉर्नी होना या हॉर्नी सेक्स कोई समस्या है?

हॉर्नी होना सामान्य है और इसमें किसी तरह की समस्या नहीं है। लेकिन सेक्स के विचार यदि आप पर बहुत हावी हो रहे हैं या आप सामान्य महसूस नहीं कर रहे, तो आपको विशेषज्ञ से सलाह लेने की जरूरत है।

आमतौर पर हमारे समाज में अभी भी सेक्स के मुद्दे पर खुलकर बात नहीं होती है, इसलिए हॉर्नी होने पर कई लोग गिल्टी फील करते हैं और उन्हें खुद पर शर्म आती है। यदि यह समस्या लंबे समय तक बनी रहती है, तो आपके सेक्सोलॉजिस्ट या थेरेपिस्ट से मिलने की जरूरत है।

और पढ़ें: पुरुषों के लिए सेक्स टिप्स: जानें हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं?

ऐसे करें ध्यान केंद्रित

यदि हॉर्नी सेक्स के विचार आपको अपने काम पर ध्यान केंद्रित नहीं करने देते हैं और आपका दिमाग बहुत डिस्टर्ब हो जाता है, तो आपको काम पर फोकस करने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत है।

स्वीकारें और बाद के लिए रखें

जब भी दिमाग में हॉर्नी सेक्स के ख्याल आए, तो इसे दबाने की कोशिश न करें, बल्कि उसे स्वीकारें और खुद दिमाग में यह बात लाए कि आप इसके बारे में बाद में सोचेंगे। लेकिन ध्यान रहे इसे लेकर शर्म या गिल्टी फील करने की जरूरत नहीं है। अपने विचारों को स्वीकार करने और बाद में उस बारे में सोचने की बात जब आप खुद से करते हैं, तो इससे आप अपने वर्तमान काम पर ध्यान दे पाएंगे।

ब्रेक लें

यदि आप लंबे समय से पढ़ रहे हैं या कोई काम कर रहे हैं, तो हॉर्नी सेक्स के विचार आ सकते हैं। तो बोरियत से बचने और ऐसे विचारों को दूर करने के लिए बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें। चाय/कॉफी पीएं, स्नैक्स खाएं, थोड़ा वॉक करें या किसी से फोन पर बात कर लें। जब आप अपने शरीर को आराम देंगे, तो आपका मानसिक स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा और अनावश्यक विचार नहीं आएंगे।

पेपर पर लिख लें

कल रात को पार्टनर के किस एक्ट से आपको सबसे अधिक संतुष्टि मिली थी और आज रात आप क्या नया ट्राय करना चाहते हैं? जैसे विचार यदि बार-बार दिमाग में आ रहे हैं और आप काम पर फोकस नही कर पा रहे हैं,तो एकांत में जाकर इन विचारों को एक पेपर पर लिख लें और सावधानी से अपने पास रखें और रात में पार्टनर को दे दें। विचारों को लिख लेने से दिमाग शांत हो जाएगा।

थोड़ा म्यूजिक सुनें

जब भी काम से ध्यान भटकने लगे या बार-बार सेक्स का विचार आए, तो सॉफ्ट म्यूजिक सुन लें। यह आपको रिलैक्स करेगा और ध्यान भटकाने वाले विचारों से दूर रखेगा।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और हॉर्नी सेक्स से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड