home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

हॉर्नी होना क्या है? क्या यह कोई समस्या है?

हॉर्नी होना क्या है? क्या यह कोई समस्या है?

आधुनिक समाज में सेक्स से जुड़ा एक शब्द काफी प्रचलित हो रहा है और वो है ‘हॉर्नी’ (Horny)। हॉर्नी मैन, हॉर्नी वुमैन, हॉर्नी सेक्स (Horny Sex) आदि के शीर्षकों से वीडियो की भरमार है। लेकिन यह हॉर्नी शब्द का आखिर मतलब क्या है? हॉर्नी शब्द और अराउजल (Arousal) शब्द का क्या कोई संबंध है या फिर क्या हॉर्नी सभी होते हैं या फिर कुछ लोग ही होते हैं? क्या हॉर्नी होना कोई समस्या है और अगर ऐसा है तो इसे कैसे ठीक किया जा सकता है? इन्हीं सभी सवालों का जवाब इस आधुनिक दुनिया के पास नहीं है, लेकिन मन में कहीं न कहीं यह सवाल जरूर आ जाते हैं। तो चलिए इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

हॉर्नी (Horny) होना क्या है?

दरअसल, हॉर्नी होना कामुकता यानी सेक्शुअलिटी की पहली सीढ़ी है। किसी भी यौन संबंध से पहले व्यक्ति के दिमाग में सेक्स से संबंधित विचार या भावनाएं आती हैं, जो उसके शरीर में संवेदनशीलता और सेंसेशन उत्पन्न करती हैं। इन्हीं संवेदनशीलता और सेंसेशन के परिणामस्वरूप महसूस हुई भावना को हॉर्नी होना कहा जाता है। हॉर्नी शब्द को आसान भाषा में अराउजल यानी कामोत्तेजना भी कहा जाता है। काम के लिए कामोत्तेजना बहुत जरूरी है, जो कि काफी सामान्य है। अभी तक आप यह बात अच्छी तरह समझ गए होंगे कि, कामोत्तेजित यानी हॉर्नी हर कोई होता है।

और पढ़ें : लेस्बियन सेक्स कैसे होता है? जानें शुरू से लेकर अंत तक

हॉर्नी (Horny) होना कब माना जाता है परेशानी?

सेक्स से बिल्कुल पहले या उसके दौरान कामोत्तेजित होना काफी आम है। इसी तरह अचानक या कभी भी सेक्स से संबंधित विचार या ख्याल आ जाना भी सामान्य बात है। यह हर किसी व्यक्ति के साथ होता है और इसमें कोई बुराई नहीं है। लेकिन, कामोत्तेजना तब समस्या बनने लगती है, जब कि आप बार-बार और लगातार सेक्स के बारे में सोचने या यौन संबंध बनाने के लिए उत्तेजित रहने लगते हैं। इससे आपकी दैनिक गतिविधियों और वर्क लाइफ पर काफी बुरा असर पड़ता है और आप किसी और प्रोडक्टिव काम में दिमाग नहीं लगा पाते हैं।

अत्यधिक कामोत्तेजना के क्या कारण होते हैं?

अत्यधिक कामोत्तेजना मतलब सेक्शुअल डिजायर का अत्यधिक होना। दरअसल, इसके पीछे कई या मिश्रित कारण हो सकते हैं। जैसे-

हाइपरसेक्शुअलिटी

हर किसी व्यक्ति के अंदर सेक्शुअल डिजायर यानी कामोत्तेजना होती है और सभी की सेक्स ड्राइव अलग-अलग हो सकती है। वहीं, कुछ लोगों में यह सेक्स ड्राइव इतनी बढ़ी हुई होती है कि वह हर समय सेक्स करने के बारे में सोचते रहते हैं और अन्य कार्यों पर ध्यानकेंद्रित नहीं कर पाते। इस स्थिति को मेडिकल भाषा में हाइपरसेक्शुअलिटी कहा जाता है।

और पढ़ें : सेक्स ऑर्गेज्म फैक्ट्स क्या हैं? क्या आपको है सही जानकारी

कुछ खाद्य पदार्थों के कारण

कुछ खाद्य पदार्थ शरीर में सेक्स ड्राइव बढ़ाने का काम करते हैं। जो लोग जाने-अनजाने में इन खाद्य पदार्थों का अत्यधिक सेवन करते हैं, उन्हें कामोत्तेजना ज्यादा रहती है।

हॉर्मोन

आपकी सेक्स डिजायर यानी लिबिडो बढ़ाने में हॉर्मोन महत्वूपर्ण भूमिका निभाते हैं। पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन का अत्यधिक स्तर उन्हें कामोत्तेजित बनाता है और उनमें सेक्स करने की ज्यादा इच्छा होती है। वहीं महिलाओं में भी हॉर्मोन लिबिडो पर असर डालते हैं

रेड वाइन और कई ड्रग्स

रेड वाइन लोगों को अराउज करने में मदद करती है, यानी वो हॉर्नी महसूस करने लगते हैं। इसी तरह कुछ ड्रग्स भी होते हैं, जो जाने-अनजाने में लेने पर आपकी सेक्स डिजायर और लिबिडो को एकदम बढ़ा देते हैं। जैसे-

  • वियाग्रा (फ्लिबनसेरिना)
  • नाइट्राईट्स
  • एफ्रोडाइजिएक, आदि

और पढ़ें : सेक्स के फायदे हैं लाजवाब, तो एक बार ध्यान दें जनाब

पुरुषों में सेक्स डिजायर बढ़ने के कारण

  1. कई शोध में बताया गया है कि, पुरुष महिलाओं के मुकाबले ज्यादा सेक्स के बारे में सोचते हैं, जिस वजह से वह ज्यादा मास्टरबेट (Masturbation) करते हैं। ज्यादा मास्टरबेट करने से पुरुषों में बार-बार कामोत्तेजना विकसित होती है।
  2. पुरुषों का जननांग शरीर के काफी बाहर तक होता है। जिस वजह से उसके रब व टच होने की संभावना काफी होती है। इन क्रियाओं से पुरुषों के जननांग में मौजूद तंत्रिकाएं सक्रिय हो जाती हैं और सेक्स की इच्छा जागृत करती हैं।

महिलाओं के कामोत्तेजित होने के कारण

  1. प्रेग्नेंसी की वजह से महिलाओं की सेक्स ड्राइव (Sex drive) बढ़ जाती है। यह बदलाव आप गर्भधारण के शुरुआती कुछ दिनों से लेकर कुछ हफ्तों तक देख सकती हैं।
  2. मासिक धर्म के दौरान अलग-अलग चरण में महिलाओं के शरीर में हॉर्मोन का स्तर बदलता रहता है। इसमें ऑव्युलेशन डेट (Ovulation) के आसपास आपके गर्भधारण की संभावनाओं को बढ़ाने के लिए हॉर्मोन में बदलाव होता है और आपकी सेक्स ड्राइव बढ़ जाती है। वहीं कुछ महिलाओं को पीरियड्स से ठीक पहले कामोत्तेजना महसूस होती है और कुछ खुद को पीरियड्स के दौरान ज्यादा कामोत्तेजित महसूस करती हैं।
  3. महिलाओं के पेल्विस में क्लिटोरिस, वजायना और यूरेथ्रा काफी आसपास मौजूद होते हैं। जिस वजह से जब आपका ब्लैडर भर जाता है, तो यह आपके इन संवेदनशील अंगों पर दबाव डालता है, जिसके फल स्वरूप महिलाओं की सेक्स डिजायर बढ़ सकती है।

और पढ़ें : शादी के बाद सेक्स में कैसे लगाएं तड़का, जानें

अत्यधिक सेक्स डिजायर को कम करने के लिए क्या करें?

अगर आप अत्यधिक सेक्स डिजायर का अनुभव करते हैं और हॉर्नी रहते हैं, तो आप निम्नलिखित तरीकों को अपना सकते हैं। जैसे-

  1. वर्कआउट करने से आपकी सेक्स डिजायर बढ़ाने वाले कुछ केमिकल और हॉर्मोन रिलीज होते हैं और आपकी सेक्स ड्राइव (Sex drive) नियंत्रित होने लगती है।
  2. जब भी आपका दिमाग सेक्स के बारे में ज्यादा सोचने लगे, तो कुछ हॉबीज या मनपसंद कार्य करें। जिससे आपका दिमाग किसी और प्रोडक्टिव काम में बिजी हो जाए।
  3. ब्लैडर आपके जननांग पर दबाव डाल सकता है। इसलिए, अगर आप खुद को हॉर्नी फील कर रहे हैं, तो एक बार पेशाब करके देख लें। इससे आपको राहत मिल सकती है।
  4. अगर आप रोजाना सेक्स के बारे में सोच रहे हैं, तो सेक्स करना काफी अच्छा विकल्प हो सकता है। क्योंकि, सेक्स करने से आपका दिमाग फ्री हो पाएगा और आप अन्य कामों में फोकस कर पाएंगे।
  5. इसके अलावा, अगर आप ज्यादा हॉर्नी फील कर रहे हैं, तो मास्टरबेट भी कर सकते हैं। जब तक मास्टरबेशन आपके रिश्तों, शरीर और काम पर बुरा असर नहीं डालता, तबतक यह एक स्वस्थ क्रिया हो सकती है।
  6. हॉर्नी महसूस करने पर आप कुछ स्लो म्यूजिक भी सुन सकते हैं, जो कि आपके मूड को रिलैक्स करने में मदद करता है।
  7. इसके अलावा, योगा और ध्यान लगाना आपके शरीर पर खुद के नियंत्रण को मजबूत करता है और आपमें कामोत्तेजना नियंत्रित होने लगती है।

सेक्स (Sex) से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपका कोई सवाल है, तो कृपया इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What does “horny” mean?/https://www.plannedparenthood.org/learn/teens/ask-experts/in-many-of-the-other-questions-ive-read-a-lot-of-them-mentioned-being-horny-does-it-mean-youre-mad-or-something/Accessed on 26/02/2021

Why Men Are Hot for Sex but Women Warm to It/https://www.aarp.org/home-family/sex-intimacy/info-2014/sexual-desire-and-gender-castleman.html/Accessed on 26/02/2021

Why Men Are Hot for Sex but Women Warm to It – https://www.aarp.org/home-family/sex-intimacy/info-2014/sexual-desire-and-gender-castleman.html – Accessed on 30/6/2020

Patients’ Conceptions of Terms Related to Sexual Interest, Desire, and Arousal – https://www.jsm.jsexmed.org/article/S1743-6095(17)31426-1/fulltext – Accessed on 30/6/2020

 

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/02/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x