home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

पीरियड्स के दौरान सेक्स करना चाहिए या नहीं? जानिए इसके लाभ

पीरियड्स के दौरान सेक्स करना चाहिए या नहीं? जानिए इसके लाभ

पीरियड के दिनों में महिला कई पेट की परेशानियों जैसे कब्जऔर मूड स्विंग्स से गुजरती है। यह अधिकतर महिलाओं के लिए असुविधाजनक समय होता है। इस दौरान सेक्स एक ऐसी चीज़ है जो दिमाग में सबसे अंत में आती है। पीरियड्स के दौरान सेक्स की बात अजीब लगना स्वभाविक है और इस समय सेक्स करने को लेकर लोगों की राय भी अलग-अलग हो सकती है। कुछ लोग इसके पक्ष में होंगे तो कुछ इसके खिलाफ। ऐसा माना जाता है कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करने के अपने कुछ फायदे हैं लेकिन साथ ही कुछ साइड इफ़ेक्ट भी हैं। यही नहीं, इस समय सेक्स करने से गर्भवती होने की संभावना भी रहती है। अगर आप पीरियड सेक्स बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो हमारे कुछ बेहतरीन टिप्स आजमाना न भूलें।

पीरियड सेक्स के फायदे

पेट की दर्द से राहत

पीरियड्स के दौरान तेज दर्द या ऐंठन होना बेहद सामान्य हैं और अधिकतर महिलाएं इन परेशानियों से गुजरती हैं। ऐसा माना जाता है कि पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से महिलाओं को पेट की समस्याओं जैसे दर्द या ऐंठन आदि से राहत मिलती है। दरअसल इस दौरान सेक्स करने से महिलाओं में उन हार्मोन्स का स्तर बढ़ जाता है जो उन्हें इस दर्द और ऐंठन से छुटकारा दिलाने में सहायक हैं।

और पढ़ें : सेक्स मिस्टेक्स (sex mistakes) : यौन संबंध के समय जाने-अनजाने महिलाएं करती हैं ये 9 गलतियां

पीरियड सेक्स तनाव करे दूर

पीरियड्स में महिलाओं को मूड स्विंग्स का सामना करना पड़ता है। छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा, चिड़चिड़ापन और तनाव आदि भी मासिक धर्म की समस्याएं हैं। लेकिन, पीरियड सेक्स से इन परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है। ऑर्गैज्म द्वारा निकलने वाले एंडोर्फिन तनाव, चिंता या मूड स्विंग्स आदि से छुटकारा दिलाते हैं। इसलिए इस समय सेक्स करने से महिला अच्छा महसूस करती है।

[embed-health-tool-ovulation]

पीरियड की अवधि हो कम

ऑर्गैज्म के कारण खून तेजी से निकलता है जिससे पीरियड की अवधि कम रह जाती है। यानि पीरियड्स जल्दी खत्म हो जाते हैं। कुछ महिलाएं यह भी नोटिस कर सकती हैं कि सेक्स के एक या दो दिन बाद उनके पीरियड रुक गए हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सेक्स से गर्भाशय में सिकुड़ जाता है, जिसके परिणामस्वरूप पीरियड के दौरान ब्लीडिंग जल्दी होती है और इसलिए पीरियड्स सामान्य से जल्दी रूक जाता है।

और पढ़ें :World Sexual Health Day: यौन संबंध बनाने से पहले और बाद जरूर करें इन नियमों का पालन

अधिक मजेदार

अध्ययन के अनुसार पीरियड्स के दौरान सेक्स करने का कोई बुरा प्रभाव नहीं होता। बल्कि, इसे लोग अधिक एन्जॉय करते हैं। इस दौरान महिलाओं के हार्मोन्स हाई लेवल पर होते हैं। ऐसा भी माना जाता है कि कुछ महिलाएं पीरियड्स के दौरान सेक्स को अधिक पसंद करती हैं।

प्राकृतिक लुब्रीकेंट

पीरियड्स के समय सेक्स करने से किसी लुब्रिकेंट की आवश्यकता नहीं पड़ती। क्योंकि, इस दौरान निकलने वाला खून एक प्राकृतिक लुब्रिकेंट का काम करता है।

माइग्रेन से छुटकारा

कई महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान सिरदर्द या माइग्रेन जैसी परेशानियां भी रहती हैं। एक शोध की मानें तो पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से माइग्रेन जैसी समस्या से भी छुटकारा मिल सकता है।

साइड इफ़ेक्ट

  • पीरियड्स के दौरान सेक्स करने का सबसे बड़ा साइड इफ़ेक्ट है इस दौरान होने वाली गंदगी या झंझट। दरअसल अधिकतर लोगों को इस समय में सेक्स करना गंदा लगता है क्योंकि पीरियड में निकलने वाला खून असुविधाजनक महसूस कराता है। इसके साथ ही बिस्तर, कपड़ों आदि पर भी खून के धब्बे लग सकते हैं। यही सबसे बड़ा कारण है कि महिलाएं इस दौरान सेक्स करने से हिचकती हैं।
  • दूसरा पीरियड्स के समय सेक्स करने से सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज (STD) होने की संभावना बढ़ जाती है। इसके साथ ही वैजाइनल यीस्ट इन्फेक्शन या अन्य इन्फेक्शन भी इस दौरान हो सकते हैं।
  • पीरियड सेक्स करना पुरुषों की यौन इच्छा को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। यही नहीं पीरियड के खून और गंध के कारण पुरुष अस्थायी रूप से नपुंसक भी हो सकता है। इसके अलावा, महिलाओं की खराब शारीरिक और मनोवैज्ञानिक अवस्था जैसे दर्द, ऐंठन, तनाव, माइग्रेन सिरदर्द, निम्न रक्तचाप आदि के कारण महिलाएं सेक्स में कम दिलचस्पी दिखाती हैं।

और पढ़ें :Anal Sex: एनल सेक्स से जुड़े मिथक और उनके पीछे का सच

पीरियड्स के दौरान सेक्स और गर्भावस्था

लोगों के मन में यह धारणा है कि अगर पीरियड सेक्स किया जाए, तो गर्भवती होनी की संभावना नहीं होती जो बिलकुल गलत है। इसलिए अगर आपने पीरियड में बिना किसी सुरक्षा के सेक्स किया हो और अगर आप गर्भवती नहीं होना चाहती हैं तो तुरंत बर्थ कंट्रोल पिल लें। हालांकि, इस दौरान सेक्स करने से गर्भवती होने की संभावना कम रहती है लेकिन इससे पूरी तरह से इंकार नहीं किया जा सकता।

कारण

पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से आप गर्भवती कैसे हो सकती हैं, यह जानने के लिए आपको ओव्युलेशन पीरियड के बारे में पता होना चाहिए। ओवयूलेशन पीरियड अर्थात वो समय जब ओवरी अंडे रिलीज़ करती है। ऐसा अधिकतर पीरियड शुरू होने के दो हफ्ते पहले होता है यानी पीरियड साइकिल के बारहवें और इक्कीसवें दिन के बीच। कई बार महिलाओं को इस ओवयूलेशन पीरियड के समय भी ब्लीडिंग हो जाती है। जिसे महिलाएं पीरियड समझ लेती हैं। महिलाएं ओवयूलेशन में होने वाली ब्लीडिंग को पीरियड समझ कर ऐसा मान लेती हैं कि वो इस समय सेक्स करेंगी तो गर्भवती नहीं होंगी। लेकिन, अगर इस ओवयूलेशन पीरियड्स के दौरान सेक्स कर लिया जाता है तो गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए सावधानी बरतें। अगर प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती तो कंडोम या अन्य गर्भनिरोधक उपायों का प्रयोग अवश्य करें।

और पढ़ें :First time Sex: महिलाओं के पहली बार सेक्स के दौरान होने वाले शारीरिक बदलाव

पीरियड्स के दौरान सेक्स करने के लिए कुछ टिप्स

डॉक्टर भी पीरियड सेक्स के लिए मना नहीं करते। अगर महिला और पुरुष दोनों इस सेक्स के लिए राजी हैं तो इसे करने में कोई समस्या नहीं है। यह पूरी तरह से प्राकृतिक और दोनों के लिए सुरक्षित है।

  • अगर आप बेडशीट पर दाग धब्बों के लिए चिंतित हैं तो तौलिये का प्रयोग करें या फिर शावर में इस सेक्स का मज़ा लें।
  • पीरियड सेक्स करते समय कंडोम के इस्तेमाल से इंफेक्शन से भी बचा जा सकता है, जिसका खतरा आमतौर पर पीरियड्स के दौरान ज्यादा होता है। इसके इस्तेमाल से आप गंदगी से भी बच सकते हैं।
  • अगर आप पीरियड सेक्स के बारे में सोच रहे हैं तो आप इस बात का ध्यान रखें कि महिलाएं इस दौरान अधिक पुजिशन्स ट्राई नहीं करना चाहेंगी। क्योंकि, इस दौरान महिला के गुप्तांग बेहद संवेदनशील होते हैं। जिससे महिलाएं सेक्स के दौरान दर्द महसूस कर सकती हैं।
  • अगर आप पीरियड्स के दौरान सेक्स का आनंद लेना चाहते हैं तो अपने पार्टनर से खुलकर बात करें। अधिकतर महिलाएं इस दौरान सेक्स करने को आरामदायक नहीं मानती। लेकिन, अगर आप उनसे इस बारे में बात करेंगे और एक दूसरे के साथ इसके बारे में अपनी भावनाओं को शेयर करेंगे। तो इसका मजा दुगुना हो सकता है।
  • पीरियड सेक्स के दौरान सबसे आवश्यक है सफाई का ध्यान रखना। इसलिए, इस सेक्स से पहले और बाद में अपने गुप्तांगों को अच्छे से साफ़ कर लें। ताकि आप इस दौरान होने वाली गंदगी से कुछ हद तक बच सके और साथ ही इंफेक्शन या यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) फ़ैलाने वाले वायसर से भी दूर रहें।

ऊपर दिए गए टिप्स अपनाने के बाद और इस दौरान सेक्स करते हुए सावधानियां बरत कर आप पीरियड सेक्स का पूरा आनंद उठा पाएंगे।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Anu sharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 16/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x