home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

एक स्वस्थ सेक्स की अवधि क्या है? जानिए, कैसे बढ़ाएं सेक्स ड्यूरेशन

एक स्वस्थ सेक्स की अवधि क्या है? जानिए, कैसे बढ़ाएं सेक्स ड्यूरेशन

यदि हम आपसे कहें कि एक स्वस्थ सेक्स की अवधि क्या है? तो आप इससे क्या समझते हैं। स्वस्थ सेक्स की अवधि का अर्थ है कि, एक साधारण व्यक्ति कितने समय तक सेक्स कर सकता है, जिससे यह पता लगाया जा सके कि उसके सेक्स की अवधि न तो बहुत अधिक है, न ही बहुत कम है, बल्कि एक स्वस्थ सेक्स की अवधि है। इसी को स्वस्थ सेक्स की अवधि या गुड सेक्स ड्यूरेशन भी कह सकते हैं। दरअसल आजकल के युवाओं में सेक्स अवधि को लेकर अक्सर बात होती रहती है। पुरूष भी अपने सेक्स की अवधि को लेकर काफी परेशान रहते हैं। कई बार आपकी सेक्स अवधि अधिक होती है, लेकिन आपकी साथी आपसे संतुष्ट नहीं हो पाती है। जिससे आपको यह महसूस होने लगता है कि, आपकी सेक्स की अवधि काफी कम है। लेकिन आपको बता दें, कि महिलाओं की जरूरतें पुरूषों की तुलना में अधिक होती हैं। इसका यह तात्पर्य नहीं है कि, आपके सेक्स ड्यूरेशन में अधिक कमी है। यदि आपको भी अपने सेक्स की अवधि को लेकर शंका है, तो चलिए आज आपकी यह शंका भी दूर कर देते हैं। दरअसल आज इस आर्टिकल में हम स्वस्थ सेक्स की अवधि के बारे में बात करने वाले हैं। तो ये पूरा आर्टिकल पढ़कर जरूर जानें कि, स्वस्थ सेक्स की अवधि क्या है?

स्वस्थ सेक्स की अवधि क्या है?

  • एक अध्ययन से यह पता चलता है कि, वजाइनल सेक्स अधिक से अधिक 7 से 13 मिनट तक चलता है।
  • सर्वे के अनुसार, जो वजाइनल सेक्स एक से दो मिनट तक चलते हैं, यह बहुत लो सेक्स ड्यूरेशन माना जाता है।
  • सर्वे के अनुसार, जो वजाइनल सेक्स 10 से 30 मिनट तक चलते हैं, वो बहुत अधिक सेक्स ड्यूरेशन माने जाते हैं।
  • सर्वे के अनुसार, जो वजाइनल सेक्स 7 से 13 मिनट तक चलते हैं, वह वास्तव में स्वस्थ सेक्स की अवधि मानी जा सकती है।

[mc4wp_form id=”183492″]

और पढ़ें : पार्टनर को पसंद है आक्रामक सेक्स (Rough Sex), तो काम आएंगी ये टिप्स

आपकी सेक्स अवधि आपके सेक्स के तरीके पर निर्भर करता है

आपकी सेक्स अवधि, एक स्वस्थ सेक्स की अवधि है या नहीं यह आपके सेक्स करने के तरीके पर निर्भर करता है। इससे जुड़े कई अध्ययन इंट्रीगल इजेकुलेटरी लेटेंसी टाइम (IELT) पर आधारित हैं। आईईएलटी उस समय से जुड़ा है, जब वजाइना में प्रवेश के दौरान आपके लिंग में स्खलन होता है। बहुत से लोग सेक्स को केवल वजाइनल सेक्स के रूप में परिभाषित करते हैं। आपको बता दें कि, यह आपकी एक धारणा है जबकि सेक्स को कई तरह से एन्जॉय करके अपनी सेक्स अवधि को बढ़ाया जा सकता है। इसके साथ ही सेक्स को और अच्छी तरह से एन्जॉय किया जा सकता है। आमतौर पर पुरूषों से अधिक महिलाओं के लिए सेक्स अवधि ज्यादा मायने रखती है। लेकिन एक मिनट में आर्गेज्म प्राप्त करने के अलावा भी आपके पास सेक्स करने के कई तरीके हैं, जिसमें स्पर्श करना,ओरल सेक्स, वजाइनल सेक्स, एनल सेक्स या इन सभी के संयोजन के माध्यम से भी ऑर्गेज्म प्राप्त किया जा सकता है।

इस तरह आसानी से आपकी सेक्स अवधि बढ़ सकती है। सेक्स केवल इंटरकोर्स का नाम नहीं है। सेक्स को कई तरह से परिभाषित किया गया है, जिसमें आप हर कुछ दिन पर कुछ नया ट्राई कर सकते हैं। इसके अलावा कई चीजों को एक साथ करके एक स्वस्थ्य सेक्स की अवधि प्राप्त करके स्वंय को और अपने साथी को संतुष्ट कर सकते हैं।

और पढ़ें : A-Z सेक्स टर्मिनोलॉजी: सेक्स टर्म करते हैं परेशान तो ये डिक्शनरी आ सकती है काम

क्या अधिक सेक्स अवधि होना बहुत जरूरी है?

सबसे पहले तो बता दें, सेक्स में कुछ हो या न हो सेक्स में प्लेजर होना सबसे ज्यादा जरूरी है। इसके अलावा यदि बात करें सेक्स अवधि के बारे में, तो सेक्स अवधि कितनी होनी चाहिए। यह हर व्यक्ति की अपनी पसंद पर निर्भर करता है। कुछ व्यक्ति एक लंबी सेक्स अवधि को प्राथमिकता देना पसंद करते हैं। वो चाहते हैं, उनका संभोग बहुत लंबे समय तक चले। तो वहीं कुछ जल्दी और बहुत अग्रेसिव होकर सेक्स करना पसंद करते हैं। तो यह प्रत्येक व्यक्ति की अपनी पसंद पर निर्भर करता है, कि उसके लिए सेक्स अवधि कितना आवश्यक है।

किन लोगों के लिए सेक्स अवधि बढ़ाना हो सकता है मुश्किल

साधारण रूप से सेक्स की अवधि बढ़ाने के कुछ तरीके आपकी मदद कर सकते हैं। लेकिन कई बार कुछ ऐसी स्थिति होती हैं, जिनमें सेक्स अवधि बढ़ाना वाकई बहुत मुश्किल हो जाता है। जो इस प्रकार से हैं।

बढ़ती उम्र

जैसे-जैसे आप बूढ़े होते हैं, आपके सेक्स अवधि कम हो सकती है। ऐसे में सेक्स अवधि बढ़ाना बहुत मुश्किल कार्य होता है। बढ़ती उम्र के साथ इरेक्शन होना और उसको बनाए रखना काफी मुश्किल होता है। इसके अलावा बढ़ती उम्र के साथ हार्मोनल परिवर्तन वजाइना को ड्राई बना देते हैं। तो वहीं आपकी कामेच्छा में कमी आ जाती है।

जेनिटकल शेप

सेक्स अवधि न बढ़ाने के कारण में आपके जननांगों का आकार भी शामिल है। एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने बताया कि लिंग का आकार सेक्स अवधि को बढ़ाने में कई बार मुख्य भूमिका निभाता है। लंबी सेक्स अवधि के लिए स्टैमिना के साथ-साथ लिंग साइज जरूरी है,लेकिन लिंग के शेप में परिवर्तन करना एक मुश्किल कार्य है। इसी कारण से लिंग के शेप को सेक्स अवधि न बढ़ा पाने का एक कारक माना जा सकता है।

यौन रोग

कई ऐसे यौन रोग होते हैं, जिनके चलते सेक्स अवधि नहीं बढ़ाई जा सकती है। उदाहरण के लिए, शीघ्रपतन, आपको तेजी से ऑर्गेज्म दिला सकता है जितना आप पसंद कर सकते हैं। लेकिन यह आपके साथी के लिए अच्छी खबर नहीं है। जिन लोगों को इरेक्शन में काफी समय लगता है, उन लोगों को ऑर्गेज्म प्राप्त करने में काफी समय लगता है।

और पढ़ें : ये 7 आरामदायक सेक्स पोजीशन (पुजिशन) जिसे महिलाएं करती हैं पसंद

यदि आप स्वस्थ सेक्स की अवधि पाना चाहते हैं, तो ध्यान दें..

यदि आप स्वस्थ सेक्स की अवधि पाना चाहते हैं, तो ये तकनीकें आपकी मदद कर सकती हैं। इसलिए नीचे दिए गए प्वॉइंट्स को ध्यानपूर्वरक पढ़ें।

सीमेन स्टॉप-स्टार्ट तकनीक

यह एक तकनीक है, जिसमें सेक्स के दौरान जब आप बहुत उत्तेजित हो जाते हैं और आपको लगता है कि आब ऑर्गेज्म प्राप्त करने वाले हैं। तो इस तकनीक के दौरान आपको ऑर्गेज्म से पहले ही उसी पुजिशन में रूक जाना है। यदि आप अपनी गति यानि इंटरकोर्स जारी रखते हैं, तो आप ऑर्गेज्म प्राप्त कर लेंगे। इसलिए आपको उसके पहले ही स्टॉप हो जाना है। जब आपकी उत्तेजना थोड़ी शांत हो जाए तो आप दोबारा इंटरकोर्स या अपनी पुरानी गति को शुरू कर सकते हैं। यह एक तकनीक है, जिसे सेक्स की अवधि बढ़ाने के लिए आसानी से उपयोग किया जा सकता है। वैसे ये तकनीक उपयोगी भी है।

जॉन्सन और मास्टर्स स्क्वीज तकनीक

जॉनसन और मास्टर स्क्वीज तकनीक एक ऐसी तकनीक है, जो लो सेक्स ड्यूरेशन में बहुत अधिक उपयोग किया जाने वाला तकनीक माना जाता है।यह बेहद आसान और उपयोगी टेक्निक हैं। इसको करने के लिए आपको साधारण रूप से सेक्स के लिए तैयार होना है। जब आप पूरी तरह से सेक्स के लिए तैयार होंगे। अपने साथी के साथ सेक्स करते हुए जब आप बहुत अधिक उत्तेजित हो जाएंगे। जब आपको ऐसा लगने लगे कि आप ऑर्गेज्म के बेहद करीब हैं, तो अपनी गति को पूरी तरह से रोक दें। अब आप अपने लिंग के फ्रेनुलम (frenulum) पर रखें। आपको बता दें कि, फ्रेनुलम आपके लिंग के ऊपरी भाग (हेड) को स्किन के अगले भाग से जोड़ती है। इसको करने के लिए आप अपनी उंगलियों को रिज के दोनों ओर एक दूसरे के थोड़ा करीब रखें। अब आपको अपने लिंग को कम से कम 4 सेकंड के लिए स्क्वीज करना है। जब आप ये कर लें इसके बाद 15-30 सेकंड इंतजार करें। अब आप अपने लिंग को दोबारा से उत्तेजित करना शुरू करें। आपको बता दें कि, आप इस जॉनसन और मास्टर स्क्वीज तकनीक को कम से कम 4 या 5 बार दोबारा कर सकते हैं, इसका उपयोग स्खलन नियंत्रण का अभ्यास करने के लिए भी किया जा सकता है।

और पढ़ें : तरह-तरह के कॉन्डम फ्लेवर से लगेगा सेक्स लाइफ में तड़का

कम सेक्स अवधि में ऑर्गेज्म कैसे पाएं?

सेक्स अवधि बढ़ाने की तरह ही कम सेक्स अवधि में भी ऑर्गेज्म आसानी से पाया जा सकता है। यह भी आपके लिए बहुत मजेदार हो सकते हैं।आइए जानते हैं, कम सेक्स अवधि में ऑर्गेज्म पाने के लिए क्या करें।

अपने आपको स्पर्श करें

यदि आपकी सेक्स अवधि कम है, तो आपको बहुत अच्छा ऑर्गेज्म दिलाने के लिए मास्टरबेशन सबसे अच्छा उपाय हो सकता है। क्योंकि आपकी बॉडी को आपसे बेहतर कोई नहीं जानता है। इसलिए कम समय में ऑर्गेज्म पाने के लिए मास्टरबेशन बहुत बेहतर उपाय है। इसके लिए आपको अपने बॉडी को बहुत प्यार से स्पर्श करना शुरू करना है।

यदि आपका साथी पहले से ही आपको छू रहा है, तो आप स्वंय को किसी और जगह पर स्पर्श करना शुरू करें जैसे-

  • अपने क्लाइटोरिस को धीरे-धीरे रब करना स्टार्ट करें।
  • अपने हिप्स को तेजी से दबाएं।
  • अपने निपल्स को प्रेस करें या खींचे।
  • आप अपने साथी के साथ एक साथ मास्टरबेशन करके तेजी से चरमोत्कर्ष पा सकते हैं।

अपने साथी को बताएं कि आप क्या चाहते हैं

कम समय में ऑर्गेज्म पाने के लिए आपको अपने विचारों को खुलकर अपने साथी के सामने रखना बेहद आवश्यक होता है। अपने साथी से खुले तौर पर बताएं कि, आप क्या चाहते हैं। आपका जी स्पॉट क्या है, जिससे वो आपको जल्दी ऑर्गेज्म दिलाने में मदद कर सके।

पुजिशन ट्राई करें

यदि आप कोई ऐसा पुजिशन जानते हैं जिससे आपको बहुत जल्दी ऑर्गेज्म आ सकता है। जो बाकी पुजिशन के मामले में ज्यादा असरदार है तो तेजी से ऑर्गेज्म प्राप्त करने के लिए पुजिशन को बदल दें। अपने साथी से बताएं कि, आप किस पुजिशन में जल्दी ऑर्गेज्म प्राप्त कर सकते हैं।

नोट: जैसा कि, आपको ऊपर की लाइनों में भी बताया गया है कि सेक्स की अवधि प्रत्येक व्यक्ति की अपनी पसंद पर निर्भर करता है। प्रत्येक व्यक्ति की पसंद एक जैसी नहीं हो सकती है। इसलिए आपको सेक्स अवधि पर नहीं बल्कि सेक्स में प्लेजर पर ध्यान देना चाहिए। यदि आपकी सेक्स अवधि कम हैं,तो यहां उसके लिए भी कई बेहतर उपाय दिए गए हैं। यदि आप सेक्स अवधि बढ़ाना चाहते हैं,तो उसके लिए भी उपाय दिया गया है। सेक्स अवधि बढ़ाने के लिए कभी भी अपनी इच्छा अनुसार किसी दवा या सप्लीमेंट का सेवन न करें।

ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Good sexual intercourse lasts minutes, not hours, therapists say https://news.psu.edu/story/189340/2008/03/31/research/good-sexual-intercourse-lasts-minutes-not-hours-therapists-say  Accessed on 31-08-2020

5 steps to having good sex on your first time https://www.avert.org/news/5-steps-having-good-sex-your-first-time Accessed on 31-08-2020

TIPS FOR VAGINAL INTERCOURSE https://www.optionsforsexualhealth.org/facts/sex/tips-for-vaginal-intercourse/ Accessed on 31-08-2020

What happens the first time you have sex? https://www.plannedparenthood.org/learn/teens/sex/virginity/what-happens-first-time-you-have-sexAccessed on 31-08-2020

Sex and breathlessness https://www.blf.org.uk/support-for-you/sex-and-breathlessness/suggestionsAccessed on 31-08-2020

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 08/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड