आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

लाइकेन प्लानस : इस स्किन कंडिशन के बारे में जानते हैं आप? इसको ठीक होने लग जाते हैं वर्षों

    लाइकेन प्लानस : इस स्किन कंडिशन के बारे में जानते हैं आप? इसको ठीक होने लग जाते हैं वर्षों

    लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) एक इंफ्लामेटरी स्किन कंडिशन है। जिसमें हाथों और पैरों में खुजलीदार, गैर-संक्रामक चकत्ते और दाने हो जाते हैं। यह छोटे, सामने से सपाट, गुलाबी या बैंगनी रंग के दाने होते हैं। कई स्किन स्पेशलिस्ट का मानना है कि यह ऑटोइम्यून डिजीज (Autoimmune disease) हो सकती हैं। ये 30 से अधिक उम्र वालो में अधिक पाए जाते हैं। इस आर्टिकल में इस स्किन कंडिशन के कारण, लक्षण और ट्रीटमेंट्स के बारे में जानकारी दी जा रही है।

    लाइकेन प्लानस (Lichen Planus)

    इसके लक्षण साइट की कंडिशन पर निर्भर करते हैं। पहला अटैक कई बार कुछ हफ्तों से लेकर महीनों तक रह सकता है। अगर ये ठीक होने के बाद फिर से होता है तो एक साल तक का समय लग सकता है। कुछ क्षेत्रों में दिखाई देने पर लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) के लक्षण निम्न प्रकार के हो सकते हैं।

    स्किन पर होने वाले लाइकेन प्लानस (Lichen Planus on skin)

    सबसे ज्यादा कलाई, कोहनी, एड़ी और लोअर बैक इससे प्रभावित होती है। हालांकि बॉडी का दूसरा हिस्सा भी प्रभावित हो सकता है। पिंडली थिक लाइकेन प्लानस से प्रभावित हो सकती हैं, जबकि बगल में रिंग के आकार का लाइकेन प्लानस हो सकता है।

    ओरल लाइकेन प्लानस (Oral lichen planus)

    लाइकेन प्लानस

    • गालों के अंदर सफेद धारियां दिखाई देती हैं। मसूड़े, जीभ और होंठ भी प्रभावित हो सकते हैं।
    • धारियां आमतौर पर दर्दनाक या खुजलीदार नहीं होती हैं।
    • सफेद धारियां ठीक नहीं होती हैं।
    • मसूड़ों में भी लालिमा और फफोले हो सकते हैं ।
    • गले में खराश के छाले विकसित और पुनरावृत्ति हो सकते हैं।
    • व्यक्ति की स्वाद आना कम हो सकता है, और कुछ लोगों को मेटालिक टेस्ट का अनुभव हो सकता है।
    • व्यक्ति का मुंह सूख सकता है।
    • मसालेदार भोजन, कुरकुरे भोजन और टमाटर उत्पाद लक्षणों को और खराब कर सकते हैं।

    पीनस पर लाइकेन प्लानस (Lichen planus of the penis)

    • लिंग के हेड के चारों ओर बैंगनी या सफेद अंगूठी के आकार के धब्बे दिखाई देते हैं।
    • उनमें आमतौर पर खुजली नहीं होती है।
    • लक्षण थ्रश के समान होते हैं, और अक्सर लोग इन्हें पहचानने में गलती करते हैं।

    वजायना और वल्वा में लाइकेन प्लानस (Lichen planus of the vagina and vulva)

    वजायना में सफेद धारियां विकसित होती हैं, जो मुंह में दिखाई देने वाली धारियों के ही समान होती हैं। उनमें आमतौर पर न तो खुजली होती है और न ही दर्द। त्वचा लाल हो सकती है। इनर लिप्स पर लाइकेन प्लानस, या लेबिया मिनोरा, और योनि के प्रवेश द्वार पर हो सकते हैं, और प्रभावित चमकदार म्यूकस मेम्ब्रेन लाल और कच्ची होती है। लेबिया मिनोरा भी सिकुड़ सकता है और एक दूसरे या आउटर लिप्स से चिपक सकता है, जिसे लेबिया मेजोरा भी कहा जाता है। लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) वजायना के भीतर तक प्रभावित कर सकता है। गंभीर स्थिति में वजायना से ब्लीडिंग भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में सेक्स दर्दनाक, कठिन या असंभव हो सकता है।

    और पढ़ें: महिलाओं के प्यूबिक एरिया में ड्राय स्किन होने के कारण और बचने के तरीके जानें

    लाइकेन प्लानस फोलिकेरिस (Lichen planus follicaris)

    यह उन क्षेत्रों को प्रभावित करता है जिनमें बाल उगते हैं, जैसे खोपड़ी। इसमें लालिमा और जलन हो सकती है। इस प्रकार का लाइकेन प्लानस कभी-कभी बालों के झड़ने का कारण बनता है, जो स्थायी हो सकता है। अत्यंत दुर्लभ मामलों में, लाइकेन प्लानस एनस, ईयर कैनाल (Ear canal), पलकों (Eyelids) और इसोफेगस (Esophagus) में हो सकता है।

    लाइकेन प्लानस के कारण (Causes of Lichen planus)

    लाइकेन प्लानस के सही कारण स्पष्ट नहीं हैं। कई लोग मानते हैं कि यह ऑटोइम्यून डिसऑर्डर है। जिसमें इम्यून सिस्टम गलती से हेल्दी टिशूज पर अटैक करता है। इस कंडिशन के बारे में इतनी जानकारी है कि यह हेरिडिटी कंडिशन नहीं है। यह कोई संक्रामक रोग भी नहीं है। यह कैंसर का भी रूप नहीं है। यह पोषण से संबंधित बीमारी भी नहीं है। हालांकि मसालेदार, खट्टे जूस और टमाटर से बने उत्पाद लक्षणों को बिगाड़ सकते हैं अगर मुंह में घाव हैं। इसके अलावा इसके कुछ अन्य कारण हो सकते हैं। जो निम्न प्रकार हैं।

    मेडिकेशन्स (Medications)

    लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) कुछ दवाओं की प्रतिक्रिया के रूप में हो सकता है, जिनमें शामिल हैं:

    • बीटा-ब्लॉकर्स (Beta blockers), जो हृदय संबंधी समस्याओं के इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली सामान्य दवाएं हैं
    • एंटी इंफ्लामेटरी मेडिकेशन्स
    • गठिया के इलाज के लिए इंजेक्शन
    • मलेरिया रोधी दवाएं
    • थियाजाइड मूत्रवर्धक
    • फेनोथियाजिन

    दूसरे सब्सटेंस (Other substances)

    कलर फोटोग्राफिक डेवलपमेंट में उपयोग किए जाने वाले कैमिकल्स और लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) के बीच में एक लिंक है।

    और पढ़ें: स्किन के लिए कोजिक एसिड (Kojic Acid) के फायदे और नुकसान दोनों जानें

    मरक्युरी टूथ फीलिंग्स (Mercury tooth fillings)

    कुछ स्टडीज में मरक्युरी टूथ फीलिंग्स और लाइकेन प्लानस के बीच संबंध पाया गया है।

    लाइकेन प्लानस का निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis Lichen Planus)

    त्वचा की जांच करने और दाने की पहचान करने के बाद, डॉक्टर इसकी अपीरिएंस के आधार पर लाइकेन प्लानस का निदान करने में सक्षम हो सकता है। कुछ मामलों में, एक डॉक्टर को एक पंच बायोप्सी (Punch biopsy) करने की आवश्यकता हो सकती है, जिसमें एक गोलाकार उपकरण त्वचा की गहरी परतों का एक छोटा सा नमूना निकालता है। अक्सर घाव को बंद करने के लिए टांके लगाने पड़ते हैं। लाइकेन प्लानस के निदान की पुष्टि करने के लिए स्किन सैम्पल की माइक्रोस्कोप के जरिए जांच की जाती है।

    यदि डॉक्टर अभी भी अनिश्चित है, तो रोगी को त्वचा विशेषज्ञ, या स्किन स्पेशलिस्ट के पास भेजा जा सकता है। ओरल लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) वाले व्यक्ति के लिए, एक दंत चिकित्सक या मौखिक विशेषज्ञ आमतौर पर बायोप्सी के जरिए निदान तक पहुंचेंगे।

    और पढ़ें: Telangiectasia: स्किन से जुड़ी समस्या ‘टेलंगीक्टेसिया’ क्या है?

    लाइकेन प्लानस का इलाज (Lichen Planus treatment)

    यह एक क्यूरेबल कंडिशन नहीं है। जब यह स्किन को प्रभावित करता है तो यह अपने आप कुछ महीनों में ठीक हो जाता है। हालांकि यह पूरी तरह ठीक होने में 2 साल तक ले सकता है। ट्रीटमेंट रैशेज क्लियर होने तक जारी रह सकता है। माइल्ड कैसेज में ट्रीटमेंट की जरूरत नहीं होती है, लेकिन डॉक्टर के पास चेकअप के लिए जाना पड़ता है। इसके ट्रीटमेंट में निम्न शामिल हो सकते हैं।

    और पढ़ें: Psoriasis And Skin Cancer: सोरायसिस और स्किन कैंसर से कैसे रहें दूर?

    ट्रीटमेंट ऑप्शन्स (Treatment options)

    • खुजली को कम करने के लिए एंटीहिस्टामाइन का उपयोग किया जा सकता है।
    • लक्षणों को कम करने के लिए पराबैंगनी (यूवी) प्रकाश के साथ फोटोथेरेपी का भी उपयोग किया जा सकता है।
    • सूजन और लालिमा को कम करने में स्टेरॉयड क्रीम या मलहम बहुत प्रभावी हो सकते हैं। दवा को खुजली वाले स्थानों पर लगाया जाता है। जब धब्बे का रंग भूरा या धूसर हो जाए तो उपचार बंद कर देना चाहिए।
    • कभी-कभी, क्रीम या मलहम में ऐसी दवाएं हो सकती हैं जो प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया को कम करती हैं।
    • अधिक गंभीर लक्षणों वाले लोगों के लिए, या जब क्रीम और मलहम पर्याप्त रूप से प्रभावी नहीं होते हैं, तो स्टेरॉयड की गोलियां मौखिक रूप से ली जा सकती हैं।
    • मुंह में होने वाले लाइकेन प्लानस के लिए, यदि माउथ अल्सर के लक्षण असहज हो जाते हैं, तो डॉक्टर स्टेरॉयड लोजेंज या माउथवॉश लिख सकते हैं।
    • म्यूकस मेम्ब्रेन के लाइकेन प्लानस के लिए, उपचार करना मुश्किल हो सकता है और इसमें वर्षों लग सकते हैं। डॉक्टर कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स corticosteroids को गोलियों के रूप में लेने के लिए लिख सकते हैं।

    यह अच्छी बात है कि मौखिक लाइकेन प्लानस कुछ समस्याओं का ही कारण बनता है और आमतौर पर इसे उपचार की आवश्यकता नहीं होती है। ओरल पेन वाले लोगों में ओरल हाइजीन खराब हो सकती है, जबकि इस दौरान अच्छी ओरल हाइजीन रखना अधिक महत्वपूर्ण है।

    उम्मीद करते हैं कि आपको लाइकेन प्लानस (Lichen Planus) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 04/05/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: