Skin Blemishes: स्किन ब्लेमिशेस क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और बचाव!

    Skin Blemishes: स्किन ब्लेमिशेस क्या है? जानिए इसके कारण, लक्षण और बचाव!

    यहां ऊपर शेयर की गई त्वचा साफ एवं निखरी हुई है। हर किसी की यही चाहत होती है कि उनकी त्वचा भी ग्लोइंग हो, लेकिन कई बार स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) त्वचा के अनहेल्दी या पुअर स्किन की ओर इशारा करती है। चेहरे पर दाग धब्बे को एक विशेष टर्म भी दिया है स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes)। आज इस आर्टिकल में स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) से जुड़ी जानकारी शेयर करने जा रहें हैं।

    • स्किन ब्लेमिशेस क्या है?
    • स्किन ब्लेमिशेस के लक्षण क्या हैं?
    • स्किन ब्लेमिशेस के प्रकार कितने हैं?
    • फेस पर ब्लेमिशेस के कारण क्या हैं?
    • फेशियल ब्लेमिशेस के रंग कैसे होते हैं?
    • क्या स्किन ब्लेमिशेस की समस्या अपने आप दूर हो सकती है?
    • स्किन ब्लेमिशेस से बचाव कैसे संभव है?
    • स्किन ब्लेमिशेस का इलाज कैसे किया जाता है?

    चलिए अब स्किन ब्लेमिशेस से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें : Skin Lesions: स्किन लीजन क्या है? जानिए स्किन लीजन का कारण, इलाज और घरेलू उपाय

    स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) क्या है?

    स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes)

    चेहरे पर किसी भी तरह के दाग धब्बों को ब्लेमिशेस (Blemishes) कहते हैं। ब्लेमिशेस शरीर की त्वचा पर किसी भी हिस्से पर नजर आ सकती है। स्किन ब्लेमिशेस की समस्या सामान्य है और यह किसी को भी हो सकती है, लेकिन स्किन ब्लेमिशेस के लक्षण को समझकर इससे बचा जा सकता है।

    और पढ़ें : Hyaluronic Acid For Skin: जानिए शरीर एवं त्वचा के लिए हाईऐल्युरोनिक एसिड के 10 फायदे!

    स्किन ब्लेमिशेस के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • स्किन टोन (Uneven skin tone) अलग-अलग होना।
    • त्वचा पर खुजली (Itching) या स्किन इरिटेशन (Skin irritation) की समस्या होना।
    • स्किन पर ब्राउन (Brown) या लाल पैच (Reddish patches) की समस्या होना।
    • स्किन में सूजन (Inflammation of the skin) की समस्या होना।
    • पसट्यूल्स (Pustules) की समस्या होना।
    • स्किन ड्राय (Dryness of the skin) होना।

    इन लक्षणों के अलावा स्किन ब्लेमिशेस के लक्षण (Skin Blemishes symptoms) अलग भी हो सकते हैं। त्वचा संबंधी परेशानी अगर ज्यादा हो तो इसे इग्नोर नहीं करना चाहिए।

    और पढ़ें : Blind Pimple: ब्लाइंड पिंपल से छुटकारा पाने के लिए 7 घरेलू उपाय एवं 9 टिप्स कर सकते हैं फॉलो!

    स्किन ब्लेमिशेस के प्रकार कितने हैं? (Types of Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस अलग-अलग तरह के होते हैं, जो इस प्रकार हैं-

    • एक्ने मार्क्स (Acne Marks)
    • ब्लैकहेड्स Blackhead)
    • व्हाइटहेल्ड (Whitehead)
    • पपुल्स (Papules)
    • एक्ने पसट्यूल्स (Acne Pustules)
    • नोड्यूलर एक्ने (Nodular Acne)
    • सिबेसियस सिस्‍ट (Sebaceous Cysts)
    • पिग्मेंटेड ब्लेमिशेस (Pigmented Blemishes)
    • एज स्पॉट्स (Age Spots) या लिवर स्पॉट्स (Liver Spots)
    • मेलस्मा स्पॉट्स (Melasma Spots)

    स्किन से जुड़ी इन अलग-अलग प्रॉब्लेम को स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) के अंतर्गत रखा गया है। चलिए अब जानते हैं ब्लेमिशेस के कारण के बारे में, क्योंकि कारणों को समझकर इलाज करना आसान होता है और इससे बचाव में भी मदद मिलती है।

    और पढ़ें : हाइड्रोजन पेरोक्साइड और स्किन कंडिशन: क्यों स्किन के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए?

    फेस पर ब्लेमिशेस के कारण क्या हैं? (Cause of Skin Blemishes)

    फेस पर ब्लेमिशेस के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • जेनेटिक्स (Genetics) से जुड़ी समस्या होना।
    • सूर्य की रोशनी (Sun Exposure) के संपर्क है।
    • त्वचा पर अत्यधिक ऑयल (Excess Oil Production) का निर्माण होना।
    • हॉर्मोनल (Hormonal) इम्बैलेंस होना।
    • हेल्दी डायट (Healthy Diet) फॉलो नहीं करना।
    • कुछ विशेष दवाओं (Certain Medications) का सेवन करना।
    • एलर्जी (Allergies) की समस्या होना।
    • स्किन केयर रूटीन (Improper Skin Care Routine) ठीक ना होना।

    इन कारणों की वजह से फेस पर ब्लेमिशेस की समस्या हो सकती है।

    और पढ़ें : Natural Ways To Increase Glutathione: जानिए ग्लूटाथियोन के लिए नैचुरल तरीका और इसके फायदे!

    फेशियल ब्लेमिशेस के रंग कैसे होते हैं? (Colour of Facial Blemishes)

    फेशियल ब्लेमिशेस के रंग लाल (Red), सफेद (White), भूरा (Browne) या काले (Black) रंग के हो सकते है।

    क्या स्किन ब्लेमिशेस की समस्या अपने आप दूर हो सकती है? (Do Blemishes Go Away On Their Own)

    स्किन ब्लेमिशेस यानी जब चेहरे पर दाग-धब्बों की बात आती है, तो प्रायः इनसे कोई तकलीफ नहीं होती है और यह अपने आप ठीक हो सकती है। हालांकि कुछ केसेस में स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) को ठीक होने में ज्यादा समय लग सकता है।

    और पढ़ें : Non Cancerous Skin Tags: जानिए नॉन कैंसरस स्किन टैग से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी!

    स्किन ब्लेमिशेस से बचाव कैसे संभव है? (Tips to prevent Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस से बचाव के लिए निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे:

    • हेल्दी हाइजीन हेबिट्स (Healthy Hygiene Habits) बनायें।
    • हेल्दी डायट (Healthy Diet) प्लान फॉलो करें।
    • सूर्य की तेज रोशनी (Sun Protection) से बचें।
    • स्किन केयर रूटीन (Proper Skin Care Routine) फॉलो करें।
    • नियमित रूप से एक्सफोलिएट (Exfoliate Regularly) फॉलो करें।
    • बॉडी को हाइड्रेट (Hydration) रखें।
    • चेहरे को बार-बार छूने (Avoid Touching Your Face) की आदत ना डालें।
    • तरल पदार्थों (Liquid drinks) का सेवन करें।
    • स्मोकिंग (Smoking) ना करें।

    इन टिप्स को फॉलो करने से स्किन ब्लेमिशेस से बचाव संभव है। हालांकि अगर परेशानी ज्यादा है, तो डॉक्टर से कंसल्ट करें। स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) को ध्यान में रखकर इलाज करते हैं।

    और पढ़ें : Food for Clear Skin: साफ त्वचा के लिए फूड में शामिल कर सकते हैं ये 5 खाद्य पदार्थ!

    स्किन ब्लेमिशेस का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस का इलाज निम्नलिखित तरीकों से किया जाता है। जैसे:

    • टॉपिकल मेडिकेशन (Topical Medications)
    • ओरल मेडिकेशन (Oral Medications)
    • केमिकल पील्स (Chemical Peels)
    • लेजर रिसर्फेसिंग (Laser Resurfacing)

    नोट: स्किन ब्लेमिशेस के कारण (Cause of Skin Blemishes) को ध्यान में रखते हुए स्किन ब्लेमिशेस का इलाज किया जाता है। प्रायः स्किन ब्लेमिशेस क्रीम के इस्तेमाल से दूर हो जाती है, लेकिन कुछ केसेस में दवाओं या सर्जरी की मदद ली जा सकती है।

    और पढ़ें : सैलीसिलिक एसिड और ग्लाइकोलिक एसिड: ब्यूटी प्रोडक्टस में प्रयोग होने वाले यह एसिड किस तरह से हैं फायदेमंद, जानिए

    स्किन ब्लेमिशेस या फोड़े फुंसी से बचाव के लिए क्या करें? (Tips to prevent Boils and Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes)

    स्किन ब्लेमिशेस या फोड़े फुंसी से बचाव के लिए निम्नलिखित टिप्स फॉलो करें। जैसे:

    • स्किन को हमेशा क्लीन (Clean) रखें
    • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
    • इम्यून पावर (Immune power) को मजबूत बनाय रखें।
    • त्वचा पर फोड़े फुंसी (Boils) होने पर हाथों से ना छुएं।
    • त्वचा पर हुए दाग-धब्बों पर हानिकारक केमिकल लगाने से बचें।

    इन टिप्स को फॉलो करें स्किन प्रॉब्लेम (Skin problem) से बचें।

    नोट: त्वचा से जुड़ी किसी भी परेशानी को दूर करने के लिए इलाज (Skin treatment) में काफी वक्त भी लग सकता है। इसलिए इलाज के दौरान सब्र रखें और डॉक्टर द्वारा दिए गए सलाह का पालन भी ठीक तरह से करें।

    हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल में स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) से जुड़ी जानकारी आपके लिए लाभकारी होंगी। इसलिए अगर आप लंबे वक्त से स्किन ब्लेमिशेस (Skin Blemishes) के शिकार हैं और यह परेशानी दूर नहीं हो रही है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से कंसल्ट करें। डॉक्टर बीमरी की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए मेडिसिन प्रिस्क्राइब कर सकते हैं। स्किन प्रॉब्लेम (Skin problem) से जुड़ी किसी भी जानकारी के लिए आप हैलो स्वास्थ्य के त्वचा संबंधी समस्याओं पर क्लीक करें।

    आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज के बारे में जानें संपूर्ण जानकारी नीचे दिए इस वीडियो लिंक को क्लिक कर। आयुर्वेदिक ब्यूटी एक्सपर्ट पूजा नागदेव खास जानकारी साझा कर रहीं हैं आयुर्वेदिक ब्यूटी रेमेडीज की, जिससे आप आसानी से अपना सकती हैं और चेहरे पर एक्ने के दाने या अन्य दाग-धब्बों को दूर करने के उपाय।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 26/04/2022

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement