home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

हर्बल बाथ के फायदे: बॉडी रिलैक्स से लेकर मेंटल स्ट्रेस तक

हर्बल बाथ के फायदे: बॉडी रिलैक्स से लेकर मेंटल स्ट्रेस तक

हर्बल बाथ आज के समय में कुछ लोगों के लिए फैशन हो सकता है, लेकिन आपको ये जानकार हैरानी होगी कि प्राचीन समय में भी एशिया समेत अन्य देशों में हर्बल बाथ काफी प्रचलित था। आज के समय की तरह पहले बाथ शॉप या शॉवर जेल नहीं मौजूद थे। ऐसे में लोग अपने शरीर की त्वचा को सुदंर बनाए रखने और उसे निखारने के लिए औधषियों से ही नहाया करते थे। इसके अलावा, इतिहास पर बनी कुछ खास फिल्मों में आपने राजा-रानियों को कई तरह के फूलों से नहाते हुए भी देखा ही होगा।

यह भी पढ़ेंः लाल और सफेद रंग के स्ट्रेच मार्क्स क्या नॉर्मल होते हैं?

हर्बल बाथ कितना प्रभावी है?

हर्बल बाथ बेहद प्रभावी साबित हो सकता है। इससे बॉडी को रिलैक्स होने के साथ ही, मानसिक तनाव को भी कम करने में काफी मदद मिल सकती है। सामान्य तौर पर हम सभी जानते हैं कि हल्के गुनगुने पानी से नहाने से हमारा शरीर काफी फ्रेश फील करता है। क्योंकि, गर्म पानी तनाव भरी नसों को आराम पहुंचाने में मदद करता है। इसी तरह अगर गरम पानी में कुछ हर्ब मिला दी जाए, तो ये सोने पर सुहागा हो सकता है।

हम सब को पता है कि हर्ब यानी औषधियां शरीर के लिए फायदेमंद होती हैं। विभिन्न प्रकार की हर्ब हमारे शरीर को रिलैक्स करती हैं। हर्ब या जड़ी-बूटी के फायदों के कारण ही इनका यूज बहुत बढ़ गया है। जिन लोगों को अभी तक हर्बल बाथ के फायदे के बारें में जानकारी नहीं है, उनके लिए हर्बल बाथ के फायदे एक नई बात हो सकती है, लेकिन हर्ब के गुणों को जानने वाले इसका यूज अकसर किया करते हैं। अगर आपको अभी तक हर्बल बाथ के फायदे के बारे में जानकारी नहीं है, तो आप इस आर्टिकल के माध्यम से हर्बल बाथ के फायदे और कैसे इसका इस्तेमाल कर सकते हैं इसकी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

कैसे लें हर्बल बाथ?

हर्बल बाथ के फायदे पाने के कई तरीके हो सकते हैं। हर्बल बाथ के फायदे सिर्फ किसी एक औषधि से नहीं, बल्कि तरह-तरह औषधियों से मिल सकते हैं तो आइए जानते हैं हर्बल बाथ के फायदे के लिए इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: बिना ब्रा पहने कॉन्फिडेंट कैसे फील कर सकती हैं? जानें ब्रा से जुड़े मिथ

हर्बल बाथ के फायदे पाने के लिए कैसे करें इनका इस्तेमाल?

वैसे तो हर्बल बाथ लेना कोई कठिन काम नहीं है, लेकिन जो लोग इसे पहली बार लेना चाहेंगे, हो सकता है कि उन्हें यह थोड़ा मुश्किल काम लगे।

  • सबसे पहले नहाने के टब में गर्म पानी भरें।
  • अब आप जिस भी हर्ब को इस्तेमाल करना चाहते हैं, उसे गर्म पानी से भरे बाथटब में डाल दें।
  • गर्म पानी वाले बाथटब में कम से कम एक मुट्ठी भर हर्ब डालना चाहिए।
  • हर्बल बाथ के तौर पर मार्केट में आपको अलग-अलग तरह के हर्बल आसानी से मिल सकते हैं। जिसमें सबसे ज्यादा हर्बल टी का इस्तेमाल किया जाता है।
  • ये हर्बल टी सामान्य टी बैग की ही तरह होते हैं, हालांकि आकार में ये थोड़े बड़े होते हैं। ये खासतौर पर त्वचा को रिलैक्स देने के लिए ही बनाए जाते हैं।
  • गर्म पानी से हर्ब डालने के बाद लगभग पांच मिनट के लिए उसे ऐसा ही रहने दें ताकि हर्ब गर्म पानी में घुलने लगें।
  • अब इसके बाद आप चाहें, तो इस बाथ टब में कुछ मिनटों के लिए बैठ भी सकते हैं या फिर सीधे इससे नहा भी सकते हैं।

हर्बल बाथ के फायदे के लिए आप ये ऑप्शन भी कर सकते हैं ट्राई

होप्स हॉपर हर्ब्स (Hops Hoppers Herbs)

होप्स हॉपर हर्ब्स ये उन लोगों के लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है, जिन्हें नींद न आने की समस्या होती है। होप्स हॉपर हर्ब्स से नहाने के बाद नींद न आने की समस्या दूर की जा सकती है।

यह भी पढ़ेंः ब्रा का टाइप क्या दर्शाता है महिला का व्यक्तित्व? जानें यहां

अदरक पाउडर

अदरक पाउडर को नहाने के पानी में मिलाकर नहाने से आपके शरीर के सभी हिस्सों में खून का संचार बढ़ता है। जिससे शरीर के सभी अंगों के कार्य करने की क्षमता में भी सुधार आता है।

कैमोमाइल

कैमोमाइल का इस्तेमाल एक औषधि के रूप में काफी अधिक मात्रा में किया जाता है। इसका इस्तेमाल खास तौर पर दर्द से राहत पाने के लिए किया जा सकता है। इस जड़ी-बूटी के साथ स्नान करने से आपको शरीर में होने वाले दर्द से राहत मिल सकती है और यह कुछ कीटों के काटने के प्रभाव को भी कम कर सकता है।

डंडेलियन फूल (Dandelion Flowers)

यह फूल आपकी त्वचा को प्रोटेक्ट करने में काफी लाभकारी साबित हो सकता है और सर्दियों में होने वाली त्वचा की समस्याओं से भी यह राहत दिला सकता है।

पुदीना

यह आपकी त्वचा को एक्साइट करने का काम करता है और घाव को जल्दी से ठीक करने में मदद करता है। इसके अलावा, हर्बल बाथ के फायदे के तौर पर मिंट बाथ आपके शरीर को ठंडा बनाए रखने में भी मदद कर सकता है।

अजमोद

यह त्वचा के लिए एक प्रभावी जड़ी- बूटी है। अगर शरीर में कोई घाव है तो इसके साथ स्नान करने से वो जल्दी भर जाएगा।

रोजमेरी

अगर मूड कुछ उखड़ा हुआ है तो आप गुनगुने पानी में रोजमेरी डालकर स्नान कर सकते हैं। ये आपके मूड को रिलैक्स करने का काम करेगा।

लैवेंडर

यह आपकी नसों को आराम देता है और साथ ही आपकी त्वचा में कसावट लाता है।

चमेली

यह आपके मूड को ठीक करता है और आपकी त्वचा में चमक लाता है जिससे त्वचा जवां दिखती है।

नीलगिरी

यह बंद फेफड़ों को खोलने में मदद करती है, जिससे सांस लेने में सुधार होता है।

यह भी पढ़ेंः अपनी मेकअप किट में जरूर रखें ये 10 जरूरी चीजें

हर्बल बाथ कब नुकसान पहुंचा सकता है?

ऐसे लोग जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है, उनके लिए हर्बल बाथ काफी लाभकारी साबित हो सकता है। क्योंकि, गर्म पानी में नहाने से ब्लड प्रेशर में कमी आ जाती है और यह बॉडी को रिलैक्स करने में भी मदद करता है लेकिन, अगर आपको लो ब्लड प्रेशर की समस्या है, तो आपको हर्बल बाथ से परहेज करना चाहिए क्योंकि यह आपके बीपी को और भी ज्यादा कम कर सकता है।

अब तो आप समझ गए हाेंगे कि हर्बल बाथ कितना फायदेमंद हो सकता है तो देर किस बात की, चलिए आप भी हर्बल बाथ की तैयारी कर लीजिए और बॉडी को रिलैक्स होने दीजिए। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकली सलाह या उपचार की सिफारिश नहीं करता है। अगर इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो कृपया इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

[mc4wp_form id=”183492″]

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The Benefits of Tea Baths. http://www.integrativelongevity.org/blog/the-benefits-of-tea-baths. Accessed on 19 May, 2020.

Chapter 18Herbal Treatment for Dermatologic Disorders. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK92761/. Accessed on 19 May, 2020.

Scientific Evidence-Based Effects of Hydrotherapy on Various Systems of the Body. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4049052/. Accessed on 19 May, 2020.

Herbal bathing: an analysis of variation in plant use among Saramaccan and Aucan Maroons in Suriname. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/29544521. Accessed on 19 May, 2020.

Aromatic Herbal Baths of the Ancients. http://cms.herbalgram.org/herbalgram/issue57/article2449.html?ts=1589871890&signature=a722f061211098b6a587d1e1cad866f6. Accessed on 19 May, 2020.

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 28/05/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड