home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

जानें शरीर को डिटॉक्स करने के घरेलू उपाय

जानें शरीर को डिटॉक्स करने के घरेलू उपाय

कहा जाता है कि बॉडी को डिटॉक्स करने के घरेलू उपायों के साथ खास प्रकार की डायट या फिर कुछ खास खाद्य पदार्थ का सेवन कर शरीर से टॉक्सिन को निकाला जा सकता है। ताकि शारीरिक परेशानी दूर होकर वजन कम किया जा सके, लेकिन हमारे शरीर का निर्माण या फिर इसकी खासियत है कि बिना किसी महंगे फूड सप्लिमेंट का सेवन किए बगैर ही यह खुद ब खुद शरीर से टॉक्सिन को निकाल देता है। प्राकृतिक तरीकों से भी शरीर से टॉक्सिन दूर किया जा सकता है। आइए इस आर्टिकल में हम जानते हैं डिटॉक्सिफिकेशन से जुड़ी भ्रांतियों के साथ ऐसी तकनीक जिससे शरीर से विशैले पदार्थ/टॉक्सिन को निकाला जा सकता है।

डिटॉक्सिंग से जुड़ी सामान्य भ्रांति

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय को जानने के पहले डिटॉक्सिंग से जुड़ी भ्रांति को जानना बेहद ही जरूरी है। डिटॉक्स डायट को अपनाकर शरीर से टॉक्सिन को हटाकर स्वस्थ रहने के साथ वजन कम किया जा सकता है। ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमें डिटॉक्स करने की क्षमता होती है जैसे विटामिन, मिनरल, चाय सहित अन्य का सेवन कर शरीर बॉडी डिटॉक्स किया जा सकता है। डिटॉक्स डायट उसे कहते हैं जिससे हम शरीर के विशैले पदार्थ को निकालते हैं। विशैले खाद्य पदार्थ में पॉपुलेंट्स, सिंथेटिक कैमिकल्स, हेवी मेटल्स हो सकते हैं। यह प्रोसेस्ड फूड में भी होते हैं।

हमारे शरीर में मौजूद लिवर, किडनी, डायजेस्टिव सिस्टम, स्किन और लंग्स की खासियत है कि यह खुद ब खुद ही शरीर से टॉक्सिन को निकाल देते हैं। बॉडी डिटॉक्स के लिए जैसे हमारा शरीर काम कर सकता है वैसा डिटॉक्स डायट नहीं कर सकते हैं। ऐसे में जरूरी है कि नैचुरल डिटॉक्सीफिकेशन सिस्टम को ही सुधारा जाए।

यह भी पढ़ें : कहीं आपके शरीर के साथ सेहत को भी न बिगाड़ दे खाने की लत

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: शराब का कम सेवन करें

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में सबसे पहले यदि कोई शराब का सेवन करता है तो इसका सेवन कम किया जा सकता है। शराब का 90 फीसदी हमारे लिवर की शक्तियों को कम करता है। शराब जब लिवर में जाती है तो एक प्रकार का एंजाइम्स उत्पन्न करती है इस कारण कैंसर की बीमारी होने वाले कई कैमिकल्स भी उत्पन्न हो जाते हैं। उसे एसेटेलिडिहाइड (acetaldehyde) कहते हैं। यह एक प्रकार का टॉक्सिन है, हमारा लिवर शरीर के लिए घातक पदार्थ एसीटेट (acetate) तैयार करता है जो आगे चलकर पूरे शरीर में फैल जाता है।

वहीं कई शोध यह भी बताते हैं कि शराब का कम मात्रा में सेवन करने से फायदा होता है, हमारी हार्ट की हेल्थ अच्छी होती है। वहीं शराब का अत्यधिक सेवन बीमारी का कारण बनता है, जिसके कारण हमारा लिवर खराब हो सकता है, जिसे फैट बिल्डअप, लिवर में सूजन या घाव बन सकते हैं। यदि इस प्रकार की दिक्कत होती है तो उस स्थिति में हमारा लिवर सामान्य काम नहीं कर पाता है, खासतौर से वह अपना काम भी सामान्य रूप से नहीं कर पाता, जैसे वेस्ट को फिल्टर करने के साथ शरीर से टॉक्सिन को भी नहीं निकाल पाता है। बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय के लिए जरूरी है कि यदि आप शराब का अत्यधिक सेवन करते हैं तो ऐसा न करें। वहीं यदि आप सेवन करते भी हैं तो महिलाएं एक ड्रिंक व पुरुष दो ड्रिंक रोजाना ले सकते हैं, इससे अधिक सेवन स्वास्थ्य के लिए घातक है।

यह भी पढ़ें : शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाकर कोरोना वायरस से करनी होगी लड़ाई, लेकिन नींद का रखना होगा खास ध्यान

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: सोने पर दें ध्यान

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में जरूरी है कि आप क्वालिटी नींद लें। शरीर को डिटॉक्स करने के लिए जरूरी है कि रोजाना अच्छी नींद लें। सोने से हमारा दिमाग रिचार्ज होता है वहीं यादाश्त शक्ति अच्छी होती है। एक खास वेस्ट प्रोडक्ट बिटा एमलॉयड (beta amyloid) को भी हटाने में मदद करता है, यदि इसे न हटाया गया तो एल्जाइमर की बीमारी हो सकती है।

यदि कोई नींद नहीं लेता है तो उस स्थिति में टॉक्सिन्स बढ़ते जाते हैं और शरीर के कई अंग को प्रभावित कर सकते हैं। पूरी नींद न लेने से कई छोटे व बड़े दुष्परिणाम हो सकते हैं। जैसे स्ट्रेस, गुस्सा, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज, टाइप 2 डायबिटीज और ओबेसिटी यानि मोटापे के शिकार हो सकते हैं। अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है कि रोजाना कम से कम सात से लेकर नौ घंटे की नींद हर किसी को लेनी ही चाहिए। यदि आपको सोने में किसी प्रकार की परेशानी आए तो आपका लाइफस्टाइल जिम्मेदार हो सकता है। ऐसे में मोबाइल और कंप्यूटर का कम से कम इस्तेमाल कर बेड पर जाकर अच्छी नींद लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें : काफी गहरा पड़ता है डिप्रेशन का नींद पर असर, जानिए इसे दूर करने के तरीके

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में पानी पीना शामिल कर सकते हैं। पानी आपकी प्यास बुझाने के साथ काफी कुछ कर सकता है। बता दें कि यह शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने के साथ, जोइंट में लूब्रिकेंट्स को बढ़ाता है, पाचन शक्ति बढ़ाने के साथ शरीर में न्यूट्रीएंट्स को एब्सॉर्ब करता है। शरीर से वेस्ट प्रोडक्ट को निकाल डिटॉक्सिफाई करता है। सामान्य शब्दों में पेशाब के द्वारा शरीर से टॉक्सिन को निकाल देता है।

हमारे शरीर में लगातार सेल्स बनते रहते हैं और न्यूट्रीएंट्स टूटकर एनर्जी में तब्दील होते हैं। बता दें कि शरीर का यह प्रोसेस वेस्ट को निकालने में मददगार साबित होता है। शरीर से यूरिया और कार्बन डाई ऑक्साइड को निकालने में पानी का अहम रोल है। पानी का सेवन करने से पेशाब के रास्ते, सांस लेने से और पसीने के द्वारा यह हानिकारक पदार्थ आसानी से निकल जाते हैं। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन कर बॉडी डिटॉक्स कर सकते हैं। सामान्य तौर पर पुरुषों के लिए रोजाना 125 ओन्स यानि 3.7 लीटर पानी और महिलाओं के लिए 91 ओन्स यानि 2.7 लीटर पानी पीना फायदेमंद रहता है। वहीं आपके डायट, लाइफस्टाइल और काम पर भी पानी की जरूरत बढ़ और घट सकती है।

यह भी पढ़ें : बच्चों को खड़े होना सीखाना है, तो कपड़ों का भी रखें ध्यान

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: प्रोसेस्ड फूड और चीनी का कम सेवन करें

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में चीनी का कम सेवन और प्रोसेस्ड फूड को न खाना शामिल किया जा सकता है। मौजूदा समय में चीनी और प्रोसेस्ड फूड का सेवन करने से काफी बीमारी हो रही है। इसके अत्यधित सेवन से मोटापे के साथ कई क्रॉनिक डिजीज जैसे हार्ट डिजीज, कैंसर और डायबिटीज की बीमारी हो सकती है। वहीं इस बीमारी के कारण हमारे लिवर और किडनी भी सामान्य रूप से काम नहीं कर पाते और शरीर से टॉक्सिन नहीं निकल पाता। उदाहरण के तौर पर शुगर बेवरेजेस का अत्यधिक सेवन से फैटी लिवर की समस्या हो सकती है, वहीं लिवर के काम करने की शक्ति पर असर पड़ सकता है। वहीं जंक फूड का कम से कम सेवन कर बॉडी डिटॉक्सीफिकेशन सिस्टम को स्वस्थ रखा जा सकता है। जंक फूड का इस्तेमाल न कर फ्रूट्स और वेजीटेबल का सेवन कर भी स्वस्थ रहा जा सकता है।

यह भी पढ़ें : क्या गर्भावस्था में मिर्च और अचार खाना मना है?

एंटीऑक्सीडेंट-समृद्ध भोजन करना है फायदेमंद

एंटीऑक्सीडेंट खाद्य पदार्थ का सेवन करने से रेडिकल्स को नष्ट करने वाले सेल्स को बचा सकते हैं। बता दें कि सेलुलर प्रोसेस के लिए हमारा शरीर अपने आप ही कई सेल्स बनाता है। बता दें कि शराब, सिगरेट पीना और खराब खान पान के साथ शरीर में पॉलुटेंट्स बनते हैं इसके लिए शरीर में काफी मात्रा में रेडिकल्स बनने लगता है। समृद्ध भोजन नहीं लेंगे तो उसके कारण डिमेंशिया (dimentia), हार्ट डिजीज, लिवर डिजीज, अस्थमा और कई प्रकार के कैंसर होने की संभावना रहती है। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाने का सेवन कर हम वैसे टॉक्सिन को कम कर सकते हैं, जिसके कारण यह बीमारी हो सकती है। उदाहरण के तौर पर एंटीऑक्सीडेंट फूड में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, सिलेनियम, लाइकोनेपी, लूटीन और जियाएक्सानथीन (zeaxanthin) होता है जिसका सेवन शरीर के लिए फायदेमंद होता है।

यह भी पढ़ें : सोने से पहले क्या खाएंः क्यों रात में दही खाना कर सकता है बीमार

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: प्रीबायोटिक युक्त खाद्य पदार्थ का करें सेवन

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय के लिए हमें वैसे खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए जिसमें प्रीबायोटिक्स की अधिक मात्रा हो। इसका सेवन करने से शरीर में डिटॉक्सीफिकेशन सिस्टम हेल्दी रहता है। वहीं शरीर को हानिकारक कैमिकल्स और टॉक्सिन से बचाता है। प्रीबायोटिक में एक प्रकार का फाइबर होता जो हमारे पेट में अच्छे बैक्टीरिया को भेजता है जिसे प्रोबायोटिक कहा जाता है। वहीं यही अच्छे बैक्टीरिया शरीर में न्यूट्रिएंट्स का निर्माण करते हैं जिसे शॉर्ट चेन फैटी एसिड कहा जाता है। यह शरीर के लिए काफी लाभदायक होते हैं। पेट में मौजूद यह अच्छे बैक्टीरिया ही हमें एंटीबायोटिक, डायट क्वालिटी, मुंह की अच्छे से देखभाल न करने से उत्पन्न समस्याएं से बचाने में मददगार साबित होते हैं। यदि ऐसा न करें तो उस स्थिति में शरीर का डिटॉक्सिफिकेशन सिस्टम कमजोर होने के साथ बीमारी और सूजन की समस्या हो सकती है।

वहीं प्रीबायोटिक युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन कर शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। बता दें कि टमाटर, चुंकदर, केला, प्याज, अदरक और ओट्स खाना फायदेमंद होता है। बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में इन खाद्य पदार्थ का सेवन कर हेल्दी रहा जा सकता है।

यह भी पढ़ें : शरीर पर पॉजिटिव होता है मेडिटेशन का असर

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय: नमक का सेवन कम करें

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में नमक का सेवन कम करके भी शरीर के टॉक्सिन को निकाला जा सकता है। शरीर से टॉक्सिन दूर करने के उपाय में से यह भी एक है। ज्यादा नमक का सेवन करने के साथ भी शरीर में अत्यधिक फ्लूइड बनता है। खासतौर पर तब जब किडनी और लिवर संबंधी समस्या पहले से ही हो। शरीर में अत्यधिक फ्लूइड उस वक्त भी बनता है जब कोई सामान्य से कम पानी पीता है।

बता दें कि जब आप ज्यादा नमक का सेवन करते हैं और उसके साथ सामान्य तौर पर पानी का सेवन नहीं करते हैं तो उस स्थिति में हमारा शरीर एंटीडाइयूरेटिक हार्मोन (antidiuretic hormone) पैदा करता है, जिससे हमें पेशाब नहीं आती है। वहीं शरीर डिटॉक्सीफाइंग भी नहीं कर पाता। पानी का ज्यादा सेवन से शरीर में एंटीडाइयूरिटिक हार्मोन कम निकलता है और यूरिन अच्छे तरह पास होती है।और यूरिन के रास्ते शरीर से वेस्ट प्रो़डक्ट भी निकल जाते हैं। वहीं हमें पोटेशियम युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करना चाहिए। यह सोडियम के इफेक्ट को बैलेंस करने का काम करते हैं। ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमें पोटेशियम होता है उनमें आलू, कद्दू, राजमा, केला और पालक का सेवन करना फायदेमंद होता है। बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में इन खाद्य पदार्थ का सेवन कर हेल्दी रहा जा सकता है।

रेगुलर एक्सरसाइज है फायदेमंद

बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय में रेगुलर एक्सरसाइज करना भी फायदेमंद साबित होता है। बता दें कि नियमित एक्सरसाइज और नियंत्रित वजन होने से हम कई प्रकार की बीमारी से बच सकते हैं, जिनमें टाइप 2 डायबिटीज, हार्ट डिजीज, हाई ब्लड प्रेशर और कई कैंसर शामिल हैं। एक्सरसाइज करने से इंफेक्शन होने पर या घाव आसानी भर जाते हैं। वहीं शरीर में ज्यादा कमजोरी भी बीमारी का कारण बनता है। एक्सरसाइज करने से जहां शरीर के टॉक्सिन को दूर किया जा सकता है वहीं शरीर के कई फंक्शन आसानी से काम करते हैं जो हमें बीमारियों से बचाते हैं। ऐसे में जरूरी है कि सप्ताह में कम से कम 150 से 300 मिनट एक्सरसाइज जरूर करें। तेज चलना, दौड़ना एक्सरसाइज में शामिल है।

यह भी पढ़ें: सिंपल सी दिखने वाली इस सब्जी ‘जुकिनी’ के फायदे जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बॉडी डिटॉक्स के लिए दूसरे टिप्स

माना जाता है कि गर्म पानी पीकर और नींबू पानी पीकर भी शरीर में कई विशैले पदार्थ को निकाला जा सकता है। दिन की शुरुआत गर्म पानी में नींबू का रस मिलाकर सेवन करने से शरीर के कई विशैले पदार्थ निकल जाते हैं। वहीं चाय व काफी का सेवन छोड़ ग्रीन टी का सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। वहीं पैकेड फ्रूट जूस का सेवन छोड़ नैचुरल फलों का सेवन करना चाहिए। अपने साथ पानी का बॉटल हमेशा रखना चाहिए। कई शोध यह भी बताते हैं कि फास्टिंग कर शरीर को डिटॉक्स किया जा सकता है।

इस तरह यहां बताएं बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय से आप बॉडी को नैचुरली डिटॉक्स कर सकते हैं। बॉडी डिटॉक्स के घरेलू उपाय से संबंधित अधिक जानकारी के लिए डाॅक्टरी सलाह लें।

और पढ़ें:

रयूमेटाइड अर्थराइटिस के कारण शरीर के किन अंगों को हो सकता है नुकसान?

नारियल क्यों है शरीर के लिए लाभकारी?

आखिरी सिगरेट पीने के बाद शरीर में शुरू हो जाते हैं ये बदलाव, जानकर रह जाएंगे हैरान

कैलोरी और एनर्जी में क्या है संबंध? जानें कैसे इसका पड़ता है आपके शरीर पर असर

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Satish singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड