सेक्स के बारे में सोचते रहना नहीं है कोई बीमारी, ऐसे कंट्रोल में रख सकते हैं अपनी फीलिंग्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट सितम्बर 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

हर व्यक्ति की सेक्शुअल डिजायर और सेक्शुअल प्लेजर का पैमाना अलग-अलग हो सकता है। किसी की सेक्शुअल डिजायर या सेक्स ड्राइव कम, तो किसी की ज्यादा होती है। लेकिन आमतौर पर सेक्स की अधिक चाह को भारतीय समाज में अच्छा नहीं माना जाता। यही वजह है कि यदि किसी व्यक्ति को बार-बार सेक्स की इच्छा होती है, तो इसे लेकर वह खदु ही गिल्टी फील करने लगता है। अधिक सेक्शुअल डिजायर यानी सेक्स की ज्यादा चाह या सेक्स के बारे में सोचते रहने वाले व्यक्ति के लिए ही अंग्रेजी में हॉर्नी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

क्या है हॉर्नी सेक्स?

हॉर्नी सेक्स के संदर्भ में इस्तेमाल होने वाला एक शब्द है, जिसका मतलब होता है सेक्स की अधिक चाह। यदि आप सेक्स के बारे में ज्यादा सोचते हैं तो आपको हॉर्नी माना जाएगा। लेकिन परेशान मत होइए यह बिल्कुल सामान्य है। हां, इसकी वजह से यदि आप अपने काम पर ध्यान नहीं दे पाते हैं, तो आपको अपना माइंड डाइवर्ट करने की जरूरत है, लेकिन सिर्फ इसलिए गिल्टी फील करने या बुरा महसूस करने की जरूरत नहीं है कि आप सेक्स के बारे में ज्यादा सोच रहे हैं या अधिक कामोत्तेजित हो रहे हैं।आइए जानते हैं आप कैसे खुद को इस स्थिति के लिए तैयार कर सकते हैं।

और पढ़ें: सेक्स से लगता है डर? हो सकता है जेनोफोबिया

अपनी भावनाओं को स्वीकारें

हॉर्नी होकर सेक्स करना या हॉर्नी होना यदि आपको पसंद है या आपकी कामेच्छा दूसरों से अधिक है, तो इस भावना को छुपाने की बजाय स्वीकार करें। हो सकता है कई बार सेक्स की अधिक चाह खुद आपके लिए भी ध्यान भटकाने वाली हो, लेकिन चाहे जो हो आप यौन संबंध बनाने के बारे में अधिक सोचते हैं, इस सच को स्वीकार करना जरूरी है। इसके लिए आप निम्न काम कर सकते हैं:

अपने जैसे और लोगों के बारे मे पढ़ें या देखें

आप ऐसी किताबें या टीवी शो देख सकते हैं, जिसमें किसी किरदार की सेक्शुअल डिजायर आप जैसी ही हो। इससे आप खुद को लेकर थोड़े सहज हो जाएंगे और आपको अपनी ही भावनाओं से गिल्ट फीलिंग नहीं होगी, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप पॉर्न देखें। सेक्स को लेकर पॉजिटिव बातें करने वाली किताबें पढ़ें या टीवी शो देखें।

और पढ़ें: जानें क्यों महिलाओं में होती है कम सेक्स ड्राइव की समस्या?

अपनी भावनाएं शेयर करें

पार्टनर से या अपने किसी विश्वसनीय दोस्त से इस मुद्दे पर बात करें कि आपके दिमाग में सेक्स को लेकर किस तरह के विचार आते हैं। जैसे हॉर्नी होना या सेक्स करने का अधिक मन करना इत्यादि। आपको सामने वाले से क्या बात करनी है और किन मुद्दों पर चर्चा करनी है,  यह पहले ही तय कर लें। यदि अपने पार्टनर से बात करनी है तो उन्हें खुलकर बताएं कि आप किस तरह की सेक्शुअल एक्टिविटीज के बारे में सोचती हैं यानी कैसा सेक्स पसंद है और बिस्तर पर आप क्या ट्राय करना चाहते हैं

मास्टरबेशन

इसे लेकर अधिकांश लोगों के मन में भ्रम है कि यह सही चीज नहीं है, लेकिन विशेषज्ञ मास्टरबेशन को गलत नहीं ठहराते हैं। यदि आप भी हॉर्नी सेक्स के ख्यालों में खोए रहते हैं, तो मास्टरबेशन से आप खुद को थोड़ा सहज और रिलैक्स कर सकते हैं। इससे सेक्शुअल सैटिस्फेकशन तो मिलेगा ही साथ ही आप अपनी बॉडी को लेकर भी सहज हो जाएंगे।

और पढ़ें: मास्टरबेशन के अनोखे शारीरिक और मानसिक लाभ

पुरुषों और महिलाओं में कामोत्तेजना को लेकर मिथक

हॉर्नी सेक्स जैसा शब्द भले ही कुछ लोगों के लिए नया होगा, लेकिन कामेच्छा को लेकर समाज की सोच में कोई नया बदलाव नहीं आया है। आमतौर पर अब भी यही माना जाता है कि पुरुषों की कामेच्छा महिलाएं से अधिक होती है या पुरुष महिलाओं की तुलना में सेक्स के बारे में अधिक सोचते हैं। हालांकि कुछ रिसर्च इस बात से इत्तेफाक रखती हैं, लेकिन इसके साथ अन्य बातों को भी ध्यान में रखने की आवश्यकता है जैसेः

  • हो सकता है कुछ पुरुष सेक्स के बारे में अधिक सोचते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि सभी ऐसे ही होते हैं।
  • महिलाओं की अधिक कामेच्छा के संबंध में बहुत कम रिसर्च की गई है। इसलिए उनकी सेक्शुअल डिजायर पुरुषों से कम होती है ऐसा कहना सही नहीं होगा।
  • हो सकता है पुरुषों की सेक्शुअल डिजायर ज्यादा हो, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि महिलाओं में कामोत्तेजना कम होती है या वह सेक्स को एंजॉय नहीं करतीं।
  • 2016 की एक रिसर्च के मुताबिक, हेट्रोसेक्शुअल महिलाओं की कामेच्छा अपने पुरुष पार्टनर से अधिक होती है।

क्या हॉर्नी होना या हॉर्नी सेक्स कोई समस्या है?

हॉर्नी होना सामान्य है और इसमें किसी तरह की समस्या नहीं है। लेकिन सेक्स के विचार यदि आप पर बहुत हावी हो रहे हैं या आप सामान्य महसूस नहीं कर रहे, तो आपको विशेषज्ञ से सलाह लेने की जरूरत है।

आमतौर पर हमारे समाज में अभी भी सेक्स के मुद्दे पर खुलकर बात नहीं होती है, इसलिए हॉर्नी होने पर कई लोग गिल्टी फील करते हैं और उन्हें खुद पर शर्म आती है। यदि यह समस्या लंबे समय तक बनी रहती है, तो आपके सेक्सोलॉजिस्ट या थेरेपिस्ट से मिलने की जरूरत है।

और पढ़ें: पुरुषों के लिए सेक्स टिप्स: जानें हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं?

ऐसे करें ध्यान केंद्रित

यदि हॉर्नी सेक्स के विचार आपको अपने काम पर ध्यान केंद्रित नहीं करने देते हैं और आपका दिमाग बहुत डिस्टर्ब हो जाता है, तो आपको काम पर फोकस करने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखने की जरूरत है।

स्वीकारें और बाद के लिए रखें

जब भी दिमाग में हॉर्नी सेक्स के ख्याल आए, तो इसे दबाने की कोशिश न करें, बल्कि उसे स्वीकारें और खुद दिमाग में यह बात लाए कि आप इसके बारे में बाद में सोचेंगे। लेकिन ध्यान रहे इसे लेकर शर्म या गिल्टी फील करने की जरूरत नहीं है। अपने विचारों को स्वीकार करने और बाद में उस बारे में सोचने की बात जब आप खुद से करते हैं, तो इससे आप अपने वर्तमान काम पर ध्यान दे पाएंगे।

ब्रेक लें

यदि आप लंबे समय से पढ़ रहे हैं या कोई काम कर रहे हैं, तो हॉर्नी सेक्स के विचार आ सकते हैं। तो बोरियत से बचने और ऐसे विचारों को दूर करने के लिए बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें। चाय/कॉफी पीएं, स्नैक्स खाएं, थोड़ा वॉक करें या किसी से फोन पर बात कर लें। जब आप अपने शरीर को आराम देंगे, तो आपका मानसिक स्वास्थ्य भी ठीक रहेगा और अनावश्यक विचार नहीं आएंगे।

पेपर पर लिख लें

कल रात को पार्टनर के किस एक्ट से आपको सबसे अधिक संतुष्टि मिली थी और आज रात आप क्या नया ट्राय करना चाहते हैं? जैसे विचार यदि बार-बार दिमाग में आ रहे हैं और आप काम पर फोकस नही कर पा रहे हैं,तो एकांत में जाकर इन विचारों को एक पेपर पर लिख लें और सावधानी से अपने पास रखें और रात में पार्टनर को दे दें। विचारों को लिख लेने से दिमाग शांत हो जाएगा।

थोड़ा म्यूजिक सुनें

जब भी काम से ध्यान भटकने लगे या बार-बार सेक्स का विचार आए, तो सॉफ्ट म्यूजिक सुन लें। यह आपको रिलैक्स करेगा और ध्यान भटकाने वाले विचारों से दूर रखेगा।

उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और हॉर्नी सेक्स से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

कौन-कौन से हैं सेक्स से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल और पाइए उनके जवाब

सेक्स से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल, सेक्स से जुड़े जवाब, सेक्स से जुड़े सवाल, सेक्स संबंधी जानकारी, sex related question answers, sex related questions.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma

मूत्रमार्ग का हस्तमैथुन युवक को पड़ गया भारी, जानें यूरेथ्रल साउंडिंग क्या है? 

यूरेथ्रल साउंडिंग (Urethral Sounding) क्या है, यूरेथ्रल साउंडिंग के फायदे और नुकसान क्या हैं? Benefits and side effects of Urethral Sounding.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

क्या तीव्र कामेच्छा होना आपके लिए है खतरनाक? जानें इस बारे में सबकुछ

तीव्र कामेच्छा क्या है, तीव्र कामेच्छा होने के लक्षण क्या है, कामलिप्सा के नुकसान क्या है, हाई सेक्स ड्राइव क्या है, high libido in Hindi.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha

अपने बच्चे या किशोर को सेक्स के बारे में कैसे बताएं, जानिए यहाँ

जानिए किशोर सेक्स क्या है, बच्चों को सेक्स के बारे में कैसे बताएं, कब बताएं, इस बारे में पाइये टिप्स, teen sex tips , teen sex

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
सेक्शुअल हेल्थ और रिलेशनशिप जून 30, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

जेनोफोबिया - genophobia

सेक्स से लगता है डर? हो सकता है जेनोफोबिया

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Manjari Khare
प्रकाशित हुआ सितम्बर 11, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
पीठ दर्द के साथ बेहतर सेक्स - better sex with back pain

पीठ दर्द के साथ बेहतर सेक्स के लिए ध्यान रखें ये जरूरी बातें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ सितम्बर 1, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
तंत्र सेक्स

डाले अपने सेक्स जीवन में नयी मिठास तंत्र सेक्स के साथ

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mishita Sinha
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री

लॉकडाउन में बढ़ी सेक्स टॉय की बिक्री, एक सर्वे में सामने आई कई चौंकाने वाली बातें

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जुलाई 23, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें