Depression: डिप्रेशन क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 9, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

डिप्रेशन (Depression) क्या है?

डिप्रेशन (Depression) या अवसाद, जिन्हें मेजर डिप्रेसिव डिसॉर्डर और क्लिनिकल डिप्रेशन के तौर पर भी जाना जाता है, वह मूड डिसॉर्डर है, जिसमें व्यक्ति लगातार उदास रहता है और उसका बाकी चीजों से दिल हटने लगता है। डिप्रेशन के कारण व्यक्ति के मन में सुसाइड करने तक के भी ख्याल आने लगते हैं। अगर आपको डिप्रेशन के लक्षण दिखें, तो अपने डॉक्टर का संपर्क करने में देरी न करें।

डिप्रेशन (Depression) कितना कॉमन है?

डिप्रेशन या अवसाद एक कॉमन कंडिशन है। रिसर्च के मुताबिक, तकरीबन 80 प्रतिशत लोगों किसी भी उम्र में डिप्रेशन की समस्या हो सकती है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा सामान्य होता है। ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर का संपर्क करे।

और पढ़ें: Nephrotic syndrome: नेफ्रोटिक सिंड्रोम क्या है?

जानिए डिप्रेशन के लक्षण

डिप्रेशन (Depression) के लक्षण क्या है?

डिप्रेशन के लक्षण हर किसी मे अलग तरह के हो सकते हैं। जैसे, बहुत ज्यादा सोना या फिर किसी को भूख न लगने की समस्या हो सकती है। इसके अलावा, डिप्रेशन के अन्य कई लक्षण हो सकते हैं :

  • किसी भी काम में ध्यान नहीं लगा पाना।
  • उदास रहना अकेलापन महसूस।
  • ऐसा महसूस होना कि भविष्य अच्छा नहीं है।
  • बैचेनी महसूस होना।
  • सेक्स में इंट्रेस खोना
  • गंभीर डिप्रेशन में सुसाइड के विचार आते हैं।
  • ऊपर दिए गए कुछ लक्षण हो सकते हैं। अगर आप किसी लक्षण से परेशान हैं, तो आप अपने डॉक्टर का संपर्क करें।

और पढ़ें: Hernia : हर्निया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

मुझे अपने डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

अगर आपको डिप्रेशन के कोई लक्षण नजर आता है, तो जितनी जल्दी हो सके अपने डॉक्टर को संपर्क करें। अगर आपको इलाज करवाने की इच्छा भी नहीं होती, तो अपने दोस्त या घर में किसी से बात करें। अगर आपको लगता है कि आप खुद को चोट पहुंचा सकते हैं या सुसाइड का प्रयास कर सकते हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी नंबर पर कॉल करें।

सुसाइड के ख्याल आने पर इन बातों पर भी ध्यान दें, जैसे:

  • अपने प्राइमरी डॉक्टर या हेल्थ केयर प्रोवाइडर से मदद लें।
  • अपने करीबी दोस्त के पास रहें।

अगर आपके किसी दोस्त को सुसाइड करने का खतरा है या उसने सुसाइड का प्रयास किया है:

  • सुनिश्चित करें कि वो दोस्त किसी न किसी के साथ रहता हो।
  • तुरंत अपने लोकल इमरजेंसी नंबर पर कॉल करें।
  • उस व्यक्ति को नजदीकी इमरजेंसी हॉस्पिटल में सुरक्षित ले जा सकते हैं।

और पढ़ें : Leukemia :ल्यूकेमिया क्या है? जाने इसके कारण लक्षण और उपाय

जानिए डिप्रेशन के कारण

डिप्रेशन (Depression) किन कारणों से होता है?

डिप्रेशन यानी अवसाद के नीचे बताए गए कारण हो सकते हैं :

जीन : जिन लोगों के फैमिली में डिप्रेशन की हिस्ट्री है, उन लोगों को इसकी आशंका ज्यादा हो सकती है।

ब्रेन केमिस्ट्री : डिप्रेशन से ग्रसित लोगों में बिना बीमारी के ब्रेन केमिस्ट्री अलग होती है।

स्ट्रेस :प्यार में धोखा, रिलेशनशिप में समस्या आदि डिप्रेशन या अवसाद के कारण बन सकते हैं।

और पढ़ें: Dosulepin : डोसुलेपिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

जानिए डिप्रेशन के जोखिम फेक्टर:

किन कारणों से डिप्रेशन (Depression) का जोखिम बढ़ता है?

20 से 30 की उम्र के दौरान डिप्रेशन की समस्या शुरू हो सकती है। लेकिन, यह किसी भी उम्र में हो सकता है। पुरुष से ज्यादा महिलाओं में डिप्रेशन की समस्या  हो सकती है।

नीचे दिए गए कारण डिप्रेशन को बढ़ाने या डिप्रेशन होने का कारण बन सकते हैं :

  • मेंटली हेल्थ डिसऑर्डर जैसे इटिंग डिसऑर्डरऔर पोस्ट-ट्रॉमेटिक ट्रेस डिसऑर्डर।
  • एल्कोहॉल या गलत दवाओं उपयोग करना।
  • कुछ पर्सनली लक्षण जैसे लो सेल्फ-एस्टीम,खुद पर डिपेंडेंट,सेल्फ-क्रिटिकल,पेसिमिस्टिक।
  • गंभीर या पुरानी बीमारी, कैंसर सहित, स्ट्रोक, पुराने दर्द या हृदय रोग।
  • कुछ दवाएं, जैसे कुछ हाई ब्लडप्रेशर वाली दवाएं या नींद की गोलियां (किसी भी दवा को रोकने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें)।
  • दर्दनाक या तनावपूर्ण घटनाओं जैसे कि शारीरिक या यौन शोषण, किसी अपने की डेथ या खोना, डिफिकल्ट रिलेशनशिप,फाइनेंशियल प्रॉब्लम।
  • डिप्रेशन हिस्ट्री वाले के साथ ब्लड रिलेशन,बाइपोलर डिसऑर्डर आदि।

और पढ़ें : Polycystic Ovary Syndrome: पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम क्या है ?जाने इसके कारण, लक्षण और उपाय

जानिए डिप्रेशन के जोखिम फेक्टर

डिप्रेशन (Depression) का निदान और उपचार: 

दी गई जानकारी किसी मेडिकल एडवाइज का विकल्प नही है, ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर का संपर्क करें।

दी गई जानकारी किसी मेडिकल एडवाइज का विकल्प नहीं है। ज्यादा जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

डिप्रेशन (Depression) का निदान कैसे किया जाता है? 

ज्यादातर डॉक्टर आपके लक्षणों और मेडिकल हिस्ट्री जानकर इसकी जांच करते हैं। इसके अलावा, डॉक्टर कुछ और टेस्ट जैसे ब्लड टेस्ट, मानसिकता की जांच कर सकते हैं।

और पढ़ें: Spermatocele : स्पर्माटोसील क्या है?

डिप्रेशन का इलाज कैसे किया जाता है?

डिप्रेशन (Depression) का इलाज

आमतौर पर, डिप्रेशन के इलाज में दवाओं और इलेक्ट्रोकंवल्सिव थैरिपी (electroconvulsive therapy) का उपयोग किया जाता है। इस्तेमाल की जाने वालीं दवाएं एंटीडिप्रेसेंट हैं। कुछ और सामान्य दवाएं हैं जैसे एसिटालोप्राम (escitalopram), पैरोक्सेटीन (paroxetine), सेराट्रलीन (sertraline), फ्लुओक्सेटिन (fluoxetine) और सीटालोप्राम (citaloppram)। ये सेलेक्टिव सेरोटोन रीपटेक इनहिबिटर (SSRI) हैं। वहीं, वेनलाफैक्सीन (venlafaxine), डुलोक्सेटीन (duloxetine) और बुप्रोपियन (bupropion) हैं। इन दवाओं से कुछ साइड इफेक्ट हो सकते हैं जैसे:

साइकोथैरिपी भी डिप्रेशन के इलाज में मदद करती हैं। साइकोथैरिपी नए तरीकों को सोचने, बर्ताव करने और आदतों को बदलने में मदद करती है। यह थैरिपी आपको मुश्किल रिलेशनशिप या हालत को समझने में मदद कर करती है।

इलेक्ट्रोकंसल्सिव थैरिपी गंभीर डिप्रेशन या अवसाद के लिए होती है, जिसका इलाज करना बहुत मुश्किल है। ऐसे डिप्रेशन में दवा भी असर नहीं कर पातीं। इलेक्ट्रोकंसल्सिव थैरेपी (ECT) का उपयोग कभी-कभी किया जाता है। हालांकि, पहले ईसीटी को खराब माना जाता था। लेकिन, इसमें काफी सुधार हुआ है और यह उन लोगों के लिए अच्छा है, जिनके लिए और कोई ट्रीटमेंट काम नहीं करता।

हालांकि, ईसीटी साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं, जैसे कन्फ्यूजन होना, याद्दाश्त कमजोर पड़ना आदि। हालांकि, ये इफेक्ट आमतौर पर कम समय के लिए होते हैं, लेकिन वे कभी-कभी तकलीफ देते हैं।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

स्टाइल में बदलाव और घरेलू उपचार:

लाइफस्टाइल में बदलाव या घरेलू उपचार क्या हैं जो मुझे डिप्रेशन (Depression) को निपटने में मदद कर सकते हैं?

नीचे दिए गए लाइफस्टाइल और घरेलू उपचार आपको डिप्रेशन या अवसाद  से निपटने में मदद कर सकते हैं

  • किसी से अलग न रहना
  • अपनी ज़िंदगी को आसान बनाएं
  • रेग्युलर व्यायाम करें
  • हेल्दी खाना खाएं
  • अपने तनाव को शांत और मैनेज करने के तरीके जानें
  • जब आप डाउन हों तब जरूरी डिसीजन न लें।
  • अपने लक्षणों को बदतर होने पर अपने डॉक्टर को बुलाएं।
  • अगर आपको अपनी दवाओं से साइड इफेक्ट होते हैं, तो अपने डॉक्टर को बुलाएं।
  • अगर आपको किसी और व्यक्ति को मारने या चोट पहुंचाने के बारे में आत्मघाती विचार आते है, तो तुरंत अपने डॉक्टर को बुलाएं।
  • अगर आपके मन में स्पाइकोटिक लक्षण हों, जैसे आवाजें सुनना, कोई ऐसी चीज न देखना, जो आपको अजीब लग रही हो, या पागल महसूस कर रही हो,तो तुरंत अपने डॉक्टर को बुलाएँ।

अगर आपके मन मे कोई सवाल है और जिनका समाधान चाहते हैं तो आपने डॉक्टर का संपर्क करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

संबंधित लेख:

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

High Triglycerides : हाई ट्राइग्लिसराइड्स क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

हाई ट्राइग्लिसराइड्स (High Triglycerides) की जानकारी in hindi, उसके निदान और उपचार, कारण, लक्षण, घरेलू उपचार, High Triglycerides के खतरे के बारे में जानें |

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Ankita Mishra
हेल्थ कंडिशन्स, स्वास्थ्य ज्ञान A-Z जून 3, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

ब्रिटल डायबिटीज (Brittle Diabetes) क्या होता है, जानिए क्या रखनी चाहिए सावधानी ?

ब्रिटल डायबिटीज की समस्या होने पर ब्लड में ग्लूकोज के लेवल में स्विंग यानी बदलाव आने शुरू हो जाते हैं। ब्रिटल डायबिटीज की समस्या रेयर होती है, लेकिन इससे सावधानी जरूरी है। Brittle diabetes से कैसे बचें?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
हेल्थ सेंटर्स, डायबिटीज मई 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

जैस्मिन की खुशबू कर सकती है अवसाद का इलाज

हम में से कई लोग अवसाद ( Depression) की समस्या से गुजरते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं डिप्रेशन का इलाज जैस्मिन के फूलों से भी कर सकते हैं? जानते हैं इसके बारे में।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Suniti Tripathy
हेल्थ टिप्स, स्वस्थ जीवन अप्रैल 28, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

मोटापे से जुड़े तथ्य, जिनके बारे में शायद ही पता हो!

मोटापा एक वैश्विक समस्या बन गई है और यह किसी एक खास एज ग्रुप तक सीमित नहीं है, बल्कि बच्चों से लेकर व्यस्कों तक हर कोई इसकी चपेट में आता जा रहा है। इस आर्टिकल में जानें मोटापे से जुड़े तथ्य।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr Sharayu Maknikar
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
फन फैक्ट्स, स्वस्थ जीवन अप्रैल 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

धूम्रपान छोड़ने से अवसाद/depression after quit smoking

Quit Smoking: बढ़ सकता है धूम्रपान छोड़ने से अवसाद का जोखिम, ऐसे करें उपाय

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया shalu
प्रकाशित हुआ अगस्त 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
fasting tips for diabetes patient-डायबिटीज के मरीजों के लिए उपवास

फास्टिंग के दौरान डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का रखें ध्यान

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
प्रकाशित हुआ अगस्त 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
डायबिटिक न्यूरोपैथी

जानें क्या है डायबिटिक न्यूरोपैथी, आखिर क्यों होती है यह बीमारी?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
प्रकाशित हुआ जुलाई 9, 2020 . 8 मिनट में पढ़ें
Prothiaden, प्रोथीआडेन

Prothiaden: प्रोथीआडेन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Bhawana Awasthi
प्रकाशित हुआ जून 9, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें