आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Peppermint Tea Benefits: जानिए पुदीने की चाय के 7 फायदे!

    Peppermint Tea Benefits: जानिए पुदीने की चाय के 7 फायदे!

    एंटीमाइक्रोबियल, एंटीवायरल, एंटीऑक्सिडेंट, एंटीट्यूमर और एंटी-एलर्जेनिक जैसे कई प्रॉपर्टीज मौजूद होते हैं पुदीने में। पुदीने की खुशबू बिरयानी के साथ-साथ नॉर्मल पानी का भी स्वाद बढ़ाने का काम करती है। वैसे ये आर्टिकल टी लवर्स के लिए खास है और जो चाय नहीं पीते उनके लिए भी यह खास हो जाएगी क्योंकि आज इस आर्टिकल में हम पुदीने की चाय के फायदे (Peppermint Tea Benefits) आपके साथ शेयर करने जा रहें हैं।

    नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पुदीने में मौजूद औषधि गुण शरीर के लिए एक नहीं, बल्कि कई तरह की शारीरिक परेशानियों से दूर रहने में सहायक बताई गई है। हालांकि ऐसा नहीं है कि सिर्फ पेपरमिंट टी के फायदे (Peppermint Tea Benefits) ही हों, क्योंकि कुछ स्थितियों में पेपरमिंट टी के साइड इफेक्ट्स (Peppermint Tea Side effects) भी हो सकते हैं। इसलिए हम आपके साथ पुदीने के फायदे और नुकसान दोनों से जुड़ी जानकारी शेयर करेंगे, जिससे आपको पुदीने की चाय से नुकसान (Side effects of Peppermint Tea) ना हो।

    • पुदीने की चाय क्या है?
    • पुदीने की चाय के फायदे क्या हैं?
    • पुदीने की चाय की रेसिपी क्या है?
    • पेपरमिंट टी के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं?

    चलिए अब पुदीने की चाय के फायदे और नुकसान (Benefits and side effects of Peppermint Tea) से जुड़े इन सवालों का जवाब जानते हैं।

    और पढ़ें : किडनी डिजीज में डायट (Kidney Disease Diet): किन 11 खाद्य पदार्थों से बनायें दूरी!

    पुदीने की चाय (Peppermint Tea) क्या है?

    पुदीने की चाय के फायदे (Peppermint Tea Benefits)

    पुदीने की चाय को हर्बल टी की श्रेणी में रखा गया है। नैशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन (National Library of Medicine) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पुदीने के पत्तों में रोजमरिनिक एसिड (Rosmarinic Acid) एवं अलग-अलग तरह के फ्लेवेनॉयड्स (Flavonoid) मौजूद होता है, जो ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस (Oxidative Stress) से बचाने में मददगार माना गया है। तो चलिए अब पुदीने की चाय के फायदे को समझने की कोशिश करते हैं।

    और पढ़ें : Turmeric and Curcumin Health Benefits: एक नहीं, बल्कि कई बीमारियों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं!

    पुदीने की चाय के फायदे क्या हैं? (Benefits of Peppermint Tea)

    पुदीने की चाय के फायदे निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    पुदीने की चाय के फायदे 1. सिरदर्द और माइग्रेन से राहत

    एल्सेवियर जर्नल (Elsevier journals) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पुदीने की पत्तियों में मेंथॉल कंपाउंड (Menthol Compound) मौजूद होता है, जो सिरदर्द या माइग्रेन होने पर एंटीहेडेक (Anti Headache) की तरह काम करता है। इसलिए सिरदर्द और माइग्रेन (Headache and Migraine) से राहत पाने के लिए पुदीने की चाय का सेवन किया जा सकता है।

    पुदीने की चाय के फायदे 2. डायजेशन होता है बेहतर

    जर्नल ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्च (Journal of Pharmaceutical Sciences and Research) द्वारा पब्लिश्ड रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार पुदीने की चाय का सेवन डायजेशन (Digestion) से जुड़े प्रॉब्लेम को दूर करने के लिए किया जा सकता है, क्योंकि पेपरमिंट में एसेंशियल ऑयल (Essential oil) की मौजूदगी डायजेस्टिव सिस्टम के लिए लाभकारी माना गया है।

    पुदीने की चाय के फायदे 3. बंद नाक से राहत

    बंद नाक की समस्या अगर शुरू हो जाए सांस लेने में कठिनाई के साथ-साथ घबराहट भी महसूस होने लगती है। अब इस समस्या का समाधान भी पुदीने की चाय में छिपा है। ऐसा इसलिए क्योंकि पुदीने में मौजूद एल-मेंथॉल (L-Menthol) एयर फ्लो को बढ़ाने का काम करता है, जिससे बंद नाक (Nasal congestion) खुल जाता है और आप राहत भरी सांस ले सकते हैं। इसलिए अगर बंद नाक की समस्या सताये तो पुदीने की चाय का सेवन लाभकारी आपके लिए लाभकारी हो सकता है।

    पेपरमिंट टी के फायदे 4. अनिद्रा की समस्या से राहत

    कहते हैं चाय से नींद चली जाती है, लेकिन पुदीने की चाय नींद भागने में नहीं, बल्कि अच्छी नींद आने में आपका साथ निभा सकती है। स्लीप फाउंडेशन (Sleep Foundation) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पुदीने की चाय में कैफीन की मात्रा (Caffeine-free) मौजूद नहीं होती है और इसमें मौजूद प्रॉपर्टीज साउंड स्लीप (Sound sleep) में मदद करते हैं।

    पेपरमिंट टी के फायदे 5. सीजनल एलर्जी से राहत

    एनसीबीआई (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार मौसम की वजह से होने वाली एलर्जी की समस्या को दूर करने के लिए पेपरमिंट टी का सेवन किया जा सकता है। पुदीने के पत्तियों में एंटी-एलर्जेनिक (Anti-Allergic) एवं एंटी-इन्फ्लेमेटरी (Anti-inflammatory) गुण मौजूद होते हैं, जो मौसम के बदलने की वजह से होने वाले एलर्जी की समस्या को दूर करने में मदद करते हैं।

    पुदीने की चाय के फायदे 6. बढ़ती है एकाग्रता

    अगर आप ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई महसूस कर रहें हैं, तो आपको पेपरमिंट टी का सेवन करना चाहिए क्योंकि पेपरमिंट में मौजूद मेंथॉल एकाग्रता को बढ़ाने में सहायक माना गया है। वहीं अगर याददाश्त कमजोर (Memory loss) है या अल्जाइमर (Alzheimer) की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए पुदीने की चाय का सेवन लाभकारी माना गया है।

    पुदीने की चाय के फायदे 7. पीरियड्स प्रॉब्लेम से राहत

    पीरियड्स की दौरान पेट दर्द एवं पेट में ऐंठन की समस्या सामान्य जरूर है, लेकिन यह काफी पीड़ादायक होती है। इसलिए रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार पेपरमिंट एक्स्ट्रेक्ट (Peppermint Extracts) और इसमें मौजूद एनाल्जेसिक (Analgesic) पेनकिलर की तरह काम करते हैं। इसलिए पीरियड्स (Periods) में पुदीने की चाय का सेवन लाभकारी हो सकता है।

    ये हैं पुदीने की चाय के फायदे, लेकिन अब अगर आप सोच रहें की पुदीने की चाय की रेसिपी क्या है? तो चलिए इसे भी जान लेते हैं।

    पुदीने की चाय की रेसिपी क्या है? (Recipe of Peppermint Tea)

    पुदीने की चाय के फायदे (Peppermint Tea Benefits)

    पुदीने की चाय की रेसिपी बेहद आसान है, जो इस प्रकार है-

    • पुदीने की 10 से 12 पत्तियां (10-22 Mint leaves)
    • तकरीबन ढ़ाई कप पानी (2.5 Water)
    • शहद आवश्यकता अनुसार (Honey as per test)

    पुदीने की चाय की रेसिपी के लिए सिर्फ इन तीन चीजों की जरूरत है। अब एक सॉस पेन लें और इसमें पानी डालें और इसे स्टोव पर उबलने के लिए चढ़ाएं। अब जैसे ही पानी उबलने लगे, तो इसमें पुदीने की पत्तियों को डाल दें और कुछ देर के लिए इसे उबलने और फिर स्टोव बंद कर दें। सॉस पेन को कुछ देर के लिए ढ़ककर छोड़ दें। 5 से 7 मिनट बाद इसे कप में छान लें और आप चाहें तो इसमें शहद मिलाएं। बस रेडी है पुदीने की चाय। पुदीने की चाय के फायदे के बारे में आपने ऊपर पढ़ा है। इसलिए इसका सेवन खाने के बाद और सोने से पहले भी किया जा सकता है।

    और पढ़ें : अगर आपका पहला प्यार है फिटनेस, तो इन बेहतरीन BCAA और एमिनो एसिड सप्लिमेंट्स के बारे में जरूर जानना चाहिए!

    पेपरमिंट टी के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं? (Side effects of Peppermint Tea)

    पेपरमिंट टी के साइड इफेक्ट्स निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    1. रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार पेपरमिंट टी के ज्यादा सेवन से पुरुषों के रिप्रोडक्टिव फंक्शन पर बुरा प्रभाव पड़ता है।
    2. जिन लोगों का ब्लड प्रेशर कम रहता है उन्हें भी पेपरमिंट टी का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसके सेवन से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है
    3. गर्भवती महिलाओं को पुदीने की चाय के सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए। क्योंकि ऐसा माना जाता है कि इसमें मौजूद इमेनगॉग (Emmenagogue) की वजह से ब्लीडिंग की संभावना हो सकती है।

    नोट: अगर पुदीने की चाय के सेवन से कोई परेशानी महसूस हो तो इसका सेवन ना करें और डॉक्टर से सलाह लें।

    पुदीने की चाय के फायदे और नुकसान (Benefits and side effects of Peppermint Tea) से जुड़े अगर आपके किसी सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज पर अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हैलो स्वास्थ्य के हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    A review of the bioactivity and potential health benefits of peppermint tea (Mentha piperita L.)/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/16767798/Accessed on 07/06/2022

    Reading Herbal Tea Leaves: Benefits and Lore/https://www.ars.usda.gov/news-events/news/research-news/2011/dont-underestimate-the-power-of-herbal-teas/Accessed on 07/06/2022

    Review on Herbal Teas/https://www.jpsr.pharmainfo.in/Documents/Volumes/vol6issue05/jpsr06051404.pdf/Accessed on 07/06/2022

    Peppermint/https://www.sciencedirect.com/topics/food-science/peppermint/Accessed on 07/06/2022

    The effects of menthol isomers on nasal sensation of airflow/https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/3370851/Accessed on 07/06/2022

    Effects and Safety of Menthol on Blood Pressure and Metabolic Parameters in Prehypertensive and Mild Hypertensive Patients (ESMAB)/https://clinicaltrials.gov/ct2/show/NCT01408446/Accessed on 07/06/2022

    Essential oils – Health warning/https://www.healthywa.wa.gov.au/Articles/A_E/Essential-oils/Accessed on 07/06/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: