Turmeric and Curcumin Health Benefits: एक नहीं, बल्कि कई बीमारियों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं!

    Turmeric and Curcumin Health Benefits: एक नहीं, बल्कि कई बीमारियों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं!

    फिट रहने के लिए हमसभी अलग-अलग तरह से प्रयास करते हैं। इसलिए आज इस आर्टिकल में सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) से जुड़ी जानकारी शेयर करने जा रहें हैं।

    हल्दी खाने में जायका और दिखने में आकर्षक लगने के लिए मशहूर है, लेकिन हल्दी की खासियत सिर्फ खाने का जायका, चेहरे की खूबसूरती निखारने तक ही सिमित नहीं है, बल्कि इसके सेवन से कई शारीरिक लाभ भी मिलते हैं। दरअसल हल्दी में मौजूद करक्यूमिन (Curcumin) एक्टिव इंग्रीडिएंट की तरह काम कर शरीर को फायदा पहुंचाने में सहायक माना गया है। चलिए जानते हैं सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) के बारे में विस्तार से।

    हल्दी और करक्यूमिन क्या है? (About Turmeric and Curcumin)

    करक्यूमिन के फायदे (Curcumin Health Benefits)

    हल्दी को औषधि की तरह वर्षों से सेवन किया जा रहा है। वहीं नैशनल सेंटर फॉर बायोटेकोनोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार हल्दी में मौजूद एक तरह का कम्पाउंड और मेडिसिनल प्रॉपर्टीज को विज्ञान की भाषा में करक्यूमिन (Curcumin) कहते हैं और यही कम्पाउंड हल्दी में अपनी सबसे खास भूमिका निभाता है। करक्यूमिन को सबसे पावरफुल इंग्रीडिएंट्स भी माना जाता है, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेंटरी (Anti-inflammatory) और एंटीऑक्सिडेंट (Antioxidant) गुण भी मौजूद होते हैं। इसलिए सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) एक नहीं, बल्कि कई हैं जो इस प्रकार हैं-

    सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे क्या हो सकते हैं? (Turmeric and Curcumin Health Benefits)

    सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    अर्थराइटिस (Arthritis)

    सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे में सबसे पहले जान लेते हैं अर्थराइटिस (Arthritis) के बारे में। दरअसल इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेंटरी कम्पाउंड (Anti-inflammatory compound) जोड़ों से जुड़ी सूजन की तकलीफ को कम कर मरीज को राहत देने का काम करती है। इसलिए इसका सेवन अलग-अलग जॉइंट्स प्रॉब्लेम (Joint problem) को दूर करने के लिए किया जा सकता है।

    अल्जाइमर डिजीज (Alzheimer’s disease)

    अल्जाइमर डिजीज की समस्या होने पर इन्फ्लेमेशन और ऑक्सिडेटिव डैमेज को कम करने की क्षमता करक्यूमिन में है। वहीं अल्जाइमर डिजीज की समस्या होने पर प्रोटीन टैंग्लस जिसे अमाइलॉइड प्लाक (Amyloid plaques) कहते हैं। इस प्लाक को कम करने में हल्दी और करक्यूमिन दोनों सहायक माने गए हैं। इसलिए सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) मिल सकते हैं।

    कैंसर (Cancer)

    कैंसर की समस्या जब सेल्स तेजी से बढ़ने लगे तब शुरू होती है। रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार करक्यूमिन कैंसरस सेल्स को तेजी से नहीं बढ़ने देता है। हालांकि यह ध्यान रखें कि कैंसर की समस्या के लिए सिर्फ घरेलू उपाय ही कारगर नहीं हो सकते हैं। इसके लिए डॉक्टर से कंसल्टेशन और उनके द्वारा दिए गए टिप्स को फॉलो करना भी जरूरी है।

    और पढ़ें : डायबिटीज है! पनीर डोडा का कर सकते हैं सेवन, लेकिन डॉक्टर के इजाजत के बाद!

    हार्ट डिजीज (Heart disease)

    वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organisation) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार ज्यादातर डेथ रेट के पीछे हार्ट डिजीज ही मुख्य कारण है। हार्ट डिजीज कई कारणों से होने वाली बीमारी है, लेकिन रिसर्च के अनुसार करक्यूमिन के फायदे हार्ट डिजीज को कम करने में या कार्डियोवैस्कुलर डिजीज से दूर रहने में मिल सकती है। इसलिए हार्ट डिजीज को दूर करने के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) लिए जा सकते हैं।

    डिप्रेशन (Depression)

    डिप्रेशन एक ऐसी समस्या है, जिसके बारे में लोग खुलकर बात करना ठीक नहीं मानते हैं। जबकि ऐसा करना किसी भी एक परेशानी से दूसरी परेशानी या बीमारी को दावत देने जैसा है। इसलिए किसी भी शारीरिक परेशानी के बारे में जानकारी होना जरूरी है। डिप्रेशन की समस्या से पीड़ित 60 लोगों पर किये गए रिसर्च में यह देखा गया कि करक्यूमिन (Curcumin) और प्रोजैक (Prozac) के सेवन से इम्प्रूवमेंट देखी गई। इसलिए डिप्रेशन के मरीजों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे की चर्चा की गई गई।

    और पढ़ें : अगर आपका पहला प्यार है फिटनेस, तो आपको भारत के टॉप 10 BCAA और एमिनो एसिड सप्लिमेंट्स के बारे में जरूर जानना चाहिए

    कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol)

    बैड कोलेस्ट्रॉल की समस्या को दूर करने के लिए भी करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं। इंडियन जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी एंड फिजियोलॉजी (Indian Journal of Physiology and Pharmacology) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार 500 मिलिग्राम करक्यूमिन का सेवन एक सप्ताह तक लोगों को करवाने से लाभ मिला और गुड कोलेस्ट्रॉल में वृद्धि देखी गई।

    डायबिटीज (Diabetes)

    डायबिटीज से पीड़ित मरीजों के लिए भी करक्यूमिन का सेवन लाभकारी बताया गया है। इसलिए कुछ दिनों तक लगातार 80 mg करक्यूमिन का सेवन करने से विशेष लाभ मिल सकता है।

    अगर आपको सेहत के लिए हल्दी और करक्यूमिन के फायदे (Turmeric and Curcumin Health Benefits) से जुड़े किसी तरह के सवाल का जवाब जानना है, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं या इसके सेवन से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें। डॉक्टर पेशेंट की हेल्थ कंडिशन एवं बीमारी की गंभीरता को ध्यान में रखकर इलाज करते हैं।

    करक्यूमिन का सेवन कैसा किया जा सकता है? (How to take Curcumin)

    करक्यूमिन के फायदे के लिए हल्दी का सेवन किया जा सकता है, लेकिन हल्दी का सेवन सीधे नहीं किया जा सकता है। इसलिए करक्यूमिन के लिए करक्यूमिन सप्लिमेंट्स (Curcumin supplements) का सेवन किया जा सकता है।

    नोट: 500gm हल्दी में आपको 15gm करक्यूमिन मौजूद होता है। इसलिए करक्यूमिन सप्लिमेंट्स (Curcumin supplements) का सेवन किया जा सकता है, लेकिन डॉक्टर से सलाह लेने के बाद।

    और पढ़ें : त्वचा से लेकर दिल तक के लिए हैं नारंगी के छिलके फायदेमंद

    करक्यूमिन से नुकसान क्या हो सकते हैं? (Side effects of Curcumin)

    करक्यूमिन से नुकसान निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

    • पेट से जुड़ी समस्या (Digestive system) होना।
    • चक्कर (Dizziness) आना।
    • मितली (Nausea) होना।
    • दस्त (Diarrhea) लगना।

    वैसे तो हल्दी और करक्यूमिन के नुकसान नहीं हो सकते हैं, लेकिन कुछ केसेस में हल्दी और करक्यूमिन के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए हल्दी और करक्यूमिन का सेवन संतुलित मात्रा में करना चाहिए।

    स्वस्थ रहने के लिए अपने डेली रूटीन में योगासन शामिल करें। यहां हम आपके साथ योग महत्वपूर्ण जानकारी शेयर कर रहें हैं, जिसकी मदद से आप अपने दिनचर्या में योग को शामिल कर सकते हैं। नीचे दिए इस वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगासन से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी जानिए।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Curcumin/https://lpi.oregonstate.edu/mic/dietary-factors/phytochemicals/curcumin/Accessed on 29/03/2022

    Curcumin: A Review of Its’ Effects on Human Health/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5664031/Accessed on 29/03/2022

    Turmeric/https://www.nccih.nih.gov/health/turmeric/Accessed on 29/03/2022

    Curcumin (Curcuma, Turmeric) and Cancer (PDQ®)–Health Professional Version/https://www.cancer.gov/about-cancer/treatment/cam/hp/curcumin-pdq/Accessed on 29/03/2022

    Turmeric and Its Major Compound Curcumin on Health: Bioactive Effects and Safety Profiles for Food, Pharmaceutical, Biotechnological and Medicinal Applications/https://www.frontiersin.org/articles/10.3389/fphar.2020.01021/full/Accessed on 29/03/2022

     

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/03/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड