आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

क्या योगर्ट बढ़ा सकता है डायरिया की परेशानी या इससे मिल सकती है डायरिया से राहत?

    क्या योगर्ट बढ़ा सकता है डायरिया की परेशानी या इससे मिल सकती है डायरिया से राहत?

    पेट के खराब होने के कारण लगातार बाथरूम जाना एक अनप्लेजेंट एक्सपीरियंस है। लेकिन,आपको अगर लगातार लूज स्टूल की परेशानी हो रही है, तो इससे आप कई अन्य लक्षणों को भी महसूस कर सकते हैं जैसे पेट में दर्द, क्रैम्पिंग और जी मिचलाना आदि। इस दौरान आप क्या खा रहे हैं, यह बात बहुत महत्व रखती है। अधिकतर लोग जैसे मानते हैं कि डायरिया (Diarrhea) होने पर योगर्ट यानी दही का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है। आज हम बात करने वाले हैं योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बीच के लिंक के बारे में। जानते हैं कि क्या योगर्ट से डायरिया से राहत मिलती है या दही इस समस्या को बढ़ा सकता है। योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में जानने से पहले डायरिया क्या होता है, यह जान लेते हैं?

    डायरिया (Diarrhea): क्या है यह परेशानी?

    अगर आपको डायरिया है, तो इसका अर्थ है कि आपको लूज और वॉटरी बॉवेल मूवमेंट की प्रॉब्लम है। यह बीमारी आमतौर पर सामान्य है और गंभीर नहीं होती है। अधिकतर यह परेशानी दो से तीन दिनों तक ही रहती है। लेकिन, कुछ लोग इसका बार- बार शिकार हो सकते हैं। ऐसा इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम (Irritable bowel syndrome) और अन्य कंडिशंस के कारण हो सकता है। डायरिया(Diarrhea) के लक्षण इस प्रकार हैं:

    और पढ़ें: Diarrhea: डायरिया क्या है? जानें इसके कारण, लक्षण और उपाय

    लेकिन, इस रोग के कुछ गंभीर लक्षण भी हो सकते हैं, जैसे:

    • स्टूल में ब्लड या बलगम
    • वजन का कम होना
    • बुखार

    अगर आपको दिन में तीन या इससे अधिक बार वॉटरी स्टूल की समस्या होती है और आप पर्याप्त मात्रा में फ्लूइड नहीं ले रहे हैं तो आप डिहायड्रेट का शिकार हो सकते हैं। यह एक गंभीर परेशानी है, जिसमे उपचार बहुत जरूरी है। अगर आप माइल्ड डायरिया (Diarrhea) से पीड़ित हैं, तो आपको किसी खास उपचार की जरूरत नहीं होती। लेकिन, इससे जल्दी राहत पाने के लिए सही आहार का सेवन करना और पर्याप्त पानी पीना बेहद जरूरी है। अब जानते हैं दही यानी योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में।

    योगर्ट और डायरिया, Yogurt and Diarrhea

    और पढ़ें: नारियल पानी और डायरिया के इस कनेक्शन के बारे में शायद नहीं जानते होंगे आप

    योगर्ट और डायरिया(Yogurt and Diarrhea): क्या योगर्ट से डायरिया (Diarrhea) से राहत मिलती है?

    कुछ लोग यह बात मानते हैं कि योगर्ट से डायरिया से राहत मिलती है। जबकि कुछ का यह मानना है कि इससे डायरिया बदतर होता है। अगर कोई व्यक्ति लैक्टोज को लेकर सेंसिटिव या इंटॉलरेंट है, तो उसके लिए योगर्ट का सेवन हानिकारक हो सकता है। लैक्टोज इनटॉलेरेंस के लक्षणों में ब्लोटिंग, डायरिया (Diarrhea), पेट में दर्द और जी मिचलाना आदि शामिल है। अगर आप लैक्टोज के प्रति सेंसिटिव हैं या आपको लेक्टोज इंटॉलरेंस है, तो योगर्ट के सेवन से डायरिया के लक्षण बदतर हो सकते हैं। इन मामलों में, आपको दही यानी योगर्ट और अन्य डेयरी उत्पादों को नजरअंदाज करना चाहिए। खासतौर पर अगर आपको डायरिया है या आप अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल (Gastrointestinal) रिलेटेड इशूज का अनुभव कर रहे हैं।

    लेकिन, अन्य मामलों में योगर्ट में मौजूद अच्छे बैक्टीरिया यानी प्रोबायोटिक्स से, डायरिया (Diarrhea) के लक्षणों को कम करने में मदद मिलती है। शोध से पता चलता है कि दही में जीवित प्रोबायोटिक्स होते हैं, जो कुछ प्रकार के डायरिया में मददगार साबित हो सकते हैं। योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में जानने के बाद अब जानते हैं प्रोबायोटिक्स क्या हैं?

    और पढ़ें: उम्र की लंबी पारी खेलने के लिए, करें योगर्ट का सेवन जरूर

    प्रोबायोटिक्स (Probiotics) किसे कहा जाता है?

    प्रोबायोटिक्स (Probiotics) वो लाइव मायक्रोऑर्गैनिस्ज्म या गुड बैक्टीरिया हैं, जो कई हेल्थ बेनिफिट्स का कारण बन सकते हैं। जैसे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सिस्टम में हार्मफुल बैक्टीरिया को बैलेंस करना और उनके फाइट करने मदद करना आदि। योगर्ट यानी दही को दूध के बैक्टीरियल फर्मेंटेशन प्रोसेस के साथ बनाया जाता है। दूध में बैक्टीरिया के स्पेसिफिक कल्चर्स डाले जाते हैं, जो मिल्क शुगर्स यानी लैक्टोज को लैक्टिक एसिड में बदल देते हैं। इससे दही थिक होता है।

    स्टार्टर कल्चर्स को प्रोबायोटिक्स (Probiotics) नहीं माना जाता है, जिसका अर्थ है कि वे हमेशा जीवित नहीं रहते हैं और आपके गट में बेनेफिशियल इफेक्ट्स नहीं डालते हैं। प्रोबायोटिक के रूप में माने जाने के लिए बैक्टीरिया को लाइव होना चाहिए। योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में यह जानकारी बेहद जरूरी है। यानी, अगर योगर्ट में लाइव बैक्टीरिया कल्चर होता है, तो ऐसा माना जाता है कि इसमें प्रोबायोटिक्स हैं। लेकिन, शोधकर्ता यह मानते हैं कि लाभदायक हेल्थ इफेक्ट के लिए योगर्ट की हर सर्विंग में कम से कम 10 बिलियन कॉलोनी-फॉर्मिंग यूनिट्स (Billion colony-forming units) होने चाहिए। इसमें बैक्टीरिया के वो स्ट्रेंस भी होने चाहिए, जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक के एसिडिक एनवायरनमेंट में जीवित रह सके।

    डायरिया (Diarrhea) के प्रकार के आधार पर प्रोबायोटिक्स के कुछ स्ट्रेंस इसके लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं। प्रोबायोटिक्स से बैक्टीरिया के कारण होने वाले एक्यूट डायरिया (Diarrhea) से राहत मिलती है। प्रोबायोटिक्स का उपयोग एंटीबायोटिक दवाओं से जुड़े डायरिया (Diarrhea) के लिए एक प्रिवेंटिव मेजर के रूप में भी किया जा सकता है। यह दस्त के लक्षणों को एक दिन तक कम करने में मदद कर सकता है। योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में इस जानकारी के साथ ही जान लेना चाहिए कि योगर्ट का सेवन करते हुए किस चीज को नजरअंदाज करना चाहिए?

    और पढ़ें: सिर्फ गट के लिए ही नहीं वजायनल हेल्थ के लिए भी प्रोबायोटिक्स हैं फायदेमंद, इन दो बीमारियों पर करते हैं असर

    किस चीजों को करें नजरअंदाज ?

    अगर आप डायरिया (Diarrhea) या अन्य किसी भी परेशानी की स्थिति में योगर्ट ले रहे हैं, तो ध्यान रखें कि शुगर युक्त योगर्ट को लेना अवॉयड करना चाहिए। क्योंकि, बहुत अधिक चीनी डायरिया के लक्षणों को बदतर बना सकती है। अगर आपको लैक्टोज इन्टॉलरेंस है या ट्रेडिशनल डेयरी प्रोबायोटिक योगर्ट का सेवन करने से आपके डायरिया (Diarrhea) के लक्षण बदतर होते हैं, तो आप डेयरी के लिए कोई अन्य विकल्प ढूंढे
    यह तो थी जानकारी योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में। अब जानते हैं कि डायरिया की कंडिशन में होम रेमेडीज के बारे में।

    और पढ़ें: सोने से पहले क्या खाएंः क्यों रात में दही खाना कर सकता है बीमार

    डायरिया (Diarrhea) के लिए होम रेमेडीज

    अगर आपको डायरिया (Diarrhea) है, तो आपका हायड्रेट रहना बेहद जरूरी है। इस बात का ध्यान रखें कि आप लॉस्ट फ्लूइड या इलेक्ट्रोलाइट्स को रिप्लेस करने के लिए अधिक से अधिक फ्लूइड का सेवन करें। पानी के साथ ही ऐसे लिक्विड्स को भी लें, जिनमें इलेक्ट्रोलाइट्स हों। ऐसा भी पाया गया है कि इस दौरान अपने खानपान का खास ध्यान रखना चाहिए। इस दौरान आप इन चीजों को पूरी तरह से अवॉयड करें:

    • एल्कोहॉल
    • कैफीन युक्त पेय जैसे चाय और कॉफ़ी
    • फ्रुक्टोज युक्त ड्रिंक्स और फूड्स
    • हाय फैट या ग्रीसी फूड्स
    • स्पाइसी फूड्स
    • फल जैसे सेब, नाशपती आदि
    • फूड और पेय पदार्थ, जिनमें अधिक चीनी हो
    • अगर आपको लैक्टोज सेंसिटिविटी है, तो लैक्टोज युक्त डेयरी उत्पाद

    6 मंथ प्रेग्नेंसी, 6 Months Pregnancy

    और पढ़ें: बच्चों में FPIES: बच्चों में बार-बार उल्टी और डायरिया होना, कहीं कोई सिंड्रोम तो नहीं!

    उम्मीद है कि योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी। डायरिया (Diarrhea) एक परेशान करने वाली बीमारी है। इस स्थिति में आपका हायड्रेट रहना जरूरी है। यही नहीं, अगर आपको यह परेशानी अधिक देर तक रहे, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। प्रोबायोटिक-रिच योगर्ट से डायरिया के लक्षणों से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। लेकिन अगर आप लैक्टोज इंटॉलरेंट हैं, तो दही या अन्य डेयरी उत्पादों को लेने से बचें। अगर आपके मन में योगर्ट और डायरिया (Yogurt and Diarrhea) के बारे में कोई भी सवाल है, तो अपने डॉक्टर से बात अवश्य करें।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 10/06/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: