home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Apcod Obis: एप्कोड ओबिस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Apcod Obis: एप्कोड ओबिस क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) कैसे काम करता है?

एप्कोड ओबिस पाउडर में मायो-इनोसिटोल, डी-चीरो इनोसिटोल और विटामिन डी 3 का समायोजन होता है। यह पाउडर के रूप में विटामिन डी 3 और एस्पिरिन है। इंसुलिन प्रतिरोध को बेहतर बनाने में विटामिन डी 3 अहम भूमिका निभाता है। जबकि, डी-चिरो इनोसिटोल और मायो-इनोसिटोलकोर हॉर्मोनल बैलेंस को ठीक करता है। यह ऑव्युलेशन में भी सुधार करता है। अपने चिकित्सक से इस दवा के नकारात्मक दुष्प्रभावों के बारे में जानकारी लेना न भूलें।

  • एप्कोड ओबिस पाउडर का उपयोग कम विटामिन डी के स्तर को ठीक करने के लिए किया जाता है।
  • इसका उपयोग सूजन कम करने के लिए भी किया जाता है।
  • एप्कोड ओबिस पाउडर का उपयोग पैराथायराॅइड के इलाज के लिए भी किया जाता है।
  • इसका उपयोग पॉली-सिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम (PCOS) से ग्रसित महिलाओं में किया जाता है, यह उनके लिए मददगार है।
  • यह किडनी के मरीजों में, डायलिसिस से गुजरने वाले रोगियों में कम कैल्शियम के स्तर को बराबर करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • हाई फॉस्फेट के लेवल का इलाज करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।
  • इसका उपयोग रिकेट्स के इलाज के लिए किया जाता है।
  • अल्जाइमर रोग के इलाज में भी यह उपयोगी
  • मधुमेह के इलाज में उपयोग किया जाता है।
  • अवसाद रोगियों के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है।

और पढ़ें: Onabet: ओनाबेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का सामान्य डोज क्या है?

इस दवा का उपयोग डॉक्टर के निर्देश के बाद किया जाना चाहिए। डॉक्टर इस दवा को आपकी स्थिति के आधार पर निर्धारित करते हैं। इस दवा को एक साथ अधिक मात्रा में और लंबे समय तक लेने के लिए अनुशंसित नहीं किया जाता है। डॉक्टर कभी-कभी इस दवा के बेहतर परिणाम के लिए दवा के डोज को बदल सकता है। इसको मापने के लिए आप किसी खास कप या चम्मच का प्रयोग कर सकते हैं। डोज मापने के लिए एक ही उपकरण का प्रयोग करें। इसे बार-बार न बदलें। यदि आपके पास एक खुराक-मापने वाला उपकरण नहीं है, तो अपने फार्मासिस्ट से पूछें।

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का वयस्कों के लिए डोज क्या है?

वयस्कों में एप्कोड ओबिस पाउडर का उपयोग एक दिन में 3 या 4 ग्राम तक किया जाना चाहिए। इसका अधिकतम उपयोग 6 ग्राम से अधिक नहीं किया जाना चाहिए। इसे मौखिक रूप से लिया जाता है।

और पढ़ें :Dexorange Syrup: डेक्सोरेंज सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

यदि आप एप्कोड ओबिस पाउडर का अत्यधिक खुराक ले लेते हैं तो ऐसी स्थिति में इसके कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। ओवरडोज ज्यादातर मामलों में रोगी के लिए जटिल दुष्प्रभावों का कारण बनता है। आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

यदि आप एप्कोड ओबिस पाउडर का डोज लेना भूल गए हैं, तो याद आते ही इसे लें। यदि यह आपके दूसरी खुराक लेने के समय पर याद आता है, तो छूटी हुई खुराक को छोड़ दें और अभी की खुराक का सेवन करें। छूटी हुई खुराक को कवर करने के लिए आपको कभी भी अतिरिक्त खुराक का सेवन न करें। यदि आप अपने टैबलेट के सेवन का समय याद नहीं कर पा रहे हैं और खुराक को बार-बार भूल जाते हैं, तो इसके लिए एक सही समय निर्धारित कर लें। प्रतिदिन उसी समय पर खुराक लें। आप खुराक को याद रखने के लिए अलार्म भी लगा सकते हैं।

और पढ़ें: Clonidine : क्लोनिडीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

उपयोग

मुझे एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

  • एप्कोड ओबिस पाउडर के सही उपयोग के लिए अपने डॉक्टर द्वारा दिए गए निर्देश का पालन करें।
  • यह दवा पाउडर के रूप में होती है, इसलिए आपको इसका डोज मापने के लिए एक सही उपकरण की आवश्यकता होती है। ध्यान रखें किसी भी साधारण चम्मच से इसको न नापें। इसको मापने के लिए अपने फर्मासिस्ट से एक उपकरण लें। इससे आपका डोज कम या ज्यादा नहीं होगा।

और पढ़ें: Aciloc RD : एसिलोक RD क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

  • दवा लेने वाले उपकरण को प्रतिदिन साफ करें।
  • दवा के उपयोग के साथ आपको पानी का अधिक सेवन करना चाहिए।
  • इसकी खुराक अपनी इच्छा अनुसार कम या ज्यादा न करें। इससे आपकी स्थिति पर गंभीर प्रभाव पड़ सकता है।
  • एप्कोड ओबिस के उपयोग के साथ-साथ आपको एक निर्धारित आहार लेने की आवश्यकता होती है। इसके उपयोग से पहले डॉक्टर से अपने आहार की एक सूची तैयार करवा लें। इस डायट का पालन आपको दवा का उपयोग करते समय करना है।
  • तेल मसाले वाले खाद्य पदार्थों का सेवन बंद कर दें।
  • कभी भी किसी व्यक्ति को इस दवा को लेने की सलाह स्वंय न दें। न ही किसी के कहने पर इस दवा के उपयोग करें।
  • एक्सपायर डेट चेक करना न भूलें।

और पढ़ें: Felicita OD Capsule: फेलिसिटा ओडी कैप्सूल क्या है? जानिए इसका उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

एप्कोड ओबिस पाउडर के कुछ दुष्प्रभाव हैं। नीचे दिए गए दुष्प्रभाव संभव हैं, लेकिन हमेशा नहीं होते हैं। कुछ इनमें से स्वंय ही ठीक हो जाते हैं। कुछ दुष्प्रभाव बहुत रेयर हैं, लेकिन गंभीर हो सकते हैं। यदि आपको निम्नलिखित में से किसी के भी दुष्प्रभाव के लक्षण दिखाई देते हैं और यदि ये समाप्त नहीं होते हैं तो चिकित्सक से परामर्श लें।

यह जरूरी नहीं इस दवा से आपको केवल यही दुष्प्रभाव हों। इसके कई अलग दुष्प्रभाव भी दिखाई दे सकते हैं।

और पढ़ें: Dexorange: डेक्सोरेंज क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानियां और चेतावनी

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

एप्कोड ओबिस पाउडर का उपयोग करते समय कई प्रकार की सावधानियां रखने की आवश्यकता होती है। जो इस प्रकार है।

  • एप्कोड ओबिस पाउडर का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर को उन दवाओं के बारे में बताएं, जो आप वर्तमान में ले रहे हैं। चाहे वे ओवर द काउंटर, विटामिन, हर्बल सप्लीमेंट हो इनके बारे में अपने डॉक्टर को जरूर बताएं।
  • यदि आपको किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या है, तो इस दवा के उपयोग से पहले अपने डॉक्टर को बताना न भूलें।इसमें उन दवाओं का समायोजन हो सकता है जिनसे आपको एलर्जी है। इसलिए अपने चिकित्सक को एलर्जी की समस्या के बारे में जरूर बताएं।
  • यदि आप आगे किसी प्रकार की सर्जरी कराने की योजना बना रहे हैं, तो इसके बारे में अपने डॉक्टर को अवश्य सूचित करें।
  • कुछ स्वास्थ्य स्थितियां आपको दवा के दुष्प्रभावों के प्रति अधिक संवेदनशील बना सकती हैं।
  • चिकित्सक खुराक आपकी स्थिति के आधार पर तय करता है। इसलिए दवा के उपयोग के साथ अपनी स्थिति की निगरानी करें। अपनी स्थिति में सुधार होने पर डॉक्टर को बताएं ताकि वह आपके डोज में कुछ परिवर्तन कर सके।

और पढ़ें: Alex Syrup: एलेक्स सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

  • यदि आपकी स्थिति वैसे ही बनी रहती है और यदि दवा के उपयोग करने से आपको किसी प्रकार आराम महसूस नहीं होता है या आपकी स्थिति और बदतर हो जाती है तो अपने चिकित्सक को बताएं।
  • यदि इस दवा के उपयोग से आपके शरीर में सूजन या सांस लेने में तकलीफ जैसा महसूस होता है तो ये इसके दुर्लभ साइड इफेक्टस हो सकते हैं। ऐसी स्थिति में दवा लेना बंद करके अपने चिकित्सक से परामर्श करें।
  • किडनी स्टोन के रोगियों में इस दवा का उपयोग बहुत ही सावधानी के साथ किया जाना चाहिए। यह उनकी स्थिति को प्रभावित कर सकती है।
  • इस दवा के उपयोग से अधिक नींद आने जैसे दुष्प्रभाव देखने को मिलते हैं। इसके उपयोग के बाद ड्राइविंग करने से बचें।

गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

अपने डॉक्टर से इस दवाई के फायदों और जोखिमों के बारे में सलाह लें। बता दें की गर्भावस्था और स्तनपान दोनों के ही दौरान इसका उपयोग करना बेहद हानिकारक हो सकता है।

अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) के मुताबिक, ओबिस पाउडर को प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की श्रेणी ‘N’ में रखा गया है।

FDA प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी की लिस्ट नीचे दी गई है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में खतरा पाया गया
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के पॉजिटिव एविडेंस मौजूद हैं
  • X= कॉन्ट्रेनडिकेटेड (Contraindicated)
  • N= पता नहीं

और पढ़ें: Albendazole : एल्बेंडाजोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

कुछ दवाएं आपके शरीर को विटामिन डी को अवशोषित करने में मुश्किल पैदा कर सकती हैं। इसके साथ अन्य दवाओं जैसे,ओवर-द-काउंटर दवाएं, विटामिन और हर्बल उत्पाद का सेवन करने से पहले चिकित्सक सलाह बेहद आवश्यक है। यदि आप किसी प्रकार की दवाएं लेते हैं, तो उन्हें एप्कोड ओबिस पाउडर लेने के कम से कम 2 घंटे पहले या 2 घंटे बाद लेना चाहिए। अपने सभी मौजूदा दवाओं के बारे में अपने डॉक्टर को बताएं जो आप ले रहे हैं या जिनका उपयोग करना बंद कर दिया है।

  • सीजर्स की दवाएं (seizure medication)
  • कोलेस्टिरमाइन (cholestyramine)
  • कोलस्टिपोल (colestipol)
  • स्टेरॉयड (steroids)
  • डिगॉक्सिन (digoxin)
  • क्लोरोथायजाइड (chlorothiazide)
  • हाइड्रोक्लोरोथियाजाइड (hydrochlorothiazide)

यह सभी दवाओं की सूची नहीं है, इसमें अन्य दवाएं भी हो सकती हैं जो कि एप्कोड ओबिस पाउडर के साथ इंटरैक्ट कर सकती हैं। अपने डॉक्टर को बताए बिना एक नई दवा शुरू न करें।

और पढ़ें: Perinorm: पेरिनोर्म क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

मैं एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) को कैसे स्टोर करूं?

दवाओं को कमरे के तापमान पर स्टोर करें। इसको अधिक गर्मी और प्रत्यक्ष प्रकाश से दूर रखें। जब तक पैकेज फेंकने की आवश्यकता न हो तब तक नाली या टॉयलेट में न डालें। दवाओं को बच्चों और पालतू जानवरों से दूर रखें। इस तरह से छोड़ी गई दवाई पर्यावरण को दूषित कर सकती है।

और पढ़ें: Trajenta: ट्राजेंटा क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

एप्कोड ओबिस पाउडर (Apcod Obis Powder) किस रूप में उपलब्ध है?

एप्कोड ओबिस पाउडर दो रूप में ही उपलब्ध है।

  • पाउडर
  • टैबलेट

उपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

cholecalciferol (vitamin D3)/ https://www.uofmhealth.org/health-library/d03129a1

Accessed on 19-06-2020

Vitamin D: Daily vs. Monthly Use in Children and Elderly—What Is Going On?/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5537772/

Accessed on 19-06-2020

Sample records for oral cholecalciferol supplementation/https://worldwidescience.org/topicpages/o/oral+cholecalciferol+supplementation.html

Accessed on 19-06-2020

Myoinositol as a Safe and Alternative Approach in the Treatment of Infertile PCOS Women: A German Observational Study/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5011528/

Accessed on 19-06-2020

cholecalciferol (vitamin D3)/https://www.cardiosmart.org/Healthwise/d031/29/d03129

Accessed on 19-06-2020

The effects of combined therapy of myo-inositol and D-chiro inositol in reduction of the individual components of metabolic syndrome in overweight PCOS patients compared to myo-inositol supplementation alone: a prospective randomised controlled trial/https://www.ijrcog.org/index.php/ijrcog/article/view/2821

Accessed on 19-06-2020

Myo-Inositol and Its Derivatives: Their Emerging Role in the Treatment of Human Diseases/https://www.frontiersin.org/articles/10.3389/fphar.2019.01172/full

Accessed on 19-06-2020

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/10/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x