home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Prothiaden: प्रोथीआडेन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन|डोसेज|उपयोग|साइड इफेक्ट्स|सावधानियां और चेतावनी|रिएक्शन|स्टोरेज
Prothiaden: प्रोथीआडेन क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

फंक्शन

प्रोथीआडेन (Prothiaden) कैसे काम करता है?

प्रोथीआडेन ड्रग का यूज अवसाद यानी डिप्रेशन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है। इसे एंटी डिप्रेशन टेबलेट भी कहते हैं। मूड चेंज, नींद न आने की समस्या, चिंता और निराशा की भावना का अधिक होना आदि समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए प्रोथीआडेन का यूज किया जाता है। प्रोथीआडेन एंटीडेस्परेंट ग्रुप को बिलॉन्ग करती है। दवा को लेने के बाद डिप्रेशन की समस्या कम हो जाती है और साथ ही चिंता में भी कमी आती है। इस दवा का सेवन करने की सलाह डॉक्टर तभी देते हैं, जब आप अन्य दवाओं का सेवन न कर रहे हो। ऐसा रिक्शन की संभावना को कम करने के लिए किया जाता है।

प्रोथीआडेन (Prothiaden) का कैमिकल कंपोजीशन क्या है ?

प्रोथीआडेन में मुख्य रूप से डोसुलेपिन (Dosulepin) होता है।

और पढ़ें : Nicotex: निकोटेक्स क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

प्रोथीआडेन (Prothiaden) का सामान्य डोज क्या है?

प्रोथीआडेन का कितना डोज आपको दिन में लेना है, इस बारे में डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करें। कार्टन लेबल पर दवा के डोज के बारे में जानकारी होती है, उसे जरूर पढ़ें।

प्रोथीआडेन (Prothiaden) का वयस्कों के लिए डोज क्या है?

वयस्कों को दिन में एक गोली लेनी की सलाह दी जाती है। हो सकता है कि आपका डॉक्टर इसे बढ़ाने की सलाह दे। डॉक्टर डोज में दो से तीन गोलियां लेने की सलाह भी दे सकता है। बुजुर्गों को शुरुआत में एक टेबलेट लेने की सलाह दी जाती है। डॉक्टर दवा को चार हफ्ते तक खाने की सलाह दे सकता है। साथ ही सुधार के लक्षणों को देखते हुए दवा को बंद भी किया जा सकता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

प्रोथीआडेन (Prothiaden) की डोज के सेवन के बारे में डॉक्टर से पूछ कर ही सेवन करें। प्रोथीआडेन (Prothiaden) का ओवरडोज होने मृत्यु का खतरा रहता है। अगर आपने दवा का ओवरडोज लिया है और आपको कुछ लक्षण दिखाई पड़ रह हैं तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

अगर डोज मिस हो जाए तो मुझे क्या करना चाहिए?

अगर प्रोथीआडेन (Prothiaden) का डोज मिस हो जाता है तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। कुछ समय के अंतराल में डबल डोज न लें बल्कि उस डोज को छोड़ दें और निर्धारित किए गए दूसरे डोज को समय पर लें।

और पढ़ें : Zinetac: जिनटैक क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

उपयोग

मुझे प्रोथीआडेन (Prothiaden) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

प्रोथीआडेन (Prothiaden) टेबलेट का उपयोग पानी के साथ करते हैं। आपको डॉक्टर ने दिन में जितनी भी बार दवा का उपयोग करने की सलाह दी है, उस निर्धारित समय पर दवा का पानी के साथ सेवन करें। दवा को तोड़े नहीं और ना ही चबाएं। दवा का स्वाद कड़वा होता है जो कि आपके मुंह के स्वाद को खराब कर सकता है। डोज की टाइमिंग को अपने आप चेंज न करें और न ही समस्या से आराम मिलने पर इसे छोड़ दें। आपको दवा कब छोड़नी है, इस बारे में डॉक्टर आपको जानकारी देगा।

इन बीमारियों का होता है इलाज

अवसाद की समस्या

अवसाद यानी डिप्रेशन एक तरह की मेंटल प्रॉब्लम है। इस बीमारी के कारण नींद न आने की समस्या, भूख न लगना, चिड़चिड़ाहट महसूस होना, काम करने में असमर्थता, निगेटिव थिंकिंग, नशा करना आदि समस्याएं पैदा होने लगती हैं। ऐसे में दवा के जरिए डिप्रेशन की समस्या को खत्म करने की कोशिश की जाती है।

चिंता और निराशा होना

जब व्यक्ति किसी बारे में जरूरत से ज्यादा सोचता है तो उसके शरीर में विभिन्न लक्षण दिखाई देने लगते हैं। चिंता अधिक करने से डिप्रेशन की समस्या हो जाती है। ऐसे में दवा का उपयोग करने से चिंता में कमी होती है और व्यक्ति खुद को रिलेक्स फील करता है।

मूड स्विंग्स की समस्या

मूड स्विंग एक तरह का पर्सनैलिटी डिसऑर्डर है, जिसमे इंसान कुछ समय खुश रहता है तो कुछ समय बाद चिड़चिड़ा जाता है। ऐसा चिंता के कारण भी हो सकता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए पॉजिटिव एटिट्युड के साथ ही दवा का सेवन करना जरूरी हो जाता है।

अगर आपको उपरोक्त में किसी भी प्रकार के लक्षण दिख रहे हैं तो बेहतर होगा कि एक बार आप डॉक्टर से संपर्क करें। डॉक्टर आपको बताएगा किस तरह से आप इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं और किन दवाओं का सेवन करने से आपको आराम मिलेगा।

और पढ़ें : Perinorm: पेरिनोर्म क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

साइड इफेक्ट्स

प्रोथीआडेन (Prothiaden) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं ?

किसी अन्य दवा की तरह ही प्रोथीआडेन (Prothiaden) को लेने से शरीर में साइड इफेक्ट्स दिख सकते हैं। जानिए प्रोथीआडेन लेने से शरीर में क्या साइडइफेक्ट्स दिख सकते हैं।

प्रोथीआडेन लेने से आपको किसी प्रकार का साइड इफेक्ट होगा, इस बारे में कहना मुश्किल है। कुछ व्यक्तियों में दवा के सेवन के बाद साइड इफेक्ट दिख सकते हैं और किसी में नहीं भी दिखते। अगर कोई व्यक्ति पहले से ही अन्य दवा का सेवन कर रहा है तो इस दवा के साथ अन्य दवा का उपयोग करने से साइडइ फेक्ट्स होने की संभावना बढ़ जाती है। बेहतर होगा कि प्रोथीआडेन लेने से पहले अपने डॉक्टर से इसके साइड इफेक्ट के बारे में जानकारी जरूर लें। साथ ही इस दवा और अन्य दवा के बीच अंतर के बारे में भी जानकारी लें। ऐसा करने से आप साइड इफेक्ट्स से बच सकते हैं।

सावधानियां और चेतावनी

प्रोथीआडेन (Prothiaden) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

  • प्रोथीआडेन का इस्तेमाल करते वक्त सावधानी जरूर रखें क्योंकि यह दवा अन्य दवाओं के साथ तेजी से इंटरेक्शन करती है।
  • अगर आपको प्रोथीआडेन टेबलेट के किसी इंग्रीडिएंट से एलर्जी है तो इस बारे में तुरंत डॉक्टर को बताएं।
  • प्रोथीआडेन का सेवन उन महिलाओं को नहीं करना चाहिए जो गर्भवती हैं या फिर ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। इस बारे में सर्तकता बहुत जरूरी है।
  • प्रोथीआडेन का सेवन करने के बाद ड्राइविंग नहीं करनी चाहिए क्योंकि हो सकता है कि आपको चक्कर का एहसास हो या फिर कमजोरी लगे। ड्राइविंग के दौरान ऐसा होने पर दुर्घटना भी हो सकती है।
  • दवा के सेवन के बाद बेहतर होगा कि आप थोड़े समय के लिए आराम करें।
  • अगर आपकी कोई सर्जरी होने वाली है तो बेहतर होगा कि प्रोथीआडेन का सेवन न करें। इस बारे में डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें।
  • दवा के उपयोग के बाद आपको कैसा महसूस हो रहा है, इस बात की जानकारी तुरंत डॉक्टर को दें। कुछ लोगों को दवा के सेवन के बाद सुसाइडल थॉट्स अधिक आते हैं।
  • अगर आपको डिप्रेशन की समस्या है तो बेहतर होगा कि आप घरवालों से अपनी समस्या को शेयर करें और उनके साथ अधिक से अधिक समय बिताएं।
  • दवाएं आपको समस्या से छुटकारा दिला सकती हैं, लेकिन बेहतर होगा कि आप अपनी लाइफस्टाइल में सुधार करें।
  • मेंटल हेल्थ को दुरस्त रखने के लिए जरूरी है कि किसी भी प्रकार की चिंता को अपनों के साथ शेयर करें।
  • दवाओं का सही समय पर सेवन करना बहुत जरूरी है। कुछ बातों का ध्यान रख आप डिप्रेशन की समस्या से निजात पा सकते हैं।

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान प्रोथीआडेन (Prothiaden) को लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी के दौरान प्रोथीआडोन की गोली होने वाले बच्चे में दुष्प्रभाव डाल सकती है। बेहतर होगा कि आप इस बारे में डॉक्टर से पूछे और साथ ही डिप्रेशन की समस्या होने पर उन्हें जानकारी दें कि आप प्रेग्नेंट हैं। बिना सलाह के प्रोथीआडोन लेने से बुरे परिणाम भी सामने आ सकते हैं। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान भी इस दवा का सेवन करना ठीक नहीं रहता है क्योंकि दवा की कुछ मात्रा मां से बच्चे में पहुंचने का खतरा रहता है। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

और पढ़ें : Sucrafil: सुक्राफिल क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

रिएक्शन

प्रोथीआडेन (Prothiaden) कौन-सी दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकती है?

अगर आप प्रोथीआडेन ले रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि इस दवा का रिएक्शन अन्य दवाओं के साथ भी हो सकता है। अगर आप डेंटिस्ट के पास जा रहे हैं तो भी आपको बहुत ध्यान देने की जरूरत है। अगर आप डेंटिस्ट के पास सर्जरी के लिए जा रहे हैं तो आपको इस बारे में डेंटिस्ट को बताना पड़ सकता है, क्योंकि इन दवाओं के सेवन से एनेस्थीसिया के प्रभाव पर असर पड़ सकता है। अगर आपको निम्न बीमारियां है तो प्रोथीआडेन (Prothiaden) लेने से पहले डॉक्टर को इस बात की जानकारी अवश्य दें।

प्रोथीआडेन (Prothiaden) का सेवन करने के दौरान एल्कोहॉल का सेवन नहीं करना चाहिए। एल्कोहॉल का दवा के साथ रिएक्शन हो सकता है। साथ ही अन्य दवाएं भी हैं जो प्रोथीआडेन के साथ रिएक्शन कर सकती हैं।

  • डाईहाइड्रोकोडीन (Dihydrocodeine)
  • कोप्रोक्सामोल (Co-proxamol)
  • कोडीन (Codeine)
  • मोनोमाइन ऑक्सीडेज इनहिबिटर (monoamine oxidase inhibitor)
  • एड्रेलाइन (Adrenaline)
  • एंटीहाइपरटेंसिव मेडिसिन (Antihypertensive medications)
  • बार्बीचुरेट्स (barbiturates)
  • सीएनएस डिप्रेसेंट (CNS depressants)
  • न्यूरॉन ब्लॉकिंग ड्रग ( neuron blocking drugs)
  • एंटीकोलिनेर्जिक्स (Anticholinergics)

और पढ़ें :Ostocalcium: ओस्टोकैल्शियम क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज

मैं प्रोथीआडेन (Prothiaden) को कैसे स्टोर करूं?

  • प्रोथीआडोन को अन्य दवाओं की तरह ही स्टोर करना चाहिए।
  • प्रोथीआडोन को कमरे के तापमान पर रखें। ऐसे स्थान पर न रखें जहां धूप आती है।
  • कमरे में नमी वाले स्थान में दवा नहीं रखनी चाहिए। ऐसा करने से दवा खराब हो सकती है।
  • प्रोथीआडोन को स्टोर करने के लिए एक कपबोर्ड लें। कपबोर्ड को टाइट बंद करना चाहिए।
  • अगर आप दवा को सुरक्षित रखेंगे तो दवा बच्चों और जानवरों की पहुंच से दूर रहेगी।
  • अगर आपके पास प्रोथीआडोन की अधिक टेबलेट आ गई है तो इन्हें यूज न होने पर फेंके नहीं बल्कि मेडिकल स्टोर में रिटर्न कर दें। प्रोडक्ट एक्सपायर हो गया है तो आप फार्मसिस्ट से इस बारे में जानकारी प्राप्त करें कि दवाओं को कैसे नष्ट करना है।
  • इस दवा का सेवन अगर अन्य कोई व्यक्ति करता है तो उसमे गंभीर लक्षण भी दिख सकते हैं, बेहतर होगा कि दवा के सेवन के बाद उसे सुरक्षित रखें।

प्रोथीआडेन (Prothiaden) किस रूप में उपलब्ध है?

  • टेबलेट

अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान और उपचार प्रदान नहीं करता।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

PROTHIADEN TABLETS 75MG  https://www.drugs.com/uk/prothiaden-tablets-75mg-leaflet.html Accessed on 9/6/2020

An Evaluation of a Once Daily Dosage Régime of Prothiaden:   https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/1028633 Accessed on 9/6/2020

Dosulepin :  https://www.healthdirect.gov.au/medicines/medicinal-product/aht,20854/dosulepin-dothiepin Accessed on 9/6/2020

DOSULEPIN MYLAN :  https://www.medsafe.govt.nz/profs/Datasheet/d/Dopresscap.pdf Accessed on 9/6/2020

Dosulepin : https://www.drugs.com/international/dosulepin.html Accessed on 9/6/2020

 

 

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड