home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

पिज्जा डिलिवरी बॉय को हुआ कोरोना, क्या आप भी पिज्जा डिलिवरी बॉय के संपर्क में आ चुके हैं ?

पिज्जा डिलिवरी बॉय को हुआ कोरोना, क्या आप भी पिज्जा डिलिवरी बॉय के संपर्क में आ चुके हैं ?

कोरोना वायरस महामारी के कारण फिलहाल लोग घर के अंदर हैं और साथ ही घर में ही खाना बना रहे हैं। सरकार की ओर से कुछ डिलिवरी बॉय को फूड डिलिवरी के लिए छूट दी गई है। साउथ दिल्ली के मालवीय नगर में पिज्जा डिलिवरी बॉय को कोरोनो संक्रमण हो जाने की वजह से बवाल मच गया है। कोरोना वायरस का संक्रमण डिलिवरी बॉय को पिछले 20 दिनों से था। इस दौरान उसने 72 से ज्यादा घरों में पिज्जा डिलिवरी की। जांच के बाद सभी परिवारों को क्वारंटीन कर दिया गया है। साथ ही कुछ कर्मचारियों को भी क्वारनटीन किया गया है। लॉकडाउन उन लोगों के लिए मुसीबत बन गया है, जो बाहर से ऑर्डर कर खाना खाते थे। अब चूंकि घर में खाना बनाने का ऑप्शन जिनके पास नहीं है या फिर जो लोग बाहर का खाना पसंद करते हैं, उन लोगों के लिए फूड ऑर्डर की छूट दी गई थी। पिज्जा डिलिवरी बॉय को संक्रमण हो जाने से ऐसे लोग दहशत में आ गए हैं, जिन्होंने पिछले कुछ दिनों में होम डिलिवरी की सहायता से घर में पिज्जा या खाना मंगाया था।

ये भी पढ़ेंः डब्ल्यूएचओ ने कोविड-19 के दौरान आवश्यक स्वास्थ्य सेवाओं के लिए जारी किए ये दिशानिर्देश

पिज्जा डिलिवरी बॉय को कोरोनो संक्रमण कैसे हुआ ?

पिज्जा डिलिवरी बॉय को कोरोनो संक्रमण कैसे हुआ, इस बारे में अभी जांच की जा रही है। पिज्जा डिलिवरी बॉय के संपर्क में आए कर्मचारियों को भी आइसोलेशन में रखा गया है और सभी लोगों को जल्द जांच भी की जाएगी। लॉकडाउन में लोगों को कुछ राहत देने के लिए ऑनलाइन फूड से जुड़ी कंपनियों को छूट दी गई है ताकि लोगों के घर होम डिलिवरी हो सके। इस बीच दिल्ली में पिज्जा बॉय को कोरोना संक्रमण हो जाने से लोगों के मन में होम डिलिवरी को लेकर कई सवाल भी खड़े हो गए है। जांच के बाद अगर मामला अगर बिगड़ता दिखता है तो हो सकता है कि होम डिलिवरी पर भी रोक लग जाए। पिज्जा डिलिवरी बॉय के पॉजिटिव होने की बात टेस्ट के बाद सामने आई थी।

अगर पिज्जा बॉय का कोरोना वायरस टेस्ट नहीं किया जाता तो शायद इस बारे में जानकारी भी न मिल पाती। आपको बताते चले कि पिज्जा डिलिवरी बॉय को कोरोनो संक्रमण हो जाने की वजह से तुरंत दुकान को भी बंद करा दिया गया है।पिज्जा डिलिवरी बॉय के संपर्क में अन्य 17 अन्य डिलिवरी बॉय भी आ चुके हैं। ऐसे में ये समझ पाना मुश्किल है कि आखिर कोरोना वायरस फैलने की ये चेन केवल एक व्यक्ति तक सीमित है या फिर अब तक कई लोग इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं।

ये भी पढ़ेंः कोरोना के पेशेंट को क्यों पड़ती है वेंटिलेटर की जरूरत, जानते हैं तो खेलें क्विज

होम डिलिवरी के दौरान रखी गई थी शर्त

जब सरकार ने होम डिलिवरी की इजाजत दी थी तो साथ ही शर्त भी रखी थी। सरकार ने सभी रेस्तरां, ऑनलाइन फूड डिलिवरी एप वालों को सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करना, मास्क, सैनिटाइजर के साथ ही अन्य जरूरी सावधानियां रखने की बात कही थी। साथ ही कर्मचारियों को सतर्क रहने के लिए कहा गया था। ऑनलाइन फूड रेस्ट्रोरेंट में खाना बनाने के दौरान रखी जाने वाली सावधानियों को लेकर भी जरूरी बात कहीं गई थी। फिलहाल अभी दिल्ली के करीब 70 परिवारों को आइसोलेशन में रखा गया है और साथ ही जांच के काम को आगे बढ़ाया जा रहा है। फिलहाल दिल्ली में कोरोना का संक्रमण बढ़ने की रफ्तार कुछ कम हुई है। अगर इस तरह के मामले आते रहेंगे तो हो सकता है कि दिल्ली में कोरोना के मरीजों की रफ्तार अचानक से बढ़ जाए। इस दौरान सभी लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है।

ये भी पढ़ेंः सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज करने से भुगतना पड़ेगा खतरनाक अंजाम

आपको बताते चले कि अभी दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 1,578 पहुंच चुकी है। वहीं 30 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में अब तक कोविड-19 बीमारी से 12 हजार से ज्यादा लोग पीड़ित हो चुके हैं। फिलहाल दिल्ली और महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या में तीन दिन से कमी देखने को मिल रही है। लेकिन इस तरह की खबर से दिल्लीवासियों की मुसीबत बढ़ सकती है। अगर आप भी होम डिलिवरी ले रहे हैं तो अब आपको भी सावधान हो जाना चाहिए।

पिज्जा डिलिवरी बॉय को कोरोनो संक्रमण: होम डिलिवरी के दौरान रखें सावधानी

फिलहाल अगर आपको बहुत जरूरी न हो तो होम डिलिवरी के लिए ऑर्डर न करें। अगर आपको फिर भी होम डिलिवरी चाहिए तो कुछ बातों का ध्यान रखें।

  • डिलिवरी बॉय को डोर के पास सामान रखने को कहें।
  • ऑनलाइन पेमेंट करें।
  • सामान को हो सके तो सैनिटाइज करने के बाद ही छुएं।
  • हाथों को अच्छी तरह से धोएं
  • सामान छूने के बाद आंखों, नाक और मुंह को छूने से बचें।
  • छींकते या खांसते समय अपने मुंह और नाक को किसी टिश्यू पेपर या फिर कोहनी को मोड़कर ढकें।

ये भी पढ़ेंः नोवल कोरोना वायरस संक्रमणः बीते 100 दिनों में बदल गई पूरी दुनिया

इन बातों पर दें ध्यान

  1. बुखार, खांसी या सांस लेने में दिक्कत हो तो लापरवाही न बरतें। ये कोरोना वायरस के लक्षण हो सकते हैं।
  2. तबियत सही न लगने पर तुरंत डॉक्टर से मिलकर सलाह लें और फिर जांच कराएं।
  3. अगर आप मास्क लगा रहे हैं तो एल्कोहॉल बेस्ड हैंड रब का यूज करना न भूलें। आप चाहे तो साबुन का यूज भी कर सकते हैं।
  4. अगर जरूरत न हो तो घर के बाहर बिल्कुल न निकलें। बेहतर होगा कि बाहर जाते समय मास्क का यूज करें।
  5. मास्क को दोबारा इस्तेमाल करने से कोरोना का खतरा बढ़ सकता है। कपड़े का मास्क धुलकर ही यूज करें।
  6. मास्क का यूज करने के बाद उसे डस्टबिन में फेंक दें। अगर कपड़े का मास्क यूज कर रहे हैं तो उसे हर बार धुलें।
  7. आप चाहे तो ग्लव्स का भी यूज कर सकते हैं।
  8. कोरोना से अवेयरनेस के लिए सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन पर ध्यान जरूर दें।
  9. कोरोना की जानकारी ही आपको कोरोना से बचने में सहायता कर सकती है।
  10. घर में सब्जियां लाने के बाद उनकी अच्छे से सफाई करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड