backup og meta

हार्ट से ब्लड फ्लो (Blood Flow Through The Heart) कैसे होता है जानिए

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 21/06/2022

हार्ट से ब्लड फ्लो (Blood Flow Through The Heart) कैसे होता है जानिए

प्रत्येक हार्ट बीट्स (Heart beats) के साथ हार्ट ऑक्सिजन और पोषक तत्वों से भरपूर ब्लड को बॉडी में पंप करता है। ब्लड फ्लो वेसल्स के नेटवर्क के जरिए होता है जिसे सर्कुलेटरी सिस्टम (Circulatory system) कहा जाता है। जब ब्लड हार्ट में वापस आता है तो ऑक्सिजन लेने के लिए यह लंग्स में जाता है। इसके बाद हार्ट ब्लड को पूरी बॉडी में पंप कर देता है। इसी प्रकार यह प्रॉसेस चलती रहती है। इस लेख में हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो (Blood Flow Through The Heart) और इसकी पूरी प्रॉसेस के साथ ही इसको प्रभावित करने वाली स्थितियों के बारे में बताया जा रहा है।

हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो (Blood Flow Through The Heart)

हमारा हार्ट एक पावरफुल मसल है भले ही इसका आकार मुठ्ठी के बराबर है। हर सेकंड यह हमारे शरीर में पोषक तत्वों और ऑक्सिजन युक्त रक्त को पंप करता है। हर हार्टबीट के साथ आपका हार्ट ब्लड को सर्कुलेटरी सिस्टम के जरिए ब्लड को सेंड करता है। जीवित रहने के लिए ब्लड महत्वपूर्ण है। ब्लड आपके हार्ट से ऑक्सिजन और पोषक तत्वों को आपके पूरे शरीर में अन्य ऊतकों तक ले जाता है। यह ऊतकों से कार्बन डाइऑक्साइड जैसे अपशिष्ट उत्पादों को भी दूर करता है। इस प्रकार हम समझ सकते हैं कि हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो कितना महत्वपूर्ण है।

और पढ़ें: हार्ट अटैक के रिस्क फैक्टर्स की इन 3 कैटेगरीज के बारे में जानते हैं आप?

सर्कुलेटरी सिस्टम (Circulatory system) क्या है?

सर्कुलेटरी सिस्टम ब्लड वेसल्स का नेटवर्क है। ब्लड वेसल्स छोटी ट्यूब्स हैं जो ब्लड को बॉडी में ले जाती हैं। हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो तीन टाइप की ब्लड वेसल्स से होता है।

हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो कहां होता है? (Where does blood flow through the heart?)

आपका हृदय स्वयं रक्त वाहिकाओं द्वारा पोषित मांसपेशियों से बना होता है। आपके हृदय में चार कक्ष होते हैं। कक्ष आपके दिल के “घर” के कमरों की तरह हैं। यदि आप हृदय के डायग्राम को देखें, तो ये कक्ष ऊपरी और निचले कक्षों और बाएं और दाएं कक्षों में विभाजित होते हैं।

  • एट्रिया ऊपरी हृदय कक्ष होते हैं। हमारे पास लेफ्ट एट्रियम और राइट एट्रियम होते हैं। जिन्हें हिंदी में बायां आलिंद और दायां आलिंद कहते हैं।
  • वेंट्रिकल्स दो लोअर हार्ट चैम्बर्स हैं। जिन्हें हिंदी में निलय कहा जाता है। हमारे पास एक दायां निलय और बायां निलय होते हैं।

निचले और ऊपरी कक्षों के बीच हार्ट वॉल्व्स होते हैं। हार्ट से होने वाले ब्लड फ्लो के लिए ये वॉल्व बंद और खुलते हैं। ये ब्लड फ्लो को प्रॉपर रखने में मदद करते हैं। वॉल्व यह भी सुनिश्चित करते हैं कि हार्ट से होने वाले ब्लड फ्लो एक ही डायरेक्शन में हो। ये वॉल्व निम्न प्रकार के होते हैं।

  • एरोटिक वॉल्व – ये बाएं निलय और महाधमनी को जोड़ता है (बड़ी धमनी जो आपके पूरे शरीर में रक्त ले जाती है)।
  • मिटरल वॉल्व- बाएं आलिंद और बाएं निलय को जोड़ता है।
  • पल्मोनरी वॉल्व- दाएं निलय और फुफ्फुसीय धमनियों को जोड़ता है (धमनियां जो आपके फेफड़ों में रक्त ले जाती हैं)।
  • ट्राइकसपिड वॉल्व- दाएं अलिंद और दाएं निलय को जोड़ता है।
  • हार्ट से होने वाले ब्लड फ्लो का कम्र कैसे रहता है? (How is the blood flow from the heart controlled?)

    हार्ट का दायां और बायां हिस्सा एक साथ काम करते हैं ताकि पूरी बॉडी में ब्लड फ्लो अच्छी तरह हो सके। हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो स्टेप दर स्टेप होता है। यह प्रॉसेस निम्न प्रकार पूरी होती है।

    दाहिने तरफ

    • पूरे शरीर से कम ऑक्सीजन वाला ब्लड दो बड़ी वेन्स इंफीरियर वेना केवा और सुपीरियर वेना केवा के माध्यम से दाहिने आलिंद में प्रवेश करता है।
    • ट्राइकसपिड वॉल्व ब्लड के दाहिने आलिंद से दाहिने निलय तक पहुंचने के लिए खुलता है।
    • जब आपका दायां निलय भर जाता है तो यह सिकुड़ जाता है, जो ट्राइकसपिड वॉल्व को बंद कर देता है और फुफ्फुसीय वॉल्व को खोलता है।
    • ब्लड फुफ्फुसीय धमनी से फेफड़ों में प्रवाहित होता है, जहां इसे ऑक्सीजन मिलती है।

    और पढ़ें: अगर आप रोजाना करते हैं वॉक तो आपका दिल रह सकता है हेल्दी, जानिए हार्ट एवं वॉकिंग से जुड़ी महत्वपूर्ण इंफॉर्मेशन यहां!

     बाएं तरफ

    • ऑक्सीजन युक्त ब्लड (Oxygen-rich blood) फुफ्फुसीय नसों के द्वारा फेफड़ों से आपके बाएं आलिंद में जाता है।
    • माइट्रल वॉल्व (Mitral valve) बाएं आलिंद से बाएं निलय में रक्त भेजने के लिए खुलता है।
    • जब बायां निलय भर जाता है तो यह सिकुड़ जाता है, जो माइट्रल वॉल्व (Mitral valve) को बंद कर देता है और महाधमनी वॉल्व को खोलता है।
    • दिल महाधमनी वॉल्व (Aortic valve) के माध्यम से महाधमनी (Aorta) में ब्लड भेजता है, जहां यह आपके शरीर के बाकी हिस्सों में बहता है।

    कितना ब्लड हार्ट पंप करता है? (How much blood does the heart pump?)

    हृदय प्रतिदिन लगभग 2,000 गैलन रक्त पंप करता है। यह 8-बाय-10-फुट स्विमिंग पूल भरने के लिए पर्याप्त है! यह प्रतिदिन लगभग 100,000 बार धड़कता है। लगभग 79 वर्षों के औसत जीवन काल में, आपका हृदय लगभग 2.9 अरब बार धड़कता है।

    हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो किन कंडिशन और डिसऑर्डर से प्रभावित होता है?

    हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो कुछ हेल्थ कंडिशन्स से प्रभावित हो सकता है। जो निम्न हैं।

    एरिथमिया (Arrhythmia)

    एक अनियमित दिल की धड़कन, जिसमें एट्रियल फिब्रिलेशन और वेंट्रिकुलर फिब्रिलेशन शामिल हैं। यह स्थिति हार्ट से होने वाले ब्लड फ्लो को प्रभावित कर सकती है।

    दिल की विफलता (Heart failure)

    हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो

    हृदय की मांसपेशियों में क्षति या कमजोरी, जिससे आपके हृदय को आपके शरीर के बाकी हिस्सों में रक्त पंप करना कठिन हो जाता है और हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो प्रभावित होता है।

    कोरोनरी आर्टरी डिजीज (Coronary artery disease)

    प्लाक बिल्डअप के परिणामस्वरूप आपके हृदय की मांसपेशियों में रक्त ले जाने वाली धमनियों का सख्त और संकुचित होना। जिससे हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो प्रभावित होता है।

    और पढ़ें: Lunges workout for heart health: हार्ट हेल्थ को बनाए रखें के लिए लंजेस वर्कआउट कैसे करना चाहिए?

    दिल का दौरा (मायोकार्डियल इंफ्रेक्शन)

    कोरोनरी धमनी में अचानक रुकावट जो हृदय की मांसपेशियों में ऑक्सीजन की सप्लाई को बंद कर देती है। इससे हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो बुरी तरह प्रभावित होता है।

    हृदय वाल्व डिजीज (Heart valve disease)

    हृदय वाल्व ठीक से काम नहीं करते हैं, जिनमें लीकी हार्ट वाल्व और वाल्व स्टेनोसिस (संकीर्ण) शामिल हैं।

    संरचनात्मक जन्मजात हृदय दोष (Structural congenital heart defect)

    हृदय की संरचना में समस्याएं जो जन्म के समय मौजूद होती हैं, जिसमें बाइकसपिड महाधमनी वाल्व रोग bicuspid aortic valve disease भी शामिल है।

    अचानक कार्डिएक अरेस्ट (Sudden cardiac arrest)

    हार्ट के इलेक्ट्रिकल सिस्टम electrical system में खराबी के कारण हृदय की कार्यप्रणाली में अचानक कमी होना। इससे भी हार्ट से होने वाला ब्लड फ्लो प्रभावित होता है।

    और पढ़ें: Patent Foramen Ovale: क्या दिल में छेद से जुड़ी इस प्रॉब्लम के लिए जरूरी है उपचार?

    मैं अपने हृदय स्वास्थ्य में सुधार कैसे कर सकता हूं?

    आप एक स्वस्थ जीवन शैली जीने और अपने हृदय स्वास्थ्य में सुधार के लिए कुछ कदम उठा सकते हैं। आप कर सकते हैं:

    • हेल्दी वेट हासिल करें और बनाए रखें
    • फलों, सब्जियों और साबुत अनाज से भरपूर हार्ट हेल्दी डायट लें
    • साप्ताहिक रूप से लगभग 150 मिनट तक एरोबिक व्यायाम करें।
    • शराब का सेवन सीमित करें।
    • टॉक थेरेपी या ध्यान के साथ तनाव को प्रबंधित करें।
    • धूम्रपान छोड़ दें।

    उम्मीद करते हैं कि आपको  से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 21/06/2022

    advertisement iconadvertisement

    Was this article helpful?

    advertisement iconadvertisement
    advertisement iconadvertisement