home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Cramp Bark: क्रैम्प बार्क क्या है?

परिचय|उपयोग|सावधानियां और चेतावनी|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज
Cramp Bark: क्रैम्प बार्क क्या है?

परिचय

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) क्या है?

क्रैम्प बार्क एक पौधा है, जो उत्तरी अमेरिका में उगता है। ऐतिहासिक रूप से अमेरिकी लोग इसका इस्तेमाल एक औषधि के तौर पर करते आ रहे हैं। इसकी छाल और जड़ का इस्तेमाल एक औषधि के तौर पर होता है। इसका साइंटिफिक नाम Viburnum opulus है, जो Adoxaceae प्रजाति का है। इसे गेल्डर गुलाब, हाईब्रश क्रैनबेरी और स्नोबॉल ट्री के रूप में भी जाना जाता है। यह एक तरह का झाड़ी होता है जिसमें लाल, जामुनी और सफेद फूलों के गुच्छों खिलते हैं।

मूल रूप से यह यूरोप, संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा में पाया जातता है। औषधि के तौर पर इसके सूखे छाल का इस्तेमाल किया जाता है। इसके इस्तेमाल से मांसपेशियों में ऐंठन, पीरियड्स के दिनों में महिलाओं के पेट में होनी वाली ऐंठन और दर्द से राहत पाया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः Ruptured eardrum: कान के पर्दे में छेद के लक्षण, कारण और इलाज

उपयोग

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

क्रैम्प बार्क का इस्तेमाल निम्नलिखित समस्याओं में होता है:

मांसपेशियों में ऐंठन से राहत दिलाए

मांसपेशियों में होने वाली ऐंठन के उपचार के रूप में इसके छाल का उपयोग विशेष रूप से किया जाता है। इसके अलावा मासिक धर्म में होने वाले ऐंठन और दर्द से भी यह राहत दिलाने में मददगार होता है। कुछ शोधों के मुताबिक, इसके छाल और फलों के अर्क के इस्तेमाल से मांसपेशियों में रक्त वाहिकाओं को अपना कार्य करने में आसानी होती है, जिससे दर्द में राहत मिलती है। साथ ही यह रक्तचाप को भी कम कर सकता है। मासिक धर्म की ऐंठन के साथ-साथ प्रेग्नेंसी की ऐंठन में भी राहत पाने के लिए इसका इस्तेमाल करना लाभकारी होता है।

यह भी पढ़ेंः Alchemilla: अलकेमिल्ला क्या है?

किडनी के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे

क्रैम्प की छाल से गुर्दे की पथरी याी किडनी स्टोन को रोकने में मदद मिल सकती है। कुछ लोगों को मूत्र में साइट्रेट की कमी के कारण गुर्दे की पथरी होने का खथरा बढ़ जाता है। हेल्थकेयर प्रदाता अक्सर सलाह देते हैं कि ऐसे लोगों को इस तरह के आहार खाने चाहिए जिनमें साइट्रेट की उच्च मात्रा हो। जैसे नींबू और संतरे। वहीं, क्रैम्प की छाल और फल भी साइट्रेट की उच्च मात्रा होती है, जो किडनी स्टोन के जोखिम को कम करने के साथ ही किडनी स्टोन के उपचार में भी लाभकारी हो सकता है।

किडनी स्टोन को दूर करने में यह कितना लाभाकरी हो सकता है, इससे जुड़ा एक अध्ययन भी किया गया है। उस अध्ययन में छोटे गुर्दे की पथरी वाले 103 लोगों को शामिल किया था। अध्ययन में शामिल कुछ लोगों को किडनी की दवा डाइक्लोफेनाक का सेवन करने की सलाह दी गई और कुछ लोगों को इसकी छाल का सेवन करने की सलाह दी गई। अध्ययन के दौरान पाया गया कि जिन लोगों ने इसकी छाल का इस्तेमाल किया था, उनकी किडनी की समस्या दवा का इस्तेमाल करने वाले लोगों के मुकाबले जल्दी दूर हो गई।

इसके अलावा इसका इस्तेमाल यूरिन फ्लो बढ़ाने, जो उल्टी का कारण बनता है, बाउल को खाली करने, तंद्रा (sleepiness), कैंसर के इलाज, हिस्टेरिया (hysteria), इंफेक्शन, नर्वस के डिसऑर्डर्स, स्कर्वी और यूटरस में सूजन के इलाज में क्रैम्प बार्क का इस्तेमाल होता है।

  • यूरिन से संबंधित समस्याओं में, जिसमें दर्द या ऐंठन होती है, उनमें किडनी स्टिम्यूलेट के तौर पर इसका इस्तेमाल होता है।

यह भी पढ़ेंः गले में इस तरह की परेशानी हो सकती है हायपरथायरॉइडिज्म की बीमारी

यह कैसे कार्य करता है?

क्रैम्प बार्क कैसे कार्य करता है, इस संबंध में अधिक जानकारी उपलब्ध नही है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें। हालांकि, यह माना जाता है कि क्रैम्प बार्क में कुछ कैमिकल्स होते हैं, जो मांसपेशियों की ऐंठन को कम करते हैं। यह कैमिकल्स ब्लड प्रेशर और हार्ट रेट को भी कम कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: किडनी स्टोन होने पर बरतें ये सावधानियां

सावधानियां और चेतावनी

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित परिस्थितियों में इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें:

  • यदि आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। दोनों ही स्थितियों में सिर्फ डॉक्टर की सलाह पर ही दवा खानी चाहिए।
  • यदि आप अन्य दवाइयां ले रही हैं। इसमें डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई दवाइयां शामिल हैं, जो मार्केट में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के खरीद के लिए उपलब्ध हैं।
  • यदि आपको क्रैम्प बार्क के किसी पदार्थ से एलर्जी या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।
  • यदि आपको कोई बीमारी, डिसऑर्डर या कोई अन्य मेडिकल कंडिशन है।
  • यदि आपको फूड, डाई, प्रिजर्वेटिव्स या जानवरों से अन्य प्रकार की एलर्जी है।

अन्य दवाइयों के मुकाबले औषधियों के संबंध में रेग्युलेटरी नियम अधिक सख्त नही हैं। इनकी सुरक्षा का आंकलन करने के लिए अतिरिक्त अध्ययनों की आवश्यकता है। क्रैम्प बार्क का इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरों की तुलना इसके फायदों से जरूर की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी के दौरान ट्यूबरक्युलॉसिस यानी डबल खतरा

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) कितना सुरक्षित है?

यह सुरक्षित है या नहीं, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है।

विशेष सावधानियां और चेतावनी

प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग : प्रेग्नेंसी और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्रैम्प बार्क का इस्तेमाल सुरक्षित है या नहीं, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। सुरक्षा के लिहाज से दोनों ही परिस्थितियों में इसका सेवन करने से बचें।

साइड इफेक्ट्स

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

क्रैम्प बार्क के साइड इफेक्ट्स के संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं, तो अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

रिएक्शन

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) से मुझे क्या रिएक्शन हो सकते हैं?

क्रैम्प बार्क आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका परिवर्तित हो सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर या हर्बलिस्ट से संपर्क करें।

डोसेज

उपरोक्त जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं हो सकती। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से सलाह लें।

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) का सामान्य डोज क्या है?

हर मरीज के मामले में क्रैम्प बार्क की डोज अलग हो सकती है, जो डोज आप ले रहे हैं वो आपकी उम्र, हेल्थ और दूसरे अन्य कारकों पर निर्भर करता है। औषधियां हमेशा ही सुरक्षित नहीं होती हैं। इसके उपयुक्त डोज के लिए अपने हर्बलिस्ट या डॉक्टर से सलाह लें।

क्रैम्प बार्क (Cramp bark) किन रूपों में आता है?

  • क्रैम्प बार्क लिक्विड एक्सट्रैक्ट
  • एनाकैप्सूलेटेड (Encapsulated) क्रैम्प बार्क एक्सट्रैक्ट

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता।

और पढ़ें:-

अद्भुत गुणों से भरपूर है अदरक (Ginger): जानिए अदरक के 8 फायदों को

Thyroid Function Test: जानें क्या है थायरॉइड फंक्शन टेस्ट?

थायरॉइडाइटिस (thyroiditis) क्या है?

मेटफॉर्मिन (Metformin): डायबिटीज की यह दवा बन सकती है थायरॉइड की वजह

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Cramp Bark http://www.webmd.com/vitamins-supplements/ingredientmono-746-cramp%20bark.aspx?activeingredientid=746&activeingredientname=cramp%20bark . Accessed on 12 February, 2020.

Cramp Bark  https://www.drugs.com/npc/crampbark.html. Accessed on 12 February, 2020.

What Is Cramp Bark, and What Is It Used For?. https://www.healthline.com/nutrition/cramp-bark-guelder-rose. Accessed on 12 February, 2020.

Cramp Bark (Viburnum opulus). https://www.herbalremediesadvice.org/viburnum-opulus.html. Accessed on 12 February, 2020.

CRAMP BARK. https://www.rxlist.com/cramp_bark/supplements.htm. Accessed on 12 February, 2020.

लेखक की तस्वीर
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 17/02/2020 को
Dr Sharayu Maknikar के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड