मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन बन सकती है थायरॉइड की वजह

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट जुलाई 6, 2020 . 3 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन एक ऐसी दवा है, जो थायरॉइड की वजह बन सकती है। यानी कि डायबिटीज के रोगी को थायरॉइड भी हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि मेटफॉर्मिन एक ऐसी दवाई है जो टाइप-2 डाइयबिटीज के दौरान ली जाती है, लेकिन एक नई रिसर्च के मुताबिक इस दवाई की वजह से थायरॉइड को उत्तेजित करने वाले हार्मोन्स में कमी आ जाती है। इसी वजह से हाइपोथायरोडिज्म हो सकता है।

जानें मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन से जुड़ी समस्या के बारे में

हाइपोथायरोडिज्म एक ऐसी समस्या है जिसमें थायरॉइड ग्रंथि शरीर के लिए पर्याप्त थायरॉइड हार्मोन नहीं बना पाती। थायरॉइड ग्रंथि हमारे शरीर के मैटाबॉलिज्म और सभी जरूरी कार्यों में अहम भूमिका निभाती है, ऐसे में अगर उसमें समस्या आ जाए तो शरीर का नुकसान पहुंचना शुरू हो जाता है। इसकी वजह से दिल की बीमारी, हड्डियों का बेवजह टूटना और कोमा की स्थिति भी बन जाती है।

और पढ़ेंः Metformin : मेटफॉर्मिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल

ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए सही डायट और एक्सरसाइज के अलावा कई दवाइयों के सेवन की भी सलाह डॉक्टर देते हैं। इसी स्थिति मे कई बार डॉक्टर मेटफॉर्मिन लेने की भी सलाह देते हैं। टाइप 2 डायबिटीज के जूझ रहे लोग मेटफॉर्मिन का सेवन ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए करते हैं। मेटफॉर्मिन ब्लड शुगर कंट्रोल करने के साथ-साथ किडनी की समस्याओं, यौन समस्याओं, अंधापन, नर्व की दिक्कतों में कारगर साबित होती है। साथ ही अगर डायबिटीज को कंट्रोल में रखा जाएं, तो हार्ट स्ट्रोक के खतरे को भी कम किया जा सकता है। मेटमॉर्फिन शरीर में प्राकृतिक रूप से बनने वाली इंसुलिन की प्रक्रिया को सुधारने में मदद करती है और साथ ही ब्लड शुगर को भी नियंत्रित करती है। जिन लोगों के डायबिटीज के शिकार होने की आशंका ज्यादा होती है उन्हें भी मेटाफॉर्मिन के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है। वहीं ऐसी महिलाएं जिन्हें ओवरी से जुड़ी समस्याएं जैसे कि पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम हो, वे भी मेटाफॉर्मिन का इस्तेमाल कर सकती है। इसके अलावा मेटाफॉर्मिन महिलाओं में मेंस्ट्रुअल साइकल को रेगुलर बनाए रखने और फर्टिलिटी को बढ़ाने में भी मदद कर सकती है।

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन का सेवन हो सकता है खतरनाक

डायबिटीज के मरीजों में खून में शुगर की मात्रा कम करने के लिए मेटफॉर्मिन दी जाती है। ये दवाई लिवर में ग्लूकोज के निर्माण को और खाने से शक्कर सोखने की प्रक्रिया धीमी कर देती है। ये दवाई या तो अकेले या फिर दूसरी अन्य दवाई जैसे इंसुलिन आदि के साथ ली जाती है। हालांकि, पिछली कुछ रिसर्च के मुताबिक ये टीएसएच हॉर्मोन को कम करती है, जिससे हाइपोथायरोडिज्म का खतरा पैदा हो जाता है। इस रिसर्च का नेतृत्व कनाडा के डॉ. लॉरेन्ट एक्जोले ने किया था।

और पढ़ेंः थायरॉइड और वजन में क्या है कनेक्शन? ऐसे करें वेट कम

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन के साइड इफेक्ट्स

मेटफॉर्मिन के कई साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आपको हीव्स, सांस लेने में दिक्कत, चेहरे, होठ, जीभ या गले मे सूजन जैसी किसी भी एलर्जी के लक्षण महसूस हों, ऐसे में आपको तुरंत ही मेडिकल लेनी चाहिए। मेटफॉर्मिन का सेवन करने से लैक्टिक एसिडोसिस  (लैक्टिक एसिड का बनना, जो शरीर के लिए खतरनाक हो सकता है) की समस्या पैदा हो सकती है। यह समस्या शुरुआत में तो इतनी गंभीर नहीं लगती लेकिन धीरे-धीरे गंभीर रूप से ले सकती है। लैक्टिक एसिडोसिस के लक्षण हो सकते हैं:

  • मशल्स में दर्द रहना या कमजोरी महसूस करना
  • शरीर के अंगों का सुन्न पड़ जाना
  • सिर दर्द, सिर चकराना
  • पेट दर्द, उल्टी या मिचली की समस्या होना
  • असामान्य या धीमी हार्ट रेट
  • मेगालोब्लास्टिक एनीमिया
  • सांस लेने में दिकक्त की समस्या
  • फ्लू के लक्षण जैसे कि बुखार आना, सर्दी लगना, पूरे शरीर में दर्द होना

और पढ़ेंः डायबिटीज की दवा दिला सकती है स्मोकिंग से छुटकारा

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन पर क्या कहती है रिसर्च

रिसर्च में करीब 74 हजार डायबिटीज के मरीजों के आंकड़े जुटाए गए जिन्होंने मेटफॉर्मिन जैसी दवाईयां ली थीं। इस रिसर्च में देखा गया कि डायबिटीज के वो रोगी जिनका थायरॉइड फंक्शन सही था उनमें मेटफॉर्मिन  का कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं था। हालांकि, जो पहले से ही अंडर-एक्टिव थायरॉइड का शिकार थे, उनमें थायरॉइड उत्तेजक हार्मोन और कम हो गए। ऐसे 55 प्रतिशत लोग थे जिनमें अंडरएक्टिव थायरॉइड बढ़ने को खतरा पैदा हो गया था।

हालांकि, इस रिसर्च को लेकर कई तरह के मतभेद भी है। कहा जाता है कि इस रिसर्च में एक बड़ा सैंपल जरूर लिया गया लेकिन फिर भी इसकी कुछ सीमाएं हैं। उदाहरण के तौर पर इतने सारे मरीजों ने अलग-अलग जगह से दवाईंयां ली होंगी, जबकि ये नहीं कहा जा सकता कि सभी ने ट्रीटमेंट सही तरह से लिया होगा।

और पढ़ेंः Diabetic Eye Disease: मधुमेह संबंधी नेत्र रोग क्या है?

मधुमेह की दवा मेटफॉर्मिन पर निष्कर्ष

इसका निष्कर्ष यह है किस व्यक्ति को कितना मेटफॉर्मिन  लेना है ये उसके ब्लड शुगर स्तर पर आधारित होता है। डॉक्टर पूरे चेकअप के बाद ही मेटफॉर्मिन  का डोज लिखता है। ऐसे में इस दवाई को लेने से पहले डॉक्टर से इसके खतरे और फायदे के बारे में जरूर जान लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

फास्टिंग के दौरान डायबिटीज के मरीज रखें इन बातों का रखें ध्यान

डायबिटीज के मरीजों के लिए उपवास रखना थोड़ा रिस्की होता है, यह ब्लड शुगर लेवल को असंतुलित कर सकता है। इसलिए उन्हें उपवास में बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Kanchan Singh
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन अगस्त 13, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

क्या डायबिटीज का उपचार संभव है?

डायबिटीज का उपचार संभव है?, डायबिटीज का उपचार कैसे करें, जानिए इसके उपचार के कुछ आसान तरीको के बारे में, how to cure diabetes in hindi, diabetes

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
डायबिटीज, हेल्थ सेंटर्स जुलाई 27, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

डायबिटीज पैचेस : ये क्या है और किस प्रकार करता है काम?

डायबिटीज पैचेस लगाना स्वास्थ्य के लिए है कितना लाभकारी, मार्केट में कितने प्रकार के डायबिटीज पैचेस हैं उपलब्ध, जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Satish singh
डायबिटीज, हेल्थ सेंटर्स जुलाई 23, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें

Galvus Met : गैल्वस मेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

गैल्वस मेट की जानकारी in hindi, दवा के साइड इफेक्ट क्या है, मेटफॉर्मिन और विल्डागलिप्टिन दवा किस काम में आती है, रिएक्शन, उपयोग, Galvus Met

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
दवाइयां A-Z, ड्रग्स और हर्बल जुलाई 22, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

Recommended for you

वजन घटने से डायबिटीज का इलाज/diabetes and weightloss

क्या वजन घटने से डायबिटीज का इलाज संभव है?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 15, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स/Diabetes Test Strips

डायबिटीज टेस्ट स्ट्रिप्स का सुरक्षित तरीके से कैसे करें इस्तेमाल?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Mousumi dutta
प्रकाशित हुआ सितम्बर 14, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें
क्या मेटफोर्मिन वेट लॉस का कारण बन सकती है

जानिए, मेटफार्मिन को वजन कम करने के लिए प्रयोग करना चाहिए या नहीं?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Anu sharma
प्रकाशित हुआ अगस्त 20, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
एमरिल एम1 टैबलेट

Amaryl M1 Tablet : एमरिल एम1 टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ अगस्त 17, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें